मां पार्वती 🕉️तुम्हारे पास ईश्वरीय शक्ति है इस बात से वो बहुत ही घबराया हुआ है तुम्ह

मेरे बच्चे आज यह संदेश पाकर धन्य हो

जाओगे क्योंकि यह यह संदेश कुछ ऐसा ही है

स्वयं तुम्हारी माता का बहुत बड़ा चमत्कार

होने वाला है यह चमत्कार देखकर खुशी से

झूम उठोगे मतलब खुशी से आंख में आंसू आ

जाएंगे तो मेरे बच्चे आज का संदेश

तुम्हारे और तुम्हारे परिवार के लिए बहुत

ही महत्त्वपूर्ण है इसलिए मेरे बच्चे इस

संदेश को बीच में छ छड़कर जाने की भूल

बिल्कुल भी करिएगा और अपनी माता रानी के

लिए जल्दी से सिर्फ एक लाइक और कमेंट में

जय हो माता रानी लिख दीजिए मेरे बच्चे मैं

तुमसे कहना चाहती हूं तुम जो चाह रहे थे

मैं वह देने को तैयार हूं इस शक्तिशाली

ऊर्जा को ग्रहण करने के लिए लिखें

जल्द ही तुम अपने जीवन को पूर्ण रूप से

बदलता हुआ देखोगे जो खुशी तुम्हारे भीतर

अंकुरित हो रही है वह विशाल वृक्ष की समान

तुम्हें फल देने को व्याकुल है यह प्रमाण

तुम्हारे जीवन में एक नए खुशबू पुराने को

तैयार है मेरे प्रिय बच्चे केवल घंटे

के भीतर तुम प्राप्त करोगे एक खुशखबरी को

वह खुशखबरी तुम्हारे जीवन से पूर्ण रूप से

जुड़ी हुई होंगी तुमने कई ऐसे कार्य किए

हैं जिसका फल तुम्हें आज तक शून्य के समान

ही प्राप्त हुए हैं कुछ ज्यादा तुम्हें

मिला ही नहीं कई बार तुम्हारा मन बहुत

उदास हो गया और तुमने बार-बार यही कहा है

अपनी माता रानी से कि आप तो सबकी सुनती

हैं पर मेरी क्यों नहीं सुनती है किंतु

मेरे प्रिय बच्चे आज मैं तुमसे कहना चाहती

हूं अब समय आ गया है जब तुम ही तुम्हारी

श्रेष्ठ कर्मों का हिसाब मिले ब्रह्मांड

की शक्तियों ने यह आदेश दिया है कि

तुम्हारी जल्द ही एक बड़ी इच्छा पूरी होगी

और वह इच्छा तुम्हारी ऐसी होगी मानो

तुम्हारा संपूर्ण जीवन बदल जाएगा जब वह

इच्छा तुम्हारी पूरी होगी तो उसे तुम एक

पल समझना क्योंकि हाल ही में तुमने किसी

की सहायता की थी और अब उस सहायता के बदले

तुम्हें उसका फल प्राप्त हो रहा है यही

कारण है कि तुम्हारी माता रानी ने निर्णय

ले लिया है तुम्हारी कामनाओं को पूर्ण

करने का घंटे के भीतर जो इच्छा

तुम्हारी पूरी होगी वह इस शुरुआत होगी आने

वाले दिनों में अन्य खुशखबरी अभी मिलने

वाली है तुम्हें अपनी माता रानी को सच्चे

मन से तीन बार धन्यवाद लिखे और वीडियो को

अवश्य ही लाइक करें मेरे बच्चे मैं तुमसे

बहुत प्रसन्न हूं तुम्हें मालूम ही नहीं

है कि आगे तुम्हें क्या प्राप्त होने जा

रहा है जिसका जिक्र मैंने तुमसे अभी नहीं

करना चाहती मेरी शक्ति और दया इस प्रकार

तुम्हारे ऊपर बरस रही है यह ग्रह भी अपनी

दशा बदलने लगी है पिछले कुछ माह से तुम एक

तनाव पूर्व स्थिति से गुजर रहे हो हाथ में

आया हुआ मौका जैसे फिसलता जाता है सब कुछ

सही करते करते भी मानो सब कुछ गलत हो रहा

हो शेष ग्रहों की भी विपरीत स्थितियों ने

तुम्हे अत्यधिक दुख ही कर दिया था किंतु

आज वह है शुभ दिन है जब प्रमाण की किरणें

सी तुम पर पड़ने वाली है एक नया और दिव्य

द्वार तुम्हारे लिए खुलने जा रहा है जब

प्रमाण की वह परत इतनी पतली होगी कि तुम

अपनी बात उन तक पहुंचा सको कुछ भी मांग

सको कुछ भी उन्हें कह सको अब तुम्हारी

आवाज सीधा ब्रह्मांड की परतों में विलीन

होंगी मेरे प्रिय बच्चे मैं तुम्हारी अपनी

माता हूं इसीलिए मैं तुम्हारी आंसुओं से

परिचित हूं जो तुमने अंधेरी रात में अकेले

बहाए है मैं तुम्हारे दर्द को जानती हूं

जो तुमने सीने में छुपाई बैठे हो जिसे तुम

किसी से भी साझा नहीं करते हो रात को अपने

आंसुओं को अब मेरे समक्ष उन्हें बह जाने

दो वास्तव में तुम कैसे हो इससे कोई नहीं

जानता सभी तुम्हारी बाहरी स्वरूप देखते

हैं पर तुम्हारे अंदर एक बालक छुपा हुआ है

जो हंसना चाहता है जो संवारना चाहता है

जीवन को खुलकर जो जीना चाहता है है तुम वह

इंसान हो जो जिमा दारियो के बोझ तले दबा

हुआ है वह खुलकर सांस लेना चाहता है तुम

वह हो जिससे समय से पहले पड़ी पक होना

पड़ा है इस दौड़ में तुम अपना वह छोटा सा

नन्हा बालक कहीं खो ना बैठ जाओ मेरे प्रिय

बच्चे सच से कहो क्या यह सत्य नहीं है यदि

हां तो पचपन अवश्य ही लिखे अच्छा मुझे

उत्तर दो क्या तुमने सदैव अपने त को अकेले

ही नहीं सहा है बोलो आज मैं तुम्हें सुनना

चाहती हूं यदि आपके साथ ऐसा हुआ है तो

पुष्टि में हां अवश्य ही लिखें जिस किसी

ने अतीत में तुम्हें ठेस पहुंचाई है वह

अपने बुरे कर्मों की भारी कीमत अब चुका

रहा है वह भले आज मुख से कुछ ना कहे या

तुम्हारे समक्ष ना आ सके लेकिन मन ही मन

वह तुम सी माफी मांगना चाहता है तुम्हारी

यह तुम्हारी परिवार के लिए रचा गया कोई भी

षड्यंत्र सफल नहीं होगा यहां झांत रखो यदि

आपको अपनी माता रानी पर विश्वास है तो एक

एक एक लिखें और अपने मुख पर मीठी सी

मुस्कान ले आए इस वर्ष का जो भी दुखी होने

का समय था वह खत्म हुआ एक नई वर्ष की

शुरुआत अब होने वाली है आज से एक नया समय

होगा तुम्हारे जीवन का यदि आप तैयार हैं

तो भाग्यशाली अंक साथ साथ अवश्य लिखें

सफलता प्रेम भाईचारा और खुशियां बांटने की

शुरुआत आ चुकी है अब तुम अपनी जिस इच्छा

को पूर्ण संकल्प के साथ मुझे लेकर भेजोगे

वह बहुत जल्द तुम्हारे जीवन में अब आ

जाएंगी इसीलिए अपने विवेक और बुद्धि का

प्रयोग करते हुए अपनी उस इच्छा का चयन

करें जो लंबे समय तक तुम्हें खुशी प्रदान

कर सके यदि आप भी चाहते हैं कि अब आपकी

इच्छा पूरी हो तो अंक लिखें और वीडियो

को तुरंत ही लाइक कर द मेरे बच्चे जैसे

मैं तुम्हें संदेश लिखकर भेजती हूं वैसे

ही अब तुम अपनी भावनाओं को और अपनी

इच्छाओं को एक कागज पर लिखना आज से ही

शुरू कर दो पत्र लिखते वक्त तुम्हारा

विश्वास वैसे ही होना चाहिए जैसी

प्रार्थना करते वक्त होता है जैसी कोई

अपनी सबसे प्राण प्रिय को खाते लिख रहा हो

अपनी सभी बातों को बिना झिझक लिखकर अपने

हस्ताक्षर करके उसे रात भर अपने तकिए के

नीचे रखना और सुबह किसी किताब में रख देना

तुम्हारा खत मुझे मिल जाएगा और उसका

प्रतीक स्वरूप परछाई ही तुम्हारे पास

रहेगा मेरे बच्चे तुम अपने जीवन में हर

जगह अप्रत्याशित चमत्कार देखने वाले हो

जिन चीजों की मांग तुम छोड़ चुके हो वह सब

तुम्हारे लिए वापस से आ रहा है तुम्हारे

बचपन के दिन फिर लौट कर आ रहे हैं मु

पुराने के दिन वापस आ रहे हैं खुशियां

मनाने के मित्र तुमसे मिलने को आ रहे हैं

यदि आप इन सब चमत्कारों के लिए तैयार है

तो अंक अवश्य ही लिखें जो कुछ तुमसे

समय ने छीन लिया था वह सब कुछ दुगना

आशीर्वाद का रूप लेकर तुम्हारे घर आ रहा

है तुम्हारी पूर्वज एक नन्हे पालक के रूप

में तुम्हारे घर आएंगे और अपने साथ

खुशियों की बारिश करने आ रहे हैं तुम्हारी

प्रतीक्षा का सुखद परिणाम तुम्ह अवश्य ही

मिलेगा यदि आप इन ऊर्जा को अपने जीवन में

अनियंत्रित करना चाहते हैं तो अंक

अवश्य ही लिखें तुम अपने जीवन के एक नई

ऐसे चरण में प्रवेश कर रहे हो जहां

तुम्हें कोई रोक नहीं ही सकता है मैं

तुम्हारे साथ हूं और जहां कोई रास्ता नजर

नहीं आए वहां मैं तुम्हारा रास्ता बना रही

हूं मैं जानती हूं तुम अब थक चुके हो सब

कुछ करके सब कुछ कह के शायद तुम यह जगह

कोई दूसरा होता तो अब तक जीवन से हार

मानकर बैठ गया होता लेकिन तुम लड़ते रहे

एक वीर योद्धा की तरह सभी से हालातों से

मेरे बच्चे उम्मीद मत खोना मैं यहां

तुम्हारी दुखों को खुशी में तुम्हारे दर्द

को शांति में और तुम्हारे आंसुओं को हंसी

में बदलने ही तो आई हूं मेरे प्रिय बच्चे

तुमने जो धन्य अपने परिवार और दूसरों की

भलाई के लिए खर्च किए हैं वह कई रफ्तार

गुना बढ़कर तुम्हारे पास वापस आ रही है

क्योंकि व्यक्ति जो कुछ देता है वही कई

गुना बढ़ाकर उसे वापस प्राप्त करता है जो

अच्छाई के बीच लगाते हैं वह मीठे फल तो

आवश्य से ही खाएंगे ना तुम्हारे जीवन का

तूफान गुजर रहा है और सूरज फिर से चमकने

वाला है आज अपने दिल का सारा बोझ उतार दो

और फिर उस दिन भी शांति को महसूस करो जो

मैंने तुम्हें भेजा है तुम्हें जो कुछ

प्राप्त होगा वह इसलिए नहीं कि तु

प्रार्थना करते हो बल्कि इसीलिए क्योंकि

तुम हकदार हो जीवन में यदि किसी मोद पर

कोई आवाज दरवाजा बंद हो जाए तो घबराना मत

समझ लेना आगे दिव्य द्वार तुम्हारे लिए

खुलने आ रहा है और तुम्हारा नाम दाखिल हो

चुका है जहां तालियों के शोर में तुम्हारा

नाम पुकारा जा रहा है स्वयं को असीमित हो

फिर असीमित वासियों के लिए दुखी क्यों हो

जाते हो लाख पहरे लगा ले दुश्मन चाहे

परंतु खुशियों ने तुम्हारे घर का रास्ता

खोज ही लिया है मेरे प्रिय बच्चे मैं

तुम्हें असीमित धन असीमित सुख की ओर ले

जाना चाहती हूं चलो मेरे साथ चलो उस दिशा

में अपनी सभी चिंताएं मुझे दे दो और मेरे

प्रेम को स्वीकार करो अपना विश्वास मुझे

दे दो और विश्वास ग्रहण करो अपने आंसू बह

जाने दो और मुस्कुराहट ग्रहण करो सब कुछ

बहुत अच्छा होने वाला है तो मन में भाव

विभोर हो उठता है अब तुम्हारा जीवन में

कुछ बहुत ही अच्छा होने जा रहा है जीवन जब

जीवन में दुख चरण पर हो तो समझ लेना चाहिए

आप कुछ बहुत ही अच्छा होने वाला है

क्योंकि इससे बुरा होना अब बचा ही नहीं

मेरे बच्चे तुम्हारे संघर्ष के दिन समाप्त

होंगे और खुशी का समय इस प्रकार आएगा कि

तुम निहाल हो

जाओगे मेरे बच्चे तुम्हारे उस मासूम मन

में वो बात बैठा दी गई कि तुम बाकियों से

अलग हो इसीलिए तुम्हें दुख मिल रहा है अगर

तुम उनके जैसे होते तो तुम आज खुश रहते

इसीलिए तुम हर बात में खुद को दोष देते हो

खुद को प्रताड़ित करते हो कि माता मैं ऐसा

क्यों हूं क्यों आपने मुझे ऐसा बना दिया

क्यों मेरे जीवन में सारे दुख लिख दिए हैं

माता क्यों मुझे इस धरती पर भेज दिया जहां

खुद के परिवार में मेरा कोई सम्मान नहीं

है ना चाहते हुए भी मुझे सबकी बातें सुननी

पड़ती है

सब कुछ झेल चला रहा हूं मैं किसी से पलट

कर कुछ नहीं कह सकता क्योंकि शायद गलती

मेरी ही है क्योंकि मैंने ऐसे जन्म लिया

है तुम्हें हमेशा अपने जीवन में उस प्रेम

की कमी खली वो स्नेह तुम्हें कभी किसी से

नहीं मिला तुम्हारी छोटी सी छोटी बातों का

इतना बड़ा बतंगड़ बनाया गया तुम्हारे बारे

में क्या कुछ नहीं कहा गया तुमने अपनी

खुशियां त्याग दी अपना सब कुछ त्याग दिया

उसके बाद भी तुम्हारा कोई सम्मान नहीं था

और जो लोग पाप कर रहे थे जो लोग बुराइयां

कर रहे थे उनको लोग सर पर बैठा के रखते थे

अपनों के साथ रहकर भी तुम्हें हमेशा परायो

सा महसूस हुआ तुमने फिर भी सबकी सारी

इच्छाएं पूरी की उनके मुंह से निकलने की

देरी थी कि वो चीज तुम पूरी कर देते थे

मेरे बच्चे और तुम्हें हमेशा ऐसा ही लगता

था कि तुम एक दिन उन सबका प्रेम जीत लोगे

तुम उन सबको इतना प्रेम दोगे कि वो बदले

में तुम्हें वो सम्मान वो प्रेम वो स्नेही

एक दिन देंगे और तुम वो जीवन जी पाओगे जिस

जीवन की तुमने हमेशा कल्पना की थी और उसी

प्रेम और स्नेह की लोभ में उसकी तलाश में

तुम हमेशा गलत लोगों के जाल में फंसते चले

गए तुमसे किसी ने प्यार से दो मीठे बोल

बोल दिए तो तुम उनके बातों में आकर अपना

सब कुछ न्योछावर करने पर तैयार हो गए

तुम्हें ऐसा लगता था कि चलो अंत में मुझे

किसी ने तो समझा मुझे किसी ने तो प्रेम

दिया मैंने इतना सब कुछ हमेशा त्याग ही तो

किया है हमेशा सब कुछ छोड़ा ही तो है उन

लोगों के लिए सबको छोड़ दिया जिन्होंने

मुझे कभी पलट कर कुछ नहीं दिया तो यह

व्यक्ति तो मुझसे प्रेम करता है इसके लिए

मैं इतना तो कर ही सकता हूं और तुम्हारी

उसी भावनाओं का लोगों ने हमेशा फायदा

उठाया तुम्हारे अकेलेपन का लोगों ने हमेशा

फायदा उठाया मेरे बच्चे तो मैं यह लगा कि

तुम उस परिवार से उस झंझट से बाहर निकलकर

प्रेम ढूंढोगे इस दुनिया में कोई तो ऐसा

होगा जो तुम्हें समझेगा पर तुम्हें जो भी

लोग मिले उन्होंने हमेशा तुम्हें ठगा

तुम्हें धोखा दिया तुम्हारी भावनाओं के

साथ छल ही किया और अब तुम्हें ऐसा लग रहा

है तुम्हारे दिमाग में ऐसे विचार आ रहे

हैं कि माता बहुत हो गया है इन दर्द का कि

माता बहुत हो गया बहुत दर्द झेल लिया

मैंने बहुत तमाशा देख लिए हमेशा तो दूसरों

के हिसाब से जिया हूं पर अब अपना जीवन

अपने हिसाब से अंत करूंगा पर मेरे बच्चे

यह गलती करने की यह पाप करने की सोचना भी

मत तुम एक दिव्य शक्ति हो वो दिव्य शक्ति

जो जो चाहे वो कर सकती है तुमने खुद चुना

यह दर्द तुमने खुद चुना कि तुम उन लोगों

के पीछे रोगे तुम्हारे परिवार में प्रेम

नहीं मिला अगर वह प्रेम मिलता तो क्या तुम

वह कार्य करते जिसका कार्य को करने के लिए

तुम्हें पृथ्वी प्यार आया हो तुम नहीं

करते अगर वह लोग तुम्हारे जीवन में होते

हैं तो तुम क्या बड़े सपने देखते नहीं

देखते मेरे बच्चे तुम अपना सब कुछ उन

लोगों के पीछे त्याग देते और मैं यह होता

हुआ नहीं देख सकता

तो अपनी ताकत को पहचानो ऐसा डरपोक व्यक्ति

की तरह भागो मत तुमने हमेशा अपनी

परिस्थिति का डटकर सामना किया है तुमने तो

वह परिस्थितियां देखी हैं और बचपन से देखी

है मेरे बच्चे तो आज तुम्हारी हिम्मत

क्यों टूट रही है उस छोटे बच्चे मैं तुमसे

ज्यादा साहस था तो अपने भीतर के छोटे

बच्चे को याद करो जिसका कोई नहीं था जिसने

सिर्फ अपनी माता का हाथ थामा था और मेरा

हाथ थाम लो तुम इस दुनिया को जीतने के लिए

आए हो तुम ऐसे हार नहीं मान सकते तुम ऐसे

थक नहीं सकते मेरे बच्चे तुम्हें यह जंग

पूरी लड़नी ही पड़ेगी क्योंकि तुम इस जंग

को जीतने के लिए पैदा हुए हो तुम छोटे

सपने देखने के लिए नहीं पैदा हुए हो और

तुम यह बात बात जो कहते हो कि माता बहुत

वर्ष हो गई माता इतने वर्षों से तो यह सब

कुछ सही रहा हूं इतने वर्षों से तो यह सब

देख रहा हूं अब तो जीवन का अंत निकट आ गया

है यह तुम निर्धारित नहीं करोगे कि

तुम्हारे जीवन का अंत निकट आया है या नहीं

आया है तुम अपनी आशा का अंत कर रहे हो

अपनी उम्मीदों का अंत कर रहे हो तुम यह

गलती नहीं कर रहे हैं मेरे बच्चे तुम यह

बहुत बड़ा पाप कर रहे हो तुम्हारे जीवन के

आखिरी दिन भी चमत्कार हो सकता है तुम्हें

उस विश्वास के साथ कर्म करना है और उस

विश्वास के साथ एक योद्धा की तरह यह जंग

लड़नी है क्योंकि तुमसे ज्यादा साहसी तो

मेरा वो छोटा सा बच्चा था तो कायर मत बनो

मेरे बच्चे अपने सपनों को ऐसे त्याग मत दो

भगवान कृष्ण से लेकर प्रभु राम तक के जीवन

में कष्ट थे मेरे बच्चे पर उन्होंने हार

नहीं मानी उनके जीवन में भी कष्ट इसीलिए

थे ताकि वो अपना लक्ष्य नाम भूल जाए वो

कष्ट उनको उनके लक्ष्य की तरफ लेकर जा रहे

थे तुम्हारे जीवन का यह दर्द तुम्हें

तुम्हारे लक्ष्य की तरफ लेकर जा रहा है वो

तो रोते नहीं थे वो तो शिकायत नहीं करते

थे तो तुम क्यों शिकायत कर रहे हो अपने

भीतर की दिव्य शक्ति को पहचानो उस ऊर्जा

का प्रयोग करो अपने लक्ष्य को पाने में

मेरे बच्चे तुम मुझे अपनी माता मानते हो

तो इस संदेश को लाइक करके चैनल को

सब्सक्राइब करना और साथ ही साथ मेरा

Leave a Comment