मां काली 🕉️सब कुछ अचानक से बदलने वाला है सावधान रहना

मेरे बच्चे सफलता त्याग मांगती है इच्छाओं

का नींद का रात का सात का जीत के सवेरे

में भले ही पूरा हुजूम होगा पर मेहनत के

अंधेरे अक्सर अकेले झेलने पड़ते रोज

समेटना पड़ता

है खुद को रोज लोगों की हंसी मजाक थानों

का सामना करके सुबह को रात करनी पड़ती है

और अगले सुबह फिर खुद को टुकड़ों में

देखना फिर से सपनों में श्वास

भरना फिर से खुद को तैयार करना फिर से रोज

जंग में उतरना और यह भी ना जानना कि यह

सिलसिला कब तक

चलेगा क्या जीत मिलेंगे या फिर इतना वक्त

लगाकर भी हार को ही गले लगाना

पड़ेगा मेरे बच्चे तुम्हारे मन में सोच

होगी कि सचमुच कोई पागल होगा जिसने जीत का

यह रिवाज

बनाया अनिश्चित काल की पिज्जा चुभन दर्द

ना जाने कौन सा कदम मंजिल तक जाए फिर भी

बस चलते रहना जीत सचमुच एक धर्म है जो बस

पागल अपनाते जहां हर दिन भूखा प्यासा रहकर

गाली खानी पड़ती

है जब पसीने से सुबह की शुरुआत होती है जब

चुनौतियों से लड़ने में दिन गुजरता है तब

कोई तैयार होता है सफलता की तरफ बढ़ने

को याद रखो मेरे बच्चे की अगर तुम्हारा

पूरा दिन आराम से गुजर रहा है तो तुम गलत

रास्ते में हो क्योंकि सही रास्ते आसान

नहीं होते वहां तो अपने भी दूर हो जाते

हैं हसी चैन आराम सब खो जाते हैं क्योंकि

यह कभी रातों की नींद कभी हाथ से निवाला

छोड़ा

है मेरे बच्चे तुम एक घंटे के लिए अपना

मोबाइल तक नहीं छोड़ सकते

हो और बात करते हैं और दुनिया जीतने की

याद रखो शर्त सीधी है जितनी बड़ी चुनौती

जितना बड़ा

संघर्ष उत तनी बड़ी जीत उतना बड़ा नाम

मेरे बच्चे डर लगेगा घबराहट

रहेंगी हर कदम पर चुनौती

मिलेंगे रास्ता नजर नहीं

आएगा आसमान अंगार

बरसाए हर बार हर मोड़ पर अकेला खड़ा हो

गया पर तुम रुकना मत चलते रहना बिना थमे

दुश्मन की आंखों में आंख मिलाकर तुम्हें

अपना सब कुछ क्यों ना खोना पड़े गिर कर

टूट करर भी चाहे कुछ भी हो

जाए बस तुम चलते रहे क्योंकि तुझे जितना

है मेरे बच्चे और हां मेरे बच्चे में जीत

के शिखर पर तुम्हारा इंतजार करूंगा

बोलो तुम आओगे ना मेरे बच्चे आपके विरोधी

फिर से क्या जाल बिछा रहे

हैं क्या जाल बिछा रहे हैं आपके विरुद्ध

मेरे बच्चे जो आपका विरोध करते हैं या जो

आपके रियल फेवर में नहीं है जो लोग आपके

विचारों के विरुद्ध में है उतने के

विचारों के ही विरुद्ध होते

हैं मेरे बच्चे जब विचार मैच हो जाते हैं

तो फिर वह विरोध तो होते नहीं तो वह

विचारों के ही आपके विरुद्ध ऐसे लोग अभी

क्या कर रहे

हैं ऐसे लोग ना अभी शायद आपसे जो है मिलजो

बढ़ाना चाहते हैं दो

से क्योंकि पाच सात महीने आपने उनके साथ

बिल्कुल कट ऑफ कर दिया था लेकिन अब आप

सेवन मेलजोल बढ़ाना चाहते

हैं फिर से वह कुछ ऐसी चीजें करने लग

गई आप अभी इस चीज को भी अनुभव अगर कर रहे

हैं तो कमेंट में बताएगा हो सकता वह आपसे

बातचीत करने की कोशिश कर रहे हैं या कुछ

गिफ्ट दे रहे

हैं कुछ आपको उपहार भेज रहे हैं लेकिन आप

इतने समझदार हो चुके हो

चालाक आप तो हो ही गए हो कि उनकी चालाकी

और बदमाशियां उनके चेहरे पर दिखती

हैं उनका जो चालाक सा नेचर है नाज बदतमीज

वाला अपने आप को ज्यादा ओवर स्मार्ट समझते

हैं कि ऐसे लोग किसी को कुछ समझ नहीं आता

यह उन्हें नहीं पता

होता उनको कि आपकी नजरों में वह बिल्कुल

गिर चुके हैं तो आपने क्या अक्ष लेने

हैं इन लोगों के लिए क्या मार्ग

है ऐसे लोगों के लिए आपके पास किस तरीके

से रहना

है ताकि आप पर या फिर से हावी ना

हो एक नेगेटिव सर्किल ना हो और रात को

सुकून से चैन से जीवन को जी

सको मेरे बच्चे जो गलतियां पहले करते थे

लोगों के साथ रह कर

के वह चीजें आपको रिपीट नहीं करनी

है मतलब अगर यह लोग आपको कुछ देते हैं कुछ

उपहार देते हैं तो पहले आप शायद बहुत

ज्यादा है

लेवल पर एक्सट्रीम लेवल पर थैंकफूल हो

जाते

थे शोकर देते थे इनको कितनी छोटी सी खुशी

से इतना हैप्पी हो गया छीन इससे सब

कुछ फिर वही करते थे आपसे क्योंकि उनको

पता है कि छोटी-छोटी खुशियों से आप इतना

खुश हो जाते हो तो उसको तो कुछ बड़ा देने

की आवश्यकता है ही नहीं है तो यहां पर

आपके लिए जो परमात्मा का गाइडेंस यह है

अगर ऐसे लोग आपको कुछ दे रहे हैं ना उपहार

तोसा कुछ भी कुछ भी हो सकता

है कुछ ना कुछ दे रहे

हैं आपको अगर कुछ खाने पने की भी चीज है

और अगर आपको कुछ इस तरीके से जैसे उपहार

स्वरूप दे रहे हैं या कुछ दिखा रहे हैं तो

आपको इन लोगों को ज्यादा इंपॉर्टेंट नहीं

देनी

है अगर लेकर आए हैं तो ठीक है रख लीजिए

Leave a Comment