किस विकास की बात करती है विकास तो Nitish Kumar ने किया |

सरकार का उपलब्धि मुख्यमंत्री को मिलेगा
किसी मंत्री को

मिलेगा मुख्यमंत्री को नहीं मिलेगा मोदी
जी का सरकार है भारत सरकार कोई काम करेगा
उसके कैबिनेट को जो मंत्री है उनको
उपलब्धि मिलेगी मोदी जी को

मिलेगी 17 महीना किसका सरकार रहा हम तो
लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को देख
रहे हैं नीतीश जी की सरकार है बीच में
किसी की सरकार बनी है क्या कुछ दिन के लिए
आप बता जीत माजी जी की सरकार लगातार
मुख्यमंत्री नितीश कुमार जी की सरकार है
इसमें दूसरे की सरकार की क्या सवाल

नमस्कार मैं मन शर्मा और आप देख रहे हैं
न्यूज फाउंडेशन मुजफ्फरपुर में जदयू के
एमएलसी दिनेश सिंह ने राजत पर बड़ा हमला
है आपको बता दे कि बीते दिनों राजत प्रमुख
तेजस्वी यादव के द्वारा जो है वह जन

विश्वास यात्रा कार्यक्रम का आयोजन किया
गया था जिसमें बिहार के तमाम जगहों पर वह
जन विश्वास यात्रा कार्यक्रम के दौरान जा
रहे हैं और लोगों का जो है विश्वास वह
देने की कोशिश उनके द्वारा की जा रही है
जिसके बाद जब कल मुजफ्फरपुर के जदयू

एमएलसी दिनेश सिंह से हमने बातचीत की तो
उन्होंने कहा कि बिहार में नीतीश कुमार जब
से एनडीए के साथ आ गए हैं एनडीए की सरकार
मजबूती के साथ अपना काम कर रही है जब हमने
उनसे पूछा कि आने वाले लोकसभा और विधानसभा
चुनाव को लेकर जो है वह आरजेडी की तरफ से
बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं साथ ही यह

कहा जा रहा है कि 17 साम साल बनाम 17
महीने में जो विकास का कार किया गया है
उसको लेकर तेजस्वी यादव जनजन के पास जा
रहे हैं तो उन्होने सीधे तौर पर आरजेडी पर
हमला करते हुए कहा कि 20 साल से बिहार के
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार है तो फिर दूसरे
के द्वारा जो है वह कैसे जो है य विकास का

कार जो है किया गया है अगर मोदी सरकार काम
करती है तो मोदी जी का नाम होगा ना कि
कैबिनेट के मंत्री का नाम होगा तो फिर जब
बिहार में 20 साल से नीतीश सरकार है तो
दूसरा कौन सा ऐसा लोग होगा जिन्होंने

बिहार के लिए विकास का कार्य कर दिया है
बुरे मामले में हमलावर होते हुए जद
मुजफ्फरपुर के जदी एमएलसी दिनेश सिंह क्या
कुछ कह रहे हैं पहले आपको सुनाते हैं क्या
कहेंगे क्या लग रहा है स्थिति 24 में हम

तो न्यूज देखे उनका बोले हैं 400 पार
एनडीए का भाजपा का 370 एनडीए का 40 हा तो
हम लोग तो एनडीए की बात करते हैं तो कहते
हैं कि 40 पा तो बाकी स्टेट का क्या
स्थिति है पता नहीं है लेकिन बिहार में तो

जो स्थिति अभी है जो लोगों का रुझान है
सारे के सारे वोटर की सभी जा धर्म के लोग
मोदी के पक्ष में है बिहार में तो उनका
हमको लगता है 40 सीट है सर्व में सुने हैं

कि दे रहा है 37 सीट लेकिन व कौन तीन वो
सीट है जो इंडिए के खिलाफ दे रहा है नाम
तो उसका नहीं बोला है लेकिन हमको नहीं
लगता है एक सीट भी किसी को मिलेगा बिहार
में 40 के 40 सीट जो वातावरण बना हुआ है

मोदी जी के पक्ष में जा रहा है क्या लगता
है नीतीश कुमार के एनडीए में शामिल होने
से एनडीए गठबंधन मजबूत हुआ है और बिहार
में सीट बगा नीतीश कुमार के शामिल होने से
पूरा मजबूती भरा है और पूरा हुआ है इसमें
कहीं दो मत की बात थोड़ी है क्योंकि जब व
शामिल नहीं थे तो सर्वे कुछ और दे रहा था
शामिल हो गए तो सर्वे कुछ और दे रहा है
जाहिर सी बात है कि जितने भी लोग इसमें
शामिल हैं चाहे वो
एजेपी चिराग पासवान हो

एलजेपी क्या है पारस जी हो उपेंद्र कुशवा
हो ये जीतन राम माझी जी हो उसके बाद जो है
सो जदव है ये सारे के सारे तो साथी है
सारे के जुटने से सबको फायदा हुआ
सारे वोट जो है सो जो छटा ते एक जगह आ गए
और सारा एनडीए के पक्ष में आ गया इससे
एनडीए का सीट बढ़ेगा और बढ़ेगा क्या पिछले

बार कितना सीट मिला हुआ है एनडीए को य 39
40 मिला तब ना बढ़ 39 में कहां दाग है ते
याद क रहे हैं हमारी लड़ाई जी से नहीं
हमारी लड़ाई भाजपा वालो से है मेरे कने
इसलिए बोल रहे हैं उनकी लड़ाई नीति भाजपा
से है कि वो
तो भाजपा से लगातार लड़ते हैं नीतीश जी के
साथ तो द बर तीन बर साथ हो गए तो उनसे
कहां लड़ाई की बात उनकी है वो बिल्कुल ठीक
बोल रहे हैं उनकी लड़ाई तो बीजेपी से ही

रहती है उन्हीं को नहीं लालू जी का भी यही
रहता है भाजपा के खिलाफ भाजपा के खिलाफ वह
अपना बोलते रहते हैं जिससे उनको लाभ मिलता
है अकलियत का भाजपा का खिलाफ बोलेंगे
अकलियत हमारे साथ आवेगा उनका यही री रहा

शुरू से ज नेता जाने जाते हैं क्या लग रहा
है कि नीतीश कुमार और एनडीए में सीट के
बटवारा को लेकर सब कुछ य परर लोगों की बात
है तो हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष बन बाबू थे
अ नीती जी राष्ट्रीय अध्यक्ष भी है और के
सरवान नेता है क्या फैसला लेंगे व हमको
मालूम नहीं पिछले भी बीजेपी के साथ जब जदव
का तालमेल हुआ था उस समय जदव के पास दो या
तीन
सांसद उस समय भी लोग यही कहता था सारा सीट
बीजेपी का है अपना सीटिंग सीट कैसे जदी को
दे देगा लेकिन जब मामला आया सामने में तो
सारे सीटिंग सीट को काट करके बीजेपी ने

हमारे जदी को दिया और उनको 17 सीट मिला और
16 सीट जी हुए तो अपना भी तो गणित आप लोग
को लगाना चाहिए इसमें विवाद का कहां सवाल
है तेजस्वी यादव कहते हैं सर की आरजेडी से
बीजेपी घबरा गई है इसलिए ईडी और सीबीआई का
जो है बीजेपी देखिए वो कोई किसी से घबराने
से ईडी सीबीआई की बात नहीं होती है ईडी का

अपना काम है कर रहा है सीबीआई का अपना काम
है व कर रहा है घबराने से क्या होता है
मेरे कहने का मतलब है कि नीतीश बाबू भी तो
हमारे जो 20 साल से लगातार बिहार के
मुख्यमंत्री है व भी तोत कई बार बीजेपी से

अलग हुए उन पर ईडी क्यों नहीं आया उन पर
सीबीआई क्यों नहीं आया जो एकदम स्वक्ष
होगा जिसमें कोई गड़बड़ी नहीं होगा उस पर
धक्का मारने से कुछ होने वाला है जो
गड़बड़ी है किसी के भी साथ हम हो कोई हो

गड़बड़ी लोग करते हैं तभी ईडीया सीबीआई
आती है और पकड़ती है जो एकदम स्वक्ष होगा
उसको क्या करे
वो कह रहे है कि 17 साल बनाम 17 महीना में
विकास का काम किया है उसे बीजेपी घबरा गई
बिहार है कि उनका 17 महीना को काम किया है
हम तो देख रहे हैं कि 20 साल से लगातार
नीतीश कुमार जी काम कर रहे हैं
मुख्यमंत्री का सरकार होता है ना की
मंत्री का सरकार होता है बताइए हमको सरकार
का उपलब्धि मुख्यमंत्री को मिलेगा किसी
मंत्री को
मिलेगा मुख्यमंत्री को नहीं मिलेगा मोदी
जी का सरकार भारत सरकार कोई काम करेगा
उसके कैबिनेट को जो मंत्री है उनको
उपलब्धि मिलेगी मोदी जी को
मिलेगी कौन 17 महीना किसका सरकार रहा हम
तो लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को
देख रहे हैं नीतीश जी की सरकार है बीच में
किसी की सरकार बनी है क्या उस दिन के लिए
आप बता सकते हैं कि जीतन माजी जी की सरकार
लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी की
सरकार है इसमें दूसरे की सरकार की क सवाल
तो आपने सुना कि क्या कुछ कह रहे थे जद
एमएलसी दिनेश सिंह वही आपको बता दें कि
उन्होंने सीधे तौर पर कहा है कि इस बार
एनडीए गठबंधन जो है वह 400 के पार जाएगी
और आने वाले चूंकि तमाम जितने भी घटक दल
है वह एनडीए के साथ है और ऐसे में वोट का
जो बिखराव होता वह अब बिखराव होता हुआ
नहीं दिख रहा है और तमाम जो वोट है तमाम
जातियों को जो वोट है तमाम समुदाय का जो
वोट है वह एनडीए में आएगी क्योंकि तमाम
जितने भी घटक दल है वह अब एनडीए के साथ
मजबूती के साथ खड़े हैं और इसमें 370 नहीं
बल्कि 400 का आंकड़ा जो है वह एनडीए पार
करे

Leave a Comment