देवी मां दुर्गा आपके लिए जरूरी संदेश 🔴 माता रानी का संदेश 🌺 नजरअंदाज न करें |

मेरे बच्चे तुम्हारी सुंदर आंखें मेरे इस
संदेश को पढ़ पा रही हैं तो निश्चित ही वह
तुम्हें यहां पर आएगा जिसको तुम सब जगह
ढूंढ रहे हो तुम्हारे निकट आएगा जब तुम

मेरे निकट आते तो हो और बहुत कठिनाइयों से
तुम मेरे निकट पहुंचते हो लेकिन तुम्हें

इन्हीं कठिनाइयों के पश्चात सुख का अनुभव
भी प्राप्त होता है जब तुम मेरे निकट आते
हो तब के बाद तुम्हें सुख का अनुभव इसलिए
प्राप्त होता है क्योंकि जब जैसे ही तुम
मेरे पास आते हो तो तुम्हारे मन को एक

खुशी होती है कि तुम समक्ष रहकर मेरे
दर्शन कर पा रहे हो और मुझसे मिल पा रहे
हो ऐसे ही कोई है जो तुमसे मिलेगा और
तुम्हें सुख का अनुभव प्राप्त कराएगा

तुम्हें खुशी होगी उससे मिलकर और तुम्हारे
हृदय को सुकून भी प्राप्त होगा जैसे जैसे
से घटाएं चलती हैं और बादलों की घटा आसमान
में तुम्हें ऐसा महसूस होता है जैसे घेर
रखा है उसी प्रकार से तुम्हारे इर्दगिर्द
जब तुम किसी के साथ अच्छा व्यवहार करते हो

या किसी सही काम को करते हो तो अच्छाई
तुम्हें घेरने लग जाती है जब तुम
अच्छाइयों को घने बादलों में अपने आप को
महसूस करते हो तो फिर यह घने बादल कभी
नहीं हटते क्योंकि जिसके अंदर अच्छाइयां
कूटकूट कर भर जाती हैं उसकी आदत हो जाती

है जीवन में जब भी वह कुछ बुरा करता है तो
उसका हृदय बुरा करने के लिए स्वीकृति नहीं
देता और वह अच्छाई के समक्ष रहकर ही अपने
आप को सुकून प्राप्त करवा पाता है उसी

प्रकार तुम्हारे पास जो आने वाला है वह
क्या है वह कैसा अच्छा इंसान है जो
तुम्हारी तरह कर्म करता है और और तुम्हारी
तरह ही करीबन दिखता है वह कोई तुम्हारा
प्रेमी नहीं बल्कि तुम्हारा एक साधारण
मित्र है कोई स्त्री हो सकती है कोई कन्या
हो सकती है कोई पुरुष हो सकता है कोई भी

हो सकता है लेकिन इतना ध्यान रखना कि उसके
समक्ष रहते हुए तुम्हारी जो अच्छाइयां हैं

वह लगातार बढ़ती चली जाएंगी तुम्हारे गुण
हैं वह कई गुना बढ़ेंगे उसके साथ रहने से
और तुम उसके के समक्ष अपने आप को और भी और
भी ज्यादा मजबूत देख पाओगे और ऐसा महसूस
होगा कि तुम्हारे अंदर अपने आप ही ताकत आ

गई है हर चीज को सोचने समझने की जो बुद्धि
है तीव्र होती जा रही है क्योंकि जिस
प्रकार नीम की पेड़ को पत्तियां उपयोगी
होती हैं ठंडल बहुत ज्यादा लाभकारी होती
है और उसकी जड़ें तक उपयोगी होती हैं यानी
के जड़ से लेकर तने से तने तक वह बहुत ही

फायदेमंद होता है आपके लिए उसी प्रकार एक
अच्छा व्यक्ति किसी भी जगह पर और कहीं पर
भी अपनी अच्छाइयों से बहुत कुछ जीत लेता

है कहने का अर्थ यह है कि वह जो भी इंसान
है जो अच्छाइयों से भरा हुआ है जिस तरह से
तुम हो वह आ रहा है का अर्थ है कि वह

तुम्हारे लिए अब से ज्यादा बेहतर समय लेकर
आ रहा है क्योंकि उसके पास तुमसे भी
ज्यादा बुद्धि प्रबल और जो तुम्हारी
बुद्धि को भी अपने साथ रहकर प्रबल कर देगा

और तुम्हें ऊंचाइयों के शिखर पर स्वतः ही
ले जाएगा और तुम्हें पता भी नहीं चलेगा
क्योंकि तुम्हारी सोच उसके जैसी हो जाएगी
जैसा वह सोचता है वैसा ही तुम भी सोचने

लगोगे और जैसे वह कार्यों को करता है वैसे
ही तुम कार्यों को करने लगोगे तो अपने आप
सब कुछ परिवर्तित हो जाएगा यानी अब से आगे

आने वाला समय बेहतर बनेगा जीवन में
खुशियों का प्रारंभ होगा जिससे आपको उसके
आने का आभास होगा अर्थात खुशियों के आने

का आभास होगा और तुम्हें ज्ञात ही हो
पाएगा कि हां संसार में अच्छे कर्मों का
फल भी अच्छा प्राप्त होता है भले ही
तुम्हारे मदद के लिए मैं ने अपने रूप में

किसी और को भेजा हो लेकिन तुमने जो कर्म
किया उसका फल तुम्हें प्राप्त हुआ मैं
इतनी दूर स्थिति होकर भी तुम्हारे बहुत
करीब हूं यह तुम्हें आभास हो जाएगा मां

काली कहती
है मेरे बच्चे कैसे हो आज मैं तुमसे एक
अति आवश्यक बात करना चाहती मैं तुम्हें
तुम्हारी उन गलतियों से सावधान करना चाहती

हूं जो तुम अपने रोज के जीवन में करते हो
मेरे बच्चे मुझे ज्ञात है तुम्हारे मन में
कोई भी छल कपट नहीं है तुम कभी किसी के
विषय में बुरा नहीं सोचते परंतु मेरे

बच्चे इतने सीधे इतने सच्चे होने के बाद
भी मेरे बच्चे लोग तुम्हारे भोलेपन का
फायदा उठाकर तुम्हें अपनी मीठी बातों के
जाल में फसाने का प्रयास कर रहे हैं मेरे
बच्चे ऐसे लोगों से स

रहो अन्यथा तुम्हारे सर कोई बड़ी मुसीबत आ
सकती है मेरे बच्चे आज मैं तुम्हें तीन
ऐसी गलतियां बताने वाली हूं जिसे भूलकर भी

मत करना मेरे बच्चे तुम्हारी सबसे पहली
गलती सभी को अपना समझने की भूल तुम एकता
में विश्वास रखते हो तुम सोचते हो कि कोई
पीछे ना रह जाए सबका विकास एक साथ हो चाहे
कोई भी मुश्किल हो सब मिलकर सामना करें
जहां दूसरे लोग केवल अपना भला चाहते हैं
तो वहीं तुम दूसरों की मुसीबत भी अपने सर
ले लेते हो परंतु मेरे बच्चे लोग केवल
तुम्हारा फायदा उठाते हैं तुमने स्वयं ही
देखा होगा जब तुम किसी मुसीबत में पड़ते
हो तो कोई भी तुम्हारा साथ नहीं देता मेरे
बच्चे तुम्हारी दूसरी सबसे बड़ी गलती है
कि तुम जिससे भी मिलते हो उससे अपने जीवन
से
सबसे महत्त्वपूर्ण बातों को सांझा कर देते
हो मेरे बच्चे तुम्हें यह बात ध्यान रखना
चाहिए तुम जिस इंसान से मिलो उसे प्रभावित
करने के लिए उसका विश्वास जीतने के लिए
अपनी आगे की योजना किसी को मत बताओ
क्योंकि यह वही लोग होते हैं जो तुम्हारे
मन की बात जानकर तुम्हारी कमजोरियों को
जानकर ऐसा जाल बिछाते हैं जिस में तुम
फसते चले जाते हो मेरे प्यारे बच्चे हर
कोई तुम्हारे जैसा भोला और सीधा नहीं है
सभी को अपने जैसा समझने की भूल मत
करो मेरे बच्चे तुम्हारी तीसरी गलती
है धन के मामले में हद से ज्यादा दूसरे पर
विश्वास करना क्योंकि मेरे बच्चे वर्तमान
समय में धन ही सब कुछ है यह बात सुनने में
कड़वी लग सकती है पर सत्य है मेरे बचे
आजकल के दौर में धन को लेकर किसी की भी
नियत बिगड़ सकती है केवल धन के लिए लोग
रिश्तों को भूल जाते हैं मेरे बच्चे ऐसे
लोगों से संबंध तोड़ लो जिससे केवल
तुम्हारे धन से मतलब है मेरे बच्चे अगर
तुम सुखी जीवन चाहते हो जीवन में आगे
बढ़ना चाहते हो तो अपनी मां की यह बातें
सदैव स्मृ रखना यह तीन गलतियां अपने जीवन
में कभी भी मत
दोहराना सुखी रहो मेरे
बच्चे तुम्हारा दिन शुभ हो सच्चे मन से
कहो जय मां काली अब और नहीं मेरे बच्चे
जितना तुम सहन कर सकते थे उतना तुमने सहन
किया लेकिन अब बहुत हुआ कठिनाइयां झेलते
हुए तुमने यह जो कर्म किए हैं तुम्हारी इन
कर्मों ने मुझे प्रसन्न कर दिया है और
तुमने मुझे अपनी ओर आकर्षित किया है अपने
आप को परिश्रम से और विश्वास से तुम यहां
तक पहुंचे हो तुम सब बच्चों से अलग हो
मेरे बच्चे क्योंकि तुमने औरों की तरह
रोने में अपना समय और किस्मत को खराब नहीं
किया बल्कि तुमने भाग्य को मेरी सहायता से
और स्वयं के कर्मों से बदलने की कोशिश की
है और तुम निश्चिंत ही अपने कर्मों के
द्वारा अपनी किस्मत को बदल पाए हो तुमने
मुझे विवश कर दिया है कि मैं तुम्हारे
भाग्य को सौभाग्य में परिवर्तित करूं मेरे
बच्चे जो लोग हार मानकर बैठ जाते हैं और
अपने जीवन में निराश होकर गलत रास्ते को
चुन लेते हैं चोरी चकारी करते हैं और किसी
के पराय धन पर गलत निगाहे डालते हैं अपने
कर्मों को सही नहीं करते और वहीं किसी भी
तरीके से धन को अर्जित करने की कोशिश करने
वाले व्यक्ति असाय व्यक्तियों को परेशान
करते हैं और अन्य गलत कार्य करते हैं उन
सभी बच्चों को तुमने गलत साबित कर दिया
तुमने साबित कर दिया है कि भाग्य को बदला
भी जा सकता है बस कर्म करने की कमी होती
है मेरे बच्चे तुमने बता दिया दुनिया के
हर व्यक्ति को कि यदि जीवन में कुछ ठान लो
तो हर चीज संभव है इसके साथ ही तुम नियमों
को कभी नहीं तोड़ते मैंने बहुत बार देखा
है कि तुम प्रतिदिन मुझे पूजा करते हो कई
बार तो ऐसा हुआ है लोगों के लिए बहुत सारी
बारिश होते हुए मुझ तक नहीं आए लेकिन
तुमने ना बारिश को देखा है कि जो बस
तुम्हें मन में एक ही धारणा हुई कि मुझे
पूजा करने जाना है और तुम आए मुझे
तुम्हारी ऐसी ही बातें तुम्हारी ओर
आकर्षित करती है मुझे बाध्य करती है मेरे
बच्चे दो ही चीज ऐसी हैं जो इंसान तो क्या
मुझे भी अपनी ओर आकर्षित करती है पहला
तुम्हारा प्रेम और दूसरा तुम्हारे विश्वास
पर जो कि पूरी सृष्टि को झुकाने की ताकत
रखती है विश्वास ही वह चीज है जो तुम्हें
जीवन में सब कुछ प्राप्त कराने की ताकत
रखती है जो विश्वास और सबका मान रखते हैं
वैसे ही तुम्हारी यह कर्म है जो मुझे
मजबूर कर देती हैं कि मैं तुम्हें
ऊंचाइयों पर लेकर जाऊं इसलिए मेरे बच्चे
मैंने यह निर्णय लिया है और यह मैं तुमसे
वादा करती हूं कि अब बस बहुत हो चुका
तुमने अपने जीवन में बहुत सहन कर लिया
तुम्हारे कांटों से भरे जीवन का मार्ग अब
फूलों से भरा होगा तुम्हारे जीवन में
जितनी भी उलझन थी वह भी मैं समाप्त कर
दूंगी आने वाले पल तुम्हारे खुशियों से
भरे भरे होंगे तुम्हारे जीवन में गम का
तिनका भी नहीं होगा और खुशियों की बहार
तुम पर बारिश करेगी अब हर इच्छा तुम्हारी
पूर्ण होने के लिए तैयार है तुम बस एक
कार्य को करना प्रारंभ करो मेरे बच्चे कल
से भोलेनाथ को तुम जल अर्पित करो और शाम
के वक्त तुम उनके सामने दीपक दिखाओ और
उनके नियमों को निभाओ और आने वाले दिनों
में गलत चीजों का सेवन मत करना और उनको
प्रसन्न करने के लिए तुम्हें उन्हें
प्रतिदिन भांग चढ़ाना मेरे बच्चे भोलेनाथ
तुम्हारी भावना के भूखे हैं इतना करते ही
मैं तुमसे अत्यधिक प्रसन्न होंगे मेरे
बच्चे तुम्हारी सबसे बड़ी शक्ति तुम्हारा
वही बनेंगे तुम्हारी गति को और बढ़ा देंगे
तुम्हारा वेट लगातार बढ़ता ही जाएगा
तुम्हारे मन की आकर्षण शक्ति को अत्यधिक
भंसाली करेंगे तुमको हर कार्य को करने की
उमंग भर देंगे मेरे बच्चे तुम्हारे हृदय
में कुछ भी कर गुजरने की शक्ति प्रदान
करने वाले क्योंकि प्रेम वह शक्ति है जब
तुम किसी को सच्चा प्रेम करते हो तब तुम
उनकी खुशियों का ज्यादा ख्याल रखते हो तुम
चाहते हो कि तुम्हारी वजह से कोई क कमी ना
रहे सारे संसार की खुशियां तुम उसे देना
चाहते हो और तुम अपने प्रेम से बहुत खुश
होते हो तुम्हारी खुशियां उसी से मिलती
हैं तुम गलती नहीं करते हो और जब तुम
अत्यधिक खुश होते हो तुम्हारे हर कार्य
में मन लगाकर पूरी शक्ति से कार्य को और
शक्ति से किए गए कार्य शीघ्र ही सफलता
प्राप्त होती है क्योंकि यही प्रेम की
शक्ति है इस शक्ति से तुम किसी भी मंजिल
को प्राप्त करने की शक्ति प्राप्त होती है
मन में उमंग उठती है यह प्रेम की शक्ति
तुम्हें मुझसे और भोलेनाथ से प्राप्त होती
है और तुम्हारे माता-पिता से प्राप्त होती
है और तुम्हारे जितने भी अपने हैं उन सबसे
प्राप्त होती है क्योंकि प्रेम एक डोरी है
जो तुम्हें बांध कर रखती है और नफरत वह
कैची है जो सब कुछ काटकर अलग अलग कर देती
है मेरे बच्चे तुम सबसे और मुझसे बहुत
प्रेम करो मेरे बच्चे तुम्हारे अंदर जो भी
प्रेम और सो हर्थ की भावना है तुम्हें
उसका इस्तेमाल सबसे पहले स्वयं की देखभाल
करने में करना चाहिए तुम्हें स्वयं से
पूर्ण बनने का प्रयास करना चाहिए संसार
में सदा सदैव तुम्हारी रक्षा के लिए कोई
नहीं आएगा तुम्हें अपने जीवन के पथ पर
अकेले ही आगे बढ़ने की क्षमता रखनी
क्योंकि एक तुम ही हो जो स्वयं का साथ
जीवन भर दोगे तुम्हें इस बात का सदैव स्मृ
रखना चाहिए कि यदि तुम वर्तमान के अलावा
किसी और समय की बात को लेकर परेशान हो तो
वह परेशानी एकदम व्यर्थ है यदि तुम बीते
हुए कल या आने वाले कल को लेकर ही परेशान
रहोगे तो तुम और किसी का नहीं बल्कि स्वयं
को हानि ही हानि पहुंचाओ ग मेरे बच्चे
प्रसन्न जीवन का सबसे छोटा मार्ग है स्वयं
से प्रेम करना यदि तुम स्वयं से अटूट
प्रेम करते हो तो तुम्हारे जीवन में चाहे
कितनी भी परेशानियां क्यों ना आए तुम्हारी
खुशियों का अंत कभी नहीं होगा मेरे बच्चे
इस कार्य को साधारण मत समझना लेकिन यदि
मेरे बच्चे जो कार्य देखने में बहुत
साधारण लगते हैं परंतु उसके अंदर इतनी
शक्ति होती है कि वह तुम्हारे जीवन को एक
नई दिशा में मोड़ सकती है इसलिए किसी भी
कार्य को छोटा मत समझना सभी कार्य अपनी
अपनी जगह अहम भूमिका रखते हैं और तुम्हारी
परिश्रम पूर्ण निष्ठा और विश्वास के साथ
है तो तुम्हें फल जरूर मिलेगा मैं जानती
हूं कि तुम्हारा मुझ पर अटूट श्रद्धा और
विश्वास है इसलिए मैं हमेशा तुम्हें सही
मार्ग बताती हूं मैं कभी भी तुम्हें भटकने
नहीं दूंगी तुम मेरे प्रिय भक्त हो और मैं
हमेशा तुम्हारे साथ रहूंगी चाहे परिस्थिति
कैसी भी क्यों ना हो मेरे बच्चे तुम
बिल्कुल भी चिंता मत करना मैंने तुम्हारे
लिए सारे द्वार खोल दिए हैं अब तुम्हारी
सफलता निश्चित है जो भी तुम्हारे मार्ग
में रुकावटें थी वह सब अब दूर हो चुकी हैं
अब केवल तुम्हारे मार्ग में खुशियां ही
खुशियां है जो तुम्हें तुम्हारे सफलता के
लिए अति आवश्यक है तुम्हारा कल्याण हो
मेरा संदेश मिलने का अर्थ है कि मैं कि
मैं तुम्हें बात बताने आई हूं तुमसे कोई
है जो मिलना चाहता है अभी के समय से पहले
काफी समय पहले से तुम उसका इंतजार कर रहे
थे लेकिन अब वह तुमसे खुद मिलना चाहता है
और उसका कुछ खास कारण है जिसकी वजह से वो
तुम्हारे पास आकर मिलना चाहती है तुम उससे
मिलने से पहले मेरी बातों को ध्यान पूर्वक
अवश्य सुनना और तुम्हें उससे मिलना है
क्योंकि जिस प्रकार तुम किसी अपने पसंद के
व्यक्ति से मिलते हो तो अपने हृदय के अंदर
कोमलता रखते हो क्योंकि तुम चाहते हो कि
वह तुमसे कभी रूठे ना इसी प्रकार तुमसे जो
मिलने वाला है उससे मिलने से पहले तुम्हें
इसी प्रकार कोमल हृदय रखना होगा और अपनी
वाणी को बहुत ही मीठा और अच्छा बनाना होगा
क्योंकि जिस प्रकार इंसान को मधुर वाणी
पसंद है और उससे अच्छा स्वभाव पसंद है
इसलिए इसी तरह जो तुमसे मिलने आने वाला है
उसे भी मीठी वाणी और कोमल हृदय ही पसंद है
और वह कोई और नहीं है जो तुमसे मिलने आ
रहे हैं बल्कि वह तो मेरे खुद भोलेनाथ पर
परमपिता परमेश्वर है जो तुमसे मिलने आ रहे
हैं आने वाले शीघ्र ही समय में वह इस धरती
पर एक महीने तक यहीं विराजमान रहेंगे
प्रसन्न मुर्दा में तुम्हें देखेंगे
तुम्हारी बातों को सुनेंगे और तुम जो
मांगोगे वह भी सुनेंगे लेकिन साथ-साथ में
तुमको उस परीक्षा से गुजरना होगा जो वह
तुम्हारी लेंगे अर्थात इस पृथ्वी पर तुम
इतने सक्षम हो किसी चीज को पाने में कितनी
योग्यता है तुम्हारे अंदर वह तुम्हारे
स्वभाव को देखकर समझेंगे जब वह तुम्हारे
करीब प्रकृति में विद्यमान शक्ति के
द्वारा आएंगे तब बस तुम्हें ध्यान रखना है
कि तुम्हें किसी भी वजह से उनके साथ कठोर
वचन नहीं बोलना है और ना ही उनका अपमान
करना है इसके लिए ज्यादा कुछ करने की
आवश्यकता नहीं बल्कि बस तुम अपने स्वभाव
को हमेशा इस तरह बना कर रखो कि जब भी तुम
किसी से बात करो तो तुम्हारे हृदय के अंदर
से बहुत ही कोमल वाणी निकले हुए शब्द और
तुम्हारे मुख से निकले हुए शब्द सबको
प्रिय लगे अर्थ यह है कि अगर तुम्हें ऐसा
लगता है कि तुम किसी से मिलो तो वह तुमसे
अच्छा बोली तुम्हें कितना अच्छा लगेगा
क्योंकि अच्छा बोलने में या अच्छी भावना

Leave a Comment