मैंने तुम्हारा भाग्य लिख दिया है

मेरे बच्चे कैसे हो तुम मैं तुम्हारा भाग्य लिख दिया है मेरे बच्चे तुम्हें कि मैं तुम्हारा भाग्य तुम्हारी विपत्ति में तुम्हारे

दुख को देखकर लिखा है परंतु मेरे बच्चे ऐसा कुछ भी नहीं है मैं तुम्हारा भाग्य बहुत पहले ही नहीं दिया था तुम्हारे

मन में मैंने लिख दिया है मेरे बच्चे तुम मुझे बदलने की कोशिश नहीं कर सकते मेरे बच्चे इतना भी बड़ा दुख हो मैं तुम्हारे भाग्य में वह सब लिख लिया है तुम्हारे साथ वही होगा मैं तुम्हारे भाग्य में लिखा है मेरे बच्ची चल रहा है

उसमें तुमने मैं आपको बहुत ही दुखी वह परेशान कर रखा है वह इसलिए मेरे बच्चे तुम अपने जीवन में बहुत कुछ करना चाहते हो तुम चाहते हो कि मेरा भी कल्याण हो मेरी भी जो इच्छा है वह सपने हैं स्थिति चल रही है

जीवन को बदलने में परेशानियों से छुटकारा पाने की किंतु मेरे बच्चे तुम समस्याओं को खत्म करने का घरेलू अभी तुम्हारा समय इस प्रकार का चल रहा है नहीं आ रहा है क्योंकि मेरे बच्चे हमारे जीवन में प्रकार की समस्या

का हाल हमारे हाथ में नहीं होता सभी समस्या काम करने के लिए कार्य जरूर कर सकते हो अभी मेरे बच्चे तुम्हारा जीवन का चक्र चल रहा है कि तुम चाहते हो कि मेरी स्थिति आने वाले समय में कुछ इस प्रकार से हो जैसे मैं चाहता हूं

Leave a Comment