अकेले में चुपचाप सुनो ठुकरा दिया है उसने तुम्हें लेकिन असली खेल अभी बाकी

आज मेरा यह संदेश तुम्हारे जीवन में परिवर्तन के लिए अनिवार्य है तुम्हारे जीवन में होने वाली सभी परेशानियां समाप्त हो जाएंगे और

तुम एक नए जीवन की ओर तुम एक नए जीवन की ओर अग्रसर हो जाओगे क्योंकि आज मैं कालरात्रि तुम्हें अपने दिव्य दर्शन देने

आई हूं ताकि तुम्हारा जीवन सुख में और आनंद से भरा रहे अब तुम अपना जीवन जीने के लिए तैयार हो जाओ मैं चाहती हूं कि तुम

अपने जीवन को उचित प्रकार से जियो और आने वाले कल मैं स्वयं को आगे ले जाओ मेरे बच्चे में जानती हूं कि तुम्हारे जीवन में कई साल केवल दुख और कष्ट में कटे हैं परंतु अब समय है कि तुम्हारा आने वाला कल खुशियों से और शांति से बीतेगा जीवन में आते

जाते रहते हैं अगर तुम दुखों को देखकर बहुत परेशान हो गए तो तुम कुछ भी कार्य नहीं कर पाओगे मेरे बच्चे तुम्हारी दुखों का कारण तुम स्वयं होते हो जो भी हम करते हैं वही तुम्हें सुख दुख प्रदान करते हैं इसीलिए हमेशा अच्छे कर्म करने चाहिए मेरे बच्चे तुम

सबसे ज्यादा अपने आसपास के लोगों के व्यवहार से दुखी होते हो बात है क्योंकि यह सब सो कर तुम अपना समय बर्बाद करते हो जो जैसा होता है वह कभी बदलता नहीं है इसीलिए तुम किसी के व्यवहार को कभी बदल नहीं सकते हो यदि कोई तुम्हारे लिए बुरा

भी कर रहा है तो तुम्हें सोने की आवश्यकता नहीं है जैसे वह तुम्हारे लिए सोच रहे हैं क्योंकि तुम किसी की सोच को बदल नहीं सकते हो मेरे बच्चे ऐसे नकारात्मक लोगों से दूर रहो क्योंकि ऐसे लोग तुम्हारा जीवन बिल्कुल खराब कर देंगे मेरे

Leave a Comment