मां दुर्गा 🕉️तुम अपने शत्रुओं कि चाल नहीं समझ रहे हो वह तुम्हारे परिवार का मज़ाक़ उ

मेरे बच्चे मैं अभी तुम्हारे लिए एक

महत्त्वपूर्ण संदेश लेकर आई हूं तो इसे

नजरअंदाज बिल्कुल भी मत करिएगा नहीं तो

तुम्हें भारी नुकसान हो सकता है मेरे

बच्चे आज मैं तुम्हें इस नुकसान से बचाने

आई हूं इसलिए इसे पूरा सुने अगर आपको भी

माता रानी की महिमा पर विश्वास है तो इस

संदेश को अभी लाइक कर दीजिए और जय हो माता

रानी लिख दीजिए मेरे प्यारे बच्चे इस में

कोई संदेह नहीं है कि तुम अत्यंत

बुद्धिमान और चतुर हो परंतु अपनी चतुराई

अपनी बुद्धिमत्ता तुम्हें कहां प्रकट करना

है इसका तुम्हें तनिक भी ज्ञान नहीं है

मेरे बच्चे तुमसे बहुत बड़ी भूल हो रही है

बाहरी लोग जो तुम्हें बर्बाद करने पर तुले

हैं तुम उनसे बहुत ही विनम्र भाव से मिल

रहे हो और अपने परिवार पर अनावश्यक क्रोध

कर रहे हो विशेषकर अपने माता-पिता से मेरे

बच्चे तुम्हारे माता-पिता तुम्हारे लिए

ईश्वर तुल्य है वह तुम्हारे लिए जो भी

करते हैं उसमें तुम्हारा ही हिट छुपा होता

है हो सकता है जो चीज तुम्हें प्रिय हो वह

उन्हें अप्रिय लगे ऐसा भी हो सकता है कि

जो तुम सोचते हो जो तुम पाना चाहते हो वही

सही हो परंतु इसके लिए अपने माता-पिता या

अन्य परिवार पर क्रोध करना मर्यादा का

उल्लंघन है मेरे बचे इस पर विश्वास है तो

हां लिखकर इस संदेश को अभी लाइक कर दीजिए

मेरे बच्चे ना जानती ह कभी-कभी तुम्हारे

माता-पिता तुम्हारे प्रति अत्यंत कठोर

व्यवहार करते हैं तुम्हारे हर कार्य का

परीक्षण करते हैं और उसमें कोई ना कोई

त्रुटि अवश्य निकालते हैं परंतु वह अपने

अनुभव के आधार पर तुम्हें गलती करने से

रोकते हैं मेरे बच्चे माता-पिता की कठोरता

भी सम्माननीय है क्योंकि कि माता-पिता

गुरु की भांती तुम्हारे जीवन को सार्थक

बनाने के लिए तुम्हें धर्म कर्म ज्ञान और

ध्यान का पाठ पढ़ाते हैं तुम सौभाग्यशाली

हो कि तुम्हारे पास माता-पिता है मेरे

बच्चे तुम्हारे लिए यह स्वीकार करना

मुश्किल है कि तुम में अपने ज्ञान का

अहंकार पनप रहा है किंतु यदि स्वीकार कर

लो तो जीवन सरल हो जाएगा क्योंकि मेरे

बच्चे अहंकार का आवरण व्यक्ति में सत्य को

समझने बूझने की क्षमता को क्षीण कर देता

है और विनाश की ओर धकेल देता है मेरे

बच्चे भविष्य में तुम्हें किसी बड़ी

विपत्ति का सामना ना करना पड़े इसलिए मैं

तुम्हें सचेत कर रही हूं मेरे बच्चे अपनी

माता रानी को मानते हो तो आई लव यू माता

रानी लिखकर इस चैनल को सब्सक्राइब कर

दीजिए मेरे बच्चे कहां सहना है कहां कहना

है इस बात का विशेष ध्यान दो मेरे बच्चे

तुम्हारे जीवन में कई लोग ऐसे हैं जो

तुम्हें आगे बढ़ने से रोक रहे हैं जब भी

तुम कुछ नया करने की सोच रहे हो तो वह

तुम्हारे मार्ग में अवरोध उत्पन्न कर रहे

हैं तुम उनसे भली भांति परिचित हो परंतु

फिर भी तुम अनदेखा कर रहे हो जबकि उनकी हर

क्रिया का उत्तर देने में तुम समर्थ हो

मेरे बच्चे बाहरी लोगों से तुम्हारा यह

व्यवहार सर्वथा उचित है किसी से ता पालना

कहीं से भी तुम्हारे लिए हितकारी नहीं है

परंतु यही व्यवहार तुम्हें अपने माता-पिता

या परिवार के सदस्यों के साथ भी करना है

मेरे बच्चे जब तुम्हारे किसी कार्य में

तुम्हें असफलता मिलती है तो तुम मानसिक

तनाव लेते हो तनाव से क्रोध उत्पन्न होता

है और क्रोध से बुद्धि का विनाश होता है

तुम अपनी असफलता का दोषी अपनों को ही

समझते हो परंतु दो दोष तुम्हारे भीतर है

तुम्हारे मन में स्थिरता नहीं है तुम्हारे

कार्यों में निरंतरता नहीं है तुम अपने

कार्य को समय पर नहीं करते बस योजनाएं

बनाते हो तुम्हारा मन अनेक चीजों पर भागता

है मेरे बच्चे मन को एकाग्र कर दृढ़

निश्चय के साथ जब कोई अपने कार्य में

संलग्न हो जाता है तो सफलता अवश्य प्राप्त

होती है मेरे बच्चे अपने संदेश के माध्यम

से मैं तुम्हें यह कहना चाहती हूं कि

मर्यादा का पालन करना अनिवार्य है दूसरों

के अलावा अपने दुर्गुणों को देखो और उसमें

सुधार करो माता-पिता का स्थान सबसे ऊंचा

है उनका सम्मान करो सब मंगलमय होगा मेरे

बच्चे आठ आठ आठ लिखकर इस संदेश को शेयर कर

दीजिए मेरे बच्चे मैं जानती हूं कि

तुम्हारे जीवन में किस चीज की कमी है तुम

किस चीज के लिए मेहनत कर रहे हो और किस

चीज पर ध्यान नहीं दे रहे हो मेरे बच्चे

तुम अपनी जरूरतों के लिए कार्य कर रहे हो

अपनी इच्छाओं को पूर्ण करने का प्रयास कर

रहे हो किंतु तुम कुछ कार्य ऐसे भी कर रहे

हो जिस पर तुम्हें ध्यान देने की आवश्यकता

नहीं है मेरे बच्चे मुझे झांत है तुम्हारा

भरोसा संसार से उठ गया है क्योंकि तुम्हें

अपनों से परायो से और हर उस इंसान से दुख

मिला है जिसे तुमने बहुत प्यार दिया है

किंतु मेरे बच्चे इसमें किसी का कोई दोष

नहीं हर कोई मेरे आदेश का पालन कर रहा है

मेरे बच्चे कोई भी मेरी दृष्टि से छुपा

नहीं है मैं सबकी प्रतिक्रियाओं को देख

रही हूं मेरे बच्चे तुम्हें अपनी माता

रानी पर विश्वास है तो हां लिखकर इस संदेश

को अभी लाइक कर दीजिए मेरे बच्चे मैं

जानती हूं जब कोई अपना छल करता है तो पूरा

संसार ही अर्थहीन लगने लगता है किंतु जब

तुम्हारे साथ कोई छल करता है तो वहां

तुम्हें एक महत्त्वपूर्ण सीख देकर जाता है

जब तुम अपना उद्देश्य भूल जाते हो अपने

मार्ग से भटक जाते हो तो कोई ना कोई

तुम्हें सही दिशा देने के लिए तुम्हारे

जीवन में आता है कोई प्रेम के माध्यम से

कोई छल के माध्यम से तुम्हें उचित मार्ग

दिखाता है मेरे बच्चे जब तुम वह बनने का

प्रयास करते हो जो होना तुम्हारी नियत ही

नहीं है तो तुम्हें केवल दुख और असफलता ही

मिलती है मेरे बच्चे तुम संसार के लोग में

इस प्रकार फंस गए हो जहां केवल दुख है

बंधन है अशांति है मेरे बच्चे जिस प्रकार

नाव जल में रहती है किंतु जल नौका में

नहीं रह सकता अन्यथा डूब जाएगा उसी प्रकार

तुम्हें संसार में रहकर अपने कर्तव्यों का

निर्वहन करना है किंतु संसार का मोह अपने

भीतर नहीं रखना है अन्यथा अपने कर्म पथ से

भटक जाओगे मेरे बच्चे इस पर विश्वास है तो

अंक लिखकर इस चैनल को सब्सक्राइब कर

दीजिए मेरे बच्चे तुम्हारे भीतर एक बुरी

आदत है तुम्हें जो चीज अच्छी लगती है तुम

उसके पीछे भागना शुरू कर देते हो फिर चाहे

वह कोई व्यक्ति हो रिश्ता हो या धन अर्जित

करने का स्रोत हो मेरे बच्चे तुम अपने लिए

ऐसे कार्यों का चुनाव कर रहे हो जिसमें

तुम्हें आसानी हो जबकि तुम्हारे मन में एक

ऐसे कार्य की योजना भी है जिसे तुम करने

की सोच रहे हो किंतु वह आसान नहीं है

इसलिए तुम पीछे हट रहे हो मेरे बच्चे जब

तक तुम अपने सुख सुविधाओं से बाहर नहीं

निकलोगे तब तक तुम्हें कोई सफलता नहीं

मिलेगी यही कारण है कि कठिन परिश्रम के

बाद भी तुम्हें हर कार्य में असफलता मिल

रही है मेरे बच्चे मैं जानती हूं जब तुम

किसी कार्य पर अपना समय अपनी ऊर्जा खर्च

करते हो और वह कार्य बनते बनते बिगड़ना

जाए तो अत्यंत निराशा होती है किंतु यह इस

बात का संकेत है कि यह कार्य तुम्हारे लिए

नहीं है तुम गलत कार्य गलत दिशा में

परिश्रम कर रहे हो मेरे बच्चे हो सकता है

तुम्हें जो कार्य अी सही लग रहा है वह

भविष्य में तुम्हारे लिए हानि का कारण बने

इसलिए जब भी किसी कार्य में असफलता मिले

तो निराश ना हो नए सिरे से नए कार्य का

आरंभ करो मेरे बच्चे अपने लिए ऐसे कार्य

का चुनाव करो जो तुम्हें भीतर से झकझोर कर

रख दे मेरे बच्चे अपने मन की सुनो

तुम्हारे मन की आवाज परमात्मा की आवाज है

तुम्हारा मन ही तुम्हें सही राह दिखाएगा

और इसी से तुम्हें अपार सफलता मिलेगी

तुम्हारी सभी जरूरतें पूरी होंगी प्रेम धन

सम्मान प्रसिद्ध सब कुछ सहज ही प्राप्त

होगा मेरे बच्चे सच्चे मन से लिखो जय हो

माता रानी मेरे बच्चे मैं सब जानती हूं कि

यहां समय तुम्हारे लिए कितना कठिन है

परंतु अपना विश्वास अटूट रखो बहुत शीघ्र

ही तुम्हारे जीवन में बहुत बड़ी खुशखबरी

आने वाली है तुम्हारी सालों की मेहनत का

फल तुम्हें मिलने वाला है मेरे बच्चे तुम

ऐसा मत सोचो कि तुम्हारे जीवन में कोई

बदलाव नहीं आ रहा है कभी-कभी मैं देखती

हूं तुम खुद को बहुत बेबस महसूस करते हैं

तुम्हें लगता है जैसे जीवन एक जगह पर रुक

गया है हम कार्य में तुम्हें असफलता मिल

रही है मेरे बच्चे अभी तक तुम्हें सफलता

नहीं मिली इसका अर्थ यह नहीं है कि तुम

असफल हो निरंतर मेहनत करने वाला इंसान कभी

असफल नहीं होता मेरे बच्चे इस पर विश्वास

है तो लिखकर इस संदेश को शेयर कर

दीजिए मेरे बच्चे प्रतिपल तुम्हारे जीवन

में एक बदलाव हो रहा है तुम अब स्वयं को

जानने लगे हो अपनी क्षमताओं को अपनी

कमियों को अपनी शक्तियों को पहचानने लगे

हो मेरे बच्चे तुम्हारे साहस में वृद्धि

हुई है तुम्हारे व्यक्तित्व में परिवर्तन

हुआ है

और इसका प्रभाव तुम्हें शीघ्र ही दिखेगा

मेरे बच्चे अब तक तुम भटक रहे थे तुम्हें

दुनिया की समाज की सबकी फिक्र थी यदि कोई

भी तुम्हें कुछ बुरे भाव से बोल देता तो

तुम्हारा मन चिंता से व्याकुल हो उठता था

किंतु अब तुम्हें किसी की अच्छी बुरी

बातों का कोई प्रभाव नहीं पड़ता अपने

लक्ष्य के प्रति भी तुम कभी गंभीर नहीं थे

जब भी तुम कोई कार्य करते थे थे तो

तुम्हारा मन और भी कामों पर दौड़ता था

किंतु अब तुमने अपना लक्ष्य चुन लिया है

और पूरी दृढ़ता के साथ तुम अपने सपनों को

अपने लक्ष्य को पूरा करने का प्रयास कर

रहे हो इसलिए अब मैं तुम्हें और निराश

नहीं करूंगा मेरे बच्चे खुश रहो तुम अपने

लक्ष्य के बहुत निकट हो किसी भी समय

चमत्कार संभव है मेरे बच्चे सच्चे मन से

लिखो जय हो माता रानी मेरे बच्चे तुम्हें

अपने जीवन से अपने आप से बहुत शिकायतें

हैं मैंने तुम्हारी पुकार सुनी है आज मैं

तुम्हें तुम्हारे उन सभी सवालों के जवाब

दूंगी जो तुम हमेशा मुझसे करते आए हो मेरे

बच्चे तुम मुझसे हमेशा यह सवाल करते हो कि

आखिर मैं ही क्यों हर कोई अपने जीवन में

खुश है आगे बढ़ रहा है और सुख से जीवन जी

रहा है फिर मुझे ही इतनी तकलीफ इतनी पीड़

प क्यों सहना पडरी रहा है मेरे बच्चे मैं

जानती हूं तुमने बहुत कुछ महत्त्वपूर्ण खो

दिया है किंतु तुमने जो कुछ भी खोया है वह

तुम्हारे लिए नहीं था जो कुछ भी तुम्हारे

जीवन में घटित हो रहा है वह तुम्हारी

इच्छा से हो रहा है मेरे बच्चे तुमने

सिर्फ अपनी माता को चुना है मेरे बच्चे

तुम मुझसे वही मांगते हो जो तुम्हें बंधन

में बांधे जो तुम्हें सत्य से दूर ले जाए

जो तुम्हारे को हर ले किंतु मैं तुम्हें

वह कदापि नहीं दे सकती जिसमें उलझ करर

तुम्हारे जीवन का उद्देश्य छूट जाए मेरे

बच्चे तुम मुझे अपनी माता मानते हो तो

अपनी माता रानी पर भरोसा रखो सब कुछ मेरी

योजना के अनुसार हो रहा है थोड़ा सा सब्र

करो तुम्हें जो चाहिए वह तुम्हें सब

मिलेंगे किंतु कुछ समय के बाद कुछ बदलाव

के साथ तुम्हें खुद को बदलना होगा मेरे

बच्चे क्या तुम जान जाते हो तुम अत्यंत

कमजोर और भावुक किस्म के इंसान हो बात बात

पर रो पड़ते हो कभी कभी तुम्हारे प्रेम का

तुम्हारी भावुकता का लाभ उठाकर लोग

तुम्हें मूर्ख बना देते हैं मेरे बच्चे

भावुकता का भाव अच्छा है किंतु अपनी

भावनाओं पर नियंत्रण रखो हर किसी के साथ

अपना दुख मत बांटो मेरे बच्चे क्या तुम

जानते हो तुम्हारी सबसे बड़ी कमजोरी क्या

है तुम ार संबंध तुम जब किसी से प्रेम

करते हो तो उस पर अपना सब कुछ न्यौछावर कर

देते हो उसे ही अपने जीवन का सहारा मान

लेते हो भले ही वह तुम्हें प्रेम ना करें

बात-बात पर तुम्हारा अपमान करें किंतु उसे

खोने के डर से तुम सब कुछ सहन करते हो

मेरे बच्चे तुम क्यों डरते हो क्या है

तुम्हारा जो तुम खोने से डरते हो तुम्हारा

कुछ भी नहीं है मेरे ब प्रेम करना कोई

अपराध नहीं है किंतु प्रेम में डर का कोई

स्थान नहीं है यह तुम्हारी भूल है जो तुम

किसी को अपना सहारा मानते हो जाने अनजाने

में अपनी राह एक समझ लेते हो मेरे बच्चे

संबंध कितना भी गहरा हो रास्ते सदैव भिन्न

होते हैं तुम्हारा कर्म तुम्हारा दंड

तुम्हारी खुशियां तुम्हारे रास्ते सब

तुम्हारे हैं मेरे बच्चे संसार की भयानक

भीड़ में भी सब अकेले हैं लोग अज्ञानता बस

किसी इंसान को अपना सहारा मान लेते हैं

मेरे बच्चे संसार में उपस्थित सभी जीवों

का सहारा केवल एक है मैं किंतु फिर भी तुम

किसी इंसान किसी वस्तु से खुद को इतना

जोड़ लेते हो कि उसके चले जाने पर तुम

स्वयं को और अपनी चेतना को खो बैठते हो

जानते हो क्यों क्योंकि तुम्हारे भीतर

अज्ञानता है मेरे बच्चे मैं जानती हूं

तुम्हारा जीवन उलझ सा गया है किंतु यह इस

बात का संकेत है कि अब तुम्हारे कुछ

महत्त्वपूर्ण सीखने का समय आ गया है आज

मैं तुम्हें अपने सबसे कीमती ज्ञान का

उपहार देने आई हूं किंतु मेरे बच्चे इस

ज्ञान को ग्रहण करने से पहले तुम्हें अपने

अंदर से डर रूपी भूतों को भगाना होगा मेरे

बच्चे मैं तुम्हारे भीतर छुपे अंधकार और

अज्ञानता को मिटाने आई हूं बहुत जल्द

तुम्हारा आध्यात्मिक सफर शुरू होने वाला

है अब संसार से तुम्हारा मोह टूटेगा तुम

कौन हो तुम्हारे भीतर कितनी दिव्यता है उन

सभी रहस्यों को अब तुम जानने वाले हो मेरे

बच्चे बहुत जल्द तुम्हारे जीवन में ऐसा

बदलाव आने वाला है जिससे तुम्हें अनंत सुख

शांति और आनंद की प्राप्ति

Leave a Comment