मां काली का संदेश🕉 वो तुम्हें नहीं मिलेगा🕉

तुम मुझे पुकार रहे थे और मैं आ गई मैं जानती हूं तुम इस समय क्या सोच रहे हो तुम्हारा मन विचलित क्यों हो

रहा है तुम यही सोच रहे हो ना तुमने मुझसे जो मांगा था वह तुम्हें अभी तक मिला क्यों नहीं इस संसार में सब

कुछ मेरे निर्धारित समय के हिसाब से होता है नतीजा जब लिखी गई है वह तभी तुम्हें मिलेगी तुम मेरे बच्चे हो तो तुम यह इतना यकीन होना चाहिए कि आज नहीं तो कल तुम वह चीज बाकी रहोगे मैं तुम्हें वह चीज़ दूंगी तुम्हारे

सब्र का इम्तिहान है पर तुम्हें तो सब कुछ बहुत जल्दी चाहिए इसी चक्कर में तुम कुछ गलतियां कर देते हो जिन

गलतियों का परिणाम तुम्हें भुगतना पड़ता है फिर तुम बोलते हो की माता मेरे साथ बहुत बुरा हो रहा है परिश्रम की थी पर तुमने धैर्य नहीं रखा था मेरे बच्चे मेरे बच्चे जो तुमने मुझे मांगा है तुम्हारे लिए बहुत अहमियत रखता है

इतना अहमियत रहता है कि तुम उसे चीज को याद करके हर दिन रोते हो मेरे बच्चे एक चीज याद रखना माता सीता भी 14 वर्ष तक डर रही थी भगवान राम से स्वयं मां पार्वती ने कितने सालों तपस्या करके भोले बाबा को

पाया था व्हाट इस स्वयं ईश्वर है उन्होंने समय को चुनौती वह समय का चक्र बहुत जरूरी है तुम्हारे जीवन में जो तुम्हें आज नहीं समझ में आ रहा है पर एक दिन अवश्य समझ में आएगा मैं तुम्हें मिलकर रहेगा तुम जिस व्यक्ति से करते हो वह तुम्हें मिलकर रहेगा

Leave a Comment