अधीर रंजन चौधरी BJP में होंगे शामिल ?, बड़े झटके से यात्रा छोड़ भागे

मोदी शाह की चाणक्य नीति बर्बाद हो गई
कांग्रेस अधीर रंजन चौधरी की धमकी से उड़े
राहुल के होश कांग्रेस ने ममता से मिलाया
हाथ अधिर रंजन ने दिखा दी औकात
साथियों कांग्रेस की

हालत टाइटेनिक जहाज की तरह
है य हर एक नए दिन के साथ डूबती ही जा रही

है नमस्कार आप देख रहे हैं एनएमएफ न्यूज
गड्डा खोदा मोदी के लिए और पूरा विपक्ष
खुद ही उस गड्ढे में गिर गया है विपक्षी

दलों के जमावड़े ने मोदी को उड़ाने की
कोशिश की लेकिन आज मोदी की आंधी में खुद
ही उड़ गए हैं मोदी की नीति शाह की चाणक्य
नीति ने कांग्रेस को तबाह कर दिया है ना

सिर्फ विपक्षी दल बल्कि कांग्रेस के
बड़े-बड़े नेता मोदी के ऐसे फैन हुए कि
एक-एक कर बीजेपी में ही शामिल हो रहे हैं
इसी बीच राहुल गांधी को एक और झटका देने
वाली बड़ी खबर सामने आ गई है लोकसभा में
विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी कांग्रेस

छोड़ सकते हैं कांग्रेस छोड़कर अधी रंजन
चौधरी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं जैसे
ही ये खबर सामने आई राहुल गांधी के पैरों
तले जमीन खिसक गई क्योंकि अब तबाही के
अलावा पार्टी में कुछ नहीं बचा है पीएम
मोदी ने बिल्कुल सच बात कही थी कि
कांग्रेस एक डूबता हुआ टाइटनिक जहाज हो गई
है खैर अब अधीर रंजन चौधरी क्यों कांग्रेस

से भाग रहे हैं चलिए इसका भी सियासी गणित
बताते हैं सूत्रों के मुताबिक बंगाल में
फिर से सीट शेयरिंग को लेकर कांग्रेस
टीएमसी के बीच बातचीत चल रही है दोनों
पार्टियों में मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ने

की सहमति बन सकती है लेकिन इस बात से
पश्चिम बंगाल के कांग्रेस अध्यक्ष अधि
रंजन चौधरी नाराज हैं उनकी नाराजगी ममता
के साथ सीट बंटवारे को लेकर चल रही बातचीत
की वजह से है जैसे ही कांग्रेस ने ममता के
आगे घुटने टेके वैसे ही कांग्रेस में बहुत

बुरी तरह मारधाड़ शुरू हो गई सूत्रों की
माने तो नाराज अधीर रंजन चौधरी ने आलाकमान
को छूटते ही कांग्रेस छोड़ने की धमकी दे
डाली है अधी रंजन चौधरी ने यहां तक कह

दिया है कि अगर कांग्रेस का टीएमसी के साथ
गठबंधन होता है तो व बीजेपी में शामिल हो
सकते हैं अधीर रंजन चौधरी का अल्टीमेटम
आला कमाल के लिए सिरदर्द बन गया है

क्योंकि पहले ही पार्टी के तमाम बड़े नेता
भाग चुके हैं लोकसभा चुनाव से पहले
कांग्रेस की नैया डूब चुकी है यही रीजन है
कि कांग्रेसी सबके पैरों में गिरकर गठबंधन
के लिए इधर उधर घूम रहे हैं लेकिन अधी

रंजन चौधरी नहीं चाहते कि जो ममता
कांग्रेस की बार-बार औकात उतार रही थी
अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान तक कर दिया था
उससे कांग्रेस हाथ मिलाए यही वजह है कि

अधी रंजन चौधरी जमकर ममता बैनर्जी पर तंज
कस रहे थे इतना ही नहीं संदेश खाली पर जब
ममता गिरी हुई है तो खुलकर अधि रंजन चौधरी
ने ममता और उनके चहते शाहजा शेख के खिलाफ

लगता है कि कोई दूसरी राज खुल जाएगी इसलिए
डर के मरे रुकते हैं
अधिकार की बाहर काम करते हैं हम कानून
दिखाते हैं फिर भी व नहीं मा मानने के लिए
तैयार है यह सरासर तानाशाही है और क्या

पुलिस इसलिए डर रही है कि पुलिस और मिली
भक्त सतरूर पार्टी की जो क्रिमिनल सब
मिलके यह इनके ऊपर अत्याचार कर रही है आज
से नहीं महीनों से वर्षों से चल र है यह
सिलसिला इसलिए पुलिस को यह यकीन नहीं करते
यह जानते हैं कि पुलिस स पार्टी से मिली

भका सब काम करती सब हचार कर रही है अब अगर
कांग्रेस ने अपने नेताओं की नहीं मानी
लालच में थूक कर टने का काम किया तो अब
पार्टी का खात्मा तय है अभी तक तो खबर थी
कि कमलनाथ बेटे नकुलनाथ के साथ कांग्रेस

को धक्का मारने वाले हैं फिर खबर आई आनंद
शर्मा और मनीष तिवारी भी कांग्रेस छोड़ने

की तैयारी में हैं लेकिन अब अधी रंजन
चौधरी ने कांग्रेस को अलविदा कहने का
अल्टीमेटम देकर बवाल खड़ा कर दिया है
लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के कई
विकेट गिर चुके हैं पिछले 10 साल में
कांग्रेस के कई बड़े नेता पार्टी छोड़

चुके हैं रीता बहुगुणा जोशी कैप्टन
अमरिंदर सिंह ज्योतिरादित्य सिंधिया
कांग्रेस छोड़ चुके हैं गुलाम नबी आजाद

आरपीएन सिंह जितन प्रसाद बाबा सिद्दीकी
कांग्रेस छोड़ चुके हैं मिलिंद देवड़ा
अशोक चौहाण सुष्मिता देव प्रियांका
चतुर्वेदी जितेंद्र प्रसाद कांग्रेस छोड़
चुके हैं अशोक तवर हार्दिक पटेल अल्पेश
ठाकुर अशोक चौधरी हेमंत विश्व शर्मा
कांग्रेस छोड़कर जा चुके हैं सुनील जाखड़

अश्वनी कुमार भी कांग्रेस छोड़कर जा चुके
हैं तो अब कांग्रेस छोड़कर जाने वाले
नेताओं की लिस्ट काफी लंबी है अधीर रंजन
चौधरी के साथ-साथ अब कई बड़े नेता भी
नाराज बैठे हैं और लोकसभा चुनाव से पहले

खेल करने की तैयारी में हैं खैर अब बंगाल

में कितनी सीटों पर ममता ने कांग्रेस के
साथ बात की है तो चलिए यह भी बताते हैं
ममता बनर्जी कांग्रेस को पांच सीटें देने
के लिए तैयार हैं जबकि कांग्रेस ने छह से
आठ सीटों की मांग रखी है दोनों पार्टियों
के बीच सीट शेयरिंग को लेकर बातचीत अंतिम
दौर में है कहा जा रहा है कि कांग्रेस
टीएमसी के बीच छह सीटों पर सहमति बनती दिख

रही है दोनों दलों के बीच 366 का फार्मूला
तय हुआ है यानी टीएमसी 36 कांग्रेस छह
सीटों पर चुनाव लड़ेगी कौन-कौन सी सीट
कांग्रेस को दी जा सकती है इसको लेकर
बातचीत चल रही है कांग्रेस को बहरामपुर
रायगंज दार्जिलिंग मालदा उत्तर और मालदा
दक्षिण सीट दी जा सकती है ममता बैनर्जी
बंगाल की जिन पांच सीटों को कांग्रेस को
देने के लिए राजी हुई हैं उसमें से दो सीट
कांग्रेस ने पिछले लोकसभा चुनाव में जीती
थी यह सीटें बहरामपुर और मालदा दक्षिण है

जहां से अधि रंजन चौधरी भी सांसद हैं तो
ऐसे में अब अधी रंजन चौधरी चाहते हैं
कांग्रेस अकेले ही चुनाव लड़े लेकिन
कांग्रेस अपने नेताओं की सुनने के लिए
राजी नहीं है तो ऐसे में अब कांग्रेस

नेताओं ने जहां सुनी जा रही है वहां जाने
का रास्ता चुनना शुरू कर लिया है यानी कि
अब अधी रंजन चौधरी भी बीजेपी का दामन थाम
सकते हैं तो इस खबर पर क्या है आपकी राय
कमेंट कर जरूर

बताएं m

Leave a Comment