मां काली 🕉️ Sach Mai Btaungi Tumhe 💯💟koi Tumhe Dhoka de Rha Hai

मेरे बच्चे तुम्हारा कोई अपना जो तुम्हारे
साथ किसी और से मिलकर धोखा दे रहा है
इसलिए आज मैं तुम्हें उसके बड़े में पूर्ण
रूप से बताने आई हूं और तुम्हें समझने आई
हो जिससे की आगे चलकर तुम धोखा ना खाओ
मेरी बटन को
ध्यानपूर्वक

पूर्ण रूप से बारीकी से समझना और
सीधी वी सीधी तुम वही करना किसी के
तुम्हारे बहुत करीब रहने पर उसे तुम्हारे
अंदर की गतिविधियों का ज्ञान होता है
क्योंकि जब कोई भी तुम्हारे संपर्क में
आता है क्या तुम किसी के संपर्क में आते
हो तो

आपसी तालमेल से कई बार तुम
किसी और से सुझाव भी लेते हो
और अपने मां की बातें कहते हो
ऐसे में सामने वाले को तुम्हारी बातें सब
पता चल जाति है और उसकी बातें भले ही
तुम्हें ना पता चले

पर बहुत प्रभाव पड़ता है
तुम्हारे जीवन पर यदि एक गलत आदमी
भी तुम्हारे करीब है तो क्योंकि तुम्हारे
सारे किया कार्य पर अमल नहीं करता
बल्कि एक गलत निगाह रखना है
एक ऐसी निगाह जो केवल
नकारात्मक ऊर्जा से भारी हुई
है ऐसा व्यक्ति केवल कार्य को बिगड़ने
में

अच्छा होने पर बहुत कष्ट होता है
ऐसा व्यक्ति लकड़ी में लगी
उसको अंदर ही अंदर खाकर खोकला कर देता है
खाने का अर्थ यह है की जी व्यक्ति
के संपर्क में ऐसा व्यक्ति आता है
उसे अंदर से कमजोर कर देता है और उसके सभी
केमोन को फेल करना
प्रारंभ कर देता है

क्योंकि अपनी प्रकृति पर निर्भर करता है
उसकी
प्रकृति ही ऐसी होती है कम को बिगड़ना
लेकिन ऐसे खतरनाक व्यक्ति से
तुम्हें बचाना बहुत जरूरी है क्योंकि
तुमने लगातार मेहनत की है और
तुमने मेहनत ईमानदारी से ही
कार्य को संपूर्ण किया
तुम्हें उसे बाप लेना चाहिए इससे पहले

की
वह तुम्हारा कम बिगड़े तुम अपने कम के
प्रति पुरी तरह
सटक हो जो इस बात का यकीन
कर लो मेरे बच्चे वह तुम्हें ऐसे ही सो
रास्ते बताया जिन रास्तों पर जाकर

तुम भटक जाओगे और असली रास्ता ही भूल
जाओगे इसलिए कभी भूल कर भी ऐसा कोई कार्य
मत करना जिससे की तुम अपने बने
बनाए कम को बिगाड़ लो क्योंकि
उसे व्यक्ति के मां में शांति नहीं

और वह तुम्हारे मां की शांति को भी
भांग करके ऐसे र पर तुम्हें चला देगा जहां
पर तुम्हें कुछ भी हासिल नहीं होगा
तीन बातें हमेशा याद रखो
सबसे पहले बात की तुम्हें केवल और केवल
अपने माता पिता की बटन पर ही

अमल करना है दूसरी बात
जी कार्य को करने में तुम्हारे हृदय को
खुशी होती है केवल तुम उसे कार्य पर ध्यान
लगाओ ना की दूसरों
कहीं हुई बटन पर यदि किसी

कहीं हुई बात को सुनकर तुम्हें ऐसा
पूर्ण विश्वास होता है की उसे कार्य
को तुम पूर्ण कर सकते हो और तुम्हें
उसे कार्य को करने में प्रसन्नता होती है
तो तुम दूसरों की कोई ऐसी बात पर
अम्ल करो अन्यथा मेरे बच्चे
होता है यदि तुम प्रतिदिन

अलग-अलग तरह
की योजनाएं बनोगे और उन पर
कार्य करने का प्रयास करोगे
तो वह कार्य
करने के लिए बुद्धि का प्रयोग
करना पड़ता है अलग कार्य

के लिए
का प्रयोग करके
बुद्धि बिखर कर र जाति है पूर्ण रूप से
कार्य
नहीं कर पाती
तुम आलस करते हो
कर्म नहीं करते या तुम कर्म करते हो
तो तुम्हें उसे कर्म में खुशी प्राप्त
नहीं होती या तुम सच्चाई
ईमानदारी

के पाठ पर चलते हुए कार्य नहीं करते
मेरे बच्चे निश्चित ही तुम कार्य को
करने में सफल नहीं
जो व्यक्ति है वह कहानी तुमको मटका तो
नहीं

रहा उसकी बटन को जन की कोशिश करो
मेरे अगले संदेश की प्रतीक्षा करना मैं
फिर आऊंगी तुमसे मिलने तुम्हारा कल्याण हो
मेरे बच्चे

Leave a Comment