कोई तुम्हें बहुत ज्यादा घृणा करता है

मेरे बच्चे आज मैं तुम्हें उस व्यक्ति के
बारे में बताने आई हूं जो तुम्हें बर्बाद
करने के लिए बहुत बड़ा षड्यंत्र रच रहा है
और पता नहीं वह कितने वर्षों से रच रहा है

लेकिन सफल नहीं हो पा रहा है उसे बार-बार
तुम्हारे प्रति हार का सामना करना पड़ रहा
है और अब उसकी बौखलाहट का अंदाजा भी नहीं
है तुम्हें वह व्यक्ति तुमसे उम्र में

बड़ा है उसे तुमसे ज्यादा अनुभव है और
उसका समाज में मान सम्मान और प्रतिष्ठा है
लोग उसको जानते हैं और उसने अपनी छवि बहुत
अच्छी बना रखी

है लेकिन मेरे बच्चे तुम्हें अकेला करने
के लिए उसने क्या कुछ नहीं किया उसने तो
इतनी तैयारी की थी कि तुम दुनिया के हर
कोने में अकेले पड़ जाओ कोई तुम्हारे साथ
ही ना हो और कोई भी व्यक्ति तुम्हारी
बातों पर यकीन ना करें इतना झूठा दिखला
दिया उसने तुम्हें दुनिया की नजरों में

मेरे बच्चे उसने जो तुम्हारे साथ किया है
उसकी सजा उसे मैं अवश्य दूंगी उसे क्या
सजा मिलेगा आपको इस संदेश के अंत में पता
चलेगा इसलिए इस संदेश को पूरा सुनना और
बीच से छोड़कर जाने की गलती बिल्कुल भी मत
करना नहीं तो आप बुरे फंस सकते हो मेरे
बच्चे गलती कहीं ना कहीं तुम्हारी भी है

उस व्यक्ति को यह पता है कि वह तुमसे बड़ा
है इस बात का लिहाज करके तुम सब कुछ सह
जाओगे मेरे बच्चे तुम्हें सच बोलना अच्छा
लगता है तुम गलत देख नहीं सकते हो तुम

किसी और के साथ भी गलत होता हुआ नहीं देख
सकते हो लेकिन जब गलत तुम्हारे साथ होता
है तो तुम चुपचाप सब कुछ सहते रहते हो
अकेले रो लेते हो पर अब अकेले रोना छोड़

दो अब जाकर उस व्यक्ति को बोल दो कि बस अब
बहुत हो गया मेरे बच्चे उसे पता है कि तुम
पलट करर कभी उसे जवाब नहीं दोगे इसीलिए वह
तुम्हारे साथ यह सब कर रहा है मेरे बच्चे
वह तो तुम्हारी हिम्मत है और मुझ पर भक्ति

और मुझ पर विश्वास है कि वह आज तक
तुम्हारा कुछ भी नहीं बिगाड़ पाया है वह
हर बार हार जाता है वह हर बार निराश हो
जाता है चाहे वह कितनी भी बड़ी तंत्र

विद्या का इस्तेमाल कर ले वह हमेशा गिर
जाता है और यही बौखलाहट उसके अंदर है मेरे
बच्चे तुम्हें परेशान होने की आवश्यकता
नहीं है वह कभी भी अपने षड्यंत्र में सफल
नहीं होगा और उसका घर तो खुद कांच का है

वह तुम्हारे घर पर पत्थर फेंक रहा था अब
उसका ही घर टूट जाएगा और उसकी हिम्मत भी
टूट जाएगी तुम्हें बर्बाद करने की कोशिश
करते-करते मेरे बच्चे तुम मुझसे यही पूछते

हो ना कि माता मैंने तो कभी किसी का बुरा
नहीं किया वह व्यक्ति मुझसे बड़ा भी है
उसको अनुभव भी है उसका मान मर्यादा सब कुछ
है उसके पास लेकिन वह मुझसे कितनी
ईर्ष्या और इतना भेदभाव क्यों रखता है
मैंने उसका क्या बिगाड़ दिया उससे क्या

छीन लिया जो वह मेरे साथ इतना कुछ कर रहा
है और मुझे परेशान करने के लिए किसी भी हद
तक चला जा रहा है मेरे बच्चे तुम बहुत
अच्छे हो उसे इसी बात से दिक्कत है

तुम्हें लोगों से बात करने की तमीज है
तुम्हारे अंदर एक संस्कार है इस बात से
उसे बहुत तकलीफ है जब कोई व्यक्ति उसके
सामने उसकी तारीफ ना करके तुम्हारी तारीफ
कर देता है यह बात उससे सुनी नहीं जाती है
उसे यह लगता है कि उससे कम उम्र होने के

बावजूद भी तुम्हें इतना तजुर्बा कैसे हैं
तुम्हें इतनी बातों का ज्ञान कैसे है तुम
इतने आध्यात्मिक कैसे हो
जब लोग तुम्हारे चेहरे की चमक से तुम्हारे

रहन सहन से प्रभावित होते हैं तो उसे उस
चीज से भी बहुत दिक्कत होती है उसे ऐसा
लगता है कि तुम्हारे पास बहुत पैसा है
बहुत धन संपत्ति है तभी तुम इतने अच्छे से

बनठन के रहते हो मेरे बच्चे उसे यह नहीं
पता है कि तुम्हारे अंदर तरीका है लोगों
से बात करने का और छोटे बड़ों को इज्जत
देने का जो उसके अंदर बिल्कुल भी नहीं है
इसलिए लोग तुम्हें ज्यादा पसंद करते हैं
और उसे नहीं करते लेकिन मेरे बच्चे वह
तुमसे प्रेरणा लेने की जगह वह तुम्हें

नीचे गिराना चाहता है वह तुम्हारी तारीफ
करने की जगह तुमसे जलन में बर्बाद होता
चला जा रहा है और वह अपना सब कुछ
धीरे-धीरे बर्बाद करता चला जा रहा है और

वह अपनी मानसिक स्थिति को भी बर्बाद कर
रहा है मेरे बच्चे शैतानी प्रव वृति के
व्यक्ति को कोई कारण नहीं चाहिए होता है

किसी को किसी से नफरत करने का किसी के
बारे में बुरा बोलने का इसलिए मेरे बच्चे
तुम खुद को दोष देना बंद कर दो कि मैं गलत
हूं माता मैंने क्या किया जो ऐसा मुझे यह
दंड मिल रहा

है मेरे बच्चे तुम्हें कोई दंड नहीं मिल
रहा है अगर तुम्हें मुझ पर यकीन है और अगर
तुम्हें अपनी भक्ति पर यकीन है तो तुम
मेरा यकीन करो मेरे बच्चे तुम्हारा वह कभी

कुछ नहीं बिगाड़ सकता है लेकिन तुम खुद
अपना बिगाड़ रहे हो तुम बार-बार उन बातों
को सोच रहे हो कि मेरे ऊपर किसी ने कुछ कर
दिया
है मेरे बच्चे तुम बहुत बेचैन होते जा रहे
हो तुम्हें घबराहट होने लग रही है तुम
रोने लग रहे हो मेरे बच्चे तुम यह सोचो कि

मैं सब कुछ ठीक करके रहूंगा तुम्हारे हर
चीज का समाधान है तुम्हारी प्रार्थना में
तुम जब सच्चे दिल से आंखें बंद करके मुझसे
किसी भी प्रश्न का जवाब मांगोगे मैं उस
बात का उत्तर तुम्हें दूंगी तो रोने की

बजाय ऐसे विचलित होने की बजाय और उस
व्यक्ति को खुशी देने की बजाय तुम मुझसे
अपने प्रश्नों का जवाब मांगो मेरे बताए
नियमों का पालन करो अगर तुम ठीक ना रहो और
अगर तुम्हारी स्थिति ठीक ना हुई मेरे

बच्चे तो फिर मुझसे शिकायत करना लेकिन तुम
उस व्यक्ति को एक ताकत दे रहे हो तुम जो
सोच रहे हो तुम जो कर रहे हो उससे मुझे
फर्क पड़ रहा है तुम जो मेरे बारे में
बुरा बोल रहे हो लोगों से उससे मुझे फ पड़

रहा है वफ का तुम्हें पढ़ना ही नहीं चाहिए
मेरे बच्चे तुम्हें यह सोचना ही नहीं
चाहिए अगर उस व्यक्ति के बोलने पर अगर
तुम्हें इतना फर्क पड़ रहा है तो अभी जाकर
उसे रोक दो क्योंकि वह व्यक्ति बहुत डरपोक

है जब तुम मुझे जाकर यह बात सीधे-सीधे बोल
दोगे उसके बाद उसकी हिम्मत नहीं है कि
तुम्हारी नजरों में देखकर तुमसे कुछ बुरा
बोल सके तुम्हें कुछ गलत बोल
सके मेरे बच्चे वह तुमसे बुरा व्यवहार भी
करता है पर उसे पता है कि तुम कभी बोलोगे

नहीं तुम बस सहते चले जाओगे इसलिए वह यह
सब कर रहा है मैं तुम्हारे साथ हूं अपने
लिए खड़े हो जाओ और खत्म कर दो इन चीजों
को एक लकीर खींच दो उन लोगों के लिए जो
तुम्हारी शांति को भंग कर रहे हैं जो
तुम्हारे परिवार की शांति को भंग कर रहे

हैं उनके लकीर को उस पर ही रोक दो मेरे
बच्चे उनको यह बोल दो कि उनका कोई हक नहीं
है तुम्हारी परिश्रम को तुमसे छीनने का
क्योंकि तुम्हारी माता ऐसा होने नहीं
देंगी लेकिन अगर तुम सहते

रहोगे अगर तुम चुपचाप ऐसे ही सब कुछ देखते
रहोगे तो फिर मुझसे मत बोलना माता आपने
कुछ नहीं की क्योंकि मेरे बच्चे तुम्हारे
इशारे पर ब्रह्मांड चल रहा है तुम जो
चाहते हो मैं वही कर रही हूं तो तुम्हें

अपने लिए कुछ ना कुछ तो करना ही पड़ेगा तो
वह करने का वक्त आ गया है अपने लिए खड़े
होने का वक्त आ गया है मेरे बच्चे मेरा
आशीर्वाद सदैव तुम पर बना
रहेगा मेरा आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए
मेरा भाग्यशाली अं

1111 लिखकर मुझे अपनी ति प्रदान करा देना
अपने माता का अगला संदेश प्राप्त करने के
लिए मेरे इस संदेश को लाइक करके चैनल को
सब्सक्राइब कर लीजिए ताकि आने वाला अगला
संदेश आपको प्राप्त हो सके आपका कल्याण हो
जय माता द हर हर
महादेव

Leave a Comment