मां दुर्गा 🕉️ मेरी नज़र कब से तुम पर ही है

संसार में प्रत्येक चीज का समाधान है

किंतु कभी-कभी तुम राह भटक जाते हो और आज

तुम्हें मेरी आवश्यकता है इसलिए मेरे

बच्चे तुम्हारी मां इस धरती लोक पर केवल

तुम्हें अपने दर्शन देने के लिए आई है

ताकि तुम गलत राह से निकलकर अच्छाई पर चल

सको यदि आज तुमने मेरी बातों को माना तो

तुम्हारी हर पुकार मुझ तक अवश्य पहुंचेगी

क्योंकि मैं जानती हूं कि तुम बहुत अधिक

परेशान हो बहुत से लोगों ने तुम्हारे जीवन

में बहुत कुछ कर रखा है पर तुम इस बात से

अनजान हो इसलिए मैं तुम्हें चेतावनी देने

आई हूं तुम जब भी मुझे याद करते हो तो

उसके पीछे तुम सदैव यह सोचते हो कि

तुम्हारी पुकार सुनकर मैं तुम्हें उसका

समाधान उसी समय प्रदान कर दूं किंतु मेरे

बच्चे मैं तुम्हें तुम्हारी पुकार से पहले

ही चेतावनी दे देती हूं पर परंतु तुम

अनजाने में मेरी चेतावनी को अनदेखा कर

देते हो जिसका फल तुम्हें आज मिल रहा है

हर कार्य को पूर्ण करना स्वयं तुम्हारे

हाथों में है वह किस तरह पूर्ण होगा आज

मैं तुम्हें बताऊंगी इसलिए ध्यानपूर्वक

मेरी बातों को सुन लो सबसे पहले तो तुम इस

बात को समझो कि जब भी तुम्हें जीवन में

कुछ चाहिए होता है उसका थोड़ा सा इंतजार

करना अति आवश्यक है क्योंकि तुम्हारी

मांगी हुई एक इच्छा पर तुम्हारा कार्य

करना अत्यंत आवश्यक होता है उसके लिए

तुम्हें थोड़ा समय चाहिए होता है बिना

कार्य किए कोई भी इच्छा पूर्ण नहीं होती

दूसरा यदि तुम परिश्रम करके किसी भी इच्छा

को या शिक्षा हो या किसी मुकाम को किसी

व्यवसाय या कोई नौकरी को किसी भी चीज को

प्राप्त करने के लिए परिश्रम करते हो और

वह तुम्हें प्राप्त नहीं नहीं हो रही है

तो निश्चित ही तुम्हारा परिश्रम उसके लिए

कम है तुम्हें उससे भी ज्यादा लगातार

परिश्रम करना होगा शांत मन से उस चीज को

अपनी ओर आकर्षित करने के लिए बार-बार उस

पर सोचना अत्यंत आवश्यक है क्योंकि जैसे

ही तुम उस कार्य के बारे में सोचोगे उस

इच्छा के बारे में सोचोगे तब तुम्हारी

सोची हुई विचारधारा पूरे ब्रह्मांड में

तुम्हें उस चीज को अपनी ओर आकर्षित करने

के लिए एक चुंबकीय शक्ति की तरह कार्य

करेगी और यह शक्ति तुम्हारी हर उस इच्छा

को पूरा करती है या करेगी फिर चाहे वह

नौकरी हो या व्यवसाय वह सारी इच्छाओं को

तुम्हारी ओर आकर्षित करने लगती है और

तुम्हारे हर अधूरे कार्य पूर्ण होने लगते

हैं परंतु यह याद रखना कि तुम्हें बहुत

अधिक परिश्रम करने के बाद भी यदि सफलता

प्राप्त नहीं हो पा रही तो उसके दो कारण

हैं या तो तुम जिस कार्य में परिश्रम कर

रहे हो उसका फल तुम्हें प्राप्त होने के

लिए कुछ समय और शेष है या फिर तुम्हारी

परिश्रम में कमी है यही दो कारण है जो यदि

मनुष्य समझ जाए तो वह सफल हो पाता है

परंतु मेरे बच्चे इन दो कारणों के अलावा

एक तीसरा कारण यह भी है कभी-कभी तुम जो

परिश्रम करते हो उसका फल तुम्हें इसलिए

प्राप्त नहीं होता कि क्योंकि ईश्वर ने

उससे भी कहीं अधिक तुम्हारे लिए सोचा होता

है और समय आने पर जब वह तुम्हें मिलेगा तो

तुम अपने उस परिश्रम से कहीं अधिक ज्यादा

पाओगे मेरे बच्चे तुम अब निराश मत हो तुम

जो भी प्रार्थना मुझसे करते हो वह सारी

प्रार्थना मैं सदैव सुनती हूं और समय आने

पर तुम्हें हर चीज का हल प्राप्त होगा

इसलिए तुम अपनी माता पर विश्वास रखो संसार

में तुम तुम हर काम कर सकते हो सिर्फ

तुम्हारी कोशिश की कमी है मेरे बच्चे तुम

बहुत ही ज्यादा भोले हो और इसी भोलेपन के

कारण ही लोगों ने तुम्हारा बहुत ही फायदा

उठाया है लोग तुम्हारे साथ गलत करते हैं

परंतु तुम कभी भी उनका बुरा नहीं मानते

तुम्हें बुरा तो लगता है कि जिनके लिए तुम

इतना करते हो जिनके लिए इतना सोचते हो वही

लोग जब तुम्हें धोखा देते हैं तो तुम अंदर

से टूट जाते हो तुम उन लोग लोगों को कुछ

कहते नहीं परंतु तुम्हारी आत्मा अंदर से

रोती है और वह पीड़ा तुम्हारे भीतर दर्द

को भर देती है किंतु मेरे बच्चे यह याद

रखो तुम बहुत ही अच्छे और सच्चे हो तुमने

कभी किसी का बुरा नहीं किया है और

तुम्हारी माता तुम्हारे इसी स्वभाव से अति

प्रसन्न है मैं जानती हूं कि तुम्हारे कुछ

शत्रु भी हैं जो तुम्हारा भला नहीं चाहते

हैं क्योंकि तुम जितने अच्छे होंगे उतने

ही बुरे लोग तुम्हें अपने जीवन में

मिलेंगे वह तुम्हारे लिए बुरा कार्य

करेंगे और तुम्हारे मार्ग में बाधा

उत्पन्न करने की कोशिश करेंगे परंतु

तुम्हें यह याद रखना है कि तुम्हारा कार्य

हमेशा सच्चाई की राह पर चलना है वह

तुम्हें कितना भी रोकने की कोशिश करें

तुम्हें रुकना नहीं है और ना ही उनकी

बातों में आकर स्वयं को दुख देना है मेरे

बच्चे यह याद रखना तुम्हारी मां जब

तुम्हारे साथ है तो तुम्हें किसी भी शत्रु

से घबराने की आवश्यकता नहीं है मैं

तुम्हारे ऊपर आने वाली हर मुसीबत को टाल

दूंगी और तुम्हें जीवन में उस राह पर लेकर

जाऊंगी जिस राह पर केवल सुख और शांति है

मेरे बच्चे जो कुछ भी तुम्हारे जीवन में

उत्पन्न हो रहा है उसके पीछे एक बहुत बड़ा

उद्देश्य छिपा हुआ है मैं जानती हूं कि

तुम बहुत ही जल्दी घबरा जाते हो तुम बहुत

ही जल्दी हार मान लेते हो परंतु जब मैं

तुम्हारे साथ हूं तो तुम्हें चिंता करने

की आवश्यकता नहीं है तुम यह अच्छे से

जानते हो कि मैं हर पल तुम्हारे साथ हूं

तुम्हें मैं हमेशा तुम्हारे शत्रुओं से

बचाती आई हूं और आगे भी बचाती रहूंगी तुम

बस खुश रहो मेरे बच्चे और अपना ख्याल रखो

मैं तुम्हें कभी कुछ भी नहीं होने दूंगी

अपनी मां पर भरोसा रखो मेरे बच्चे मेरे

जाने का समय हो चुका है किंतु यह याद रखना

कि जब तुम्हारी मां तुम्हें दोबारा दर्शन

देने आएगी तो तुम अपने अंदर बदलाव करके

अपने जीवन को नई दिशा में ले जाओगे यह याद

रखो तुम बहुत ही अच्छे और सच्चे हो तुमने

कभी किसी का बुरा नहीं किया है और

तुम्हारी माता तुम्हारे इसी स्वभाव से अति

प्रसन्न है मैं जानती हूं कि तुम्हारे कुछ

शत्रु भी हैं जो तुम्हारा भला नहीं चाहते

हैं क्योंकि तुम जितने अच्छे होंगे उतने

ही बुरे लोग तुम्हें अपने जीवन में मिले

लेंगे वह तुम्हारे लिए बुरा कार्य करेंगे

और तुम्हारे मार्ग में बाधा उत्पन्न करने

की कोशिश करेंगे परंतु तुम्हें यह याद

रखना है कि तुम्हारा कार्य हमेशा सच्चाई

की राह पर चलना है वह तुम्हें कितना भी

रोकने की कोशिश करें तुम्हें रुकना नहीं

है और ना ही उनकी बातों में आकर स्वयं को

दुख देना है मेरे बच्चे यह याद रखना

तुम्हारी मां जब तुम्हारे साथ है तो

तुम्हें किसी भी शत्रु से घबराने की

आवश्यकता नहीं है मैं तुम्हारे ऊपर आने

वाली हर मुसीबत को टाल दूंगी और तुम्हें

जीवन में उस राह पर लेकर जाऊंगी जिस राह

पर केवल सुख और शांति है मेरे बच्चे जो

कुछ भी तुम्हारे जीवन में उत्पन्न हो रहा

है उसके पीछे एक बहुत बड़ा उद्देश्य छिपा

हुआ है मैं जानती हूं कि तुम बहुत ही

जल्दी घबरा जाते हो तुम बहुत ही जल्दी हार

मान लेते हो परंतु जब मैं मैं तुम्हारे

साथ हूं तो तुम्हें चिंता करने की

आवश्यकता नहीं है तुम यह अच्छे से जानते

हो कि मैं हर पल तुम्हारे साथ हूं तुम्हें

मैं हमेशा तुम्हारे शत्रुओं से बचाती आई

हूं और आगे भी बचाती रहूंगी तुम बस खुश

रहो मेरे बच्चे और अपना ख्याल रखो मैं

तुम्हें कभी कुछ भी नहीं होने दूंगी अपनी

मां पर भरोसा रखो मेरे बच्चे मेरे जाने का

समय हो चुका है किंतु यह याद रखना कि जब

तुम्हारी मां तुम्हें दोबारा दर्शन देने

आएगी तो तुम अपने अंदर बदलाव करके अपने

जीवन को नई दिशा में ले जाओगे ओम नमः

शिवाय जय माहाकाली

Leave a Comment