तुम्हारे मुकद्दर में बहुत बड़ी जीत लिख दी गई है

मेरे प्रिय बच्चे जिन दिव्य नेत्रों को

जिन दिव्य आत्माओं को आज यह संदेश मिल रहा

है वो बहुत ही ज्यादा सौभाग्यशाली है

क्योंकि अब उनका समय बदलने वाला है अब वह

सब कुछ बदल जाएगा जो उन्हें परेशान कर रहा

था अब कुछ या ऐसा होगा जो उनकी कल्पना से

भी बिल्कुल अलग होगा कुछ ऐसा जिसकी

उन्होंने कल्पना की ही ना हो कुछ ऐसा जो

वह सोच भी ना पाए आकाश में मेघों की गर्जन

अब यह प्रमाणित करेगी कि उनकी जीत को

मुकदर ने लिख दिया है मेरे प्रिय मैं

जानता हूं कि तुमने कितना संघर्ष किया है

लेकिन अब मैं तुम्हारे सभी संघर्षों को

तुम्हारा हथियार बनाकर तुम्हें जीत दिलाने

वाला हूं इसलिए तुम इस संदेश को पूर्ण

सुनना किसी भी परिस्थिति में इसे बीच में

छोड़कर जाने की भूल ना करना अब वह समय

करीब है जब तुम खुशियों और जश्न मनाओ ग और

संपूर्ण संसार देखता जाएगा अब इस माह के

अंत में आश्रय के कर देने वाली घटनाएं

क्रमिक रूप से घटने लगेंगी कुछ ऐसा होगा

कि तुम्हारे ऊपर धन की बरसात हो जाएगी

तुम्हें दिन प्रतिदिन आर्थिक उन्नति के

आर्थिक प्रगति के विभिन्न अवसर मिलते

जाएंगे तुम्हारे सभी कार्य सुव्यवस्थित

ढंग से बनने लगेंगे स्वत ही वह संपन्न

होने लगेंगे और चारों तरफ तुम्हारे ही

चर्चे होंगे तुम्हारा प्रभु लोगों के बीच

इतना बढ़ जाएगा यह हर कोई तुम्हारे बारे

में ही बात करेगा जो कभी तुम्हारे उपहास

उड़ाया करते थे पीठ पीछे तुम्हारी निंदा

किया करते थे अब आपस में यह बातें करेंगे

कि कैसे तुम्हारा जीवन बदल गया कैसे

तुम्हारे जीवन में धन फूट फूट कर बरस रहा

है पहले तो तुम्हारे अपने सब तुम्हारे

विरोध में खड़े हो जाया करते थे लेकिन अब

सब कुछ तुम्हारे हित में होगा वह तुम्हारे

भलाई के कारण और तुम्हारे प्रभु संपन्नता

के कारण तुमसे नीचे दबे हुए रहेंगे और कभी

तुम्हारे खिलाफ जाने की भूल भी ना करेंगे

वह तुम्हारा विरोध करने का सोच भी ना

सकेंगे तुम्हारा स्वास्थ पहले से बहुत

ज्यादा बेहतर हो जाएगा अब तुम्हारा शरीर

एक आदर्श रूप में आ जाएगा तुम्हारे रिश्ते

प्रेम से भर जाएंगे और तुम अपने परिवार

जनों के साथ सुखद यात्रा पर जाने की

तैयारी करोगे प्रिय बच्चे यदि तुम्हें

ईश्वर पर विश्वास है तो इसी छड़ अपने

नेत्र बंद करके गहरी सांस लेते हुए अपना

दाहिना हाथ अपने सिर पर रखो और मेरे

द्वारा भेजी जा रही ईश्वरीय आशीर्वाद की

ऊर्जा को संपूर्ण दिल से ग्रहण करो प्रिय

जो मैं तुम्हें अब दे रहा हूं यह तुम्हारा

भाग्य बदलने के लिए है जो अब मैं तुम्हें

भेज रहा हूं वह तुम्हारे जीवन को खुशियों

से भर देने के लिए है जैसे लबालब जल से

भरा हुआ पात्र छलकने लगता है वैसा ही

तुम्हारा मन खुशियों से भरकर गदगद हो

जाएगा धन की असीम बरसात होगी और प्रेम

तुम्हें इतनी ज्यादा मात्र में मिलेगा कि

तुम उसे संभाल ना पाओगे प्रिय बस यह याद

रखना कि जो तुम्हें मिल रहा है तुम उसके

योग्य हो कभी भी अहंकार व स्वयं की

अयोग्यता सिद्ध ना कर देना बहुत जल्द

तुम्हारे जीवन में एक ऐसा व्यक्ति आएगा जो

तुम्हारे रुकी हुई जीवन की नौका को पार

लगवा देगा कोई ऐसा है जो तुम्हें लाभ

पहुंचाने तुम्हें पदोन्नति करवाने के लिए

ही आ रहा है अपने आप तुम्हारे जीवन की सभी

बाधाएं स होने लग जाएंगे तुम्हारे सारे

रुके हुए काम कर्मिक रूप से श्रृंखला भद्ध

श्रेणी में एकएक करके बनने लगेंगे

तुम्हारी आर्थिक स्थिति इतनी मजबूत होने

वाली है कि तुम अपनी सारी इच्छाएं पूर्ण

कर लोगे वह सभी इच्छाएं जो तुम्हें लगता

है कि इस अनंत ब्रह्मांड में कभी पूर्ण

नहीं हो सकती वह सभी पूर्ण हो जाएंगी

तुम्हें दान करने की भी आवश्यकता नहीं सभी

इच्छाएं को पूर्ण करने का जो तुम मुझे पर

विश्वास करते हो तो आखिर में मैं तुम्हारा

साथ कैसे छोड़ दूं तुम्हें भी इस बात का

एहसास बहुत ही जल्द होने वाला है कि तुम

समान नहीं हो तुम असीम हो अनंत हो दूसरों

से अलग हो क्योंकि तुमने किसी और पर नहीं

स्वयं पर मुझ पर यकीन किया है और जब यकीन

कर ही लिया है तो चिंता किस बात की

बेफिक्री में रहो किसी भी बात की फिक्र

करने की तुम्हें कोई आवश्यकता नहीं है

क्योंकि मेरा हाथ सदाय तुम्हारे ऊपर है

प्रिय बच्चे जिन्हे लगता है कि तुम्हें

सार में कभी विजय नहीं हासिल करोगे

जिन्हें लगता है कि वह तुम्हें सता सकते

हैं तुम्हारा उपहास उड़ा सकते हैं और

तुम्हारी खिल्ली उड़ाकर वह मौज में अपनी

जिंदगी जिएंगे यह उनकी बहुत बड़ी कल फहमी

है अब उनको सबक मिलने का समय आ गया है तुम

एक योग्य गुरु की तलाश में हो और तुम्हारी

वह तलाश बहुत ही जल्द पूर्ण होने को है

तुम अपने इस योग्य गुरु के पास बहुत ही

जल्द पहुंच रहे हो मैं जानता हूं हर कदम

पर पर तुम्हें गिराने का प्रयास किया जा

रहा है बार-बार तुम्हारी ऊर्जा को दूषित

करना नकारात्मक शक्तियों का षड्यंत्र है

लेकिन तुम हर बार इससे बचते आए हो क्योंकि

मैं तुम्हारा साथ देता आया हूं और आगे भी

तुम इससे बचते रहोगे यह तुम्हें नुकसान

नहीं पहुंचा पाएंगे खुद को एकांत में रखकर

और मौन को अपना शस्त्र बनाकर तुम्हें

युद्ध लड़ना है क्योंकि ंची आवाज अक्सर

उनकी ही होती है जो गलत होते हैं और जो

सही होते हैं वह उनके अंदर मृद्धा भरी हुई

होती है सच बोलने वाला सदा मौन हो जाता है

और वे व्यक्ति अपनी आलोचना सुनते हुए भी

सारे उत्तर वक्त के साथ स्वयं देते हैं

प्रिय बच्चे तुम एक पवित्र आत्मा हो तुम

कई बार लोगों को जवाब नहीं दे पाते तुम यह

नहीं समझ पाते कि उनके साथ तुम्हें

सामंजस्य कैसे बिठाना है तुम यह नहीं समझ

पाते कि उनसे तुम्हें क्या कहना है और इस

वजह से कई बार तुम्हें हानि उठानी पड़ती

है प्रिय बच्चे जब मनुष्य ऐसी जगह पर होता

है जहां उसके आसपास केवल गंदगी केवल कीचड़

ही होता है तो वह उसमें धस ही चला जाता है

और जब मनुष्य कीचड़ में धस जाता है तो

वहां से निकलना लगभग असंभव होता है मनुष्य

जब कीचड़ में फंसा हुआ होता है तब उसे

लगता है कि उसका जीवन अंधकार में हो गया

है अब उसके पास कोई मार्ग नहीं है लेकिन

यदि उसे कीचड़ से बाहर आना है तो उसे अपने

हाथ कीचड़ में डालने ही होंगे वो कीचड़ से

बचकर कीचड़ से बाहर नहीं निकल सकता इसलिए

उसे अपने हाथ मैले करने होंगे और तब भी उस

पर कीचड़ जमी रह जाएगी किंतु वो उससे बाहर

आ जाएगा और आगे उसके ऊपर कोई कीचड़ नहीं

लगेगा और एक बार यदि उसने अपने आप को साफ

कर लिया तो सदा के लिए साफ हो जाता है ऐसा

ही तुम्हारी चित बुद्धि मन आत्मा है जो इस

मायावी जंजाल के कीचड़ में फंस चुकी है

लेकिन यदि तुम्हें इससे बाहर आना है तो

तुम्हें माया को ही अपना हथियार बनाना

होगा इस मायावी जंजाल से बाहर आने के लिए

माया का ही सहारा लेना पड़ेगा माया को

अपनी दुश्मन नहीं बल्कि दोस्त की तरह

देखना होगा यह माया ही है जो तुम्हें आगे

ले जाएगी इस माया का सहारा लेकर ही

तुम्हें इस माया को मिटाना है और ऐसा करने

पर तुम यह पाओगे कि तुम बाहर से और भीतर

से पूरी तरह से पवित्र हो चुके हो तुम यह

पाओगे कि अब तुम्हारा जीवन पूरी तरह से

बदल गया है अब तुम्हारे जीवन में यदि किसी

चीज की आवश्यकता है तो वह केवल और केवल

प्रेम की है प्रिय बच्चे अब तुम सही

रास्ते पर हो इसलिए तुम्हें चिंता करने की

आवश्यकता नहीं है तुम्हें आवश्यकता है तो

केवल और केवल अपने आप को समझने की अपने आप

से प्रेम करने की अपने आप को प्रेम जताने

की प्रिय बच्चे अब तुम पर वह आशीर्वाद

बरसने वाला है जिस आशीर्वाद की चाह तुमने

सदा से ही की है इस आशीर्वाद के बरसने से

तुम्हारा शरीर पूरी तरह से पवित्र हो

जाएगा तुम्हें विभिन्न रास्ते दिखेंगे

अपने जीवन को आगे बढ़ाने के लिए लेकिन

तुम्हें थोड़ा सोच समझकर चुनाव करना होगा

सही फैसला लेना होगा सब कुछ अब तुम्हारे

हाथ में है सब कुछ अब तुम्हारे नियंत्रण

में है तुम जैसा चाहोगे जीवन वैसा होता

जाएगा कोई भी तुम्हारा प्रतिकार ना करेगा

कोई भी तुम्हें दोष ना गिनाए प्रिय बच्चे

तुम समझ रहे हो ना जो मैं कह रहा हूं कि

कैसे तुम्हें अपनी जीत को स्वीकार करना है

कैसे तुम्हें अपने प्रेम को स्वीकार करना

है और कैसे दुनिया की मान्यताओं को तहे

दिल से ठुकरा देना है यही जीत का लक्षण है

मेरे प्रिय तुमने हमेशा अपने साथी से

अत्यधिक प्रेम की कामना रखी है अपने

परिवार वालों को प्रेम देना चाहा और बदले

में उनसे प्रेम की अपेक्षा भी की है तुमने

लेकिन मैं तुम्हें बता दूं कि तुम उन्हें

बहुत प्यार करती हो चाहे तुम्हारा साथी हो

चाहे तुम्हारे परिवार वाले हो तुम सबका

सम्मान करते हो तुम सबसे प्रेम करते हो

यदि तुम क्रोध में भी आते हो तो तुम्हारे

क्रोध में भी प्रेम छुपा हुआ होता है तुम

कभी भी क्रोध में आकर किसी की हानि करने

का विचार भी नहीं करते हो तुम क्रोध में

आकर कभी किसी को हानि पहुंचा ही नहीं सकते

हो लेकिन यह क्रोध है जो कभी-कभी बढ़ जाता

है और बाद में तुम्हारे गलानी का कारण बन

जाता है

मेरे प्रिय बच्चे मैं जानता हूं कि तुम उन

सबको इतना ज्यादा प्यार करते हो कि उनके

लिए कुछ भी करने को तैयार हो एक बार यदि

तुम्हारे जीवन में ऐसा मौका पड़े तो तुम

उन सबके लिए कुछ भी कर गुजरो ग लेकिन बदले

में तुम्हें कभी उतना प्यार मिला ही नहीं

बदले में तुम्हें कभी उतना सम्मान उतनी

चाह मिला ही नहीं ना ही कोई तुम्हें उस

भाव से समझ सका जो भाव तुम्हारे मन में

तुम्हारे परिवार या तुम्हारे साथी के लिए

भरी हुई है और तुम जब उनसे उम्मीदें करते

हो तो वह तुम्हारी उम्मीदों पर कभी खरे

नहीं उतर पाते क्योंकि उनके भीतर प्रेम तो

है लेकिन इसे दर्शा कैसे है उस प्रेम की

कितनी तीव्रता है इसकी समझ उन्हें नहीं है

जिस वजह से तुम्हें कई बार लगता है कि वह

तुमसे प्रेम नहीं करते वह तुम्हारी परवाह

नहीं करते लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है

वह तुमसे प्रेम करते हैं और तुम्हारी

परवाह करते हैं व चाहते हैं कि तुम जीवन

में सदा आगे बढ़ो तुम्हें कभी कोई नुकसान

ना उठाना पड़े प्रिय बच्चे मुझे ज्ञात है

कि तुम जीवन में किस तरह से आगे बढ़ना

चाहते हो तुम्हारे जीवन में धन की क्या

अनिवार्यता है और तुम्हारे जीवन में सुकून

की क्या अहमियत है मुझे पता है तुम्हारे

भीतर करुणा प्रेम भरा हुआ है अर्था प्रेम

का सागर तुम में ही विलीन हो रहा है इसलिए

मुझे ज्ञात है कि तुम जीवन में किस दिशा

में आगे बढ़ना चाहते हो लेकिन अपनी जीत को

पूरी तरह से अपने जीवन में उतार लेने के

लिए तुम्हें अवचेतन मन तक यह संकेत जाता

है कि तुम इस कार्य के लिए पूरी तरह से

तैयार हो और मैं तुम्हारा साथ देने के लिए

पूरी तरह से तत्पर हो जाता हूं क्योंकि यह

प्रकृति का नियम है जिसके अनुसार मनुष्य

जाति कार्य करती है जीव जंतु कार्य करते

हैं पेड़ पौधे तालाब सब कुछ कार्य करते

हैं प्रिय बच्चे तुम्हें समझना होगा इन

नियमों की गहनता को और उसके बाद इसे अपने

जीवन में लागू करना होगा सर्वप्रथम तुम जो

चाह रहे हो उसकी पुष्टि करो उसकी पुष्टि

करने के लिए तुम्हें संख्या लिखना

है और तुम जो भी चाहते हो अपने उस चाहत को

पूरी तरह से अपने मन से निकालकर यहां लिख

देना है ऐसा करने से धीरे-धीरे तुम यह देख

पाओगे कि तुम्हारे जीवन में परिवर्तन हो

चुका है तुम यह जान पाओगे कि तुम्हारा

जीवन पूरी तरह से बदल चुका है इसलिए

तुम्हें कभी भी ना तो चिंता करनी है ना

आलस्य करना है एक ऐसा व्यक्ति जो तुम्हारे

जीवन में आ रही किसी भी तरह की कठिनाई को

समाप्त कर देगा साथ ही साथ तुम्हारे भीतर

ऐसा आत्मविश्वास विश्वास भर देगा ऐसी

ऊर्जा भर देगा कि तुम यह जान ही नहीं

पाओगे कि तुम्हारे भीतर क्या कमी है मेरे

प्रिय ऐसा करना तुम्हारे लिए आवश्यक है

अत्यंत आवश्यक है प्रिय बच्चे तुम्हें

जानना है ना कि तुम अपने जीवन में किस

दिशा में आगे बढ़ना चाहते हो तो यह जानने

के लिए तुम्हें सर्वप्रथम ध्यान देना होगा

तुम्हें शांति से बैठकर इसका विचार करना

होगा तुम अब आगे बढ़ चले हो तुम अब सही

राह को पकड़ चुके हो इसलिए तुम्हें इस राह

को त्यागना नहीं है तुम्हें इस तरह की भूल

नहीं करनी है जिससे तुमसे यह मार छूट जाए

यह बात सदा याद रखना क्योंकि मैं तुम्हारे

साथ रहूंगा तुम्हें हर परिस्थिति में हर

हाल में जीत दिलाने के लिए तुम तक मेरा

आशीर्वाद सदा ही पहुंचता रहेगा व वह सभी

लोग जो तुम्हारा नुकसान करना चाहते हैं

उन्हें इसकी कीमत उठानी पड़ेगी वह सभी लोग

थककर हार जाएंगे वह जो तुम्हें नीचा

दिखाना चाहते हैं उन्हें अब जल्द ही यह

एहसास होगा कि तुम्हारी ताकत कितनी

सर्वोच्च है तुम्हारी ताकत सर्वश्रेष्ठ है

क्योंकि तुम पर मेरा हाथ है इस माह के अंत

तक तुम्हारा जीवन ऐसा बदलेगा जैसा तुम

विचार भी नहीं कर सकते तुम्हें ऐसी

बहुमूल्य चीजें प्राप्त होंगी जिसे

प्राप्त कर लेने मात्र भर से जीवन बदल सा

जाता है जिसे मात्र पा जाने से जीवन में

आत्मविश्वास ऐसा बढ़ उठता है कि फिर उसे

कभी हार का भय ही नहीं रह जाता है तुम अब

वह सब कुछ आकर्षित कर रहे हो तुम अब वह सब

कुछ अपने जीवन में ला रहे हो इसलिए तुम भय

का त्याग करो तुम डर को भह जाने दो और जब

तुम्हारे खून में साहस बहेगा तो वह साहस

कोई और नहीं होगा मैं ही रहूंगा क्योंकि

मैं और तुम एक हैं हम दोनों इस ब्रह्मांड

के ही पिंड है और पिंड ही सर्वोच्च है

इसका अर्थ यह हुआ कि हम दोनों ही शुरुआत

है हम दोनों ही अंत है हम एक हैं हम हम

नहीं है हम मैं है और इसे तुम्हें समझना

होगा जीत की असीम अनंत गाथा लिखने को

तैयार हो जाओ अब पूरी तरह से अपने मन

बुद्धि चित् को तैयार कर लो और जीत की राह

पर बढ़ चलो प्रिय बच्चे अब तुम्हारे सारे

कष्ट सारी दुविधा एं दूर होंगी अब कोई

तुम्हें हरा वाला नहीं होगा अब कोई तुम्हे

नीचे गिराने वाला नहीं होगा मैं सबको

तुम्हारे जीवन से दूर कर दूंगा और केवल उन

लोगों को जो तुम्हारी सहायता करें जो

तुम्हारा समर्थन करें जो तुम्हारे प्रति

केवल सहानुभूति का भाव ना रखे बल्कि

तुम्हें आगे बढ़ाने के लिए तुम्हारी

प्रेरणा बने और जिनके भीतर तुम्हारे प्रति

प्रेम गहरा हो असीन सच प्रवाह की तरह

निर्मल होना है सच्च होना है और जीवन में

आ रही चुनौतियों को त दिल से स्वीकार करना

है यह सीखना है कि जो तुम्हारे साथ हो रहा

है वह कैसे घटित हो रहा है यह देखना है कि

तुम होते हुए भी कुछ और हो तो दृष्टा की

भाति तुम्हें अपने जीवन की सभी गतिविधियों

का आकलन करना है और ऐसा करने पर ही तुम

मुक्ति को प्राप्त करोगे यह मुक्ति इसी

जीवन में संभव है और तुम इस राह पर आगे

बढ़ चले हो तुम्हारा जो जीवन बह रहा है

उसे थमने की आवश्यकता नहीं है केवल इस के

साथ स्वयम को बेहतर करने की आवश्यकता है

फिर तुम पर प्रकाश उमेगा ऐसे सितारे

तुम्हारे स्वागत में खड़े हो जाएंगे कि

तुम्हारा जीवन प्रसन्नता से और गरिमा से

भर जाएगा प्रिय बच्चे एक बात सदा याद रखना

कि परिस्थिति चाहे जैसी भी हो तुम्हें

जीतना है और इसमें तुम्हें अपने आप को कभी

भी अकेला नहीं समझना है क्योंकि मेरी

शक्तियां तुम्हारा समर्थन सदा ही करेंगी

और मेरा आशीर्वाद तुम पर सदा ही बना रहेगा

सदा सुखी रहो मेरे आने वाले संदेशों की

प्रतीक्षा करना क्योंकि मैं फिर आऊंगा

तुम्हें सही मार्ग दिखाने के लिए जीत के

मार्ग तक पहुंचाने के लिए तुम्हारा कल्याण

होगा

Leave a Comment