आपकी शत्रु महिला मेरे दर पर आकर घंटा बजा रही है और जोर-जोर से छाती पीट कर..

मेरे बच्चे वह बहुत कुछ इंसान

है का नहीं उसके लिए रो

मत उसने सिर्फ तुम्हारे साथ चल नहीं किया

है वह तो है ही ऐसा व्यक्ति उसकी

प्रवृत्ति ही ऐसी

है वह तो अपने माता-पिता के साथ भी छल

करता

है तुम तो फिर भी बहुत दूर के लगते हो

उसके ऐसे व्यक्ति के लिए तुम क्यों रो रहे

हो ऐसे व्यक्ति का क्या

हुआ

छल तुम याद ही क्यों कर रहे

हो अपने ऊपर गर्व करो तुमने उस जैसे

व्यक्ति के लिए भी इतना अच्छा किया इतना

अच्छा सोचा तुम्हें एक बार खुद सोचो क्या

उसमें कुछ भी ऐसा था जो तुम उसके साथ

रहो जो तुम उसके लिए इतना त्याग करो जो

तुमने किया उसको थोड़ा भी नहीं

है कि तुमने उसके लिए क्या-क्या किया और

बदले में उसने तुम्हें क्या

दिया वह तो आज भी इसी घमंड में जी रहा है

कि वह बहुत अच्छा इंसान है ऐसे इंसान

को उसके भ्रम में जी मेरे बच्चे बहुत जल्द

उसके भ्रम का गुब्बारा फूट जाएगा और फिर

उसे जो पछतावा होगा तब तक बहुत देर हो

चुकी

होगी मुझे तो तुम पर गर्व

हुआ जब वह मेरे ार पर आया तो तुम भी खुद

पर गर्व करो कि दुनिया लाख बुराई

है मेरे बच्चे पर तुमने खुद को नहीं

बदला मेरे बच्चे तुम बहुत लंबे अरसे से

मेरी भक्ति कर रहे

हो मेरी पूजा पाठ करके तुमने बहुत

शक्तियां हासिल की जिनका अंदाजा भी नहीं

है

है तुम का एहसास तुम्हें वक्त वक्त पर

होता जरूर होगा और जब तुम्हें वह एहसास हो

रहा है तो तुम डर जा रहे हो जब

तुम यह ऐसे स्वप्न दिख रहे हैं तो तुम डर

जा रहे हो तुम्हें डरने की जरूरत नहीं

है है मेरे बच्चे तुम्हारी अंतरात्मा

तुम्हें कुछ बता रही

है तुम्हारी अंतरात्मा आप जागृत हो रही है

वह आने वाली मुश्किलों से पहले ही तुम्हें

चेतावनी दे रही है जिससे तुम्हें घबराना

नहीं जिससे तुम्हें भयभीत नहीं होना है

बल्कि तुम्हें उस आवाज को सुनना है और फिर

तुम्हें उस हिसाब से निर्णय लेना

है तुम्हें सावधान करने के लिए ही वह

संकेत दिए जा रहे

हैं तुम्हें तुम तो उनसे भयभीत हो जा रहे

हो मेरे बच्चे उनको ध्यान से सुनो उनको

अपनाओ

तुमने वो शक्तियां कमाई है तुमने वह

शक्तियां खुद अपने भीतर जागृत की है

उनसे भयभीत मत हो मेरे बच्चे तुम लाख

कोशिश करते

हो मेरी पूजा पाठ के बाद भी तुम्हारे अंदर

एक नकारात्मक ऊर्जा रह जाती

है नकारात्मक ऊर्जा इस बात की तुम सोचते

बहुत अधिक

हो हर चीज में तुम सोचने लगते हो हर बात

में कोई व्यक्ति तुम कुछ दे दे कोई

व्यक्ति तुमसे अच्छे से बात करें तो तुम

यह सोचने लगते हो कि इसमें इसका क्या

स्वार्थ

है यह मुझसे ऐसा क्यों कह रहा

है कोई कुछ मुझसे चाहता जरूर होगा तभी तो

यहां ऐसा मेरे साथ कर रहा

है तुम बहुत सोचते हो और कहीं नाना कहीं

अतीत का बीता दुख भी है तुम्हारे भीतर जो

तुम्हारे अंदर एक नकारात्मकता को फैला

रहा मेरे बच्चे धीरे-धीरे तुम्हारा शरीर

एक बीमारी को उत्पन्न कर रहा

है तुम्हारे परिवार में भी कोई है जो

बीमार रहता है तुम्हारे परिवार में आए दिन

किसी ना किसी को कोई ना कोई बीमारी रहती

ही है एक ठीक होता है तो दूसरा बीमार हो

जाता है दूसरा ठीक होता है तो तीसरा बीमार

हो जाता

है यह तो लगा हुआ है तुम्हारे परिवार में

पता नहीं कब से इसके लिए जरूरत यह है कि

तुम अपने घर की सफाई करो तुम्हारे घर के

किसी कोने में

कुछ ऐसी वस्तुएं रखी गई है जिनका कोई

उपयोग

नहीं उनको साफ कर उनको किसी कबाद भी वाले

को या किसी को दे दो या कहीं दान कर दो या

अपने घर से बाहर निकाल

दो ऐसी किसी भी चीज को अपने घर में मत रखो

जो तुम्हें लग रहा है कि यह वर्षों से

परिधि हुई है और इनका कोई उपयोग नहीं वह

चीज पर ऊर्जा प्रकट कर रहे हैं तुम्हारे

परिवार

में घर के भीतर उन चीजों को अभी साफ करके

निकाल दो या फिर तो कोई ऐसा वस्तु जिसका

तुमने बहुत लंबे समय से प्रयोग नहीं किया

है उसको बाहर निका कर उसकी साफ सफाई करकर

उसका प्रयोग करना शुरू

कर दो अपने घर के कोनों में कोई भी कुर्दा

कबा मत

रखो मेरे बच्चे उनको साफ करके वहां पर शुभ

चिन्ह

बनाओ जिनको तुम रोज देखो सिर्फ उन चिन्हों

को देखने से ही तुम्हारे भी तक इतनी सकार

त्मक ऊर्जा आएगी

उन सब चिन्हों को देखने से ही तुम्हें एक

अलग प्रकार की वाइब्रेशन

मिलेंगे यह करना शुरू कर दो क्योंकि तुम

अपने घर में ही नकारात्मकता को पालते जा

रहे हो वह वस्तुएं हमारे घर में बीमारियों

को खींच रही

है तुम्हारे घर में क्लेश को खींच रही है

आय दिन नए जग हो रहा है तुम्हारे घर में

वह बेकार पड़ी की वस्तुओं में

तुम्हारे घर में एक नकारात्मक एनर्जी को

प्रकट कर रही

है अगर आप सच्चे मन से माता रानी को मानते

हैं तो इस संदेश को लाइक करके कमेंट में

जय हो माता रानी लिख दी

और साथ ही साथ इस चैनल को सब्सक्राइब कर

दीजिए

Leave a Comment