ये वीडियो तुम्हें मिला तो तुम भाग्यशाली हो

मेरे बच्चे मैं आज तुमसे बहुत प्रश्न हूं
और मैं तुम्हें कुछ खास बात बताना चाहती
हूं जिन बटन को आज तक मैं तुमसे चपाती रही
तुम्हें कभी बताया नहीं क्योंकि उन बटन को
जन का समय अब ए चुका है और उसका करण केवल

यह है की तुमने वह एक ऐसा कार्य किया है
जिसको करके तुमने मेरे दिल को बहुत प्रश्न
किया है इसी करण मैं तुम्हें उसे बात को
बताना चाहती हूं जिसे जन के बाद तुम्हें
आश्चर्य होगा लेकिन तुम्हारी आंखें खली र

जाएगी किस चिंता में पड़े हुए हो सब चिटा
को छोड़ दो इस बात का ध्यान रखो मेरे
बच्चे जी प्रकार तुम्हारी जन्म देने वाली
मां तुमसे कुछ नहीं चपाती इस प्रकार मैं
भी तुम्हारी मां होते हुए तुमसे कुछ नहीं

छुपाना चाहती और आज तो मैं वैसे ही बहुत
ज्यादा प्रश्न हूं तो मैं कुछ तुमसे
छुपाना नहीं बल्कि तुम्हें ऐसा कुछ बताना
चाहती हूं जो आज तक कभी बता नहीं साकी
मेरा बच्चा इतना नादान और भोला है की मेरे
बिना कहे कुछ बटन को समझ नहीं पाएगा इसलिए
आज मुझे कुछ बातें

क्योंकि यदि तुम ध्यान से नहीं सनोज तो
तुम्हें बातें समझ में नहीं आएंगे और
तुम्हें लगेगा की पता नहीं मैंने तुम्हें
क्या बताया है उसमें जो बताया है वह कुछ
खास नहीं है ऐसा आभास होगा इसलिए मैं

तुम्हें स्पष्ट रूप से इस बात को बता देना
चाहती हूं की हर इंसान के अंदर
एक अच्छाई होती है और किसी इंसान के अंदर
एक ऐसा गन होता है इंसान तो क्या ईश्वर को
भी प्रश्न कर देता है और वही गुड तुम्हारे
पास है और वह गुड है तुम्हारा सच बोलना
तुम सदैव तो सच बोलते हो उसे बात से मैं
बहुत ज्यादा प्रश्न हूं और अब समय ए गया
तुमको बहुत जल्दी ही तुम्हारी एक ऐसे
व्यक्ति से मुलाकात होने वाली है जो

तुम्हें तुम्हारी आर्थिक मदद करने वाला है
तुम्हारी इस स्थिति से उभरते के लिए वह
तुम्हें सहायता

मिलेगा वह इंसान तुम्हारे परिवार का सदस्य
भी हो सकता है वह तुम्हारे खानदान का
सदस्य हो सकता है वह तुम्हारा मित्र भी हो
सकता है वह तुम्हारा कोई
निजी व्यक्त तुम्हें तुम्हारी सहायता करने

से पीछे नहीं हटेगा
और तुम्हारी सहायता करके तुम्हें मदद
करेगा क्योंकि मेरे बच्चे तुम भी तो अपने
माता-पिता के बहुत आजा मानते हो अपने माता
पिता को बहुत खुश रखते हो तो दुनिया में
जो इंसान दूसरों के साथ खुशियां बताते हैं

उन्हें हर चीज जल्दी ही प्राप्त होती है
जो दूसरों के दुख में दुखी होना जानता है
उसकी परेशानी ज्यादा पास नहीं आई एक ऐसा
बुद्धिमान व्यक्ति जो यह समझ लेट है की
दुख और सुख का हिसाब क्या कोसों दूर राहत
है परेशानी से उसके जीवन में आई नहीं है

और जो की अंधेरों में घूमता राहत है जिसके
अंदर सुख दुख ज्ञान नहीं होता वह भड़काने
में ही र जाता है ना तो उसके जीवन में
समस्या खत्म होती हैं और ना ही किया गए

किसी भी कम को करने के पश्चात भी प्रश्न
राहत है केवल दुखी रहना उसका कम होता है
और ऐसे कुछ व्यक्ति हैं जो अपने सुख से
खुश नहीं होते और दूसरों की खुशियों से
दुखी होते हैं इंसान को हर फल अपने कर्मों
के हिसाब से मिलता है क्योंकि कर्म ठीक इस
पेड़ की तरह है जी पेड़ पर फल इस प्रकार

लगता हैं जी तरह का पेड़ होता है यदि किसी
फल का पेड़ होता है तो उसमें मीठे फल लगता
हैं और किसी कड़वी फल के पेड़ में केवल
कड़वे ही लगता हैं जो तुम्हारे लिए
हितकारी है तुम्हारे जीवन को ऊंचाइयों के
शिखर पर ले जाऊंगी मैं फिर आऊंगी तुमसे

मिलने सदा खुश रहो मेरे बच्चे मेरे अगले
संदेश की प्रतीक्षा करना
मेरे बच्चों आज काली मां तुम्हारे दुख और
पीड़ा को सुनकर विवश हो गई है और आज तुमसे
स्वयं धरती पर मिलने ए रहे हैं तो मेरे

बच्चों आज तुम्हारे मां में जितनी भी
शंकाएं हैं और तुम्हारे मां में जो उलझने
हैं उन सब का समाधान मैं करने ए रही हूं
आज तक आज तुमने बहुत बार लोगों से अपने
बड़े में निंदा सनी है और वह सब सुनकर
तुम्हारा मां व्याकुल हो गया

मेरे बच्चे तुम जल्दी करो तुम्हारे हाथों
से यह समय निकाला जा रहा है इस समय को
व्यर्थ की बटन
क्योंकि यह समय तुम्हारे हाथों से निकाल
गया तो तुम्हें पछताना पद सकता है

मेरे बच्चे तुम मेरी इस बात को इस तरह से
समझो की यदि जब लोहा लोहा को गम होने पर
ही हथौड़ी मारता है तभी उसे लोहे का कुछ
बनाया जा सकता है क्योंकि लोहा ग्राम होते
ही पिघलना शुरू हो जाता है
और हम जी आकर में उसे डालना चाहते हैं वह
उसे आकर में दल जाता है इसी प्रकार
तुम्हारे हाथों से कीमती समय जो की तुम
व्यर्थ गवां रहे हो उसे पर तुम्हें विशेष
ध्यान देना चाहिए

तुम्हारे कर्म रूपी हथौड़े को मार कर
तुमने भाग्य रूपी लोहे को पगला लिया है अब
तुम जी तरह से चाहे उसे बना सकते हो
अर्थात भाग्य को परम सौभाग्य में बदलने की
ताकत तुम रखते हो

क्योंकि वह शक्ति तुम्हारे ही एकत्र की
हुई है तुमने जो मुझे इतना प्रश्न किया है
उससे मैं तुम्हें एक विशेष बात बता रही
हूं जीवन में पीछे मुड़कर तुम कभी नहीं
देखो तुमने क्या किया क्या नहीं किया गलत
किया सही किया इससे तुम्हें कुछ भी फर्क
नहीं पादना चाहिए जीवन में

क्योंकि जो गुर्जर चुका है उसे तुम वापस
नहीं ला सकते परंतु जो तुम आगे कर रहे हो
उसे पर भी तुम्हें विशेष ध्यान देना है जो
करना है उसके बड़े में सोचना है जो करना
है वह सही करना है जीवन

यदि तुम आगे सही कर्म करोगे तो तुम्हारा
भाग्य चमक उठेगा इसलिए तुम अपने समय को
व्यर्थ की बटन में ना गवाओ और इस कीमती
समय को हाथों से मत जान दो तुम्हारा हर
पाल निकाल रहा है इसलिए ध्यान दो मेरे
बच्चे इतनी लापरवाही मत करो

मेरे बच्चे जब तुम्हारी परीक्षा का दिन और
समय निश्चित होता है यदि तुम उसे दिन
परीक्षा ना दो और यह तुम परीक्षा के दूसरे
दिन परीक्षा देने जो तो तुम किसी भी
परीक्षा में पास नहीं होगी इसी प्रकार
तुम्हारे किया गए कर्म का फल प्राप्त होने
का निश्चित समय निर्धारित होता है
यदि वह समय तुम्हारे हाथों से निकाल गया

इसलिए तुम्हारा समय शुरू हो चुका है इस फल
को प्राप्त करने का

मेरे बच्चे कल सुबह तुम मेरी पूजा करने
जाओगे तो तुम पान का पत्ता लेकर और
तुम्हारे जो इच्छा अधूरी है उसे बोलते हुए
उसे पेट को मुझे अर्पित कर देना तुम जी
कार्य को काफी समय से कर रहे हो

उसे पूर्ण करने में काफी प्रयास कर चुके
हो उसे कार्य को पूर्ण होने का समय ए चुका
है इसलिए अब तुम्हें रुकना और थकना नहीं
है तुम और तेजी से आगे बढ़ो और अपनी पुरी
ताकत से उसे कार्य को पूर्ण करने के लिए
कोशिश करो

मेरी बटन को ध्यान रखना यह मत भूलो की
तुम्हारा आगे का समय बहुत अच्छा होगा तुम
निश्चित रहो मेरे बच्चे तुमसे मैं बहुत
प्रेम करती हूं और मैं शक्ति बनकर
तुम्हारे हर कार्य को सफल बना दूंगी

तुम्हारे जीवन में एक ऐसी शक्ति उत्पन्न
हो रही है जिससे की मेरा भक्ति जी बात को
अपने मां में बस ले मैं उसके हर इच्छा को
पूर्ण करने के लिए सहायक बन सको कल की
सुबह तुम्हारे भाग्य को उदय करने की सुबह
है बस जीवन में यह बात याद रखना की तुम जो

भी कार्य करो उसे कार्यों से किसी को कोई
नुकसान ना पहुंचे अगर ऐसा हुआ तो तुमने
जितने अच्छे कार्य जीवन में लोगों के लिए
किया होंगे वह सब व्यर्थ चला जाएगा
क्योंकि यह जीवन का नियम है नियम जो जैसा
होता है वैसा ही फल पता है तो आज अगर हम

अपनी वाणी से किसी के लिए बुरे विचारों का
उच्चारण करते हैं तो वही विचार कुछ समय
बाद हमारे लिए भी जरूर आते हैं

जो मनुष्य दूसरों का मजाक उड़कर और उन्हें
हैं भावना से देखते हैं ऐसे मनुष्य कभी भी
जीवन में सफल नहीं हो सकते इसलिए आप ऐसे
व्यक्तियों के बड़े में सोच कर अपने दिल
को परेशान ना करें आपके बड़े में जिसने
जैसी धरना बना राखी है वह हमेशा वैसा ही
रखेगा

आप उसको अपनी लाख कोशिशें के बावजूद बादल
नहीं सकते तो आप अपने जीवन में अपने लिए
खुश रहिए क्योंकि आपका खुश रहना ही आपकी
अंतरात्मा के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि
स्वास्थ्य शरीर और मां में ही प्रभु निवास
करते हैं
तो अपने मां को दूसरों के करण खराब मत
करिए आप ब

स अच्छा सोचिए अच्छा करिए और
मेरे बच्चों जो मेरे नाम का जब करता है
उसके जीवन से वह मुक्त हो जाता है अपने
जीवन में अच्छे और सच्चे लोगों के साथ समय
बीते क्योंकि उनके साथ गुजर समय आपके लिए
बहुत महत्वपूर्ण है

कहा भी गया है अच्छी संगति इंसान को योग्य
बना देती है और बुरी संगति राजा से रंग
बना देती है इसलिए हमेशा अच्छे दोस्त बनाए
और जीवन में अच्छी बातें सिखाएं

मैं चाहती हूं की मेरे सभी बच्चे सबकी
जिंदगी में नए रंग भरने की क्षमता रखें
क्योंकि आपको एक बार ही मानव जीवन मिला है
तो मेरे बच्चों उसका सादुल्योग करें अपने
मुख से कभी भी किसी के लिए बुरी बातें ना
बोले जैसे धनुष से निकाला हुआ
वापस नहीं ए सकता है ऐसे ही हमारे मुख से
निकले हुए वचन कभी वापस नहीं लिए जा सकते
हैं
तो अपने मुख से हमेशा अच्छी वाणी बोली
जिससे की आपका और आपके साथ रहने वाले का
मां खुश रहे मेरे बच्चों कभी भी अपनी
जिंदगी का फैसला गुस्से में मत लेना
क्योंकि गुस्से में लिया हुआ फैसला कभी भी
सही नहीं होता है
इसलिए मुश्किल घड़ी में हमेशा
शांत र कर अपने जीवन के फैसला लीजिए अब जो
भी फैसला लेते हैं वह सोच कर लीजिए की आप
जो भी करने जा रहे हैं उसमें आपका और आपके
परिवार का हिट है
मेरे बच्चे मेरी बात याद रखना मैं सदा
उन्हें के साथ खड़ी होती हूं जो हमेशा
सच्चाई और अहिंसा के रास्ते पर चलते हैं
और सदा अपनी सोच सकारात्मक रखना क्योंकि
नकारात्मक सोच रखना से कभी भी आप सही
रास्ते पर नहीं चल सकते
अब मेरे बच्चे तुमसे आजा लेने का समय ए
गया है मैं महसूस कर रही हूं की जो भी
मैंने आज तुमको सिखाया है वह सब तुम अपने
जीवन में अपना लोग
मेरे अगले संदेश की प्रतीक्षा करना मैं
फिर आऊंगी तुमसे मिलने तुम्हारा कल्याण हो
ओम नमः शिवाय
[संगीत]

Leave a Comment