अगर तुमने इनको नहीं छोड़ा, तो जीवन बर्बाद होकर ही रहेगा एक अटूट सत्य है

मेरे प्रिया बच्चों कैसे हो तुम आज
तुम्हारी मां एक बार फिर तुमसे बात करने
आई है मेरी बटन को ध्यानपूर्वक सुना
क्योंकि यह बातें तुम्हारे जीवन को बदलने
वाले हैं मेरे बच्चे जब कुछ चमत्कार होता

है तब तुम भगवान पर विश्वास करते हो किंतु
तुम्हें यह स्मरण रहना चाहिए की भगवान सदा
ही अपने बच्चों के साथ होते हैं और उनका
होना ही एक चमत्कार है आज तुम्हारी मां
तुम्हें आशीर्वाद देती हूं की तुम्हें धन
ज्ञान बुद्धि यस और सभी प्रकार के सुख
प्राप्त हो लेकिन तुम्हें यह सब तभी

प्राप्त हो सकता है जब तुम अपनी शक्ति को
पहचान लोग मेरे बच्चे तुम क्या नहीं कर
सकते हो बस तो मैं अपनी मां और अपनी शक्ति
पर विश्वास करना होगा मैंने तुम्हारे उन
सभी कांटों को देखा है जो तुमने दिन-रात
सही है तुम्हारी मां अब तुम्हें इस प्रकार

से नहीं देख शक्ति मेरे बच्चे अब तो मैं
तुम्हारे नकारात्मक चीजों से बाहर निकालने
का समय ए गया है मैं ए गई मेरे बच्चे अब
तुम चिंता मत करो सब ठीक हो जाएगा मैं
इसलिए तुम्हारे पास आई हूं ताकि तुम्हें

जीवन में वह साड़ी खुशियां मिले जींस तुम
आज तक वंचित थे और तुम्हें उन साड़ी
खुशियों को भोगनी का अधिकार है मैं
तुम्हारी श्रद्धा भक्ति और ईमानदारी से
प्रश्न हूं इसलिए मैं तुम्हें वह सभी चीज
प्रधान करना चाहती हूं जो तुम्हें चाहिए
वह तुम्हें तुम्हारी मां स्वयं तुम्हें

प्रधान करेंगे मेरे बच्चे तुम चिंता मत
करो तुम्हारी
अब तुम्हारे पास ए चुकी हैं अब तुम्हें
घबराने की आवश्यकता नहीं है मुझमें पर

विश्वास रखो मेरे पास तुम्हारे लिए बहुत
सी योजनाएं हैं जो तुम्हारे उज्जवल भविष्य
के लिए कम आएंगे और तुम्हारे भविष्य में
आगे चलकर जो तुम्हें ऊंचाइयों पर लेकर
जाएंगे मेरे बच्चे छोटे-छोटे बटन पर
गुस्सा करना बैंड करो यह केवल तुम्हारी
पवित्रता को नष्ट करेगी तुम जानते हो की
तुम उसे प्रकार के नहीं हो जो केवल अपने

बड़े में सोच परंतु इन दुखों के करण
तुम्हें बहुत अधिक गुस्सा ए रहा है उसे
गुस्से पर काबू पाव मेरे बच्चे भगवान की
तलाश करो जो तुम्हारे अंदर है यदि तुम

भगवान की तलाश करोगे तो मैं स्वयं ही
शांति प्राप्त होगी क्योंकि शांति का
दूसरा बहुत ही भगवान है भगवान हमेशा शांति
तथा विनम्रता पर विश्वास रखते हैं और
तुम्हें भी शांति तथा विनम्रता पर विश्वास
रखना चाहिए मेरे बच्चे मैं तुम्हें आज

आशीर्वाद देती हूं की तुम्हें तुम्हारी
मंजिल में सफलता मिलेगी और अपने मंचाई
जिंदगी जरूर मिलेगी जिसके लिए तुम दिन रात
मेहनत करते हो वह तुम्हें सब कुछ प्राप्त
होगा मेरे आशीर्वाद से तुम्हें वह सब

प्राप्त होंगे जिसके बाद तुम इस संसार में
किसी भी कार्य को बड़ी आसानी से कर सकोगे
तथा मेरे आशीर्वाद की प्रताप के बाद ही तो
मैं सुख समृद्धि अपने आप ही मिलती चली
जाएगी क्योंकि आशीर्वाद ही सर्वप्रथम वह
चीज है जो अगर मनुष्य के पास हो तो उसे

किसी चीज की कमी नहीं रहती
ने भी इस संसार में बड़े व्यक्ति रहे हैं
और जो बड़े व्यक्ति हैं वह सब मेरे
आशीर्वाद के करण ही बड़े हुए हैं यदि उनके

पास मेरा आशीर्वाद नहीं होता तो वह धन को
भी अर्जित नहीं कर पाते आशीर्वाद ही ऐसी
साधना है जो मनुष्य को हर तरह से श्रमाद
बनती है मेरे बच्चे तुम केवल अपने केमोन
पर ध्यान दो और मेरे चमत्कार के लिए

इंतजार करो मैं तुम्हें जीवन में इस
प्रकार की चमत्कार दिखाऊंगी की तुम स्वयं
सोचोगे की यह असंभव सा कार्य कैसे संभव हो
गया तुम मेरे प्यार बच्चे हो और मैं

तुम्हें आशीर्वाद का वह भंडार दूंगी जिससे
तुम किसी मनुष्य के आगे नहीं झुकाओगे
बल्कि इस पूरे संसार को अपने आगे झुकाओगे
इस मतलब इस संसार में तुम्हें नाम को ऊंचा

करना है तथा अपने कम से उन लोगों की मदद
करनी है जिन लोगों को तुम्हारी सहायता की
आवश्यकता मेरे प्यार बच्चे मेरा रोज स्मरण
करने से तो मैं सकारात्मक और आशीर्वाद
जरूर मिलेगा अपने दिमाग में पाल रही साड़ी
चिटा को हटाओ चिंता से केवल तुम्हें दुख

प्राप्त होगा और दुख से तुम किसी भी
प्रकार के अच्छे कार्य को नहीं कर पाओगे
अब तुम्हारी मां तुम्हारे पास है तो
तुम्हें इन दुखों को सोने की कोई जरूर

नहीं है तुम जब भी अपने कार्य करने बैठने
हो कार्य करने से पहले मेरा ध्यान कर लेना
क्योंकि मेरे ध्यान करने से तो मैं
सकारात्मक चीज प्राप्त होगी और मां को
शांति मिलेगी मेरा आशीर्वाद तुम्हारे जीवन

के साड़ी बढ़ाओ को मित देगा तुम्हारे जीवन
के हर उसे दुख तुम खत्म कर देगा जी दुख के
करण तुम ठीक प्रकार से ध्यान नहीं कर का

रहे मैं तुम्हें आशीर्वाद देती हूं की तुम
अपने पवित्र मां से मुझे जो भी मांगोगे
मैं तुम्हें वह साड़ी चीज प्रधान करूंगी
लेकिन तुम्हारी वह मांग सकारात्मक हनी

चाहिए मैं तुम्हें केवल वही वरदान दूंगी
जो तुम्हारे लिए उचित होगा तुम मुझे जी
प्रकार के वरदान मांगोगे तो मैं वह सब
प्राप्त होंगे लेकिन मैं तो मैं फिर का
रही हूं की वह सकारात्मक वरदान होने चाहिए
यदि उसे वरदान से किसी का बड़ा होगा तो

तुम्हें ऐसी वरदान की प्रताप नहीं होगी
तुम मेरे सबसे प्यार भक्ति हो तो मैं जीवन
में सबसे ज्यादा तरक्की मिले और तुम जी
कार्य को भी करने के लिए अपने कम बढ़ाओ
उसमें सफलता प्राप्त हो यही मेरा आशीर्वाद
तुम्हारे लिए सदैव रहेगा

Leave a Comment