मां काली 🕉️ तुम्हारे कर्म का फल तुम्हें अवसर मिलेगा माँ काली की वाणी

जिसके लिए तुमसे बात करने आई हूं मेरे

बच्चे तुम दिन रात अकेले में बैठकर केवल

यह सोचते रहते हो कि कब वह दिन आएगा जब

तुम्हारी सारी इच्छाएं पूरी होंगी

तुम्हारे जीवन में खुशियां होंगी कब

तुम्हारे पास वह चीजें होंगी जो तुम चाहते

हो जो तुम मुझसे मांगते हो परंतु मेरे

बच्चे यह तुम भी जानते हो कि हर चीज को

मिलने में समय लगता है तुम थोड़ा सा रखो

अगर तुम मुझ पर विश्वास करते हो तो

तुम्हें स्वयं पर विश्वास रखना होगा और

मेरा भाग्यशाली नंबर

अवश्य लिखना तुम जो चाहते हो वह

तुम्हें एक ना एक दिन अवश्य मिलेगा तुम

मुझे सच्चे भाव से अपने मन में याद करो

तथा जो भी तुम्हारी परेशानियां है वह सारी

परेशानियां सारी तकलीफें हैं मुझे सौंप दो

मेरे बच्चे मैं तुम्हें उन तकलीफों से

मुक्त कर दूंगी जो तुम्हें परेशान कर रही

है मैं काली मां तुम्हारे लिए केवल यहां

पर आई हूं तुम्हें अपने माता पर विश्वास

होना चाहिए मैं तो सदा भी अपने भक्तों की

रक्षा करती हूं अपने भक्तों के लिए हर पल

उपस्थित रहती हूं तो तुम क्यों घबरा रहे

हो मैं तुम्हारे सारे कष्टों को दूर कर

दूंगी मेरे बच्चे तुम्हें याद रखना कि मैं

सदैव ही तुम्हारे साथ

मैंने हमेशा तुम्हें संकटों से बचाया है

और आगे भी बचाते रहूंगी तुम्हें तो स्वयं

पर पूर्ण विश्वास होना चाहिए कि यदि तुम

किसी मुसीबत में पड़ भी गए तो तुम्हारी

माता तुम्हारे पास है मैं तुम्हें कुछ

नहीं होने दूंगी तुम जो कुछ भी चाहते हो

वह तुम्हें सब कुछ मिलेगा किंतु इसका यह

अर्थ नहीं है कि तुम वह चीजें भी पा सकते

हो जिसके लिए तुमने कभी कोई कार्य ही नहीं

की है तो मैं केवल वही चीजें प्राप्त

होंगी जो तुमने कार्य किए हैं तुम्हारे

कर्म के अनुसार हित में फल मिलेगा परंतु

एक सही वक्त पर एक निश्चित समय पर क्योंकि

जो समय हम तय करते हैं वही सबसे अच्छा समय

होता है और उसी समय में तुम मैं वह चीजें

प्राप्त होंगी जिसकी तुम इच्छा रखते हो

लेकिन उसे पाने के लिए तुम्हें श्रम और

श्रद्धा दोनों ही रखना बेहद आवश्यक है मैं

जानती हूं कि तुम मुझसे बहुत अधिक प्रेम

करते हो मैं भी अपने भक्तों से अत्यधिक

प्रेम करती हूं यह प्रेम ही तो है जो हम

दोनों को बांध कर रखता है और इसी प्रेम के

चलते मैं तुम्हारे लिए हर पल उपस्थित रहती

हूं मेरे बच्चे तुम मेरे सबसे प्रिय भक्त

हो तो तुम मेरे होते हुए भी इतना क्यों

घबराते हो तुम्हें अपने माता पर विश्वास

होना चाहिए मैं तुम्हें कभी कुछ नहीं होने

दूंगी जब तुम अकेले पड़ जाओगे तब भी मैं

तुम्हारे साथ

रहूंगी यदि इस संसार का प्रत्येक मनुष्य

भी तुम्हारा साथ छोड़ दे मैं फिर भी

तुम्हारे पास

रहूंगी मैं अपने भक्तों के साथ हमेशा रहती

हूं मैं उन पर कोई भी आपदा नहीं आने देती

चाहे वह किसी भी परिस्थिति में क्यों ना

हो मैं हमेशा तुम्हारे साथ रहती हूं तुम

इस समय जिस परेशानी से जूझ रहे हो वह सब

कुछ मुझे पता है तुम्हारे घर में जो भी

परेशानियां चल रही हैं तुम्हारे परिवार

में जो भी कलेश चल रहे हैं उन परेशानियों

उन कलेश का अंत मैं करूंगी तुम केवल अपने

ऊपर ध्यान दो बाकी सब कुछ मुझ पर छोड़ दो

मैं तुम्हारे जीवन में सारे दर्द को तकलीफ

को मिटा

दूंगी मैं शांति का दान दूंगी तथा जो भी

तुम्हारी इच्छाएं हैं उन्हें पूरी करूंगी

मैं तो हमेशा से तुम्हें मैं खुद देखना

चाहती हूं क्योंकि तुमने अपने जीवन में

बहुत कुछ सराहा है और सब तुम्हारे जीवन

में खुशियों का आगमन होने वाला है मैं

तुमसे केवल यह कहना चाहती हूं कि तुम

निराश मत हो अपने आप से तुम्हारे जीवन में

जो परेशानियां इस समय है वह केवल कुछ पल

की है चाहे वह नौकरी को लेकर हो या फिर

तुम्हारी निजी जिंदगी को लेकर तुम परिवार

को लेकर या फिर तुम्हारे बच्चों को लेकर

तुम जिन लोग को हर पल चिंता करते हो उन

सभी को मेरा आशीर्वाद प्राप्त होगा मैं तो

सदैव ही लोगों के दुखों को दूर करती आई

हूं तो तुम तो मेरे प्रिय भक्त को फिर मैं

तुम्हें कैसे अकेला छोड़ सकती हूं मेरा

प्रेम तुम्हारे लिए सबसे अधिक है क्योंकि

मैं तुमसे बंधी हुई हूं तुम जिस निष्ठा के

साथ मेरी भक्ति करते हो वह मुझे तुमसे दूर

नहीं जाने देती तुम्हें धन से संबंधित जो

भी परेशानियां हैं वह भी दूर हो जाएंगी

तुम्हारे जीवन में कार्य बनने लग जाएंगे

तुम जिनके चाह रखते हो वह सब चीजें

तुम्हें प्राप्त होंगी तुम अपना ध्यान

रखना मेरे बच्चे क्योंकि तुम्हें अपना

स्वयं ख्याल रखना होगा मेरा आशीर्वाद तो

तुम्हारे साथ सदैव है पर तुम्हें फिर भी

स्वयं का ध्यान रखना होगा तुम तुम्हारे

मनुष्य जीवन में तुम्हें जो तकलीफ है दर्द

है वह सब तुम्हारी परीक्षाओं का हिस्सा है

अब तुम कभी निराश नहीं होगे मेरा आशीर्वाद

तुम्हें आज से ही प्राप्त हो

जाएगी मेरे बच्चे अब तुम अपना कार्य करो

ज्यादा खुश रहना मेरे बच्चे तुम्हारा

कल्याण हो मेरे बच्चे मुझे पता है तुम

बहुत अकेले पढ़ गए हो मुझे पता है तुम लाख

संदेश देख लो तुम चाहे पूरे दिन लो खुश रह

लो रात में वह अकेलापन तुम्हें जीने नहीं

देता है वह अकेलापन तुम्हें सुकून से सोने

नहीं देता है तुम्हारे सीने पर एक बहुत

बड़ा बोझ है एक बहुत बड़ा दर्द है जो इस

समाज ने तुम्हें दिया है जो तुम्हारी लाख

कोशिश के बाद भी खत्म नहीं हो रहा है

क्योंकि वह लोग जो तुम्हें दर्द देते हैं

वह तो तुम्हारे शांत रहे हैं तुम प्रतिपल

उन्हें हंसता हुआ देख रहे हो उन्हें किसी

और के साथ खुश देख रहे हो और वह तुम्हें

और पीड़ा दे रहा है मेरे बच्चे तुमने बचपन

से बहुत कुछ सहा है तुमने बचपन से ही बहुत

कुछ देखा है यह दर्द यह भार आज का नहीं है

यह तो तुम बचपन से उठा रहे हो तुम्हारे

दिल पर एक बोझ है एक भारीपन है जो खत्म

होने का नाम ही नहीं ले रहा है तुम्हें तो

कभी-कभी इतनी घुटन होने लगती है कि

तुम्हें यह जीवन ही समझ नहीं आ रहा है

तुम्हें यह समझ ही नहीं आ रहा है कि

तुम्हारा यह जीवन तुम्हें किस ओर लेकर जा

रहा है मुझे पता है तुम इस दुनिया के

सामने लाख मुस्कुरा लो लाख मजबूत बन लो पर

भीतरी भीतर तुम्हारे मन में एक इच्छा है

काश तुम्हें कोई ऐसा मिलता जो तुम्हें

समझता जिन जिम्मेदारियों का बोझ तुम्हारे

ऊपर हमेशा डाल दिया गया

काश कोई ऐसा मिलता जो तुम्हारी जिम्मेदारी

लेता काश इस समाज ने तुम्हें आगे बढ़ाया

होता लोगों ने तुम्हें पीछे खींचने की

बजाय तुम्हें आगे बढ़ाया होता अपना हाथ

दिया होता ऐसा कोई तुम्हें मिला ही नहीं

तुमने दोस्ती की उसमें भी छल मिला तुमने

प्रेम किया उसमें भी छल मिला तुम्हारे

परिजनों ने तुम्हारे साथ छल किया और यह सब

देखकर तुम टूट गए हो तुम्हें तो अब यह

लगता है शायद तुम्हें बुरे व्यक्ति हो पर

मेरे बच्चे मैं सब कुछ देख रही हूं और अब

मुझसे तुम्हारी यह हालत नहीं देखी जा रही

मेरा दिल भर जाता है जब मैं तुम्हारे जीवन

के बारे में सोचती हूं मेरा दिल भर जाता

है जब मैं सोचती हूं कि मेरा बच्चा कितने

कष्ट में रह रहा है मेरे बच्चे को जीवन भर

क्या कुछ नहीं देखना पड़ा मेरे बच्चे यह

कर्म का फल था तुम्हारे पिछले जन् के कर्म

थे जो तुम्हें इस जन्म में भोगने पड़े और

तुम्हारी माता चाहकर भी कुछ नहीं कर पाई

पर ऐसा नहीं है कि बाकियों की तरह मैंने

तुम्हारा साथ छोड़ दिया तुम्हारे एक-एक

आंसू का हिसाब रखा है मैंने और मैं बस

इंतजार कर रही हूं कब तुम्हारे जीवन का वह

पड़ाव खत्म हो और मैं तुम्हारी जिंदगी

खुशियों से भर दूं मेरे बच्चे अब रो मत अब

उस बोझ को उतार के फेंक दो अपने सीने से

मुझे पता है तुम्हें आज लोगों की जरूरत है

पर जिस दिन तुम सफल हो जाओ और जिस दिन तुम

अकेले उस भीड़ से बहुत दूर खड़े होगे तब

तुम्हें पता चलेगा कि तुम्हें यह सब क्यों

देखना पड़ा तुम्हें इतना कुछ क्यों सहना

पड़ा था तब तुम्हें वह अकेलापन अच्छा

लगेगा तब तुम्हें यह झूठी मोह माया की

दुनिया यह झूठे रिश्ते नहीं अच्छे लगेंगे

तब तुम्हें पता चले कि अच्छा हुआ वह लोग

तुम्हारा साथ छोड़कर चले गए क्योंकि जहां

तुम खड़े हो ग वह लोग खड़ा होने लायक नहीं

है क्योंकि तुमने अपना भविष्य नहीं देखा

है उस भविष्य में तुम अकेले ही चमकने वाले

हो वह जिम्मेदारियां जो मैंने तुम्हें दी

तुमने बहुत अच्छे से निभाए मेरे बच्चे तुम

कभी टूटे नहीं तुम्हारा मुझ पर से यकीन

कभी नहीं टूटा तुम रात में रोकर भी सुबह

मुस्कुराते हुए उठते हो सिर्फ इसलिए कि

कहीं तुम्हारे माता-पिता को तकलीफ ना हो

किसी और को तुम्हारे रोने से तकलीफ ना हो

कहीं लोग तुम्हारे रोने को बोझ ना समझ ले

तुम तो इतने मजबूत व्यक्ति हो तुम्हारे मत

मानो यह मत सोचो कि तुम्हारा जीवन तुम्हें

किस ओर लेकर जा रहा है क्योंकि तुम्हारा

जीवन तुम्हें जिस ओर लेकर जा रहा है वह

तुम्हारी कल्पना से परे हैं और यह मत सोच

जो कि तुम अकेले हो यह दुनिया नहीं है

तुम्हारे पास यह मोह माया की दुनिया जो

सिर्फ धन दौलत देखकर रिश्ते बनाते हैं

सिर्फ सुख देखकर आती है और दुख में नहीं

पूछती यह दुनिया शायद नहीं है तुम्हारे

साथ पर तुम्हारी माता हमेशा तुम्हारे साथ

रही

है तुम्हारे हर आंसुओं में तुम्हारे साथ

रही हूं तुम्हारी उस झूठी हंसी में

तुम्हारे साथ रही हो तुम बहुत कोमल हृदय

की हो

और बहुत पवित्र है तुम्हारा मन इतनी गंद

में भी तुमने अपनी पवित्रता को बरकरार रखा

यही तुम्हारी जीत है उन सबके ऊपर यही

तुम्हारी जीत है कि उनके बीच में रहने के

बाद भी तुम उन जैसे नहीं बने तो अकेले

होने से डरो मत एक दिन तुम्हारा ही

अकेलापन ही तुम्हें बहुत कुछ दिलाएगा और

तब वह लोग सोचेंगे कि काश उन लोगों ने

तुम्हें अकेला ना छोड़ा होता तब तुम्हारे

शत्रु सोचेंगे वह जो चाल तुम्हारे खिलाफ

चल रहे थे वह बाजी तुम्हें सफलता दिला गई

अपने दिल से अपने दिमाग से उस बोझ को बाहर

निकाले जो उन लोगों ने तुम्हें दिया है वह

उतार कर उनको वापस कर दो और अपना कर्म करो

अपने सपनों को पूरा करने के लिए मेहनत

करना शुरू करो और यह भूल जाओ कि तुम्हारे

साथ कोई नहीं है मैं खड़ी हूं मेरा नाम

तुम्हा म

करी नमः शय

Leave a Comment