माँ दुर्गा आपके लिए अत्यावश्यक संदेश | माता रानी का संदेश | माँ वैष्णो देवी | माँ काली

मेरे
बच्चे आने वाले दिनों में तुम्हें बहुत
सावधानी बरतने की जरूरत है क्योंकि
तुम्हारा शत्रु तुम्हारे खिलाफ बहुत बड़ी
चाल चलने वाला है वह कुछ ऐसा करेगा जिससे
तुम्हारे जीवन में उथल-पुथल मच जाएगी तुम
बहुत बड़े संकट में पड़ सकते

हो मेरे बच्चे मैं तुम्हें सावधान करने आई
हूं आने वाले दिनों में कोई व्यक्ति
तुम्हें कुछ खाने को देता है तो मत
लेना किसी और के हाथ का दिया हुआ कुछ मत
खाना मेरे बच्चे वह तुम्हारा करीबी हो

सकता है कोई रिश्तेदार जो तुमसे जलता
है इस व्यक्ति के बारे में तुम भली भाति
जानते हो तुम यह भी जानते हो कि यह
व्यक्ति तुम्हारी खुशियों से तुम्हारी

कामयाबी से कभी खुश नहीं हो सकता तुमने
बड़ा हृदय दिखाते हुए उसे माफ कर दिया था
और वह भी तुम्हारे सामने ऐसा दिखावा करता
है कि वह भी अपनी गलतियों से सबक ले चुका
है और वह सच में तुम्हें अपना मानने लगा

है पर मेरे बच्चे ऐसा कुछ नहीं है वह आज
भी तुम्हारा शत्रु ही
है वह आज नहीं पिछले जन्म से ही तुमसे
शत्रुता निभा रहा है उसने तो बस एक मुखौटा
पहन लिया है मुखौटा अच्छे बनने का मुखौटा
तुम्हारा शुभ चिंतक होने का वह तुम्हारा
शुभ चिंतक नहीं है और आने वाले कुछ दिनों

में वह तुम्हारे खिलाफ बहुत बड़ी चाल
चलेगा वह अपना असली रंग तुम्हें जरूर
दिखाएगा मेरे बच्चे तुम्हें बहुत ज्यादा
सावधान रहने की जरूरत है सिर्फ तुम्हें

नहीं तुम्हारे परिवार के हर सदस्य को
सावधान रहने की जरूरत है क्योंकि उससे
तुम्हारी सफलता नहीं देखी जा रही है

तुम्हारे घर की सुधरती आर्थिक स्थिति उससे
नहीं देखी जा रही है वह कुछ ऐसा करने वाला
है जिससे अचानक से ही तुम्हारी तबीयत खराब
होने लगेगी या तुम्हारे परिवार में किसी
की तबीयत खराब होने लगेगी वह अचानक से कुछ
कुछ ऐसा करेगा कि तुम्हारी आर्थिक स्थिति

डमाइज ले आए और उसको तुम अपने घर में रख
लो ऐसे व्यक्ति से कुछ मत लेना मेरे बच्चे
ऐसे व्यक्ति की दी कोई चीज अपने घर में मत
रखना मेरे बच्चे तीन संकेत यह होंगे आने
वाले कुछ दिनों में कोई इंसान तुमसे पैसे
की मांग करेगा या किसी प्रकार की मदद

मांगेगा एक बार विचार जरूर कर लेना कि तुम
किस इंसान को और किस व्यक्ति को वह पैसे
दे रहे हो क्योंकि हो सकता है वह पैसे
तुम्हें वापस कभी मिले ही ना तुम्हारे वह
पैसे डूब जाएं इन दिनों में मैं तुम्हें

बहुत संख दूंगी तुम्हारी अंतरात्मा तुमसे
बहुत कुछ कहेगी कोई भी निर्णय लेने से
पहले अपनी अंतरात्मा की आवाज जरूर सुनना
कोई भी निर्णय लेने से पहले एक बार विचार
करना अतीत में हुई चीजों का लोगों ने

तुम्हारे साथ कितना छल किया लोगों ने क्या
किया उस बात पर विचार करके फिर कोई निर्णय
लेना आने वाले 15 दिनों में बहुत जरूरी है
कि तुम अपनी बुद्धि का प्रयोग करो ना कि
अपने हृदय का आने वाले दिनों में यह बहुत

जरूरी है कि तुम जहां काम करते हो वहां भी
बहुत सावधानी बरतो क्योंकि वहां पर भी
तुम्हारे ऊपर कुछ इल्जाम लगाए जा सकते हैं
वहां पर भी कुछ लोग हैं जो तुम्हारी
तरक्की से जल रहे हैं जिनको यह लग रहा है

कि तुम उनके बाद से वहां काम कर रहे हो
लेकिन तुम्हारी तरक्की उनसे ज्यादा है
तो वह लोग भी तुम्हें नीचे खींचने की

कोशिश करेंगे पर तुम्हें बातों से घबराना
नहीं है मैं तुम्हारी रक्षा कर रही हूं
कोई तुम्हारा कुछ बिगाड़ नहीं

सकता पर हां यह लोग जो चलेंगे उससे
तुम्हारा मनोबल कम
होगा इससे तुम्हारे भीतर नकारात्मक ऊर्जा
आ सकती है जिससे तुम्हें बचना है तुम्हें
मुस्कुराकर और डटकर सबका सामना करना है और
बहुत सोच समझकर निर्णय लेना है बहुत कुछ
समझकर कहीं पैसा लगाना है किसी को पैसा

देना है यह लेना है तुम्हें आने वाले 15
दिनों में भावनाओं में नहीं बहना है मेरे
बच्चे और किसी पर भी आंख बंद करके भरोसा
नहीं करना है मेरा यह सुझाव है

तुम्हें तुम हनुमान चालीसा का पाठ करना
शुरू कर दो स्वयं हनुमान जी तुम्हारी
रक्षा
करेंगे और दुश्मनों का नाश अवश्य करेंगे
ओम नमः शिवाय तुम्हारा कल्याण हो मेरे
बच्चे मेरे बच्चे मैं मां महागौरी

आपको अपना आशीर्वाद देने आई हूं
अगर आप सब मुझे प्रसन्न करना चाहते हैं तो
पूजा के समय पांच तरह के मिष्टन चढ़ाएं और
जो मिष्ठान आप मुझे भोग लगा रहे हैं उस
मिष्ठान को कुंवारी कन्याओं में प्रसाद के

रूप में बांट
देना मेरी कृपा से आपकी आय में आने वाली

बाधा को दूर कर दूंगी और तुम्हारी मेहनत
और योग्यता के अनुसार
धन अर्जित करने में तुम सफल हो जाओगे अगर
सच्चे मन से आप मेरी पूजा करते हो तो मैं
कभी आपको निराश नहीं
करती मैं अपने बच्चों का सदैव ध्यान रखती
हूं मेरे बच्चे तुमसे कुछ बहुत जरूरी बात

करने आई हूं इसलिए मेरे संदेश को अनदेखा
करने की
भूल

मत करना मेरे बच्चे और जो बता रही हूं
उसको ध्यानपूर्वक
सुनकर समझना बहुत जरूरी है
क्योंकि जो बात करने आई हूं मैं वह
बात बहुत ही आवश्यक है

और तुम्हें जानना बहुत जरूरी है
क्योंकि तुम्हारे करीब एक ऐ
समय आने वाला
है यदि तुम एक छोटा सा कार्य

भी कर लेते हो वह कई गुना
फल तुम्हें देकर जाता है और ऐसा
ही शुभ समय तुम्हारे निकट शीघ्र
ही आने वाला है मेरे बच्चे

इसलिए उस शुभ समय के उन छड़ों को
तुम खाली मत जाने देना जो बता रही
हूं केवल ध्यान देना बाकी
सब मुझ पर छोड़ दो मैं तुम्हारी प्रार्थना
को स्वीकार कर तुम्हें जो
चाहिए वह तुम्हें दूंगी तुम जब व्रत

को खोलने से पहले
जिस दिन
कन्याओं को भोजन कराओ ग उस
समय विशेष ध्यान रखना इस कार्य
को तुम प्रातः काल ही संपन्न करने
के पश्चात उनके मुख से निकली
हुई बातों को पूरा करना यदि वह

तुमसे कुछ इच्छा जा हिर करती है तो
तुम उसे अवश्य पूरा करना उसे
अधूरा मत रहने देना क्योंकि छोटी
कन्या तुमसे कुछ बहुत बड़ी इच्छा
जाहिर नहीं करेंगी छोटी कन्याओं

की इच्छा को पूरा करते ही तुम्हारी
कोई भी एक इच्छा जो अधूरी
हो वह पूर्ण हो जाएगी क्योंकि इस सम

य मैं
तुम्हारे घर में प्रवेश

करूंगी वह मेरा ही रूप लेकर प्रवेश करेंगी
और उनके द्वारा प्राप्त किया गया आशीर्वाद
तुम्हें
मिलेगा और जीवन में जो चाहिए वह दिलाने
की शक्ति रखेगा यदि तुमने

उनको खुश कर दिया तो तुमने
मुझे खुश कर दिया और मैं खुश हो गई
तो जीवन में तुम्हें कुछ मांगने
की आवश्यकता ही नहीं पड़ेगी सब कुछ बिन
मांगे ही मिल जाएगा

Leave a Comment