अगर आपको यह संकेत मिल रहे हैं तो देवी देवता आपके घर के मंदिर में विराजमान हो चुके हैं

जय माता की दोस्तों कैसे हैं आप सब आशा
करती हूं आप सभी कुशल मंगल होंगे और आप
सभी का स्वास्थ ठीक होगा दोस्तों आज मैं
आपको बताऊंगी कि जो देवी देवता होते हैं
वह आपके घर के मंदिर में जब विराजमान हो

जाते हैं तो आपको क्या-क्या संकेत देखने
को मिलते हैं जिससे आप यह जान सकते हैं कि
जिनकी आप पूजा पाठ कर रहे हैं जिनकी
आराधना कर रहे हैं जो आपके आराध्य हैं वह
आपके घर के मंदिर में स्थापित हो गए हैं

वह विराजमान हो गए हैं दोस्तों जब भी आप
ईश्वर की आराधना करते हैं भगवान की पूजा
करते हैं उनका आहवान करते हैं तो दोस्तों
ईश्वर जो होते हैं भगवान जो होते हैं वह

आपके घर जरूर आते हैं वोह अपने भक्त की
पुकार जरूर सुनते
हैं जब भी आप ईश्वर की पूजा पाठ करते हैं
दोस्तों जब वो शक्तियां

आपके घर के मंदिर में विराजमान हो जाती
हैं तो आपको यह कैसे पता चलेगा आप यह कैसे
जानेंगे कि जो आपके आराध्या है जो आप
जिनकी आप पूजा कर रहे हैं आप जिनकी आराधना

कर रहे हैं वह आपके मंदिर में विराजमान हो
गए हैं तो आप यह कैसे जानेंगे
दोस्तों वह जब शक्तियां आपके मंदिर में आ
जाती हैं जब वह आपके मंदिर में आकर विराज
हो जाती है दोस्तों तो स्वयं शक्तियां ही

आपको कुछ संकेत देती हैं कुछ लक्षण आपको
ऐसे दिखाती है जिनसे आपको यह पता लग जाता
है कि वह जो आपकी द्वारा की गई पूजा वह
सफल हो गई है जो आपके मंदिर में आकर
शक्तियां विराजमान हो गई

है दोस्तों सबसे पहले क्या होगा कि जब
देवीय शक्तिया जो होती हैं आपके मंदिर में
आकर विराजमान हो जाती हैं दोस्तों तो सबसे
पहले
आपका बड़ी-बड़ी उबासी आने लग जाती है

दोस्तों बड़ी बड़ी आपको उबासी आती है जैसे
ही आप पूजा पाठ करने बैठेंगे आपको उबासी
आने लग जाती
है अगला दोस्तों जैसे ही आप पूजा पाठ करने
बैठते हैं जब भी आप अपने घर के मंदिर में

पूजा करने बैठते हैं दोस्तों पूजा हर कोई
करता है कोई जोत जलाता है कोई अखंड जोत
जलाता है कोई सुबह शाम की पूजा करता है
किसी के पास इतना टाइम नहीं होता है व
खाली धूपबत्ती ही लगा देता है

लेकिन भगवान को याद हर कोई करता है
दोस्तों जब भी आप अपने घर के मंदिर में
दीपक जलाते हैं देखा होगा आपने अक्सर जब
भी आपने दीपक जलाया यह सब लक्षण आपको पहले
देखने को नहीं मिल रहे थे लेकिन अब मिलते

हैं जैसे ही आपने पूजा का दीपक जलाया
उसमें आप ध्यान से देखोगे तो उस दीपक में
कुछ आकृतियां बन जाती
है किसी के दीपक में फूल बन जाता है किसी
के दीपक में दिल बन जाता है तो किसी के
दीपक में दो आंखें बन जाती हैं किसी के

दीपक में त्रिशूल बन जाता है दोस्तों तो व
क्यों बन रहे हैं व दोस्तों इसीलिए बन रहे
हैं जो भी आपके इष्ट है जो भी आपके इष्ट
हैं वह आपसे प्रसन्न है वह आपके मंदिर में

आ गए हैं व आपके घर में विराजमान हो गए
हैं दोस्तों इसीलिए आपको यह संकेत देखने
को मिल रहे हैं अगला दोस्तों आपने देखा
होगा जब भी आपने जोत जलाई मंदिर की मंदिर
में आपने जब भी जलाया जो जलाई अपने मंदिर

में जो दीपक जलाया दीपक की जो लो है
दोस्तों वोह ऊपर की ओर उठने लग जाती
है दीपक की जो लो है वह ऊपर की ओर लंबी हो
जाती है ऐसा क्यों हो रहा है दोस्तों यह
सब इसी वजह से हो रहा है दोस्तों

क्योंकि देवी देवता जो है आपके घर के
मंदिर में आकर विराजमान हो गए हैं दोस्तों
कभी कभी आपने देखा होगा कि आपने पूजा करी
है आपने दीपक जलाया है और दीपक की जो लो

है वो एकदम भभक जाती है जैसे कि पंखा तो
चल नहीं रहा है घर में लेकिन ऐसा लगता है
कोई हवा का झोका आया एकदम से एकदम से बहुत
तेज जो दीपक की जो बाती होती है भब के

शांत हो जाती है एकदम से वो आपने देखा
होगा कभी-कभी है ऐसा होता है दोस्तों ये
सब उन्हीं के साथ होता है जिनके ऊपर देवी
शक्ति की कृपा होती है और जिनके घर में

देवी शक्ति आकर विराजमान हो जाते है
उन्हीं को ये सब संकेत देखने को मिलते हैं
दोस्तों अगला
आपने देखा होगा आपके जो इष्ट है आपके घर
में जो मूर्ति आपने अपने मंदिर में

स्थापित कर रखी है जब भी आप उस मूर्ति को
देखते हो उस मूर्ति को देखकर निहारते हो
तो दोस्तों आप उसमें खो जाते हो आपका ऐसा
मन करता है कि बस देखता ही जाऊं देखता ही
जाऊं और आपको पता भी नहीं लगता है कि आपको
कितना समय हो गया है भगवान से जुड़े हुए

आप ईश्वर की पूजा कर रहे हैं आप उनमें लीन
हो गए हैं उनमें खो गए हैं आपको समय का
कोई आभास नहीं रहा है दोस्तों यह क्यों हो
रहा है आपको कभी-कभी ऐसा लग रहा है जैसे
कि आप बस भगवान को देख रहे हैं और जो आपका

जो मन है ना वह ईश्वर से बातें कर रहा है
आपके जो मन में कुछ सवाल होते हैं दोस्तों
वह आप भगवान को मन ही मन बोलते हैं तो
दोस्तों आपको ऐसा लगता है कि उनके जवाब
आपको मिल गए हैं अब आपको रास्ता मिल गया

है ईश्वर की जो शक्ति है दोस्तों वह आपको
मिलने लग जाती है आपके जो कार्य नहीं बन
रहे होते हैं जितने भी कामों में दिक्कतें
आती है दोस्तों वोह बनने लग जाते हैं जब
घर के मंदिर में शक्ति आ जाती है दोस्तों

तो जो आपका जो घर होता है दोस्तों वो एक
तरीके
से पू पूर्ण रूप से सकारात्मकता से भर
जाता है अब उस घर में देवीय शक्तियां
निवास कर रही है दोस्तों उस घर में कोई भी
बाहरी चीज नहीं आ सकती उस घर का कभी अ
बुरा नहीं हो सकता है जिस घर में देव

शक्तियां आ जाती हैं अगला दोस्तों आपने
देखा होगा
जब भी आप अपने घर के मंदिर में पूजा करते
हैं धु पति लगाते उसका जो धुआ होता है
दोस्तों उसका जो धू बत्ती का जो धुआ होता
है वह सीधा भगवान की मूर्ति की तरफ जाता

है भगवान की मूर्ति की तरफ जाता है
दोस्तों ऐसा क्यों हो रहा है दोस्तों व
इसीलिए हो रहा है क्योंकि अब आपके घर में
जो भगवान है वो विराजमान हो गए हैं वह
आपकी भक्ति से खुश है दोस्तों ईश्वर जो है
जो आपने ईश्वर की भक्ति की है वो ईश्वर ने

स्वीकार कर ली है दोस्तों आपकी भक्ति
सच्ची है और भगवान आपकी भक्ति को देखकर ही
आपके मंदिर में आकर विराजमान हो गए हैं
दोस्तों आपके घर में भगवान आ गए हैं आप
कितने भाग्यशाली हैं जो स्वयं ईश्वर आपके

घर में आकर विराजमान हो गए हैं दोस्तों
अगला दोस्तों जब भी
आप आपने देखा होगा जब भी आप अपने घर का जो
मंदिर होता है वहां पर पूजा पाठ करते
हैं तो आपने देखा होगा वहां पर
आपको महक आती है आपको बहुत खु अच्छी खुशबू

आती है दोस्तों आपका मन जो है एकदम
प्रसन्न हो जाता है दोस्तों उस खुशबू को
सुनकर आपको उस खुशबू को ढूंढते हैं चारों
तरफ कि आखिरकार य खुशबू आई कहां से
है दोस्तों यह जबी होता है जब आपके घर में

कोई देवी शक्ति निवास कर रही होती है
दोस्तों जब देवी शक्ति निवास करती है ना
दोस्तों तो वो आपको स्वपने के माध्यम से
साक्षात रूप में दर्शन भी जरूर देती
है आपके जो भी इष्ट है आप जिनकी भी पूजा
कर रहे हैं अगर आप माता काली की पूजा कर

 

रहे हैं दोस्तों तो मां काली आपको स्वप्न
के माध्यम से दर्शन अवश्य देंगी जब वह
आपके घर के मंदिर में आकर विराजमान हो
जाएंगी अगर आप भगवान शिव की पूजा कर रहे
हैं आपके भगवान शिव आपके इष्ट है और आपके
घर में आकर वो दोस्तों विराजमान हो गए हैं

तो भगवान शिव भी आपको दर्शन अवश्य देते
हैं किसी ना किसी रूप में दर्शन अवश्य
देते हैं दोस्तों ऐसा नहीं है कि भगवान
आपके सामने साक्षात आकर खड़े हो जाएंगे
तभी आप इस बात पर यकीन करेंगे कि ईश्वर ने
आपको दर्शन दिए हैं ऐसा नहीं है दोस्तों
उनसे जुड़ी कुछ भी चीज आपको दिख सकती
है उनसे जुड़ी अगर आप भगवान शिव की पूजा

कर रहे हैं तो दोस्तों भगवान शिव से जुड़ी
आपको कुछ भी चीज दिख सकती है भगवान शिव की
मूर्ति दिख सकती है उनका मंदिर दिख सकता
है
शिवलिंग दिख सकता है दोस्तों त्रिशूल दिख
सकता है जमरू दिख सकता है कुछ भी दिख सकता
है दोस्तों अगर आप मां काली की पूजा कर

रहे हैं दोस्तों तो माहाकाली के सिद्धि
पीठ मंदिर दिख सकते हैं आपको आप खुद को
मंदिर में पूजा करते हुए देख सकते हैं
दोस्तों ऐसा संकेत तभी मिलते हैं आपके
दोस्तों जब आपके ऊपर भगवान की कृपा होती
है और देवी शक्ति जो होती है आपके घर में

आकर निवास करती है दोस्तों और आपके जो घर
का जो मंदिर है दोस्तों उसमें आकर
विराजमान हो गई है आपके घर में जब देवीय
शक्तिया विराजमान हो जाती है दोस्तों तो
आपको यह सब लक्षण देखने को मिलने लगते हैं

दोस्तों दोस्तों क्योंकि जब देवी शक्ति
आपके ऊपर कृपा करती है जब उनकी कृपा आपके
ऊपर होती है दोस्तों तो आपको हर कार्य में
सफलता प्राप्त होती है आपको कहीं पर भी
ऐसा नहीं होता कि आपने कहीं भी गए आपको
कुछ कहीं पर असफलता प्राप्त हुई हो आपको
हर कार्य में सफलता प्राप्त होती है

दोस्तों जब भी आप ईश्वर का ध्यान करते हैं
जब दोस्तों आपके घर के मंदिर में जब देवी
शक्ति विराजमान हो जाती है दोस्तों देवी
देवता जब आपके घर में निवास करते हैं तो
दोस्तों जब भी आप पूजा करने बैठेंगे चाहे
भले ही आप थोड़े समय के लिए बैठे लेकिन जो

आपका ध्यान है वह बहुत जल्दी लग जाता है
आप सच्चे मन से अपने इष्ट को ध्यान लगाते
हैं अपने इष्ट का तो आपका जो ध्यान है
बहुत जल्दी लग जाता है दोस्तों दोस्तों जब
भी आप ध्यान में बैठेंगे आपने देखा होगा
महसूस भी क्या होगा दोस्तों आपका जो आज्ञा

चक्र होता है
दोस्तों उस पर आपको खिंचाव सा महसूस होता
है क्योंकि आपके घर में देवी शक्ति जो है
निवास कर रही है आपके घर में देवी शक्ति
निवास कर रही है दोस्तों और उनकी कृपा
आपके ऊपर है आपके अंदर भी उनकी शक्ति आ
रही है देवी शक्ति जो है व आपको वो श्वस
कर रही है इसीलिए आपके आगे चक्कर पर
खिंचाव सा महसूस होता है दोस्तों आपने
कभी-कभी देखा होगा कि आपके आगे चक्र के
पीछे आपको लाल रंग नीले रंग का कोई गोला
से दिखाई देगा आपको रोशनी का जो गोला आपको
नजर आने लगता है जब देवी शक्ति आपके घर
में निवास करती है दोस्तों दोस्तों एक चीज
और बता दूं आपको जब घर में देवी शक्तियां
निवास करती है दोस्तों तो आपके घर
में कोई भी क्लेश वगैरह नहीं होता है आपके
घर में सब प्यार से रहते हैं एक दूसरे के
जो संबंध है दोस्तों वो बहुत मधुर हो जाते
हैं आपके घर में क्योंकि जिस तरीके से जब
घर में देवी देवता निवास करते हैं तो
दोस्तों वहां का जो वातावरण होता है ना
वोह बहुत ही सुख में हो जाता है आपने देखा
होगा मंदिर जाते हैं हम लोग मंदिर में
हमें कितनी शांति मिलती है उसी प्रकार से
जब देवी देवता हमारे घर में हमारे घर के
मंदिर में निवास करते हैं दोस्तों तो
हमारे घर का वातावरण भी बिल्कुल सुख में
हो जाता है हमारे घर का जो वातावरण है वो
भी सुख में हो जाता है दोस्तों आज के लिए
इतना ही अब मिलती हूं अगली वीडियो में तब
तक के लिए जय माता की ओम नमः शिवाय स

Leave a Comment