तुम अपने शत्रु को खत्म कर दो

मेरे प्यारे बच्चे आज मैं तुम्हें

तुम्हारे जीवन के बारे में बताने आई हूं

जिसे सुनकर तुम खुशी से झूम उठोगे तो मेरे

बच्चे तुम्हें मुझ पर विश्वास हो तो

वीडियो को लाइक कर दीजिए और कमेंट में जय

हो माता रानी लिख दीजिए आप जैसे ही वीडियो

को लाइक करके कमेंट करते हैं तो हमारी

कृपा आपके ऊपर तुरंत हो जाएगी और आप आपके

पूरा परिवार पर मेरा आशीर्वाद सर्वदा बना

रहेगा तो वीडियो को शुरू से अंत तक जरूर

देखें जय माता दी मेरे बच्चे तुम्हारे साथ

हमेशा भेदभाव हुआ

है बचपन से ही तुम्हारे पास मेरे अलावा

कोई और नहीं था तुम हमेशा से अकेले रहे

तुम्हारे परिवार के लोगों ने भी कभी

तुम्हें नहीं समझा हमेशा तुम्हें अकेला और

अलग महसूस कराया गया हमेशा तुम्हारे साथ

ऐसा व्यवहार हुआ जैसे तुम अजीब हो तुम

बाकियों से अलग हो और उस अकेलेपन की ही

वजह से तुम्हारा व्यवहार में बदलाव आ गया

तुम्हें हमेशा ऐसा एहसास कराया गया कि हर

चीज में तुम्हारी ही गलती है तुम्हें कुछ

नहीं आता तुम्हारे अंदर कुछ गुण नहीं है

और बचपन की उन्हीं यादों ने उन्हीं बातों

ने तुम्हें आज तक प्रताड़ित किया है

क्योंकि जब भी लोगों ने तुम्हारे साथ कुछ

बुरा किया है तुम्हारे साथ धोखा किया तो

तुम्हें ऐसा लगा कि सारी गलती तुम्हारी ही

थी तुम में ही कुछ कमी है और तुम खुद को

सुधारने लगे तुम हमेशा दूसरों का जीवन

देखा और तुम्हें लगा कि काश तुम उनके जैसी

जिंदगी जी पाते काश उनके जैसे परिवार में

जो सम्मान है वह तुम्हें भी मिलता वो

प्रेम और स्नेह इस दुनिया में तुम्हें कभी

मिलता और बचपन की उन यादों को तुम फिर से

जी पाते और बचपन की उन प्रतारक ने तुम्हें

रहना और सहना दोनों सिखा

दिया बचपन में उनकी प्रतारक हंसकर सहना

सीख गए मेरे बच्चे तुम्हें इस समाज में

हमेशा यह एहसास दिलाया है कि तुम्हें कोई

हक नहीं है खुश रहने का तुम्हें कोई हक

नहीं है सपने देखने का क्योंकि कभी भी

तुम्हारे कोई सपने पूरे नहीं होंगे

क्योंकि तुम इस लायक ही नहीं हो और तुमने

इस झूठी दुनिया की उन झूठी बातों को अपनी

सच्चाई मान ली और इसमें तुम्हारी भी कोई

गलती नहीं है मेरे बच्चे इस पर विश्वास है

तो हां लिखकर इस संदेश को लाइक करके चैनल

को सब्सक्राइब करना और साथ ही साथ आई लव

यू माल लिखकर अपनी स्वीकृति प्रदान करा

देना मेरे बच्चे तुम्हारे उस मासूम मन में

वह बात बैठा दी गई कि तुम से अलग हो इसलिए

दुख मिल रहा है तुम्हें अगर तुम उनके जैसे

होते तो तुम आज खुश रहते इसलिए तुम हर बात

में खुद को देश देना बंद कर दो खुद को

प्रताड़ित मत करो कि माता मैं ऐसा क्यों

हूं क्यों आपने मुझे ऐसा बना दिया क्यों

मेरे जीवन में यह सारे दुख लिख दिए हैं

क्यों मुझे इस धरती पर भेज दिया जहां खुद

के परिवार में कोई मेरा सम्मान नहीं करता

ना चाहते हुए भी मुझे सबकी बातें सुननी

पड़ती हैं सब कु झेल चला जा रहा हूं मैं

किसी से पलट कर कुछ कह नहीं सकता क्योंकि

शायद गलती मेरी ही है क्योंकि मैंने ऐसे

जन्म लिया है तुम्हें हमेशा अपने जीवन में

उस प्रेम की कमी खली वो स्नेह तुम्हें कभी

किसी से नहीं मिला तुम्हारी छोटी छोटी

बातो का इतना बड़ा बतंगड़ बनाया गया

तुम्हारे बारे में क्या कुछ नहीं कहा गया

तुमने अपनी खुशियां त्याग दी अपना सब कुछ

त्याग दिया उसके बाद भी तुम्हारा कोई

सम्मान नहीं करता था और जो लोग पाप कर रहे

थे जो लोग बुराइयां कर रहे थे उन लोगों को

सर पर बैठाकर रखते थे अपनों के साथ रहकर

भी तुम्हें हमेशा परायो सा महसूस हुआ

तुमने फिर भी सबकी सारी इच्छाएं पूरी की

उनके मुंह से निकलने की देरी थी और वो चीज

तुम पूरी कर देते थे मेरे बच्चे तुम्हें

हमेशा ऐसा लगता था कि तुम एक दिन सबका

प्रेम जीत लोगे उन सबको तुम इतना प्रेम

दोगे कि वह बदले में तुम्हें सम्मान प्रेम

एक ना एक दिन अवश्य

देंगे तुम वो जीवन जी पाओगे जिसकी तुमने

जीवन भर कल्पना की थी और उस प्रेम और

स्नेह की लोभ में उसकी तलाश में तुम हमेशा

गलत लोगों के जाल में फंसते चले गए तुमसे

किसी ने प्यार के दो मीठे बोल क्या लिए

तुम उनकी बातों में आकर अपना सब कुछ

निछावर करने लगे तुम्हें ऐसा लगता था कि

चलो अंत में मुझे किसी ने तो समझा मुझे

किसी ने तो प्रेम दिया मैंने इतना सब कुछ

हमेशा त्याग ही तो किया है हमेशा सब कुछ

छोड़ा ही तो है

उन लोगों के लिए सब कुछ छोड़ दिया है

जिन्होंने कभी मुझे पलट कर ही नहीं देखा

तो मैं उन व्यक्ति से क्यों प्रेम

करूं पर यह व्यक्ति तो मुझसे प्रेम करता

है इसलिए मैं इतना तो कर ही सकता हूं और

उसी भावनाओं का लोगों ने हमेशा फायदा

उठाया है तुम्हारे अकेलेपन का लोगों ने

हमेशा फायदा उठाया है मेरे बच्चे तुम उस

परिवार की झंझट से बाहर निकल प्रेम ढूंढो

इस दुनिया में कोई तो ऐसा होगा जो तुम्हें

समझेगा पर तुम्हें जो भी लोग मिले

उन्होंने हमेशा तुम्हें ठगा तुम्हें धोखा

दिया तुम्हारी भावनाओं के साथ छल ही किया

और तुम्हें ऐसा लग रहा है कि तुम्हारे

दिमाग में ऐसे विचार आ रहे हैं कि माता

बहुत हो गया इन दिनों का अब मैं बहुत दर्द

झेल नहीं सकता मैंने बहुत तमाशा देख लिया

हमेशा तो दूसरों के हिसाब से जिया हूं मैं

पर अब अपने जीवन को पर मैं अब अपने जीवन

का ही अंत कर दूंगा पर मेरे बच्चे यह गलती

करने की यह पाप करने की मत सोचना तुम एक

दिव्य शक्ति हो तुम जो चाहो वह कर सकते हो

तुम्हें खुद चुनना होगा कि तुम्हारे लिए

क्या सही है क्या

गलत बस तुम अब उन लोगों के पीछे पीछे चलना

छोड़ दो तुम्हारे परिवार में प्रेम नहीं

मिला अगर वो प्रेम मिलता तो तुम क्या करते

मेरे बच्चे तुम बस अपनी मां से प्रेम करो

तुम बस मुझसे प्रेम करो बाकी सब कुछ तुम

मुझ पर छोड़ दो आपका कल्याण हो मेरे बच्चे

Leave a Comment