ये जान लो नहीं तो मई कुछ नहीं कर सकती #

मेरे बच्चे तुम्हें जन का समय ए गया है
इसलिए तुम्हें आज मेरा यह संदेश प्राप्त
हुआ है जैसे ही तुम इसे समझो जी तुम्हारा
जीवन निश्चित ही खुशियों से भर जाएगा यह
मेरा तुमसे वादा है मैं अपने वादों को
पूर्ण रूप से निभाऊंगी

मेरे बच्चे और इसे जानकर तुम्हारे होश उड़
जाएंगे और शायद तुम्हें मेरी बटन पर यकीन
भी ना हो मेरे बच्चे परंतु यह सत्य नहीं
की मैं तुम्हें कुछ देती नहीं या तुम को
कुछ मेरे द्वारा प्राप्त होता नहीं सच या
नहीं

की तुम जो सोचते हो वही तुम्हें प्राप्त
होता है

की तुम जो मांगते हो उसके पीछे कुछ बजा है
उसको जानना तुम्हारे लिए अत्यंत आवश्यक
क्योंकि तुम जो चाहते हो की तुम्हें बैठकर
सब कुछ मिले तो मेरे बच्चे मैं तुम्हें
बता देना चाहती हूं की इस संसार में कर्म
के बिना कुछ भी संभव नहीं

तुम मांगते तो हो लेकिन उसके लिए पूर्व
प्रयास नहीं करते अधूरा किया गया प्रयास
तुम्हें वहां तक नहीं पहुंच सकता तुम्हारी
अधूरी इच्छा को पूर्ण करने की शक्ति नहीं
रखना अधूरा कार्य अधूरे शक्ति रखना है
इसलिए जब भी कोई बड़ी मंजिल तुम्हें

प्राप्त करनी हो या कोई बहुत बड़ा मुकाम
हासिल करना हो तो उसे बड़े मुकाम के लिए
तुम्हें कार्य भी बड़े-बड़े करने होंगे
तुम सांस बैठकर यही सोचते रहोगे तो
तुम्हें कुछ भी प्राप्त नहीं होगा

यह संसार में भीख मांग कर कुछ प्राप्त
नहीं किया जा सकता मेरे बच्चे बल्कि साहस
हिम्मत रखो और अपने आप को ताकतवर समझकर
महसूस करो की तुम्हारे साथ एक शक्ति है
तुम किसी भी कार्य को कर गुजरते में उसकी
सहायता ले रहे हो

और उसकी सहायता से तुम कुछ भी कर लोग जो
तुम चाहते हो यदि तुमने इस शक्ति को समझ
लिया तो तुमने मुझे समझ लिया
मैं तुम्हारे साथ हूं

यदि तुम विश्वास से भरे हुए हो और तुम्हें
ऐसा ग रहा है की कोई तुम्हारे साथ नहीं है
तो सच यही है मेरे बच्चे तुम्हारे साथ कोई
नहीं है क्योंकि सब कुछ तुम्हारे हृदय पर
निर्भर करता है तुम्हारा हृदय क्या महसूस
करता है

अगर तुम्हारे हृदय के अंदर
नकारात्मकता भारी हुई है तो फिर तुम्हें
अपने हृदय में एक शक्ति को विराजमान करने
के लिए मेट्रो का नहीं साफ दिल का होना
बहुत जरूरी है लोगों की भलाई करना बहुत
जरूरी है सबके लिए अच्छा सोचना जरूरी है

सबका आधार सम्मान करना जरूरी है उसे तरह
के महकते हुए फूल की तरह बन जो जो कोमल
होता है और सबको अपने खुशबू से महकता है
और सब तुम्हारे करीब आना चाहे ना की
कांटों की तरह जो लोग कांटों से दूर रहना
चाहते हैं

क्योंकि जब तक तुम्हारे पास कोई शक्ति
रहेगी तब तक जीवन में तुम्हें सही मार्ग
दिखाई रहेगी तुम्हारे पूरे शरीर पर उसका
अधिकार रहेगा सोने समझना की शक्ति प्रबल
रहेगी जीवन में खुशियां तक प्राप्त होती
हैं जब तुम्हें खुशी का आभास होता है

तब नहीं जब तुम्हें सब कुछ मिलता है लेकिन
फिर भी तुम किसी और इच्छा के लिए उदास
रहते हो बल्कि जब तक तुम्हें जो मिल रहा
है तुम उसमें खुश रहते हो तो स्वयं
तुम्हारे अंदर हर एक शक्ति विराजमान रहती
है

मेरे बच्चे यदि कुछ कमी है तो सिर्फ
तुम्हें पहचान की तुम्हारे जीवन में कोई
भी खुशी तुमसे दूर नहीं रहेगी यदि तुम
केवल हाथ पर हाथ रख कर मेरे बच्चे अब
तुम्हें बिल्कुल भी सहने की आवश्यकता नहीं
जिन्होंने तुम्हें कष्ट पहुंचा है मैं उसे

सबक सिखाऊंगी क्योंकि तुम्हारे भोले
भोलेपन का उन्होंने बहुत फायदा उठाया है
तुम्हें भले ही उनके कर्मों को पहचान नहीं
का रहे और उनके षड्यंत्र को देख नहीं का
रहे हो परंतु मेरे बच्चे मुझे सब पता है
मैं उनके कर्मों को देख रही हूं मैं काली

सबके कर्मों का हिसाब रखती हूं और उनके
कर्मों का हिसाब उन्हें निश्चित ही
प्राप्त होगा लेकिन उससे पहले मैं तुम्हें
सावधान करना चाहती हूं क्योंकि मैं नहीं
चाहती हूं की मेरे बच्चे को कोई धोखा दे

और उसके जीवन को गलत मार्ग पर ले जाए
इसलिए मेरे बच्चे तुम उसके षड्यंत्र को
समझना की कोशिश करो यदि तुम्हें समझ में
नहीं ए रहा है तो मैं तुम्हें बताती हूं

वह व्यक्ति जरूर से ज्यादा मीठी बनी बोलने
वाला है जब भी तुम किसी नए कार्य को
प्रारंभ करते हो तो वह उसमें जरूर रुकावट
पैदा करता है तुम्हें दूसरी दिशा दिखाने
की कोशिश करता है क्योंकि वह नहीं चाहता

की तुम्हारा कोई भी चुनाव हुआ कार्य बने
और तुम ऊंचाइयों को ना छुओ इसलिए वह
तुम्हारे हर मार्ग में रुकावट करता है
इसके साथ ही वह तुम्हारी हर बटन को उल्टी
दिशा में ले जाएगा इसलिए तुम्हें याद रखना

है तुम्हारा जो मुझमें पर इतना विश्वास है
तुम्हारे अच्छे कर्म करने से मैं तुम पर
मेहरबान हो जाति हूं और तुम्हारा साथी
बनकर तुम्हारी रक्षा करती हूं यदि तुम सही
समझते हो एक बात और ध्यान रखो वह तुम्हारे
दुखों से खुश होता है जी किसी के चेहरे पर
मुस्कान आई है तो तुम समझ लेना की वही

सबसे बड़ा दुश्मन है तुम्हारा ऐसे इंसान
के नजदीक रहना सही नहीं होगा मेरे बच्चे
अपने आप को किसी से कमजोर समझना की गलती
मत करना क्योंकि तुम जो इतने शक्तिशाली
अंदर से हो तुम्हें अपनी शक्ति को स्वयं
पहचान कर किसी को अपने कमजोरी मत बने देना
क्योंकि संसार का नियम है किसी भी इंसान
को कोई दबाता तभी है जब वह स्वयं को कमजोर

समझना है इसके साथ ही तुम्हें हर मंगलवार
को हनुमान चालीसा आप पढ़ना है और अगले 41
दिन तक हनुमान चालीसा प्रतिदिन पढ़ना और
उसके 40 दिन पूरे होने के बाद हर मंगलवार
को हनुमान चालीसा पढ़ने से तुम्हारा

आत्मबल और बाल बुद्धि बढ़नी है जैसे की
तुम्हारी देखने की शक्ति इतनी तरफ हो
जाएगी की तुम किसी के चल को आराम से
पहचाना पाओगे किसी की बटन में तुम नहीं

आओगे इसके साथ ही तुम्हें प्रतिदिन सूर्य
को जल अर्पित करना चाहिए क्योंकि ऐसे
कार्य करने से तुम्हारे आसपास के विद्यमान
सृष्टि आपकी सहायता करेगी क्योंकि मेरे
बच्चे जहां तुम साधारण आंखों से देख नहीं

पाते वही सृष्टि की हर चीज में विराजमान
हो और किसी भी व्यक्ति के रूप में आकर
तुम्हारी सहायता करूंगी तुम्हारे उलझे हुए
मार्ग को उलझा दूंगी और मिलने वाली
परेशानियां बच्चा लूंगी मेरे बच्चे तुम

अपने हृदय से इस बात को निकाल दो की जीवन
में कठिनाइयां तुम्हारी गलतियां की वजह से
आई हैं इसके साथ-साथ मैं तुम्हें यह
विश्वास दिलाती हूं की जो तुम्हारे साथ
गलत कर रहा है मैं उसके जीवन की किया पलट
कर दूंगी उसके किया हुए कर्मों का दंड

अवश्य दूंगी तभी उसे अपनी गलतियां का
एहसास होगा की उसमें तुम्हें जो धोखा दिया
है तुम्हारे साथ जो गलत किया है उसका
परिणाम उसे भुगतना ही होगा छोटी गलतियां
की माफी भी तुम्हें मिलती रहेगी लेकिन कोई
बड़ी गलती करता है तो उसे दंड देना ही

पड़ता है जी प्रकार की यदि छोटी-मोटी चोट
होती है तो वह पट्टी से ही ठीक हो जाति है
परंतु वह कहानी बड़ा होता है तो उसका इलाज
करवाना पड़ता है आज से ही तुम खुशियों के
नए मार्ग में प्रवेश कर चुके हो मेरे

बच्चे तुम्हें बहुत जल्दी सफलता की प्रताप
होगी तुम हमेशा से दूसरों के लिए कार्य
किया है अपनों की खुशी के लिए अपने ही
खुशी का बलिदान किया है सभी के समक्ष
मुस्कुराते हुए भी अंदर ही अंदर आंसुओं के

घट दिए हैं मेरे बच्चे कुछ भी नहीं छिपा
है मेरे बच्चे मैं तुमसे जानना चाहती हूं
तुम्हें साहस कहां से लाया इसके बाद भी
तुम्हारे अपनों ने भी कभी तुम्हारी अहमियत
को नहीं समझा जब जब तुमने सत्य और धर्म को
चुनाव है तब तक तुम्हारे अपनों से दूर

होने लगा है और निकॉन अनेक चुनौतियां का
सामना तुम करते चले गए कभी गियर तो कभी
संभाले कभी बहुत मुस्कुराया तो कभी
मुस्कुराने के पीछे आंसू को छुपा लिया
परंतु मुझे तो कभी भी नहीं छुपा सकते हो
मुझे भी तुम्हारा दर्द महसूस होता है है

मेरे बच्चे तुम्हारे साइन में जो छुपा
दर्द है और जो प्रेम है वह दोनों ही मैं
महसूस करती हूं इसलिए आज मैं यह आशीर्वाद
देना चाहती हूं की तुम सफल हो गए तुम्हारी
जीत निश्चित है लाख चुनौतियां तुम्हारे
समक्ष क्यों ना ए खड़ी हो जाए परंतु तुम
उन सबको गिरते हुए सफल होंगे मेरे बच्चे
तुम्हें शीघ्र ही अत्यंत सुखद समाचार

मिलेगा परम स्वभाग्य प्रारंभ हो जाएगा
मेरे बच्चे केवल एक बात स्मरण रखना
तुम्हारे साथ जो कुछ भी हुआ है वह आपको
यहां तक लाने के लिए बेहद आवश्यक था इसलिए
कभी खुद पर संदेह मत करना मेरे बच्चे
तुम्हें जिन लोगों ने पीड़ा दी है उन

लोगों को धन्यवाद कहो और उन्हें हृदय से
क्षमा कर दो तुम्हें तकलीफ देने वाले को
सजा अवश्य मिलेगी परंतु यदि वह तुम्हें
गिरते नहीं तो आज तुम आकाश में विचारण
करने के काबिल कैसे होते मेरे बच्चे कई
बार चुनौतियां पुण्य आत्माओं के लिए वरदान
सिद्ध हो जाति हैं क्योंकि तुम भी पुण्य
आत्माओं में से एक हो मेरे बच्चे तुम्हारे
जीवन में सब कुछ अचानक बदलने वाला है
तुम्हारी बरसों की मनोकामनाएं पुरी होने
वाली है जिसे पूरा होने की उम्मीद तुम
छोड़ चुके थे बहुत चल सच होने वाला है
तुम्हारा जीवन इस आने वाले बदलाव से हमेशा
के लिए बादल जाएगा मेरे बच्चे यह सब कुछ
एक एक नहीं हुआ है तुम स्वयं नहीं जानते
की तुम्हारे प्रार्थनाओं में कितनी शक्ति
है तुम्हारा प्रेम भाव कितना प्रभावशाली
है तुम्हारी इसी सच्चाई और प्रेम की शक्ति
के करण तुम्हें यह प्राप्त होगा किंतु
बच्चे इस उपहार को प्राप्त करके तुम्हें
यहां पर मत रुक जाना तुम्हें आगे जाना है
परंतु अधिकतर बच्चे जैसे ही अपने उपहार को
पाते हैं वह इस में को जाते हैं वह इस बात
को भूल जाते हैं की यह बस एक जीत है जो
केवल उन्हें प्रसन्नता प्रधान करती है
किंतु उन्हें यह कई पड़ा पर करने हैं और
उसे अंतिम पड़ाव तक दूसरों को भी ले जाना
है मेरे बच्चे आज मैं तुम्हें आशीर्वाद
रूपी एक ऊर्जा भेज रही हूं जो तुम्हारे
आंतरिक शक्तियों से जोड़ने में तुम्हें
सहायता करेगी मेरे बच्चे क्या तुम मुझे एक
वचन डॉग तुम इस यात्रा में कभी रुकोगे
नहीं और दूसरों को भी प्रेरित कर उसे परम
प्रकाश की और ले जाओगे यदि तुम्हें मुझमें
पर विश्वास है तो अपने उपहार को स्वीकार
करो साथ ही इस संकल्प से अपनी भक्ति में
वृद्धि करो मेरे बच्चे मैंने तुम्हारा
विजय तिलक तैयार कर लिया है तुम्हारा सदैव
कल्याण हो मेरे बच्चे मेरे अगले संदेश की
प्रतीक्षा करना मैं जल्द ही मिलने आऊंगी
तुमसे ओम नमः शिवाय जय मां काली

Leave a Comment