मां काली 🕉️काफी समय से तुम्हारा एक चीज मेरे पास है यह तुम्हारा है इसे अपना लो…

मेरे बच्चे तुम्हारा इस संदेश को सुना अति

आवश्यक है इसलिए तुम्हें मेरा पैगाम

अनदेखा नहीं करना है मैं तुमसे बहुत नाराज

हूं क्योंकि तुम लगातार उन गलतियां को कर

रहे हो जो तुम्हारे जीवन को बर्बादी की और

ले जा रही है मेरे बच्चे जिन बटन का ध्यान

रखना अति आवश्यक होता है

परंतु तुम्हारा जो ध्यान है यहां वहां

भड़काने लगता है यह बात सत्य है की तुम

मुझे प्रश्न करना चाहते हो परंतु वही पर

कुछ ऐसी गलतियां कर रहे हो जो की मुझे छह

कर भी तुम प्रश्न नहीं कर का रहे हो और

उसका मुख्य करण क्या है आज मैं तुम्हें

साफ-साफ बताऊंगी और समझाऊंगी परंतु उससे

पहले इसे लाइक करके जय हो माता रानी टाइप

करना मुझे अति प्रसन्नता होगी

मेरे बच्चे मेरी एक बात का जवाब दो

तुम्हारा कोई भी चने वाला या तुम्हारा कोई

भी दोस्त आदि तुमसे दोस्ती रखना है और

तुम्हारा पिता जो की तुम्हारे लिए

सम्मानजनक है उनकी बेइज्जती करता है तो

तुम्हारे हृदय को कैसा लगेगा जाहिर सी बात

है तुम्हें बड़ा ही लगेगा तुम अपने दोस्त

से नाराज हो जाओगे

ऐसा इसलिए होता है जो तुम्हें सबसे प्रिया

होता है यदि उसका कोई अपमान करें तो

तुम्हारे हृदय को भी कष्ट होता है क्योंकि

तुम अपनों से बहुत प्रेम करते हो मेरे

बच्चे क्या तुम मुझे प्रेम करते हो तो आई

लव यू मी टाइप करके इसे सब्सक्राइब करना

मेरे बच्चे खाने का तात्पर्य है की तुम इस

संसार में जिसे सबसे अधिक प्यार करते हो

यदि उसका कोई सम्मान करें या कोई उनसे गलत

शब्द ना बोले तो तुम निश्चित ही उसे प्रेम

करोगे इसी प्रकार मेरे सभी बच्चे मेरे लिए

प्रिया है और सभी बच्चों के लिए मैं फ्री

हूं यदि मेरे एक बच्चे का अपमान दूसरा

बच्चा करता है तो मेरे हृदय को थिस

पहुंचती है मेरी भक्ति करने वाला हर वक्त

मेरे लिए उतना ही प्रिया है

जितना भक्तों के लिए मैं प्रिया हूं मेरे

बच्चे में तुम्हारे बड़े में हर बात जान

चुकी हूं तुमसे गलतियां कैसे हो गई है

तुम्हें स्वयं ज्ञात होने के बाद तुम

स्वयं पर शर्मिंदगी महसूस कर रहे हो यह

जानकर तुम भी आश्चर्य चित हो जाओगे मेरे

बच्चे क्या तुम मेरा आशीर्वाद प्राप्त

करने के लिए तैयार हो तो हां टाइप करके इस

संदेश को शेर करना

मेरे बच्चे माफी तुम्हें किस प्रकार से

मिलती है इसलिए मेरी बटन को पूर्ण रूप से

शांत होकर सुना

और समझना जिससे तुम मेरी बटन को सुनकर समझ

सको की जीवन में आगे ऐसी कोई गलती तुमसे

ना हो यदि तुम मेरी आदि अधूरी बटन को सनोज

तो तुम समझ नहीं पाओगे की तुम्हें माफी

कैसे मिले अन्यथा तुम आगे चलकर फिर दोबारा

भी ऐसी गलतियां कर सकते हो मेरे बच्चे माफ

करने के बाद मैं तुमसे बहुत प्रेम करती

हूं

मेरे बच्चे में नहीं चाहती की तुम आगे ऐसी

कोई गलती करो जिससे मैं तुम्हें दंड डन

क्योंकि तुम्हारे दुखों से मुझे भी बहुत

दुख होता है मेरे बच्चे तुम्हारा यह जाना

बहुत ज्यादा जरूरी है की मैंने तुम्हारे

लिए क्या सोचा है अन्यथा तुम्हारे जीवन

में आगे क्या होने वाला है

यह तुम्हें ज्ञात नहीं हो पाएगा इसके साथ

ही तुम्हारे जीवन में तुमने क्या सुधार

किया है और अपने पछतावे के तोर पर क्या

कार्य किया है वह सब जानना अत्यंत आवश्यक

है क्यों मैंने तुम्हारी इतनी गलतियां के

पश्चात भी इतने गलत कर्मों के पश्चात भी

तुम्हें माफ कर दिया है तुमने जो गलत

कार्य किया

वह दूसरों के बहकावे में आकर दूसरों ने

तुम्हें सिखाया और तुम उन बटन से आज्ञा थे

तुम्हें स्वयं भी ज्ञात नहीं था की तुम जो

कर रहे हो वह गलत कम है क्योंकि सच तो यह

तुम बहुत ही सीधे साढे हो तुम दूसरों को

अपनी तरफ समझते हो परंतु इस संसार में

बहुत लोग ऐसे होते हैं

[संगीत]

जो दूसरों को गलत र पर ले जाते हैं और पाप

का भागीदारी बना देते हैं इस पर विश्वास

है तो हां टाइप करो मेरे बच्चे कुछ दिन जब

तुमने मुझे प्रार्थना की और कहां मैंने

अनजाने में यह गलतियां कर दी है मुझे माफ

कर दो तुम बार-बार पछताव कर रहे थे तो उसे

समय मैंने तुम्हारी प्रार्थना सनी

मैं स्वयं भी जानती हूं की तुम निर्दोष हो

परंतु मैंने तुम्हें सजा इसलिए दी की ताकि

तुम आगे चलकर ऐसी गलतियां किसी और की बटन

में आकर ना करो तुम सटक रहो दूसरों की ठगी

में आकर स्वयं गुना के दलदल में फंसे से

पूर्ण रूप से बच्चों क्योंकि इस संसार में

हर व्यक्ति अच्छा नहीं होता

अच्छा वही इंसान होता है जो दूसरों के

बड़े में भलाई चाहता है और बड़ा व्यक्ति

वहां होता है जो अपने स्वार्थ के लिए

दूसरों को फसता है और आगे चलकर तुम्हें

ऐसे ही लोगों से बचाना है मेरे बच्चे सच

तो यह है की मैं तुम्हारा आंसू नहीं देख

शक्ति आंसुओं के जारी तुम्हारा गुना निकाल

चुका है

इसलिए मैं तुम्हें ज्ञात करना चाहती हूं

की अब रन की आवश्यकता नहीं है मेरे बच्चे

अब तुम्हें तुम्हारी साड़ी गलतियां की

माफी मिल चुकी है इसलिए तुम्हें रन की

आवश्यकता नहीं है अब तुम अपने जीवन में

आगे बढ़ो मेरे बच्चे मुझे मानते हो तो

अंक टाइप करो मेरे बच्चे तुम बार-बार

प्रयास करते हो

लेकिन फिर भी तुम्हारा कम अधूरा रहा जाता

है ऐसा क्यों हो रहा है यह आज मैं तुम्हें

बताऊंगी

ध्यानपूर्वक सुना यदि आज भी तुमने मेरी

बटन को पूर्ण रूप से नहीं सुना तो फिर मत

कहना की मैंने बताया नहीं बताया क्योंकि

गलती इसमें तुम्हारी होगी इसलिए जो बता

रही हूं

उसको ध्यानपूर्वक सुनो तुम्हारे जीवन में

यदि ऐसा हो रहा है तो इसके पीछे पांच करण

है उनका

तुम्हें उन पर ध्यान देना होगा और उन्हें

अपने अंदर धरण करना होगा सबसे पहले करण

यदि जीवन में तुम अपने लिए अथक प्रयास कर

रहे हो तो इस बात का विशेष ध्यान रखो की

किसी के बनते हुए कार्य को

यदि तुम बिगाड़ देते हो तो जीवन में कभी

भी तुम चाहे कितना भी प्रयास कर लो

तुम्हारा कोई भी कार्य कितना भी चने के

बाद बनेगा नहीं क्योंकि जो तुम दूसरों के

साथ कर रहे हो वही तुम्हारे साथ होगा और

दूसरी बात तुम परिश्रम कर रहे हो जी कार्य

के लिए उसे कार्य के लिए परिश्रम अभी और

बाकी है

क्योंकि कोई भी कार्य पूर्ण होने में

जितना परिश्रम करना होता है वह परिश्रम

अभी भी तुम्हारे कार्य को पूर्ण करने में

कम पद रहा है इसलिए तुम अपने परिश्रम की

गति को बढ़ाओ उसे पर इतनी परिश्रम करो की

तुम्हारे परिश्रम की हद पर हो जाए जी

प्रकार लोहा अत्यधिक गर्ग करने पर पिघल

जाता है

इस प्रकार तुम अपने आप को कर्मों की अग्नि

में पगला लो और तीसरा तुम जी कार्य को कर

रहे हो उसे कार्य को लेकर तुम पुरी आशा

रखते हो लेकिन उससे कहानी अधिक तुम्हें

प्राप्त होगा लेकिन किसी भी चीज को

प्राप्त होने का एक निश्चित समय होता है

जी प्रकार विद्यार्थी परीक्षा देने के

पश्चात

उसका फल प्राप्त होता है इस प्रकार

तुम्हारा उसे चीज को प्राप्त करना एक

निश्चित समय पर निर्धारित करता है तो

तुम्हें उसे समय का इंतजार करना ही होगा

और लगातार अपनी परिश्रम जारी रखना भी होगा

क्योंकि यदि तुम परिश्रम करना छोड़ डॉग तो

सफल नहीं हो पाओगे

चौथ तुम किसी भी कार्य को खुद या जबरदस्ती

कर रहे हो और तुम्हें उसे कार्य को करते

हुए खुशी ही प्राप्त नहीं हो रही है तब भी

तुम कार्य को नहीं कर पाओगे और तुम्हारा

कार्य नहीं बनेगा बनकर भी बिगड़ना लगेगा

क्योंकि ना तो तुम उसे पर ध्यान लगा पाओगे

और ना ही तुम्हारा उसे कार्य पर ध्यान

रहेगा

क्योंकि जब तुम्हें उसे कार्य को करने में

खुशी नहीं होगी तो तुम केवल अपना समय

बर्बाद करोगे इसलिए ऐसे कार्य को कभी मत

करना जिससे करने में तुम्हें खुशी प्राप्त

नहीं होती मेरे बच्चे पांचवा यह की अगर

तुम आलसी व्यक्ति हो और कर्मठ नहीं हो हाथ

पर हाथ रखकर बैठकर केवल सपना देखने वाले

में से हो

तो तुम्हारा कार्य निश्चित ही नहीं बने

वाला क्योंकि कार्य को बनाने के लिए मेरी

पूजा प्रार्थना के साथ-साथ परिश्रम करना

भी अति आवश्यक है इसलिए यदि तुमसे सहायता

हो पे तो करना मेरे बच्चे लेकिन अपने अंदर

घमंड कभी मत आने देना क्योंकि कौन छोटा है

कौन बड़ा इसमें नहीं तुम्हें देखना है

तुम्हें अपने आप को देखना है की तुम क्या

हो यदि तुम सुखी और खुश हो अपने जीवन में

तुम्हें वह सब कुछ प्राप्त हो रहा है जो

तुम्हें चाहिए तो तुम्हें भूल कर भी किसी

को ना तो छोटा समझना है और ना ही तुम्हारी

बटन से किसी के स्वाभिमान को चोट नहीं

पहुंचानी है मेरे बच्चे कार्य तभी बिगड़ने

हैं और बनते हैं

जब तुम अपने पैरों पर खुद कुल्हाड़ी मारते

हो अर्थात तुम आलस करते हो या कर्म करते

हो तो तुम उसे कर्म में खुशी प्राप्त नहीं

होती या तुम सच्चाई ईमानदारी के पद पर

चलते हुए कार्य नहीं करते थे या तुम जी

कार्य को करते हो उसे कार्य में पुरी

परिश्रम के साथ नहीं करते तुम्हारा पूरा

बाल उसे पर नहीं होता

यदि तुम ध्यान लगाकर किसी कार्य को करो तो

तुम्हारा कोई कार्य नहीं बिगड़ेगा अपने

मां से सभी चिटा को मुक्त कर दो अब

तुम्हें केवल प्रश्न रहना है आज यहां

सृष्टि तुम्हें बताना चाहती है यह प्रकृति

तुम्हारी सहायता करेगी कल का दिन तुम्हारे

जीवन का एक ऐसा दिन होगा जिसे देखकर तुम

आश्चर्य हो जाओगे

मेरे बच्चे तुम इतने चिंतित क्यों होते हो

मुझे सब ज्ञात है की तुम्हारे जीवन में

सबसे ज्यादा महत्व क्या रखना है किस चीज

से तुम्हें खुशी हो शक्ति है और किस चीज

से तुम्हें दुख मुझे सब पता है

तुम अपने जीवन में क्या चाहते हो तुम मेरा

स्मरण करते हो मेरा ध्यान करते हो मेरे

बच्चे तुम्हारा जीवन मुझे शुरू होकर

मुझमें पर ही खत्म होता है मेरे बच्चे

मेरे कण-कण में तुम ही तो वास करते हो वह

समय निकट है जब तुम सब देख पाओगे कल सुबह

जब तुम उठोगे तब मेरी शक्तियां हवा के साथ

मिश्रित होकर

तुम्हारे शरीर के भीतर विराजमान होगी मेरे

बच्चे तुम्हें एक बार शान मां से मेरी

शक्तियों को महसूस करना है मां ही मां इस

बात का स्मरण करना की तुम्हारे पास एक

पवित्र और शक्तिशाली ऊर्जा ए रही है और

वहां पवित्र ऊर्जा तुम्हारे सांस के साथ

तुम्हारे शरीर के भीतर जा रही है तब तुम

देखोगे की तुम्हारे भीतर एक सतारात्मक

ऊर्जा जन्म ले रही है

वह शक्तिशाली ऊर्जा तुम्हारे शरीर को इतना

बलशाली करेगी तुम्हारे मस्तिष्क को इतना

शांत और तेज प्रधान करेगी जिसके करण तुम

अभी तक जो नहीं सोच का रहे थे उसे कार्य

को करने के लिए भी सोचोगे मेरा आशीर्वाद

सदा ही तुम्हारे साथ है मेरे अगले संदेश

का प्रतीक्षा करना

Leave a Comment