तुम्हारे शत्रु की अगली चाल इस संदेश में जान लो।

मेरी प्रिय बच्ची मैं तुम्हें बताने जा
रहा हूं उसे ध्यान से सुनो आज से ही
तुम्हारा जीवन बदल सकता है तुम्हारे जीवन
की खुशियां कई गुना बढ़ सकती हैं तुम्हारे
जीवन में एक ऐसा व्यक्ति है जो तुम्हें
स्वयं से अधिक महत्व देता है एक ऐसा

व्यक्ति जो तुम्हें निराशा में भी आशा की
छवि दिखाता है वह तुमसे दूर अथवा पास कभी
तुम्हे अकेला होने का एहसास नहीं कराता
मेरे प्रिय ऐसे दुर्लभ लोग बहुत ही कम
लोगों के भाग्य में आते हैं कभी मित्र

बनकर तो कभी जीवन साथी बन के कभी प्रेम
बनकर तो कभी सहपाठी बनकर तुम्हारे जीवन
में वह चाहे किसी भी रूप में
आए उनसे अपना भाग्य समझो और आज उसे हृदय
से नमन करो
जहां चारों ओर स्वार्थ में डूबे लोग अपने

सगे संबंधियों को भी नष्ट कर देने में
पीछे नहीं हटते वहीं एक ऐसा व्यक्ति
तुम्हारे जीवन को खुशियों से भरने के लिए
पीड़ा सहने को तैयार
है यह तुम्हारे लिए ईश्वर द्वारा भेजा गया
एक उपहार
है स्वयं उपहार भेज रहा हूं मेरी बच्ची

सहजता से यह उपहार तुम्हे मिल गया है
इसलिए तुम इसका मूल्य समझ नहीं रहे हो
जीवन तो रफ्तार से भाग ही रहा है सामने की
ओर ना जाने कब सांसों की डोर छूट
जाएगी ना जाने कब दोबारा वह तुम्हे मिले
इसलिए आज ही वह दिन है जब तुम ही उन्हें

बताओगे कि तुम उनसे कितना प्रेम करते
हो तुम उनके लिए कितने आभारी हो वह
तुम्हारे जीवन में एक सुंदर उपहार है
इसलिए तुम भी उन्हें नमन करो मेरे बच्चे
यकीन करो एक छोटा सा प्रयास तुम्हें अनंत
प्रसन्नता प्रदान करेगा कई बार हम अपने मन
में जानते हैं कि वह व्यक्ति विशेष है और
उसका आभार भी मन में ही व्यक्त करते हैं
किंतु प्रकट नहीं करते आज वह दिन है जब

तुम प्रकट करोगे उन्हें वह सब बताओ जो तुम
महसूस करते हो कल्पना करो तुम एक शिक्षक
हो और तुम्हारी कक्षा में एक छात्र है जो
बड़े ही मन से तुम्हारे लिए चित्र बनाता
है पढ़ाई में दिन सभी कार्य को कुशलता से
करता है तो क्या तुम उसे प्यार से सराहना

नहीं दोगी मेरी बच्ची उसकी प्रशंसा नहीं
करोगी उसकी सराहना आवश्यक है यह उसके
मनोबल में वृद्धि करती है और तुम्हारे मन
को बेहद प्रसन्नता प्रदान करती
है अब देर किस बात की है उठो और उन्हें यह
बताओ वह कितने विशेष है और अपने जीवन के
नए अध्याय को प्रारंभ करो पहली शुरुआत यही
से करो और अपने पंखों को खोलो और खुले

आसमान में उड़ जाओ तुम्हें जो अच्छा लगता
है वह करो मेरी बच्चे आपको सजाओ स्वयं को
सजाओ और सवारो स्वयं से प्रेम करना सीखो
कभी नहीं भूलना मेरे बच्चे जिसने अति
प्रसन्नता होती है उसे यह तीन दुर्लभ
चीजें प्रदान करता हूं
मैं अधिकतर लोग मुझसे धन प्रेम और संतान

रत्न आदि का कामना करते हैं किंतु कुछ ऐसे
लोग होते हैं जो मुझसे सबसे हटकर ही चीजों
की कामना करते हैं और अपनी ऐसी योग्य
संतानों को दुर्लभ चीज प्रदान करता
हूं जो इस प्रकार है पहली दुर्लभ चीज
सच्ची भक्ति है दूसरी दुर्लभ चीज व्यक्ति
के मन में ऐसी प्रेरणा लाना कि वह व्यक्ति
आविष्कार किंतु किसी वस्तु की रचना
धार्मिक वेदों की सरल
व्याख्या और सामाजिक बदलाव ला सके तीसरे
दुर्लभ चीज ब्रह्मांड के अनंत रहस्य को
जानने की शक्ति यह तीन दुर्लभ चीजें मैं
अपनी परम योग्य संतान को ही प्रदान करता
हूं क्योंकि मैं है यह

कार्य देने से पहले अपने बच्चे का पूरी
तरह से परीक्षा लेता हूं कलयुग में अधिकतर
लोग लोग भक्ति केवल अपनी इच्छाओं की
पूर्ति के लिए करते हैं किंतु जिसमें
सच्ची भक्ति अथवा निस्वार्थ भक्ति प्रदान
हो जाए वह इस ब्रह्मांड में सबसे श्रेष्ठ

होता है क्योंकि धन और स्मृद्धि मात्र धूल
कण के समान है जिसे ईश्वर की सच्ची भक्ति
मिल गई वह यह समझ जाता है कि वह ईश्वर की
संतान है और वह पूरा ब्रह्मांड ही है
जो धूल कण के कुछ टुकड़ों के पीछे भागना
यदि तुम इन तीनों में से कोई एक चीज मिल
जाए तो तुम्हारा जीवन धन्य हो
जाएगा सफल हो जाएगा मेरी प्रिय बच्ची अगर
आप अपने ईश्वर पर विश्वास रखते हैं तो इस

चैनल को लाइक करके सब्सक्राइब अवश्य कर
देना और भाग्यशाली संख्या 11 11 टाइप
अवश्य करें
तुमने ध्यान नहीं दिया परंतु सत्य यही है
कि तुम स्वयं को बोलते जा रहे हो स्वयं को
भूलते ही जा रहे हो याद करो तुम पहले कैसे
थे और आज तुमने अपनी कैसी दशा बना ली है
इसलिए अब तुम्हें अपने पंखों को खोलना है

अब तुम्हें अपनी सबसे ऊंची उड़ान भरनी है
अब तुम्हें स्वयं से जुड़ना है आज का
संदेश अत्यंत विशेष है यह बस तुम्हारे लिए
ही है आज मैं तुम्हारे जीवन का सबसे बड़ा
सच बताऊंगा आज मैं तुम्हें यह बताऊंगा आज
से तुम्हारा जीवन पूरा बदल जाएगा तुम्हारे
जीवन की खुशियां कई गुना बढ़ जाएंगी
तुम्हारे जीवन में एक ऐसा व्यक्ति है जो

स्वयं से अधिक महत्व देता है ऐसा व्यक्ति
जो तुम्हें अच्छा कार्य सिखाएगा अगर यह
निर्णय ले याया तो फिर तुम अपने पैरों के
कांटों को मत
देखो उन कांटों को मैं खुद निकालू जब तुम
मुझ पर चलकर आओगे रास्ते आसान नहीं होते
हैं बस उन रास्तों को मत देखो मंजिल को
देखो मंजिल आसान लगने लगेगी सिर्फ कांटे

करके मंजिल को देखोगी तो सिर्फ मंजिल ही
दिखाई देगी तब कांटे नहीं दिखेंगे दर्द भी
महसूस नहीं होगा उस रास्ते की कठिनाइयों
में हमेशा याद रखें तुम्हारे साथ और चलते
चले आओ मेरे पास इस बार चले आओ मेरे साथ
आकर खड़े हो जाओ मैं तुम्हारा इंतजार कर
रहा हूं मेरी
बच्चे तुम बहुत परेशान हो 2023 में जैसे
जैसे समय गुजर रहा था तुम्हारी परेशानियां
और बढ़ने लगी थी किंतु अब 2024 में तुम्हे
सब कुछ मिल जाएगा तुम्हारे सारे कष्ट दूर

हो जाएंगे जो तुमने कल्पना नहीं की वह सब
कुछ तुम्हें मिलेगा तुमने अपने बुरे सपनों
में भी नहीं सोचा था कि तुम्हारे साथ यह
सब कुछ होगा परंतु वह सब कुछ हुआ था परंतु
अब और नहीं यदि तुम यूनिवर्स पर विश्वास
करते हो तो कमेंट में धन्यवाद यूनिवर्स
लिखकर चैनल को सब्सक्राइब करो तुम्हारा
कल्याण
होगा

Leave a Comment