तुम्हारा शत्रु का पर्दाफाश

मेरे बच्चे मैं तुम्हारी पूजा पाठ से बहुत
प्रसन्न हूं और आज मैं तुम्हें कुछ देने
आई हूं जो मैं तुम्हें इस संदेश में
विस्तार से बताने वाली हूं इसलिए इसे पूरा

देखें और अपनी पूजा पाठ को बेकार ना होने
दे आज देख लो मेरी चमत्कार को
मेरे बच्चे अगर मैं तुम्हारे जीवन में
अहमियत रखती हूं तो सिर्फ अपनी माता के
लिए एक लाइक करके चैनल को सब्सक्राइब करना

और कमेंट में अपना नाम दर्ज करना जय हो
माता रानी की मेरे बच्चे जिसने तुम्हें
रुलाया वह बहुत बड़ा बहरूपिया है उसका
असली चेहरा असली रंग समाज में आज तक कोई

उसे सही से समझ नहीं पाया है कि उसका असली
व्यक्तित्व कैसा है असलियत में वो कौन
है उसने तुम्हें बहुत रुलाया उसने बहुत
सारे तुम पर झूठे इल्जाम लगाए हैं
तुम्हारे ऊपर तुम्हें समाज में पूरी तरह
से अकेला कर दिया है तुम्हारी कोई गलती ना

होने के बावजूद भी तुम्हें लोगों
से
मुंह छुपाकर जीना पड़ा जैसे ना जाने तुमने
कितना बड़ा गुनाह कर दिया हो तुम हमेशा

सबका ख्याल रखते हो मेरे बच्चे तुम बहुत
भावुक इंसान हो पर उसने हमेशा तुम्हारी
भावनाओं का फायदा उठाया तुम कितना भी भला
कर लो दूसरों
का तुम कितना भी भला कर लो दूसरों का अंत
में सिर्फ तुम्हें धोखा ही मिलता
है बदनामी मिलती है झूठे इल्जाम लगाए जाते

हैं तुम्हारे ऊपर तुम्हें समाज में इतना
अपमान इसलिए सहन करना पड़ता है क्योंकि उस
व्यक्ति ने तुम्हारी बदनामी का चढ़ावा
चढ़ाया टोने टोटके

किए उसने तुम्हारी ऊर्जा को नीचे खींचने
के लिए और वह कुछ हद तक सफल हो
इसलिए टोने टोटके किए उसने तुम्हारी ऊर्जा
को टोने टोटके किए उसने तुम्हारी ऊर्जा को

नीचे खींचने के लिए और वह कुछ हद तक सफल
इसलिए हो पाया है क्योंकि वह तुम्हारी
कमजोरी जानता है मेरे बच्चे कि तुम हमेशा
दिल से सोचते हो तुम वक्त के साथ सबको माफ
कर देते
तुम कभी किसी और का दर्द नहीं देख सकते हो

तुम यह कभी नहीं चाहते हो जब पूरा समाज
तुम्हारे खिलाफ खड़ा हो गया तो धीरे-धीरे
तुम्हारी हिम्मत टूटने लगी और तुम अपनी
ताकत अपनी शक्तियों को भूल गए तुम उनके
षड्यंत्र
रचे तुम उनके रचे षड्यंत्र का शिकार बन गए
मेरे बच्चे तुम इतना रोते थे कि तुमने
खाना पीना भी छोड़ दिया तुम्हें नींद नहीं
आती जिसकी वजह से तुम्हारा स्वास्थ्य खराब

रहने लगा तुम इतने भावुक व्यक्ति हो कि
तुम मुझसे भी बस यही बोल तुम इतने भावुक
व्यक्ति हो कि तुम मुझसे भी बस यही बोलकर
रोते थे कि माता मेरी क्या गलती है सब
मेरे साथ इतना ही बुरा क्यों हो रहा है
मैंने तो हमेशा सबका अच्छा सोचा सबका

ख्याल रखा सबकी भावनाओं की कदर की जो आज
मेरे अपने ही मेरे खिलाफ खड़े हो गए हैं
कोई मेरी बातों पर यकीन क्यों नहीं कर रहा
है मुझसे ऐसी क्या गलती हो गई है माता
मैंने तो हमेशा आपकी भक्ति की क्या यह
इसका ही फल मिल रहा है मुझे आपकी भक्ति के

बदले मेरी भक्ति करने का
तुमने यह फल दिया
मुझे वह तुम्हारी कल्पना से परे हैं मुझे
आपकी भक्ति के बदले यह फल मिल रहा है वह
तुम्हारी कल्पना से परे है मेरे बच्चे

क्या तुम्हें
मैंने मेरे बच्चे क्या मैंने तुम्हें अतीत
में कुछ नहीं दिया है बहुत कुछ दिया है पर
तुमने कभी मेरी बात नहीं
मानी पर तुमने मेरी कभी बात नहीं मानी
तुमने लोगों पर आंखें बंद करके यकीन किया

और मेरे लाख समझाने के बाद भी हर बार दिल
से निर्णय लिया दिल से सोचा पर व्यक्ति
हमेशा दिमाग से खेलता रहा तुम्हारे साथ वह
कभी भी तुम्हारे साथ में सच्चा नहीं

था तुम्हारे साथ वह कभी भी रिश्तों में
सच्चा नहीं था उसके दिमाग में तो शुरू से
ही षड्यंत्र था तुम्हारे खिलाफ इसके पास
जो कुछ भी है वह सब कुछ मुझे वह सब कुछ

मुझे अपने कब्जे में चाहिए वह सब कुछ मेरा
होना चाहिए तो मैं उस बात का भी कोई गम
नहीं
है लोगों ने
तुमसे लोगों ने तुमसे जो कुछ छीना जितना
भी छल किया तुम्हें यह पता है कि वह
तुम्हारी किस्मत का नहीं लेकर गए हैं पर

जो लेकर गए हैं शायद तुम्हारी किस्मत में
था ही नहीं अपनी किस्मत समझकर तुम उसमें
भी खुश हो तुम्हारे शत्रुओं का एक झुंड बन
गया है मेरे बच्चे उनके जीवन का मकसद यह
है कि तुम्हारी बुराई करना तो किसकिस से
बचोगे और कब तक बचोगे तुम यह आज की कहानी
नहीं है यह तो ना जाने कितने वर्षों से हो

रहा है तुम्हारे साथ कि लोग तुम्हारे पीठ
पीछे षड्यंत्र रचते हैं वह लोग हमेशा
तुम्हारे विरुद्ध सब कुछ करते हैं और फिर
मुंह
पर और फिर मुंह पर मीठी-मीठी बातें करके

तुम्हारे सगे बन जाते हैं मेरे बच्चे क्या
तुम्हें अपनी माता पर विश्वास है तो इस
संदेश को लाइक करके मेरा भाग्यशाली अंक 11
लिख कर मुझे अपनी स्वीकृति प्रदान कर देना
मेरे बच्चे तुम्हें उससे बचने की जरूरत
नहीं है तुम्हें अपने आप को मजबूत बनाने
की जरूरत है तुम्हें उनसे लड़ना सीखना है
ऐसे लोगों के

साथ ऐसे लोगों के साथ उनके जैसे बर्ताव
करना सीखना है तुम्हें कि अगली बार कोई
तुम्हारी भावनाओं का फायदा ना उठा सके ऐसे
लोगों के साथ तुम्हें भी दिमाग से निर्ण

लेना सीखना पड़ेगा और व्यक्ति अपने आप को
बहुत होशियार समझता है उसको यह लगता है कि
वह तुम्हें हमेशा मूर्ख बनाकर तुम्हारा

फायदा उठाता रहेगा पर उसका काम तो उसी दिन
शुरू हो गया था जिस दिन जिस दिन तुमने सब
कुछ मेरे हाथ में सौंप दिया था और मुझसे
बोल दिया था कि माता मैं कुछ नहीं देखूंगा

अब मैं नहीं रूंगा अब आप जो करेंगे वह सब
कुछ मंजूर होगा मुझे सब कुछ हंसते हंसते
स्वीकार कर
लूंगा मैं उसी दिन से उसकी बर्बादी शुरू
हो गई
थी और इसलिए अब वह फिर आएगा तुम्हारी तरफ

दोस्ती का हाथ बढ़ाने मुझे अपनी गलतियों
का एहसास है मैंने तुम्हारे साथ बहुत बुरा
किया एक बार मुझे माफ कर दो हम बहुत अच्छे
दोस्त थे और बहुत दुहाई देगा अच्छे वक्त
की तुम्हें पर याद रखना है उसके मन का वह
शत्रु कभी नहीं बने उसके मन में जो जलन है
तुम्हारे लिए व कभी खत्म नहीं होगी तो

मेरे सीख को हमेशा याद रखना और अपनी
भावनाओं पर नियंत्रण करना सीख लो और दिमाग
से निर्णय लेना शुरू कर दो जो जैसा है
उसके साथ वैसा रहना सीख लो तुम तभी

Leave a Comment