अगर आपको ये अनुभव हो रहे हैं तो मां काली आपके आस पास है मां आपको देख रही है.

जय माता की दोस्तों कैसे हैं आप सब आशा
करती हूं आप सभी बहुत अच्छे होंगे और आपकी
परिवार में सभी सुखी होंगे और सभी का
स्वास्थ्य स्वस्थ होगा दोस्तों आज मैं

आपको यह बताऊंगी कि अगर आपको यह अनुभव हो
रहे हैं तो माता काली आपके आसपास है मां
आपको देख रही
है सच में मां काली आप आपके आसपास
है क्या संकेत देती है

मां जब मां आपके आसपास होती है तो आपको
क्या संकेत देती है आपको कैसे अनुभव
करवाती
हैं जब

कोई जब कोई आप जाप करते हो किसी मंत्र का
जाप करते हो सिद्धि करते हो को चालीसा
पढ़ते हो या नवरात्र के व्रत रखते
हो तो दोस्तों कोई दिव्य शक्ति है जो आपको
जरूर प्राप्त होती है
जब कोई दिव्य शक्ति आपके अंदर आने लगती है

तो दोस्तों बहुत से अनुभव आपको होने लगते
हैं जिनसे आप यह जान सकते हैं कि मां काली
आपके आसपास मौजूद
है अब बात करते हैं उन अनुभवों और उ
संकेतों के बारे में लेकिन उससे पहले

दोस्तों मेरी आपसे रिक्वेस्ट है कि आप अगर
आप अगर मेरे चैनल पर नए आए हैं या पहली
बार आए हैं तो दोस्तों सबसे पहले आप मेरे
चैनल को सब्सक्राइब कर लीजिए और पास में
लगे बेल आइकन को भी दबा दीजिए ताकि हमारी

आने वाली वीडियो का नोटिफिकेशन आप तक सबसे
पहले पहुंच जाए और हां दोस्तों
आपको अगर आपको भी अनुभव हो रहे हैं या
संकेत मिल रहे हैं तो कमेंट बॉक्स में
जरूर बताएं चलिए दोस्तों बात करते हैं कि
वह कौन-कौन से अनुभव होते

हैं सबसे पहला अनुभव होता है दोस्तों
मंत्र जाप करते समय उबासी का आ
जब आप मंत्रों का जाप करने बैठते हैं पूजा
करने बैठते हैं तो आपको बड़ी बड़ी उ
बाशिया आने लग जाती है यह जो होता है

दोस्तों यह ऊर्जा के कारण ही होता है कोई
दिव्य ऊर्जा है जो आपके आसपास मौजूद है
उसके कारण यह सब होता है अगला दोस्तों जाप
करते समय या फिर ध्यान लगाते समय शरीर का

आगे पीछे हिलना आपका जो शरीर है वह आगे
पीछे हिलता है या फिर शरीर का गोल गोल
घूमना
यह भी ऊर्जा के कारण ही होता है दोस्तों
यह अनुभव आपको अच्छा महसूस करवाते हैं

जिनसे आप यह जान सकते हैं कि कोई शक्ति है
जो आपके आसपास घूम रही है या आपके आसपास
मौजूद है अगला दोस्तों शरीर के किसी भी
अंग का
फड़कना जब दिव्य शक्ति आपके आसपास मौजूद
होती है जब महाकाली की शक्ति आपके आसपास
मौजूद होती है दोस्तों तो आपके शरीर का

अंग फड़कने लगते हैं जैसे से आईब्रो का
फड़कना कंधे का फड़कना हाथ का फड़कना फड़क
होती है ना हाथ में कंधे में आईब्रो में
देखा होगा जिनको ये अनुभव होते हैं वो समझ

जाएंगे यह सब ये दर्शाते हैं दोस्तों कि
आपके अंदर कहीं ना कहीं कोई ना कोई शक्ति
जरूर है आज आज आपके शरीर में कोई ना कोई
शक्ति जरूर है तभी आपके शरीर में फड़क हो
रही है जब कोई दिव्य शक्ति आपके अंदर आती

है दोस्तों तो आपको यह सब संकेत मिलने
शुरू हो जाते हैं दोस्तों आपको यह स्वयं
भी महसूस हुआ होगा जैसे आप मंत्र जाप करने
बैठते हो जैसे ही आप मंत्र जाप करने बैठते
हो तो आपको ऐसा महसूस होता है जैसे आपको

कोई देख रहा है आप पूजा करने बैठे या आपने
ध्यान लगाया आपने आंखें बंद करी तो
दोस्तों आपको ऐसा महसूस होगा जैसे कोई है
जो कि आपको देख रहा
है या फिर आप कहीं जा रहे हैं आप आप कहीं

पर जा रहे हैं तो आपको ऐसा लगेगा जैसे कोई
आपके साथ चल रहा है आपको ऐसा लगता है कि
जैसे कोई चल रहा है आपके साथ दोस्तों यह
सब अनुभव हर किसी को नहीं होते हैं यह
अनुभव उन्हीं को होते हैं जिन पर मां की
कृपा होती है जिनके साथ स्वयं मां रहती है

तो दोस्तों वो मां है जो आपके साथ चल रही
है क्योंकि वो मां है मां मां कभी भी अपने
बच्चे को अकेला नहीं छोड़ती है मां अपने

बच्चे का कभी साथ नहीं छोड़ती है वह हमारे
साथ रहती है हमारे साथ चलती हैं हमारे साथ
चलती है और हमारे साथ हमारा जो ऊपर जो है
एक सुरक्षा घेरा बना लेती है एक सुरक्षा
चक्र बनाती है उस सुरक्षा चक्र बनाकर

हमारी रक्षा करती है इन सब से आप यह जान
सकते हैं कि आपके साथ माहा काली की शक्ति
है आपके आसपास मां काली की शक्ति जो है वो
विराजमान है दोस्तों

अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो दोस्तों
माता काली की शक्ति आपके आसपास मौजूद है
आप इस बात पर विश्वास करिए अगला
दोस्तों बहुत जल्दी गुस्सा आ
जाना कैसे कुछ लोग बोलते हैं कि ज्यादा
गुस्सा जो आता है नेगेटिव एनर्जी के कारण
आता है हां दोस्तों अधिक गुस्सा जो आता है

वह नेगेटिव एनर्जी के कारण नहीं आता लेकिन
जल्दी गुस्सा आ जाना वो दोस्तों मां की
शक्ति के कारण भी होता है
ज्यादा गुस्सा आना वो तो ना शक्ति कारण
होता ही है लेकिन जल्दी गुस्सा जाना मां
की शक्ति के कारण भी होता है और य इसलिए

नहीं है कि मां का उग्र रूप है इसलिए आपको
गुस्सा आ रहा है मा तो उग्र रूप में रहती
है हमेशा मा क्रोधित अवस्था में रहती है
तो इसलिए हम गुस्सा आता इसलिए मा की पूजा
कर रहे हैं कुछ लोग यही बोलते कि अगर
माहाकाली की पूजा करते हैं तो माहाकाली के

जो उग्र रूप है व का रद्र रूप है वो हमारे
अंदर भी उनके गुण आने लगते हैं हमें अधिक
गुस्सा आने लगता है दोस्तों यह मां के
उग्र रूप के कारण गुस्सा नहीं आता है
बल्कि इसलिए आता है क्योंकि मां की जो

ऊर्जा होती है काली माता की जो ऊर्जा होती
है अग्नि तत्व की होती
है और जब वह अगनि तत्व आपके पास आता है तो
दोस्तों आपको क्रोध जल्दी आ जाता है
क्योंकि हमारा जो शरीर है पाच तत्व से
मिलकर बना है हमारे शरीर में भी अग्नि है
और हमारे पास अग्नि आ रही है दोस्तों तो
दोनों अग्निया मिलती है दोस्तों तो इसलिए

हमको जल्दी गुस्सा आ जाता
अगला दोस्तों बार-बार दर्शन
होना बार-बार मां के दर्शन

होना उनकी आंखें दिखाई देना जैसे उनकी
आंखें नजर आना सपने में या साक्षात रूप
में मां के दर्शन दिखाई दे रहे हैं उनकी
हमें आंखें नजर आ रही है तो स्वयं हमें
मां दर्शन दे रही है माता काली हमको दर्शन
दे रही है मां ने हमें चुन लिया है अपनी
भक्ति के लिए

दोस्तों दोस्तो तो कभी-कभी ऐसा महसूस होगा
जैसे आपकी जो जीभ है वो बाहर निकल रही है
कि आपका मन करता है आप जीभ को बाहर
निकालो ऐसा आपको लगता होगा और ये सब जो
अनुभव हो रहे हैं ये जो आपके साथ हो र है
ये हर किसी को नहीं होते हैं जीभ निकालने
का मन करना या जीभ बाहर निकलना हर किसी की

नहीं निकलती दोस्तों ये सिर्फ उसी की ही
निकलेगी जिसका ही मन करता है जीभ निकालने
का जिसके ऊपर मां की सवारी आने वाली होती
है या जिसके साथ मां की शक्ति होती है
जिसके साथ स्व मकाली रहती

है ये मां की ऊर्जा के कारण ही हो रहा है
दोस्तों ये जो हो रहा है ये मां की ऊर्जा
के कारण हो रहा है मां की शक्ति आपके अंदर
जागृत हो रही है दोस्तों मां की जो शक्ति
है वो अब आपके अंदर जागृत होने लगी है
इसीलिए आपके साथ अब यह सब होने लगा है
दोस्तों और आपको यह अनुभव हो रहे

हैं दोस्तों आपने देखा होगा कि जब आप मां
की भक्ति करने लगते हो जब आप मां की भक्ति
करने लगोगे तो मां के जो प्रिय रंग होते
हैं जैसे मां का लाल रंग होता है काला रंग
होता है अगर हम माहाकाली की पूजा कर रहे
हैं दुर्गा मां की पूजा कर लाल रंग ये

 

हमें अच्छे लगने लग जाते हैं ये कलर हमको
पहले पसंद नहीं थे लेकिन इस टाइम हमें ये
कलर बहुत भाते हैं कोई सुंदर स्त्री सास
श्रृंगार करे हुए सो श्रृंगार करे हुए वो

हमें अच्छी लगने लग जाती है दोस्तों यह सब
हमें मां की कृपा कारण नहीं हुआ क्योंकि
हमारा जो प्यार है हमारा जो प्रेम है वो
मां से बढ़ने लगा है मां से हम प्रेम करने
लगे हैं इसलिए हमें मां के जो प्रिय
जो मां को प्रिय पस पसंद है मां को जो

प्रिय है मां के व हमें भी प्रय लगने लगते
हैं
दोस्तों आपने देखा होगा कभी कभी कि आपको
ऐसा महसूस होगा कि आपकी जो रीड की हड्डी
होती है उस पर कोई सांप की तरह रह रहा है
आपकी ड़ की हड्डी में ऐसा महसूस होना कि
कोई नीचे से ऊपर की तरह कोई जा रहा है कोई
चीज चल रही है आपके शरीर पर आपकी जो री की

हड्डी है उस पर आपको ऐसा महसूस होना जैसे
कि कोई चीज आप नीचे से ऊपर की ओर जा रही
है तो
दोस्तों आपको जब ऐसा होता है तो यह जब ऐसा
हो रहा है आपके साथ तो दोस्तों आपके अंदर
शक्ति जागृत हो रही है आपके अंदर शक्ति

जागृत हो रही है वह शक्ति आपकी कुंडली में
निवास करती है जब कोई शक्ति जागृत होती है
जब मां की शक्ति आपके अंदर जागृत हो रही
है दोस्तों तो वो आपकी कुंड में ही निवास
करती है और उसी कारण आपके साथ यह सब होता
दोस्तों आप ने कभी देखा होगा कि आप मंदिर

गए या आपने घर के मंदिर में ही बैठे हो
ध्यान लगा रहे हो पूजा कर रहे हो और आप
मां को निहार रहे हो मां को देख रहे हो और
मां में आप खो गए और आपको पता नहीं चला कब
कब आपकी आंखों से आंसू निकलने लग गए आपके
जो भाव है वह आपकी आंखों के रास्ते निकल
गए दोस्तों आप जो मां से कहना चाहते हैं
वह सब कुछ आपके आंसुओं ने कह दिया कहने का
मतलब आपको मां को देखकर रोना आ जाए
अगर आप मां की मूर्ति को ही देख रहे हो
मां की तस्वीर को देख रहे हो लेकिन आपका
रोने का मन कर जाए आप रोने लगे तो दोस्तों
निश्चित आपके आसपास माहाकाली की शक्ति
मौजूद है माहाकाली आपके आसपास है तभी आपके
अंदर यह भाव उत्पन्न हुए हैं दोस्तों
दोस्तों आप जब मां को देखोगे दोस्तों आपके
रोंगटे खड़े हो जाते हैं जब मां के भजन
सुनते हैं या फिर मां को तस्वीर देखते हैं
मां की तो आपकी क्या होते है रोंगटे
खड़े होने लगते हैं दोस्तों आपके शरीर में
एक वाइब्रेशन सा होने लग जाता है आपको
झटके लगने लग जाते हैं दोस्तों जब मां की
शक्ति आपके साथ जुड़ती है जब आपके आसपास
मां रहती है दोस्तों तो आपके साथ यह सब
होने लगता है और आपका जो लगाव होता है
दोस्तों वो मां से बहुत ज्यादा होने लगता
है अब आप बस मां में ही हो जाते हैं बस अब
आपको मां नजर आती है कोई नजर नहीं आता बस
आप मां की भक्ति करना चाहते हैं मां के
साथ रहना चाहते हैं बस अब एक तरीके से
अपने आपने अपना पूरा जीवन जो होता है मां
को समर्पित कर दिया होता है अब आप सोचते
नहीं दुनियादारी के बारे में बस अब आपको
अपनी भक्ति करनी है मां की बस बस अब आपको
दिखता है कि बस मेरी तो मां है मेरा सब
कुछ सब मेरी मां करेंगी मां मेरे साथ है
तो मुझे इस दुनिया का कोई डर नहीं है
दोस्तों जिनके साथ मां काली रहती है
दोस्तों जिनके आसपास मकाली मौजूद होती है
उन सभी को दोस्तों यह अनुभव जरूर होते हैं
ये संकेत जरूर मिलते हैं दोस्तों तो तब तक
के लिए अब आपको बताती हूं मैं आज तक के
लिए तो दोस्तों जो मैंने बताया अभी अगर
आपको भी यह सब महसूस हो रहे हैं ये सब
अनुभव आपको हो रहे हैं ये संकेत आपको मिल
रहे हैं तो निश्चित ही दोस्तों आपके आसपास
महाकाली है महाकाली की शक्ति है जो आपकी
रक्षा कर रही है जो आपके साथ रह रही है तो
दोस्तों जय माता की अब मिलते हैं अगली
वीडियो में तब तक के लिए जय माहाकाली
दोस्तों ओम नमः शिवाय

Leave a Comment