तुम्हारी जीत का सबसे उचित समय आ गया है

कैसे हो मेरे प्रिय बच्चे ऐसा लगता है मुस्कुराने का प्रयास कर रही हूं तुम इतनी सुंदर कर रहा है मेरे प्रिय बच्चे इस संसार में जब जब

धर्म की हानि होती है और ऐसा लगता है धर्म जीतने वाला है तो उन सभी लोगों को जो बुरे कर्म करते हैं उन्हें लगता है कि वह श्रेष्ठ है

और इस संपूर्ण जगत उनके ही नियंत्रण में है कोई भी उनसे ऊपर नहीं है इसी तरह धर्म का पालन करने वाले स्वयं को विवश और

हारा हुआ लेकिन प्रकाश की एक ज्योति उनके मन को बार बार यह याद दिलाती है कि सत्य कुछ समय के लिए छुपा सकता है लेकिन पराजय नहीं किया जा सकता सोने के प्रकार सामान्य मेरे लिए याद रखो तुम्हारे नहीं हो और ना ही तुम मार्ग से भटके हुए हो

क्योंकि मैं आगे लेकर जा रहा हूं लेकिन तुम्हें याद रखना है तुमसे की औलाद हो और फिर ऐसे वीडियो से भाई भी होने की आवश्यकता नहीं भाई भी तो तुम भले ही सांसारिक चक्र में फंस गए हो तुम भले ही स्वयं को एक साधारण मनुष्य समझ रहे हो

लेकिन तुम हर पल मेरे हृदय में निवास करते हो मेरा चिंतन ही तुम्हें इस ब्राह्मण इसी कारण तो तुम हार जीत के सुख और दुख को

Leave a Comment