अकड़ दिखाने वाले Thackrey को कहीं का नहीं छोड़ेंगे Modi !

उद्धव ठाकरे के साथ आने की कोई संभावना
नहीं है ठाकरे ने अपने दरवाजे बंद कर दिए
हैं राजनीति में सभी का अपना अपना
राजनीतिक एजेंडा होता

है लेकिन उद्धव ठाकरे ने हमारे दिलों को
ठेस पहुंचाई है जहां दिल को चोट पहुंचती
है वहां कुछ नहीं हो
सकता

नमस्कार मैं हूं आपके साथ रोहित और आप देख
रहे हैं एनफ न्यूज़ यह बयान जो मैंने आपको
पढ़कर बताया यह बयान है महाराष्ट्र के
उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का जो कि
यह बताने के लिए काफी है कि 2024 लोकसभा

चुनाव में उद्धव ठाकरे को बगावत का अंजाम
देने के लिए बीजेपी तैयार है दरअसल लोकसभा
चुनाव 2024 को लेकर सभी पार्टिया दमखम के
साथ तैयारियों में जुटी हुई हैं एक तरफ आई
एनडीआईए गठबंधन में हलचल मची हुई है तो
दूसरी तरफ पीएम मोदी के नेतृत्व में एनडीए
गठबंधन अबकी बार 400 पार के एजेंडे पर आगे
बढ़ रहा

है और अबकी
बार पूरा देश कह रहा है अबकी
बार हरके जी भी कह रहे
हैं लेकिन अध्यक्ष जी
मैं आमतौर
पर येय आंकड़े आंकड़े के चक्कर में नहीं
पड़ता लेकिन मैं देख रहा
हूं देश का

 

मिजाज एनडीए को तो 400 पार कर पा ही के
रहेगा लेकिन भारतीय जनता पार्टी
को 370 सीट अवश्य देगा
बीजेपी को 370 सीट और एनडीए को 400
पार अब अगर 2024 में 400 सीटें जीत है तो
हर राज्य में बीजेपी को पूरा दम लगाना
होगा खासकर यूपी और महाराष्ट्र में यूपी

में तो योगी के भरोसे 80 की 80 सीट जीतने
का दम भरा ही जा रहा है लेकिन इस बीच
महाराष्ट्र की 48 सीटों पर भी बीजेपी को
फोकस करना होगा जिसके लिए बीजेपी ऐसी

तैयारी कर रही है जिससे उद्धव ठाकरे को
सबक सिखाया जा सके जी हां अबक महाराष्ट्र
में राजनीतिक समीकरण पहले से बहुत बदले
हुए हैं और यह चुनाव बेहद खास होने वाला
है क्योंकि दो गुटों में बटी शिवसेना और
एनसीपी पहली बार चुनावी दंगल में आपस में
टकराएंगे महाराष्ट्र में अबकी बीजेपी के

साथ शिवसेना और एनसीपी होंगी जबकि दूसरी
तरफ कांग्रेस के साथ शिव सेना उद्धव बाला
साहब ठाकरे और एनसीपी शरद पवार गुट है गौर
तलब है कि पिछले दो लोकसभा चुनाव में

बीजेपी नरेंद्र मोदी के चेहरे पर चुनाव
लड़ती आई है इसीलिए लगातार दो बार पूर्ण
बहुमत भी मिला लेकिन अबकी बार बीजेपी फिर
से मोदी की गारंटी पर भगवा लहराने को एक
बार तैयार है और इसके लिए महाराष्ट्र में
एक बार फिर से बीजेपी को अच्छी खासी सीटें
जीत होंगी तो चलिए समझाते हैं कि कैसे
होगा आपकी महाराष्ट्र में संग्राम और क्या

कहते हैं सर्वे जिससे उद्धव ठाकरे की नींद
उड़ जाएगी दरअसल एक सर्वे के अनुसार
बीजेपी और शिवसेना
सिंदेलफिंगें
मिल सकती हैं अन्य का यहां खाता खुलता

नहीं दिख रहा है अब इस सर्वे को देखकर
निश्चित तौर पर उद्धव ठाकरे की नींद उड़
जाएगी क्योंकि अबकी वो फिर से अकेले कम से
कम 18 सीटें जीतने का ख्वाब देख रहे थे
जैसे पिछली बार बीजेपी के साथ लड़ते हुए
उन्होंने जीता था दरअसल 2019 के आम चुनाव
में बीजेपी और शिवसेना ने मिलकर राज्य की

41 सीटें जीती थी बीजेपी ने 25 सीटों पर
लड़कर 23 सीटें जीती थी वहीं अविभाजित
शिवसेना ने 23 सीटों पर लड़कर 18 सीटें

जीती थी इसके अलावा अविभाजित एनसीपी ने 19
सीटों पर चुनाव लड़ा था और चार पर जीत
हासिल की थी कांग्रेस एआई एमआईएम और
निर्दलीय के खाते में एक-एक सीट गई थी
फिलहाल महाराष्ट्र के लिए एनडीए ने 45

सीटें जीतने का अपना लक्ष्य तय कर लिया है
जबकि सर्वे उसे 39 सीटें दे रहे हैं ऐसे
में अगर इसके आसपास भी परिणाम आ गए तो
समझिए उद्धव ठाकरे की राजनीति धरातल में
चली जाएगी क्योंकि पहले सत्ता गई फिर
पार्टी और अब लोकसभा में भी यही अगर हुआ
तो उद्धव के राजनीतिक भविष्य पर प्रश्न

चिन्ह लग जाएगा खैर भविष्य के गर्त में
क्या कुछ छिपा है यह तो आने वाला वक्त ही
बताएगा अभी आप कमेंट करके बताएं क्या
बीजेपी से बगावत करके उद्धव ठाकरे ने गलती
की जिसका खामियाजा उन्हें लोकसभा चुनाव
2024 में उठाना पड़ेगा

 

Leave a Comment