ऐसी जीत पाने वाले हो जिसे देख तुम्हारे शत्रु जल जाएंगे

मेरे प्रिय बच्चे कल्पना करो कि तुम अपने

जीवन को किस प्रकार से देखना चाहते हो यह

जिंदगी एक रंग मंच की तरह है जिसमें तुम

बहुत सी बातें याद रखते हो और बहुत सी

बातें भूल जाते हो किंतु उनका प्रभाव

तुम्हारे जीवन पर पड़ता ही जाता है मेरे

प्रिय जो मैं तुम्हें आज बताने वाला हूं

यह जानना तुम्हारे लिए अत्यंत आवश्यक है

इसलिए इस संदेश को पूरा सुनना बीच में

छोड़कर जाने की भूल ना करना साथ ही इस

वीडियो को लाइक जरूर करना क्योंकि यह

तुम्हारे लिए आवश्यक है जो तुम जानने वाले

हो वह जानना तुम्हारा अधिकार भी है मेरे

प्रिय इस संसार में निरंतर बहुत सी घटनाएं

घटित हो रही है लेकिन कुछ घटनाएं ऐसी है

जिन्होंने तुम्हारे मस्तिष्क पर एक अलग ही

छाप छोड़ी है अतीत में ऐसी बहुत सी घटनाएं

घटी जिनका प्रभाव तुम्हारे जीवन पर अभी

दिखाई दे रहा है

बहुत से ऐसे कर्म किए गए जो अब तुम्हारे

सामने समस्याएं बनकर आ खड़ी हुई है तुम

यदि उनमें सुधार करने का प्रयास करोगे तो

वह उस प्रकार से सुधर नहीं पाएंगे लेकिन

यदि तुम इसे अपनी नियति मानकर और बेहतर

विकल्प ढूंढने का प्रयत्न करोगे तो

निश्चित तौर पर तुम्हें बहुत लाभ होने

वाला है मेरे प्रिय तुमने अभी तक के अपने

जीवन में ऐसी बहुत सी घटनाओं को देखा है

जिस तुम्ह दुख की अनुभूति हुई है बहुत सी

ऐसी बातें तुम्हें कही गई जो तुम्हारे दिल

पर चोट कर दी गई लेकिन क्या तुमने कभी

विचार किया कि जो तुम्हें गलत बात कह रहे

थे उनका तुम्हारे जीवन में कितना मूल्य

रहा है क्या वह ऐसा कहकर तुम्हारे जीवन को

परिवर्तित कर सकते थे उन्होंने तुम्हारे

जीवन को परिवर्तित किया किंतु एक

नकारात्मक विचारधारा के तहत कोई भी

तुम्हारे जीवन को सकारात्मक रूप से

परिवर्तित ना कर सका लेकिन मेरे प्रिय यदि

तुम उनकी बातों को महत्व ना देकर खुद को

मजबूत समझकर आगे बढ़ते तो ऐसी नकारात्मक

परिस्थितियां तुम्हारे सामने कभी ना आती

उनकी नकारात्मकता का परिणाम यह हुआ कि

तुमने खुद को ही कमजोर मान लिया जबकि

वास्तव में तुम बिल्कुल भी कमजोर नहीं हो

तुम किसी भी तरह से किसी भी नजरिए से जरा

भी कमजोर नहीं हो लेकिन लोगों की बातों का

प्रभाव तो तुम्हारे मन को छोड़ ना सका और

तुम्हारे सामाजिक परिस्थितियां ऐसी बनती

गई कि तुम भूत और भविष्य के जंजाल से निकल

ही ना पाए वर्तमान में जीने के कुछ क्षण

को तुमने कभी कभार ही महसूस किया कभी कोई

खेलते हुए तो कभी अपने के बीच बैठकर

प्रसन्नता के क्षण को अनुभव करते हुए ही

तुमने वर्तमान को महसूस किया लेकिन

ज्यादातर समय तुम भूत और भविष्य की यादों

में ही खोए रहे हो

और तुमने इतनी कल्पनाएं विकसित कर ली जिन

कल्पनाओं का संभव होना कई बार तो असंभव भी

हो जाता है तुम्हारे मन में जो कल्पनाएं

जन्म लेती है यदि वास्तव में उन्हें पूर्ण

किया जाए तो तुम्हारा यह जीवन और भी

ज्यादा कठिन हो जाएगा तुम कई बार अपने आप

को लेकर बहुत अच्छा विचार करते हो तो कई

बार स्वयं को इतनी विपत्तियों से घिरा हुआ

महसूस करते हो स्वयं को अकेला अलग थलग

महसूस कराते हो और इस कल्पना और

वास्तविकता के बीच संतुलन बनाने का मैं

कार्य कर रहा हूं मैं तुम्हारे लिए

योजनाएं बना रहा हूं क्योंकि मैं नहीं

चाहता तुम्हारे जीवन में विपत्ति आए संकट

आए किसी भी तरह की समस्या आए मैं तुम्हें

खुश देखना चाहता हूं तुम मेरे प्रिय बच्चे

हो तुमने कभी दूसरों का बुरा नहीं चाहा है

तुम्हारे मन से कभी यह भावना उत्पन्न नहीं

हुई कि तुम कभी किसी की हानि करो तुम्हारे

मन से कभी यह भावना उत्पन्न नहीं हुई कि

तुम किसी का भी नुकसान करो और जब तुम्हारे

भीतर इतनी दयालुता है इतनी करुणा है कि

तुम दूसरों के दर्द को भी महसूस करते हो

तो आखिर तुम्हे पीड़ा किस प्रकार से

पहुंचाई जा लेकिन तुम्हारे अपने मन पर

नियंत्रण नहीं है तुम अपने मन के दास बनकर

पूरी तरह से उसके वशीभूत हुए हो और यही

कारण है कि तुम जिस ऊंची से ऊंची चोटी को

भी प्राप्त कर सकते हो वहां तक पहुंच नहीं

पाते क्योंकि तुम्हारे मन के आलस्य ने

तुम्ह घेर रखा है तुम अपनी क्षमता को समझ

ही नहीं पाए हो तुम यह जान ही नहीं पाए हो

कि तुम्हारे अंदर कैसी कैसी विद्यु और

कैसी कैसी प्रतिभा विद्यमान है लोगों ने

सदैव तुम्हें यह एहसास कराया कि तुम कमजोर

हो तुम जानकार नहीं हो कई बार कुछ लोग

तुम्ह ज्ञानी समझते हैं किंतु ज्यादातर

लोग तुम्ह मासूम समझकर तुम्हारी चंचलता का

लाभ उठाकर तुम्हे मूर्ख बना देते हैं और

तुम यह जान नहीं पाते सही गलत का भेद नहीं

कर पाते जब एक बार तुम्हारे दिल पर चोट लग

जाती है तुम्हें धोखा मिल जाता है तब जाकर

तुम जान पाते हो कि वह व्यक्ति कैसा था

लेकिन प्रारंभ में तुम सदैव ही सबको अच्छा

समझ लेते हो मेरे प्रिय मैं यह नहीं कहता

कि तुम गलत कर रहे हो क्योंकि तुम्हारे

सोचने नजरिया तुम्हारे सोचने का ढंग

तुम्हारे समझने की प्रक्रिया सब कुछ सही

है तुम सही दिशा में ही हो पिछले कुछ

सालों में तुमने अध्यात्म का जो मार्ग

चुना है वह मार्ग तुम्हें प्रगति की ओर

निश्चित तौर पर लेकर जाएगा लेकिन तुम्हारे

मन में यह प्रश्न उठता रहता है कि आखिर वह

समय कब आएगा जब तुम अपनी चिंताओं से पूरी

तरह से मुक्त हो जाओगे मेरे प्रिय तुम्हें

इसका आभास नहीं कि तुम दिन प्रतिदिन

प्रगति कर रहे हो आगे बढ़ रहे हो और तुम

अपनी मंजिल के बहुत करीब आ गए हो यदि किसी

मनुष्य को एक दौड़ दौड़ है यदि उसे

मीटर की दौड़ दौड़ है तो जब तक वह

मीटर तक पहुंच नहीं जाता उसे लगता है कि

वह प्रगति नहीं कर रहा लेकिन यदि वह अपने

अतीत को देखेगा तो जान पाएगा कि निरंतर

अभ्यास से जहां वहां पहले मीटर ही दौड़

पाता था अब वह मीटर दौड़ने लगा है

धीरे-धीरे करके यदि वह सही मार्ग पर है तो

अपने मीटर की दौड़ भी पूरी कर लेगा

तुम भी ऐसे ही एक मार्ग पर हो अध्यात्म का

मार्ग बहुत लंबा और अनंत है अंतिम है

लेकिन तुम्हारे भीतर भी अनंत शक्तियां

विराजमान है इसलिए तुम्हें गणना करने की

आवश्यकता नहीं है मैं जानता हूं कि तुम

सही मार्ग पर हो और जो व्यक्ति एक स्थिति

से आगे बढ़कर एक स्थिर गति से चलता रहता

है वह प्रगति पा ही लेता है तुम आगे बढ़

चले हो तुम प्रगति के मार्ग पर आ चले हो

इस ब्रह्मांड में विद्यमान समस्त तारे

समस्त नक्षत्र समस्त ग्रह तुम्हारी ऊर्जा

को समझ रहे

हैं तुम्हें ज्ञात नहीं लेकिन इस

ब्रह्मांड का प्रत्येक कण प्रत्येक अणु

तुमसे जुड़ा हुआ है उसके अंदर जो कण

विद्यमान है जो ऊर्जा विद्यमान है वही

तुम्हारे भीतर भी विद्यमान है उस ऊर्जा के

साथ तुम आगे बढ़ रहे हो और यह समस्त कण

समस्त पदार्थ तुम्हें प्रदान कर रहे हैं

यह ऊर्जा तुम्हारे लिए आवश्यक है यह अंतिम

ऊर्जा तुम तक पहुंच रही है तुम्हारे सपनों

में तुम्हें ऐसी दुनिया दिखाई जाती है जिस

दुनिया से तुम्हारा वास्तविक संबंध रहा है

कई बार तुम बुरे सपन देखते हो यह बुरे सपन

किसी अन्य ब्रह्मांड में तुम्हारे साथ

घटित हुए हैं मेरे इस संसार में बहुत से

ब्रह्मांड है किंतु जिस ब्रह्मांड का तुम

हिस्सा हो वहां तुम्हारी जीत आने वाली है

जबकि कई ब्रह्मांड में तुम्हारी जीत हो

चुकी है और उसका अतीत तुम्हारा आज का

ब्रह्मांड है मेरे प्रिय जैसे एक नया जन्म

होता है और फिर उस नए प्राणी की मृत्यु हो

जाती है उसी प्रकार से तुम्हारे विचार भी

जन्म लेते

हैं और एक समय के बाद उन विचारों की भी

मृत्यु हो जाती है लेकिन एक विचार के जन्म

लेने में और उस विचार के मृत्यु हो जाने

तक तुम्हारे साथ जो परिस्थितियां घटती है

उसमें उन विचारों का बहुत बड़ा योगदान

होता है तुम्हारे साथ जो नकारात्मकता घटी

है उसके पीछे तुम्हारे विचारों का बहुत

बड़ा योगदान रहा है और इन नकारात्मकता के

कम होने के पीछे भी तुम्हारे विचार ही है

दिन प्रतिदिन तुम्हारी सोच में परिवर्तन

हो रहा है दिन प्रतिदिन तुम नई चीजों को

समझ रहे हो नई चीजों को जान रहे हो लेकिन

एक चीज जो तुमने अपने जीवन में बहुत अच्छी

की वह यह कि तुम अध्यात्म के मार्ग पर बढ़

चले और जिस क्षण तुमने यह चुनाव किया कि

तुम इस मार्ग पर आगे चलोगे उस क्षण से

तुमने अपनी जीत को तय कर दिया था यह वही

क्षण था जब तुम्हारी जीत तुम्हारी किस्मत

में लिख दी गई थी और तुम उस सफर पर इतना

आगे आ चुके हो कि मंजिल अब तुम थोड़ी ही

दूरी पर है तुमसे दूर नहीं है तुम्हारे

बहुत करीब है और यहां अंतिम परीक्षा होगी

तुम्हारी यह तय करने के लिए कि क्या तुम

पूरी तरह से तैयार हो उस ऊर्जा को उस जीत

को आकर्षित करने के लिए उस जीत को प्राप्त

कर बचाने के लिए मेरे प्रिय बहुत से

मनुष्य को जीत प्रदान करती जाती है किंतु

उन्हें जीत मिलते ही अहंकार उनके सर पर आ

चलता है और वह दूसरों का तिरस्कार करने

लगते हैं

बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्होंने कठोर

तपस्या की और तपस्या के बाद जब उन्हें

वरदान प्राप्त हुए तो उन्होंने उसका

दुरुपयोग किया मेरे प्रिय इसलिए यह अंतिम

परीक्षा आवश्यक है और इसके पूर्ण होते ही

तुम्हारे जीवन में कितनी खुशियां आएंगी

इसकी तुम कल्पना नहीं कर सकते तुम्हारे

जीवन में एक ऐसा दिव्य देवदूत आने वाला है

जो तुम्हारी परीक्षा लेगा किंतु यह

परीक्षा बहुत ही सामान

हो सहज होगी कि तुम यह जान भी नहीं पाओगे

कि तुम्हारी परीक्षा चल रही है किंतु इससे

तुम्ह हताश होने की आवश्यकता नहीं भत होने

की आवश्यकता नहीं मैं उस क्षण भी तुम्हारा

साथ दूंगा जब तुम कोई गलती कर रहे होंगे

मैं तुम्ह सचेत करूंगा मैं तुम्हे संकेत

दूंगा तुम्हारे आसपास ही रहूंगा तुम्हें

यह बताने के लिए ताकि तुम कोई गलती ना करो

मेरे प्रिय तुम्ह जीत मिलकर रहेगी कि ऐसा

मेरा विश्वास है क्योंकि मैं जानता हूं

तुम्हारी आस्था तुम्हारी श्रद्धा और

तुम्हारी प्रार्थना बहुत ताकतवर है

तुम्हें जरा भी भय व्याप्त नहीं करना है

किसी भी तरह से तुम्हें भयभीत नहीं होना

है मेरे प्रिय अब समय चला है जब तुम अपनी

जीत को प्राप्त कर लो अब समय चला है जब

तुम्हारे जीवन को प्रेम से भर दिया जाए यह

वही समय है जब खुशियां तुम्हारे चारों तरफ

होंगी हर छोटी से छोटी चीज में तुम्हें

खुशी दिखाई देगी हर एक कार्य जहां तुम

करोगे उसमें तुम्हें सफलता प्राप्त होगी

तुम अपने उस दिन को जी पाओगे जिसकी कल्पना

तुमने की है मेरे प्रिय तुम्हें इस जीत को

आकर्षित करने के लिए इसकी पुष्टि करनी

होगी इसकी पुष्टि करने के लिए तुम्हें

संख्या लिखना है यह संख्या लिखना

आवश्यक है क्योंकि ऐसा करने से यह साबित

होगा कि तुम इस जीत को प्राप्त करने की

पुष्टि कर रहे हो और ऐसा लिखकर तुम्हें

लिखना है कि हां मैं जीव को प्राप्त कर

रहा हूं और साथ ही तुम्हें अपना नाम अवश्य

लिखना है नाम मनुष्य की पहचान होती है यह

उसकी वास्तविक पहचान नहीं किंतु यह उसकी

सामाजिक पहचान है और ऐसा करना आवश्यक है

तुम्हारे जीवन में इस क्षण से उस दिव्य

देवदूत को भेजा जा रहा है और जब वह

तुम्हारे जीवन में प्रवेश कर जाएगा तो

तुम्ह एक का महसूस होगा तुम्हें ऐसा लगेगा

कि तुम्हारे जीवन में कुछ परिवर्तन हो रहा

है तुम थोड़ा बदलाव महसूस करोगे हमेशा की

अपेक्षा तुम्हे कुछ अलग सा महसूस होगा कुछ

बदला हुआ यह सकारात्मक भी हो सकता है यह

नकारात्मक भी हो सकता है या फिर ऐसा हो कि

तुम पर उदासीनता छा जाए किंतु तुम्हें तब

भी घबराना नहीं है क्योंकि यह एक

सकारात्मक संकेत है तुम्हारे जीवन को

दिव्य से भरने के लिए मेरे प्रिय आकाश से

वह निकल चला है ब्रह्मांड की ऊर्जा लेकर

वह निकल चला है तुम्हारे जीवन को खुशियों

से भर देने के लिए वह निकल चला है

तुम्हारे जीवन चक्र को एक सही दिशा देने

के लिए और तुम्हारे जीवन का एक पूरा चक्र

पूर्ण हो चुका है यह चक्र दुखों से भरा

हुआ था लेकिन अब एक नए चक्र की शुरुआत

होगी और यह चक्र खुशियों से जीत से भरा

हुआ है इस चक्र में तुम्हा री बहुत सी

इच्छाएं पूर्ण होंगी और तुम अकेले नहीं

रहोगे वो दिव्य देवदूत सदैव तुम्हारी

सहायता के लिए तुम्हारे पास सकारात्मक तौर

पर साकार रूप में होगा ब्रह्मा की ऊर्जा

तुम्हें बुला रही है अपने आप में समेट कर

आगे बढ़ने के लिए मेरे प्रिय अभिजीत को

अपने पास बुला लो तैयार हो जाओ सारे दुखों

का त्याग कर दो भय का त्याग कर दो और एक

बात किसी भी परिस्थिति में मत भूलना कि

मेरा आशीर्वाद सदा तुम्हारे साथ है मेरे

आने वाले संदेशों की प्रतीक्षा करना

क्योंकि मेरा तुम्हारे लिए आना आवश्यक है

मैं आऊंगा तुम्हारा मार्गदर्शन करने और

तुम्हें जीत के मार्ग पर आगे बढ़ाने के

लिए सदा सुखी रहो और सब में खुशियां बांटो

क्योंकि यही तुम्हारा उद्देश्य है

तुम्हारा कल्याण होगा तुम्हारी प्रति

होगी

Leave a Comment