तुम्हारे साथ ऐसा ही होगा 🌈

मेरे प्यार बच्चे यदि तुम्हें मेरा संदेश
प्राप्त हुआ है तो तुम्हारे जीवन की
समस्याएं आज समाप्त होने वाली हैं मेरे
तीन बटन पर विशेष ध्यान देते ही तुम्हारी

हर परेशानी दूर हो जाएगी सुबह से लेकर शाम
तक और हर समय उठाते बैठने जागते तुम्हारे
मां में यही विचार हमेशा लगा राहत है की
मेरे साथ ही ऐसा क्यों हो रहा है मैंने

क्या गलती की है मेरा क्या दोस्त है मैंने
तो कुछ गलत किया भी नहीं फिर भी मेरे साथ
यह हो रहा है मैं क्यों इतना परेशान हूं
संसार के सभी व्यक्ति बहुत खुशहाल हैं और
मेरे जीवन में कोई भी परेशानी मेरा पीछा
नहीं छोड़ रही है तुम्हारा मां सदा अपनी

नाकामियों से परेशान राहत है कोई कुछ नया
कार्य प्रारंभ करते हो पर वह अधूरा राहत
है या पूरा होते-होते रुक जाता है कई बार
तो तुम्हें ऐसा लगता है की तुम किसी भी
कार्य को नहीं कर पाओगे
तुम्हारा हृदय है माने लगा

रहा है तुम्हारा विश्वास टूटने लगा है
डगमगाने लगा है तुम्हें ऐसा ग रहा है की
तुम्हारे जीवन में पता नहीं आगे क्या होने
वाला है आगे के सभी रास्ते बैंड दिखाई दे
रहे हैं ऐसा ग रहा है की जीवन में कुछ
बच्चा नहीं और तुम्हारा कोई साथ नहीं दे

रहा है लेकिन मेरे बच्चे अभी भी कुछ
रास्ते खुला हुए हैं जिन पर चलकर तुम अपनी
मंजिल को प्राप्त कर सकते हो अपनी हर
परेशानी को समाप्त कर सकते हो
अगर कुछ कमी है तो उन पर चलने की आज
तुम्हें मैं तीन कम बताऊंगी उन बटन को
ध्यानपूर्वक सुना और समझना और करना है

पहले जीवन में प्रतिदिन संध्या कल को तुम
अगले दिन के लिए है निश्चय कर लो की आज की
गई गलती को कल रॉक लोग खाने का अर्थ है की
पीछे की जो भी चीज छठ रही है उनको नहीं
दोहराओगे आगे जब तुम्हें चलना है तो
तुम्हें एक नए रास्ते को बनाते हुए पीछे
की गलतियां को छोड़कर चलना है

तभी तुम उसे मुकाम पर पहुंच सकते हो जहां
तुम पहुंचाना चाहते हो दूसरा खुद के मार्ग
खुद बना सुनो सबकी करो अपने हृदय की
तुम्हारा हृदय जब सबकी बटन को सुनने के
बाद जो कहता है अंदर से जो विश्वास

तुम्हारा जागता है इस को करो और तीसरा तुम
सोचते ज्यादा हो और कम करते कम हो जो भी
विचार तुम्हारे मां में आता है उसे पर
तुरंत कम करना प्रारंभ कर देना चाहिए ना
की तुम सोचते सोचते अपने समय को व्यर्थ
में गवाओ भले ही तुम चिटा से गिरे हुए हो
कितनी भी उलझन से मायूस हो चुके हो फिर भी

यदि तुम्हें इन परेशानियां से निकालना है
तो किसी भी मार्ग पर तुरंत कम करने से
तुम्हारे समय की बचत होगी और उसे पर जितना
जल्दी तुम कम कर सकते हो तो एक सही समय

तुम्हारे हाथों से निकाल जाएगा और उसे पर
जितना जल्दी हो सके तुम कम कर सकते हो
नहीं तो एक सही समय तुम्हारे हाथों से
निकाल जाएगा वहीं तुम्हें भी प्राप्त होगा

जो तुम्हें चाहिए इस बात का ध्यान रखना
परेशानियां तब घेरती हैं जब तुम
परेशानियां को देखकर अपने कदमों को पीछे
हटाते हो इसलिए कभी भी परेशानियां से डरो
मत उसका डटकर सामना करो जो डटकर सामना
करके आगे जान की हिम्मत रखते हैं वह

निश्चित ही हर परेशानी का सामना कर लेते
हैं क्योंकि किसी भी चीज से डरना ही
असफलता का मुख्य करण है और संसार में ऐसी
कोई चीज नहीं जो तुम नहीं कर सकते अगर कुछ
कमी है तो सोच कर केवल मां लगाकर करने की

जैसे ही तुम इसे दूर करोगे हर परेशानी से
निकाल जाओगे अब जो तुम्हें बताने जा रही
हूं यह बात आज तक तुम्हें किसी ने भी नहीं
बताई होगी मेरे बच्चे तुम्हारी सफलता का
रहस्य यहां छुपा हुआ

दूसरे को देखने का तुम देखने का प्रयास
करते हो की वह जीवन में आगे कैसे बाढ़ रहा
है आगे बढ़ाने के लिए वह क्या कर रहा है
और जो भी वह कर रहा है उनका उन्हें लाभ
कैसे होगा तुम प्रयास करते हो उनके जीवन
में देखने की उनकी गतिविधियों को तुम

देखने और समझना का प्रयास करते हो इसलिए
तुम पीछे छठ जाते हो जीवन में यदि तुम आगे
बढ़ाना चाहते हो तो तुम्हारी दृष्टि भी
आगे की हनी चाहिए कम भी इस मार्ग पर
आगे बढ़ाना चाहिए अपनी गतिविधियों को देखो
अपनी योजनाओं को देखो अपने प्रयासों को

अपने अनुभव को समझो और इस मार्ग पर आगे
बढ़ो ऐसी कोई सफलता नहीं जो तुम्हें
प्राप्त नहीं होगी तुम कोई ना कोई विशेष
है और तुम में कोई एन कोई दोष भी है

सभी एक दूसरे से लड़ते नहीं है एक दूसरे
के लिए बड़ा नहीं बनते बस अपना कर्म करते
हैं सूर्य अपने प्रकाश से वनस्पतियों के
पेड़-पौधों को जन्म देता है मेघ वर्षा
करते हैं फिर लुप्त होते हैं

पर्वत की है अचलता है उसे वर्षा को एक
दिशा देती है एक धारा बंटी है जो बाटी है
यह सब क्या है यह सब एक सहयोग है चक्र है
सभी साथ मिलकर अपना कर्म करते हैं तभी यह

प्राकृतिक जीवित है यही तुम्हें भी करना
है सहयोग में रहकर कम करना है किसी के लिए
बड़ा नहीं बन्ना है किसी को छोटा नहीं
समझना है ऐसे ही करते रहना है सबके साथ
मिलकर कर्म करना है

प्राकृतिक भी तुम्हें यही सिखाती है मेरे
बच्चे एक प्रबल मां कठिन परिस्थितियों को
एक चुनौती के रूप में देखा है और
चुनौतियां में अफसर को देखा है

यही तुम्हें भी करना है इस संसार में किसी
को भी दोषी माने से तुम्हारी समस्या उलझा
नहीं जाएगी इसलिए इस संसार को दोस्त देने
के स्थान पर उसे समस्या के जड़ तक जो उसे
समझो और अपने इस मां को प्रबल बना यदि
तुम्हारा मां प्रबल हो गया तो इस संसार
में बड़ी से बड़ी कठिन से कठिन

परिस्थितियों क्यों ना ए जाए तुम्हारे
जीवन में बड़ी से बड़ी समस्या क्यों एन बन
जाए तुम अपने जीवन में आसानी से उसे पर कर
सकते हो क्योंकि तुम मेरे प्यार बच्चे हो

और मैं तुम्हें कभी दुखी नहीं देखना चाहती
इसलिए मेरी बटन का विशेष ध्यान देना मेरा
आशीर्वाद सदा तुम्हारे साथ है मेरे अगले
संदेश की प्रतीक्षा करना मैं फिर आऊंगी
तुमसे मिलने ओम नमः शिवाय

Leave a Comment