अगर आज तुमने मुझे अनदेखा किया

मेरे बच्चे तुम्हारा बुरा समय समाप्त हो चुका है मेरे बच्चे आज तुम्हारे सारे दुखों का अंत होगा जीवन के सभी परेशानियां क्योंकि मैं तुम्हें और कष्ट में नहीं देख सकती आखिर तुम भी मेरे बच्चे हो मैं कैसे अपने बच्चों को दुखी देख सकती हूं मेरे बाबा से मेरी कृपा दृष्टि

तुम पर पढ़ चुकी है मेरे प्रेम की कसौटी पर तुम खड़े उतर रहे हो अगले 18 घंटे में तुम्हारे जीवन में भारी बदलाव होने वाला है मेरे बच्चे जो बातें आज मैं बताना चाहती हूं वह मैंने तुम्हें कभी नहीं बताई इन बातों से तुम सदैव से अनजान रहे हो इसलिए बातों को

जानना अत्यंत आवश्यक है यदि तुम उन बातों को जान गए तो सदा तुम्हारे ऊपर मेरी कृपा दृष्टि बनी रहेगी मेरे बच्चे मैं जानती हूं कि तुम काफी चिंतित रहते हो तुम्हारे जीवन की काफी समय केवल दुखों में ही काटे हैं परंतु दुखी होने से तुम्हें कोई लाभ नहीं होगा

अपने आप को दुखों से मुक्त करो और अपने आप पर ध्यान दो कई बार तुम्हारी कुछ ऐसी बातें जिससे मुझे ना चाहते हुए भी क्रोध आ जाता है और कई बार तुम्हारी कुछ ऐसी बातें जो मुझे प्रसन्न कर देती हैं इस तरह कुछ ऐसी ही बातें जिन्होंने मुझे प्रसन्न किया है

कुछ बातें जो तुम्हें करना बाकी है जिससे कि अगले 18 घंटे में ही तुम्हारी जिंदगी में चमत्कारी रूप से बदल जाएगी इसलिए मेरे बच्चे तुमको यह मौका गवाना नहीं है सच तो यह है नहीं चाहती बल्कि मैं यह चाहती हूं कि मेरे सभी बच्चों को सभी खुशियां प्राप्त हो मेरे

बच्चे स्थिति में सदैव बदलाव आता रहता है परिस्थितियों कभी एक से नहीं होती कभी किस्मत के अनुसार तो कभी कर्मों के अनुसार किस्मत के अनुसार तुम्हारी स्थिति में बदलाव नहीं आ रहा है तो तुम कुछ ऐसे कार्य करो कार्यों की वजह से तुम्हारी स्थिति में निश्चित

ही बदलाव आएगा तुम्हारी किस्मत में भी बदलाव शुरू हो जाएगा मेरे बच्चे अभियान पूर्वक सुनो मेरी बातों को तुम बहुत बार कार्य को करते करते थक जाते हो और तुम्हें ऐसा लगता है कि तुम सफल नहीं हो रहे हो इसी कारण तुम अपने आत्मविश्वास को खो देते

हो जी शक्ति के बाल होते पर तुम विजय प्राप्त कर सकते थे कई बार यही वजह होती है तुम्हारी नाकामी की उसके क्या तुम चाह कर भी उसे कार्य पर अपना ध्यान नहीं एकत्रित कर अपनी पूरी शक्ति

Leave a Comment