अब इस व्यक्ति के मुंह पर जोरदार तमाचा पढ़ने वाला है

ब्रह्मांड में आपके लिए बहुत ही बड़ी योजना तय कर रखी है आपको रचना ही है जो हो रहा है और जो होगा वह सब परमात्मा के

द्वारा भीम का एक हिस्सा है पत्ता भी नहीं मिलता फिर आपके जीवन में हो रहे बदलाव बिना परमात्मा की आज्ञा से कैसे हो सकते हैं

एक संतान को जन्म देने वाले माता का उसे कितना प्रेम करती है प्राण रक्षा के लिए अपने विचार कर सकते हैं जो संपूर्ण सृष्टि का

पिता है के विषय में नहीं सोचता होता क्या मैं आपके लिए भविष्य की योजना नहीं बनाई होगी मैं आपके बारे में अधूरा कैसे सोच

सकते हैं अपने मन में जो भी संदेह है उसे मिटा दो और उसके स्थान पर प्रेम समर्पण और विश्वास इतना भर भर दो वास्तु के लिए हृदय में समान बच्चे समर्पण भक्ति श्रद्धा और विश्वास होता है वहां परमात्मा निवास करते हैं और जहां पर महात्मा निवास करते हैं

संकट कैसे आ सकते हैं आपके लिए ब्रह्मांड में बहुत आपको पहले से ही तैयार करना चाहते हैं आपको बहुत ज्यादा मजबूत बनाना चाहते हैं चलिए बनाना चाहते हैं आखिर आपके साथ ऐसा क्यों होता है

Leave a Comment