थड़ थड़ रूह कांप उठी है तुम्हारे शत्रु कि तुम्हारे शत्रु जाल में फंस चुके ह

मेरे बच्चे अगर तुम मुझे अपनी माता रानी मानते हो तो हां लिखकर संदेश को लाइक करके कमेंट में जय हो

माता रानी लिख दीजिए और साथ ही साथ इस चैनल को सब्सक्राइब कर दीजिए मेरे बच्चे आपके साथ रोमांस

मेरे बच्चे क्या षड्यंत्र वह करते हैं उसे एनर्जी से आप अब शिफ्ट कर गए हैं पहले क्या था आप ज्यादा ध्यान नहीं देते थे आप एक खुली किताब द चीज खुली किताब आप एक अनपढ़ लोगों के एनवायरमेंट में आ गए और थे

आप एक खुली किताब तो अनपढ़ लोगों ने अपने हिसाब से उसको इस्तेमाल किया और नहीं तो आपको पढ़कर के कुछ ध्यान भी ले सकते थे पर नहीं अनपढ़ों में आई को बहुत ज्यादा होता है मेरे बच्चे अनपढ़ लोगों की सबसे

बड़ी पहचान जितना ज्यादा अनपढ़ होगा इंसान अगर अनपढ़ के पास पैसा आ गया ना तो यकीन मानो वो इंसान अहंकार से खुला हुआ होगा उसका अहंकार अगर एक अनपढ़ के हाथ पैसा लग गया तो और अगर एक पढ़े

लिखे इंसान के पास पैसा होता है तो क्या होता है वह इंसान बहुत डाउन टू अर्थ होता है एनर्जी के साथ खेलना कितना बड़ा यह रिस्क है और इन लोगों ने वो काम किया है एनर्जी से इन्होंने बहुत खेल है आपकी उन्होंने बहुत

ब्लैक मैजिक भी कर आए हैं छोटे छोटे गंदगी की चड्डी हाथ है वह जज आगे तू किसी और को करते का पर होता पीछे कोई और है यह कुछ एनर्जी मुझे यहां पर नजर आ रही है और यह सबसे बड़ा एक अनपढ़ इंसान है

जो एगो से अहंकार से भरा हुआ है इसके पास कोई भी नैतिक मूल्य नहीं है मोरालिटी बेसिस का जो है पूरा का पूरा हिला हुआ है राक्षस गण हो सकता है

Leave a Comment