माँ महाकाली 🕉 माँ काली आपके लिए अत्यावश्यक सन्देश

मेरे बच्चे जब तुम बहुत रोटी हो बहुत
परेशान होते हो टूट जाते हो तो चीख-चीख कर
मुझे बस एक ही सवाल करते हो की माता आखिर
आप मुझे चाहते क्या हो क्यों इतनी तकलीफ
दे रहे हो आप मुझे क्या कर डन मैं ऐसा

जिससे आप प्रश्न हो जो और मेरे जीवन से इन
समस्याओं का अंत कर तो आज मैं तुमसे वो
मांगने आई हूं क्या तुम मुझे वो डॉग जो
मैं तुमसे चाहती हूं उसके बदले में मेरा
यह वचन है तुमसे की तुम्हें जो कुछ भी
चाहिए तुम्हें वह सब कुछ दे दूंगी मैं
इस समाज में तुम्हें एक नाम दूंगी तुम्हें
सम्मान दूंगी तुम्हें वह सब कुछ दूंगी जो
तुमसे छीना गया है और तुम्हारे शत्रुओं का
नस करूंगी मैं

पर क्या तुम मुझे वह दे पाओगे जो मुझे
तुमसे चाहिए
मुझे तुमसे तुम्हारी खुशियां चाहिए मेरे
बच्चे मैं तुम्हें खुश देखना चाहती हूं

अब तुम मुझे यही खाओगे की माता इस खुशी के
लिए तो आपसे प्रार्थना कर रहा हूं
मेरे जीवन में खुशी ही तो नहीं दिया आपने
विपत्ति में इतनी समस्याओं में आप कैसे
मुझे यह उम्मीद लगा बैठी है की मैं हूं
बीट तो सिर्फ मुझमें पर रही है माता सिर्फ
मैं जानता हूं की मैं जीवित कैसे हूं
हंसना तो बहुत दूर की बात है

पर यही परीक्षा लेनी है मुझे तुम्हारी और
यही चाहिए मुझे तुमसे मेरे बच्चे इस
विपत्ति में भी मुझे तुम्हारे चेहरे पर वो
हंसी चाहिए

तुम्हारे जीवन में वो खुशियां चाहिए मुझे
तुमसे और मैं चाहती हूं की तुम अपने जीवन
में संतुलन लेकर आओ
अपने जीवन में वह सकारात्मक लेकर आओ तुम
आने वाले कुछ दोनों में मैं तुम्हें बहुत

सारे संकेत देने वाली हूं जिसके मध्य से
मैं तुम्हारे जीवन में चल रही समस्या का
समाधान बताऊंगी तुम्हें
पर उसके लिए तुम्हारा मां भी तो शांत होना
चाहिए

की तुम मेरी बटन पर ध्यान दे सको
अपनी समस्याओं के समाधान को सुनकर उन पर
कार्य कर सको

तुम तो खुद की काबिलियत परिषद करने लगे हो
तुम्हें यही लगता है की तुम मैं कुछ गलत
है तुम्हारे कुछ कर्म खराब थे इसीलिए
तुम्हें कभी कुछ नहीं मिला और आगे भी
तुम्हें कभी कुछ नहीं मिलेगा और तुम

मुझमें पर शक करने लगे हो यह सोचकर की
माता मेरे शत्रु सफल हो रहे हैं उनकी वजह
से मैं परेशान हूं और आप भी कुछ नहीं कर
रही

पर मैं जो कुछ कर रही हूं वह तुम्हें नहीं
दिखे रहा है मेरे बच्चे और किसने कहा
तुमसे की तुम परेशान हो अपने शत्रुओं के
षड्यंत्र की वजह से यह सब कुछ मेरा रचा
हुआ है मैंने ही तुम्हारे जीवन में
समस्याएं भी रची हैं और उनका रास्ता अभी

सिर्फ मैं ही दिखाऊंगी
मेरे बच्चे के जीवन में क्या होगा यह
निर्धारित करने वाले सिर्फ उसकी माता है
उसका सुख दुख सब निर्धारित करने वाले
सिर्फ मैं हूं मेरे बच्चे

तुम्हारा जीवन मेरे हाथ में है तुम यह सोच
भी कैसे सकते हो की मेरे रहते कोई और
तुम्हें खुशियां दे सकता है या तुम्हें
दुखी कर सकता है वह खुशियां तुम्हारे भीतर
से आएंगे

इसीलिए वह करना शुरू करो जिसमें तुम्हें
खुशी मिलती है अगर तुम अपनी माता को खुश
देखना चाहते हो अगर तुम अपने सपनों को
पूरा होता हुआ देखना चाहते हो तो पहले
उसका बिल बानो

शेर कितना भी बुध हो जाए कितना भी जख्मी
हो जाए मेरे बच्चे वह दहाड़ना नहीं छोड़ना
है
तुम कैसे भूल गए की तुम मेरी औलाद हो
तुम कैसे भूल गए की तुमने जो कुछ कहा है
तुम में कितना साहस है

तुमने अपने जीवन की खुशियां अपने चेहरे की
मुस्कान उन लोगों के हाथ में कैसे दे दी
मेरे बच्चे
तूने छन करवा पस ले और अपने शत्रुओं को यह
दिखा दो की किसी में इतनी औकात नहीं है की
वो तुम्हारे चेहरे की उसे मुस्कान को छन
सके तुम्हारी हिम्मत को तोड़ सके

तुम्हें जो भी करना पसंद है जहां रहना
पसंद है जिसके साथ उठाना बैठना जिससे बात
करने में तुम्हें सुकून मिलता है
उसको ढूंढो अपने भीतर छुपी उसे खुशी को
ढूंढ लो मेरे बच्चे तुम्हारे भीतर बहुत

काबिलियत है और यह समस्याएं किसी और ने
नहीं राखी है तुमसे बहुत उम्मीदें हैं
मुझे मेरे बहुत सारे सपना हैं जिन्हें
तुम्हें पूरा करना है जिसके लिए तुम्हारा
जन्म हुआ

तुम्हारे सामने बहुत साड़ी सच्चाई लाने के
लिए
यह समस्याएं आई है तुम्हारे जीवन में इन
समस्याओं के मध्य से ही तुम्हें अपनी ताकत
का एहसास होगा और बहुत सारे ऐसे लोगों का
असली चेहरा तुम्हें

जो बहुत जरूरी है तुम्हारे लिए
की वह लोग तुम्हारे जीवन से दूर हो जाए
इसलिए अगर तुम अपनी समस्याओं को
नकारात्मकता की तरह देख रहे हो तो छोड़ दो
अपने शरीर पर ग गए अपने अपनी आत्मा पर लगे
इस चोट को

अपनी कमजोरी समझना छोड़ दो मेरे बच्चे
अपने शत्रुओं को अपनी कमजोरी समझना छोड़
दो

उन्हें अपनी ताकत समझकर उस ताकत का
इस्तेमाल करो
अपने लेफ्ट हैंड पर 111 लिखकर उसे बार-बार
देखो और सोचो की मेरे सपना पूरे होने वाले
हैं जब-जब भी तुम उसे नंबर को देखो तुम बस

यह सोचो की माता ने मुझे कहा था मेरे सपना
बहुत जल्दी पूरे होने वाले हैं
और मैं हंसना नहीं छोडूंगा
तो मैं किसी और के लिए अब नहीं रहूंगा आज
से ही मैं किसी के लिए नहीं रहूंगा

मैं सिर्फ खुश रहूंगा अपनी खुशी के लिए
कार्य करूंगा अपनी माता की खुशी के लिए जो
बन पाएगा मुझे वह सब कुछ करूंगा मैं चाहे
मुझे इस दर्द में भी क्यों ना हंसना पड़े
चाहे लोग मुझे पागल क्यों ना कहे करें

इसको इतनी चोट लगी है यह फिर भी क्यों हंस
रहा है मैं इसलिए हंस लूंगा क्योंकि मेरी
माता ने मुझे कहा था
तो जब तुम मेरी प्रार्थना सुन लो की मेरे
बच्चे तो मैं भी तुम्हारी प्रार्थना सुन
लूंगी मुझे पता है अंधेरी गली में तुम्हें

रास्ता नजर नहीं ए रहा है तुम्हें रोशनी
की किरण नजर नहीं ए रही है

पर जब समस्याएं मैंने बनाई है तो रास्ता
भी मैं ही बनाऊंगी
और तुम्हारी सफलता के मार्ग में आए हर
रुकावट को हर शत्रु का नस में बहुत जल्द
ही करूंगी

तो बस आंख बैंड करके मुझमें पर यकीन रखो
खुश रहो अपनी माता के लिए बस मुझे
प्रार्थना करते रहो मुझे जुड़े रहो
तुम्हारी समस्याओं का समाधान बहुत जल्द ही
होने वाला है
ओम नमः शिवाय

Leave a Comment