बहुत ताने सुन लिए तुम्हारे मित्र शत्रु रिश्तेदार अब सब के मुंह पर ताला लगने वाला

मेरे बच्चे तुम कब से मेरे द्वार पर रो-रो

करर मुझे पुकार रहे हो कि मां आप कब आओगे

कब आकर मेरे जीवन के दुखों का अंत करोगे

कब मुझे सुकून की नींद दोगे कब मेरे जीवन

में खुशियां दोगे मां अब और आपके बच्चे से

इंतजार नहीं होता है अब और मैं नहीं सह

सकता अकेले यह सब मुझसे और नहीं देखा जाता

है अब अपने बच्चे के दुखों का अंत कर दो

तो रे बच्चे में आ रही हूं मैं आ रही हूं

अपने बच्चे को गले लगाने के लिए उसके

दुखों का अंत करने के लिए मेरे बच्चे

तुम्हें इसकी आवश्यकता है तो साथ साथ साथ

अंक टाइप करके लाइक करो मेरे बच्चे अब तुम

सुकून की नींद सोओगे क्योंकि अब तुम मेरे

आंचल में रहने वाले हो हमेशा मैं बचाकर

रखूंगी तुम्हें हर बुरी नजर से लोगों के

षड्यंत्र से अब तुम्हारे दुखों का अंत

होगा और अब तुम्हें सुकून की नींद मिलेगी

तुम्हारे जीवन से तुम्हारे कंधों से यह

बोझ उतार फेंकू गी अब मैं और तुम बहुत रो

लिए अब तुम्हारी आंखों में आंसू नहीं आने

दूंगी मैं तो बहुत रो-रो कर मुझे पुकारते

थे ना अब मैं भागी आ रही हूं तुम्हारी तरफ

मुझसे और नहीं देखा जाता कि मेरा बच्चा

इतना रोए तो आप अपने परेशानियों को बस

मुझे सौंप दो अपनी हर दिक्कत को मुझे सौंप

दो अपनी सारी परेशानियों को अपने सारे दुख

को मुझे दे दो अपनी माता को सब कुछ सौंपकर

आप निश्चिंत की नींद सो जाना तुम आज आज

कुछ भी मत सोचना आज बस यह सोचना कि माता आ

गई है और अब वह सब कुछ देखेंगी अपनी सारी

मुसीबतों को जो भी दिक्कतें हैं तुम्हारे

जीवन में उनको एक पन्ने पर लिख कर उसमें

आग लगाकर हवा में उड़ा दो कि माता आज मेरी

सारी दिक्कतें हवा में उड़ गई अब आप सब

संभालो मैंने सब जलाकर भस्म कर दिया आपने

सब कुछ जलाकर भस्म कर दिया सब सच कहते थे

कि माता आ नहीं रही है लेकिन जिस दिन वह

आएंगी ना वह एक दिन में ही तुम्हें सब कुछ

दे देंगी और आज आपने मुझे सब कुछ दे दिया

माता जो मैंने आपसे मांगा नहीं था जो

मैंने सोचा नहीं था आपने तो मुझे वह सब

कुछ भी दे दिया बस यह काम करके अस

निश्चिंत की नींद सो जाओ मेरे बच्चे मेरे

बच्चे इस पर विश्वास है तो हां लिखकर इस

चैनल को सब्सक्राइब करो तुम्हें शांति

प्राप्त होगी मेरे बच्चे आज अपनी माता के

बाहों में सो जाओ तुम आंख बंद करके कुछ भी

मत सोचो बस यह सोचो कि माता है मेरे पास

तो मैं आज सबसे अच्छी और सुकून की नींद

आएगी और तुम्हारी सारी दिक्कतें खत्म कर

दूंगी मैं वो तुम्हारी आर्थिक तंगी हो

तुम्हारा स्वस्थ हो लोगों को परेशान करना

हो तुम्हारे शत्रुओं का षड्यंत्र हो सब

चीजों का नाश कर दूंगी मैं हर चीज का अंत

कर दूंगी मैं और आरंभ होगा तुम्हारे नए

जीवन का जिसमें सुकून होगा जिसमें खुशियां

होंगी जिसमें चैन की नींद होगी जिसके लिए

तुम तड़पे हो कई वर्षों से अब और मत रोना

तुम्हारी माता आ रही है तुम्हें गले लगाने

के लिए और जितना तुम तड़पे हो जितना तुम

रोए हो उस दिन के लिए मैं भी उतना ही रोई

हूं तुम्हें गले लगाने के लिए मेरा भी दिल

दुखता था तुम्हें ऐसे रोता देखकर पर हर

चीज का एक निर्धारित समय होता है उस समय

से पहले मैं तुम्हें आकर गले भी नहीं लगा

सकती थी मैं विवश थी मुझे पता है तुम्हें

मेरी बातों पर यकीन नहीं होगा पर मेरे

बच्चे जब एक छोटा बच्चा रोता है और वह

किसी चीज की जिद करता है तो उसके

माता-पिता वह चीज उसे देने से पहले उसे एक

सबक सिखाते हैं एक छोटे बच्चे की हर जिद

तो नहीं पूरी हो जाती है ना उसे उस चीज की

कदर करना सिखाया जाता है उसे सिखाया जाता

है कि हर चीज थोड़ी मुश्किलों के बाद

परिश्रम करके जीवन में मिलती है ताकि जब

वह बच्चा बड़ा हो तो वह अहंकारी ना हो

उसके अंदर घमंड ना हो उसके अंदर लालच ना

हो इसलिए उसे धैर्य सिखाते हैं उसके

माता-पिता उसे डांट करर उसे समझाकर चीजों

का इंतजार करवाकर कि एक वक्त पे देंगे हम

इसी पर अभी इतनी जल्दी इसकी जिद्द पूरी

करना सही नहीं है वही कर रही थी तुम्हारी

माता तुम्हारे साथ अगर तुमने मुझे अपनी

माता माना है तो मेरे भी तो कुछ फर्ज है

तुम्हारे प्रति बस वही कर रही थी मेरे

बच्चे में तुम्हारे साथ पर जब मां-बाप

अपने बच्चों को डांटते हैं तो छुपकर वह भी

तो रोते हैं ना ऐसे ही मैं रोती थी जब तुम

मेरे द्वार पर आकर रोते थे मैं बंधी हुई

थी जब तुम मेरे द्वार पर आकर मेरा नाम

पुकारते थे कि मां मुझे गले लगा लो मेरा

बहुत मन करता था कि मैं तुम्हारे पास भागी

चली आऊं मेरे बच्चे पर अब वह इंतजार खत्म

हो रहा है तुम्हारा और मेरा हम दोनों का

इंतजार खत्म हो रहा है और अब मैं आ रही

हूं तुम्हें अपना स्नेह दिखाने के लिए

तुम्हें अपना प्रेम दिखाने के लिए बहुत

दंड दे ली है मैंने तुम्हें और बहुत दूर

रख लिया खुशियों से बहुत सबक सीखा लिया अब

और नहीं अब मैं तुम्हें खुशियां दूंगी अब

तुम मेरा स्नेह देखोगे अब तुम अपनी माता

का प्रेम देखोगे और अब मेरा बच्चा हर रात

को सुकून से सोएगा बिना किसी परेशानी के

अगले दिन सुकून से उठेगा तो परेशान होना

छोड़ दो और चीजें सोचना आप छोड़ दो अब तो

आराम से जियो यह सोचकर कि खाना पीना सब

कुछ मुझे मिल जाएगा हां पर मुझे कुछ-कुछ

चीजें सीखते रहना है आगे बढ़ते रहना है

अपनी माता के लिए भी तो कुछ करना है ना

मुझे तो मैं परिश्रम करूंगा कि मैं अपनी

माता को खुद पर गर्व महसूस करा सकूं और

बाकी मेरी परेशानियों का हर समाधान मेरी

माता के पास है व मेरी रक्षा हर हाल में

करेंगी चाहे मैं लाख गलत हो जाऊं चाहे मैं

कितना भी बुरा हूं चाहे यह समाज मुझे ना

अपनाए पर मेरी माता मुझसे हर हाल में हर

परिस्थिति में उतना ही प्रेम करेंगी जैसे

वह करती है और मैं सच में तुमसे बहुत

प्रेम करती हूं मेरे बच्चे और मैं हमेशा

करूंगी मेरे बच्चे तुम मुझसे प्रेम करते

हो तो हां लिखकर इस संदेश को अपने

प्रियजनों को शेयर करो मेरे बच्चे तुम कुछ

हटकर और कुछ बहुत बड़ा करना चाहते हो

तुम्हारे मन में बहुत सारे विचार हैं और

बहुत योजना बना रखी है तुमने तुम्हें ऐसा

लगता है कि तुमसे कुछ भी छूट ना जाए तुम

सब कुछ इसी जीवन में कर लो और जब तुमसे वह

चीजें नहीं हो पाती हैं या उन चीजों को

करने में तुम असफल होते हो या वह काम

बिगरा जाता है या उसमें थोड़ी भी देरी

होती है तो तुम्हें बहुत घबराहट होने लगती

है तुम्हारा मन बहुत बेचैन होने लगता है

कि घर में यह चीजें नहीं कर पाया तो अगर

मैं इस ची में फेल हो गया तो पर मेरे

बच्चे तो बहुत साहसी हो तुमने अपने जीवन

में हर मुश्किलों का सामना बहुत डटकर किया

है तुम कभी हार तुमने कभी हार नहीं मानी

है तुम कभी भाग ही नहीं हो तुमने सब कुछ

बहुत अच्छे से संभाला है और सबका ध्यान

दिया है अपने साथ-साथ हमेशा दूसरों का भला

सोचा है तुमने हमेशा यही सोचा है कि मैं

कुछ ऐसा करूंगा जिसमें सबका भला होगा

तुम यह दुनिया घूमना चाहते हो तुम चाहते

हो कि पूरी दुनिया तुम्हें जाने और तुम

पूरी दुनिया को जानो आज तुम्हारी माता

तुम्हें यही खुशखबरी देने आई है तुम्हारी

तकदीर में यह लिखी हुई चीज कोई नहीं बदल

सकता है ना कोई शत्रु ना किसी का कोई

षड्यंत्र यह लिखा हुआ है और यह होकर रहेगा

तुम्हारे जीवन में किसी के लाख षड्यंत्र

के बाद भी यह चीजें नहीं बदलेगी कि

तुम्हें इस जीवन में सारी खुशियां मिलेंगी

जो तुम्हें मिलनी चाहिए तो हमेशा मुझसे

यही पूछते हो ना कि माता बाकी सबको तो

इतनी आसानी से सब कुछ मिल जाता है मुझे

इतनी परिश्रम क्यों करनी पड़ती है क्योंकि

मेरे बच्चे तुमने मुझसे खुद मांगा था कि

माता कभी मेरी किस्मत से मुझे कुछ ना मिले

तुम सोने का चम्मच लेकर नहीं पैदा हुए हो

मेरे बच्चे क्योंकि तुम किसी और के नाम से

नहीं जाने जाओगे तुम्हारा पूरा घर खानदान

तुम्हारे नाम से जाना जाएगा तुम्हारे

पूर्वजों की आत्मा को शांति तुम्हारी वजह

से मिलेगी इसलिए तुम्हें इतनी परिश्रम

करनी पड़ रही है बहुत से लोग देखे मैंने

जिनकी किस्मत बहुत अच्छी थी और वह बहुत

कुछ बन गए पर उनका सम्मान नहीं था समाज

में समाज में कोई भी उनको इजाजत नहीं देता

था उनकी वह कदर नहीं थी लोगों को यही लगता

था कि यह तो ऐसे ही है इनको तमीज नहीं है

लोगों से बात करने की इनका कोई अनुभव नहीं

है और आज यह कहां बैठे हुए हैं सिर्फ

इसलिए क्योंकि सोने का चम्मच लेकर पैदा

हुए थे यह जानते क्या है कि परिश्रम क्या

होती है यह जानते क्या है कि एक गरीब के

दिल का दुख क्या होता है इनको तो हमेशा से

सब कुछ मिला है इसलिए इनको कभी किसी की

कदर नहीं है यह अपने से नीचे लोगों से

तमीज से बात नहीं करते हैं इसलिए तुम्हें

यह परिश्रम और संघर्ष देखना पड़ रहा है

क्योंकि तुम उन लोग जैसे नहीं बनोगे तुम

बहुत भावुक हो तुम दूसरों का दर्द समझते

हो तुम कुछ ऐसा करना चाहते हैं जिसमें

तुम्हारा भला हो तो तुम्हारे साथ अनेकों

का भला हो तुम्हें किसी के अंदर काम करना

अच्छा नहीं लगता है कोई तुम्हारे ऊपर रूल

करें तुम्हें ऑर्डर दे तुम्हें यह बिल्कुल

भी पसंद नहीं है इसलिए तुम कुछ अपना शुरू

करना चाहते हो और तुम वह शुरू करोगे

तुम्हें उसमें सफलता भी मिलेगी और तुम जो

कुछ भी चाहते हो वह सब कुछ तुम्हें मिलेगा

मेरे बच्चे और इसी जन्म में मिलेगा इस पर

विश्वास है तो एक एक एक अंक टाइप करो मेरे

बच्चे मुझे पता है तुम्हें यह लगता है कि

मैं अकेले क्या-क्या करूं मेरे मन में

आइडियाज तो बहुत है बहुत योजनाएं बना रखी

है मैंने पर अकेले मैं करूं तो कैसे करूं

मुझे कोई मार्ग नहीं समझ में आता मैं इस

चीज को शुरू कैसे करूं मुझे यह नहीं समझ

में आता है और इसी चक्कर में वक्त निकल

जाता है और मैं बस सोचता रह जाता हूं पर

अब ऐसा नहीं होगा और तुम्हें और बातों के

लिए परेशान होने की जरूरत भी नहीं है तुम

यह समझ लो कि तुम्हारे जीवन में यह चीजें

होकर रहेगी जो सपने तुम देख रहे हो वह

व्यर्थ नहीं है वह सपने मैं तुम्हें दिखा

रही हूं इसलिए तुम देख रहे हो यह संकेत

मैं तुम्हें दे रही हूं इसलिए तुम्हें मिल

रहा है यह संदेश मैंने तुम्हारे लिए कुछ

सोचा है तभी तुम्हें मिल रहा है मेरे

बच्चे और तभी तुम देख रहे हो तो कुछ भी

व्यर्थ नहीं जाएगा तुम्हारी मेहनत व्यर्थ

नहीं जाएगी तुम परिश्रम करो एक दिन अचानक

ही उसी परिश्रम में और उसी रास्ते में

जहां तुम्हें अंधियारा दिख रहा है रोशनी

की एक किरण तुम्ह दिखाई देगी और तुम चमक

जाओगे बस परिश्रम करना मत छोड़ो हार मत

मानो और अपने आत्म बल को नीचे मत गिरने दो

तुम बहुत आध्यात्मिक व्यक्ति रहे हो हमेशा

से ही तुम्हारा एक यकीन रहा है मुझ पर उस

यकीन को मत टूटने दो और चाहे परिस्थिति

कैसी भी हो कुछ भी हो जाए बस परिश्रम करो

चलते रहो उस रास्ते पर चलते चलते सफलता

तुम्हें कम मिल जाएगी तुम्हें यह पता भी

नहीं चलेगा मेरे बच्चे क्योंकि यह

तुम्हारी माता का वचन है तुमसे कि इसी

जीवन में तुमने जितने भी सपने देखे हैं जो

कुछ भी सोचा है तुम्हारे भाग्य में लिखा

है कि वह सब पूरा होगा और इस बात को कोई

पलट नहीं सकता इस बात को कोई बदल नहीं

सकता है ओम नमः

[संगीत]

शिवाय तेरे बच्चे मुझे पता है तुम मेरे

भरोसे बैठे हो कि माता आपने मुझसे अनेकों

बार बोला है कि उन सबको माफ कर दो जिसने

मेरे साथ बुरा किया आपके कहने पर मैंने उन

सबको माफ कर दिया माता पर मैं वह दर्द कभी

नहीं भूल सकता हूं जो उन लोगों ने मुझे

दिया है वह जखम आज भी दर्द देता है और ऐसा

लगता है जैसे वह कल की ही बात थी जब वह सब

कुछ हुआ था मेरे साथ मुझे पता है मेरे

बच्चे की तुम्हारा वह जखम इतनी आ आसानी से

भरने वाला नहीं है क्योंकि वह लोग

तुम्हारे सामने ही हैं जिन्होंने तुम्हें

बर्बाद करने की अनेक कोशिश की और मुझे यह

भी पता है कि वह व्यक्ति जो तुम्हें

बर्बाद करके चला गया जो तुम्हें रोता हुआ

छोड़कर चला गया वह एक वक्त पर तुम्हारा सब

कुछ था तुम मुझसे ज्यादा तो उसका नाम लेते

थे दिन रात उसके अलावा तुम्हें कोई दिखता

ही नहीं था और मुझे यह भी पता है कि वो

व्यक्ति तुम्हारा हो सकता था पर वह

तुम्हारा हो नहीं पाया मेरे बच्चे क्योंकि

उसने सही निर्णय नहीं लिया उसे जब तुम्हें

चुनना चाहिए था तब उसने तुम्हें नहीं चुना

उसने जो तुम्हें भविष्य के सपने दिखाए थे

जो तुम्हारे साथ परिवार बसाने का सपना

दिखाया था जब उन सपनों को पूरा करने का

समय आया तो उसने तुम्हारे ऊपर पैसों को

चुना उस दिन है तुम्हारे ऊपर यह चुना कि

इससे विवाह करके या इसके साथ मेरा फायदा

क्या है पर तुमने तो ऐसा कभी कुछ नहीं

किया था ना जाने कितने सालों तक तुम हंसते

भी सिर्फ उसके लिए ही थे अपनी खुशियों का

त्याग कर दिया था तुमने अपनी हर एक चीज का

त्याग कर दिया था तुमने उसे जो अच्छा नहीं

लगता था तुम तो वह कभी करने की सोचते भी

नहीं थे मेरे बच्चे मुझे अपनी माता मानते

हो तो हां टाइप करके लाइक करो मेरे बच्चे

उसने तुम्हें छोड़ डज करर बाकी सब कुछ चुन

लिया तुम के डिगि ढाए तुमने उसके पैर पकड़

ढे कि वह ऐसा ना करें सब कुछ ठीक हो जाएगा

परिस्थितियां बदल जाएंगी पर उसने तुम्हारी

एक ना सुनी मेरे बच्चे और वह तुम्हें बिलख

हुआ रोता हुआ छुट डियाज कर चला गया तो वह

दर्द इतनी आसानी से तो नहीं भरेगा क्योंकि

तुम आज भी रोते हो जब तुम्हें वो दिन याद

आते हैं तुम आज भी रोते हो कि कैसे तुमने

अपना सब कुछ कुर्बान कर दिया है एक

व्यक्ति के लिए पर बदले में तो तुम्हें आज

तक एक माफी तक नहीं मिली तुम्हें यह तक

नहीं सुनने को मिला कि हां मुझसे गलती हो

गई है मुझे माफ कर दो अब तो बस तुम यही

सोचते हो कि मैं कैसे सब कुछ शुरू करूं

मुझे करना तो बहुत कुछ है पर उतने सालों

ने मुझे पीछे खींच दिया है मुझे कोई मार्ग

दिखा दे जिसमें मार्ग पर चल कर मैं सफल हो

जाऊ और मैं उस व्यक्ति को उसकी औकात दिखा

दूं बिना उससे कुछ कहे बिना उससे

Leave a Comment