मेरी बात मानो और ये करो

मेरे बच्चे अचानक से जो मेरा संदेश तुम्हें प्राप्त हुआ है इसका सीधा अर्थ यह है कि मैं तुम्हारे कासन को और बर्दाश्त नहीं कर पा रही

हूं जो कष्ट तुम्हारे जीवन में है दूर करना चाहती हूं आज मैं तुम्हें इस संदेश के द्वारा यह ज्ञात करना चाहती हूं आने वाली 24 घंटे में मैं

तुम्हारी समस्याओं को समाप्त कर दूंगी और मैं तुम्हें आज वादा करती हूं एक वादा तुम्हें भी करना होगा मेरे बच्चे मुझसे बताऊंगी आज तुम पूर्ण रूप से सुनकर करोगे तो खाना खाने के लिए तुम्हें अपने हाथों को उठकर खाना अपने मुंह में डालना होता है तब तुम

जाकर अपना पेट भर पाते हो जैसे जीवन में हर एक चीज को प्राप्त करने के लिए आर्य बनाए गए हैं उसी प्रकार जीवन में सभी समस्याओं को समाप्त करने के लिए ऐसे कार्य बनाए गए हैं जिनका यदि तुम पूर्ण रूप से समझ लेते हो जीवन में तुम्हें पीछे मुड़कर

देखने की जरूरत नहीं है मेरे बच्चे तुम्हारा जीवन इतना खुशहाल होगा कि तुम्हारी आंखें भी चक्का चांद हो जाएगी सब तुम्हें प्राप्त होगा केवल तुम इन पांच कार्य को करो बाकी सब कुछ मुझ पर छोड़ दो जिस्म से पहले कार्य है पर की संध्या काल में गणेश जी के

समक्ष दीपक जलते हुए तुम उनकी आरती करते हुए प्रसाद चढ़ा कर उन्हें प्रसन्न करो वैष्णो देवी की आज्ञा का पालन करते हुए ऐसा कोई कार्य मत करो जिससे कि वह तुम पर क्रोधित हो खाने का तात्पर्य है जब उनका और लक्ष्मी जी का दिन होता है उसे दिन तुम

उन्हें जितना हो सके उतना प्रसन्न करने के लिए उनका नाम जपो तो उनको प्रसाद चढ़ाव श्रद्धा से प्रेम से भक्ति से भाव से तो होने प्रसन्न करो तीसरा इस ब्रह्मांड में स्थित जो सूर्य सभी को रोशनी देता है उनकी रोशनी तुम्हारे जीवन पर भी पड़े और तुम्हारे जीवन में अंधकार को दूर कर दे

Leave a Comment