जो कोई ना कर सका वो तुमने करके दिखा दिया ऐसा क्या कर दिया तुमने

मेरे बच्चों मैं तुम्हारी काली माता अब तुम्हारे बदलने का समय आ चुका है जी जिसने तुम्हें अपने जीवन में रुलाया

है उन सभी को तो माफ कर दो क्योंकि यदि तुम उनको माफ नहीं करोगे तो तुम्हारे अंदर भी गुस्से की ज्वाला

हमेशा बढ़ती रहेगी जो इस समय तुम्हारे अंदर है और वह केवल तुम्हें नुकसान देगी इसलिए मैं चाहती हूं कि तुम

 

अपने अंदर की कुछ क्रोध को शांत करके उन सभी को क्षमा कर दो जिन्होंने तुम्हारे साथ गलत किया है जब तु

किसी को माफ कर देते हो तो उसे तुम्हारे अंदर उसे व्यक्ति के प्रति ना तो कोई प्रेम रहता है और ना ही कोई गलती रहती है तुम बिल्कुल शांत हो जाते हो यही चीज तुम्हें आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित करती है मेरे बच्चों तुम

यदि खुद को शांत नहीं करोगे तो तुम सदा अशांत मन से परेशान रहोगे और दूसरों के बारे में सोच सोच कर अपने कीमती समय को बर्बाद करोगे तुम जानते हो कि अभी तुम्हारा कोई साथ ना दे तभी तुम्हें सारे कार्य करने

होते हैं जो तुम्हारे लिए जरूरी है लेकिन तुम लोगों का सहारा ढूंढ कर उनके आदि हो जाते हो यह याद रखो दूसरा कब पलट जाए इसका कोई भरोसा नहीं होता इसलिए तुम किसी के भरोसे पर मत बैठो जीवन में कोई

व्यक्ति कभी भी अपने वादे से पलट सकता है इसलिए तुम अपने आप को इतना तैयार रखो कि तुम्हें किसी की जरूरत ना पड़े कभी कभी हमारे जीवन में हम जिस पर सबसे अधिक भरोसा करते हैं वह समय आने पर भरोसा

तोड़ देता है और तब हमें समझ आता है कि संसार में कोई किसी का नहीं है सब अपने मतलब के लिए रिश्ता बनाते हैं इसलिए मेरे बच्चों अपने आप को इतना मजबूत करो कि तुम्हें दूसरों का सहारा कभी ना लेना पड़े

Leave a Comment