वह तुम्हें खूब नाचा रहा है वह तुम्हारा जीवन बर्बाद कर रहा है

मेरे बच्चे वैसे तो तुम्हारे बहुत सारे

शत्रु हैं जो तुम्हारा बुरा चाहते हैं

परंतु क्या तुम जानते हो कि तुम्हारा सबसे

बड़ा शत्रु कौन है जो री तरक्की में बाधा

बन रहा है जो तुम्हें आगे बढ़ने रोक रहा

है अपने सुख के लिए रे जीवन का नाश कर रहा

है मेरे बच्चे उसके विषय में जानकर

तुम्हें हैरानी होगी किंतु वह तुम्हारे

भीतर ही छुपा है वह तुम्हारा मन है मेरे

बच्चे तुम्हारा मन तुम्हें अपनी मर्जी से

नचा रहा है क्या तुम जानते हो कि तुम

अत्यंत बुद्धिमान और चतुर हो यदि तुमने

अपने ज्ञान अपनी

बुद्धि का प्रयोग किया होता अपनी आत्मा की

आवाज सुना होता तो आज तुम्हारे जीवन की

परिभाषा कुछ और होती किंतु तुमने अपने मन

की सुनी जब भी तुमने कोई ऐसा कार्य चुना

जिसमें तुम्हें मानसिक या शारीरिक कष्ट

हुआ तुम्हारे मन ने तुम्हें वह कार्य करने

से रोक दिया क्योंकि मन आनंद चाहता है सुख

चाहता है आराम चाहता है परंतु यदि जीवन

में बहुत आगे निकलना है अपने सपनों को

पूरा करना है तो शरीर को कष्ट देना पड़ता

है सुख का त्याग करना पड़ता है कठिन

परिश्रम करना पड़ता है ठीक उसी प्रकार

जैसे सोने को चमकने के लिए से आग में

तपना पड़ता है मेरे बच्चे कोई सरल सा

रास्ता ढूंढने के फेर में तुम बहुत पीछे

रह गए बहुत कुछ खो दिया तुमने समय ने

तुम्हें बहुत

परेशान क्या परंतु प्रसन्नता की बात यह है

कि देर से ही सी परंतु तुमने अपने मन को

वश में करना सीख लिया तुमने यह जान लिया

कि बिना कठिन संघर्ष के जीवन में कुछ भी

प्राप्त नहीं होता मेरे बच्चे तुम्हारे

जीवन में अब अच्छे बदलाव आ रहे हैं

तुम्हारे मन रूपी शत्रु का नाश हो रहा है

तुम प्रगति के बहुत निकट आ गए हो मेरे

बच्चे अगले दिनों में तुम्हें बहुत

बड़ी खुशखबरी मिलेगी धन अर्जित करने का एक

स्रोत मिलेगा हालांकि यह कोई बहुत बड़ी

सफलता नहीं होगी परंतु यही वह माध्यम है

जो तुम्हारी सफलता के द्वार खोल देगा

यदि तुमने विवेक से काम लिया तो तुम अपना

सपना पूर्ण कर सकते हो मेरे बच्चे

तुम्हारे जीवन के संकट अभी समाप्त नहीं

हुए हैं तुमने अपने मन पर विजय प्राप्त कर

ली है किंतु कुछ तुम्हारे शत्रु भी

षड्यंत्र कर रहे हैं उनका उद्देश्य भी

तुम्हें नीचे गिराना है आज इस संदेश के

माध्यम से मैं तुमसे उस घटना का रहस बताने

आई हूं जो बहुत जल्द तुम्हारे जीवन में

घटने वाली है मेरे बच्चे तुमने जीवन की

सही दिशा पकड़ ली है बहुत सारे बदलाव

तुम्हारे व्यवहार में तुम्हारे चरित्र में

आ रहे हैं जिसे देखकर तुम्हारे मित्र

तुम्हारा

शत रु सभी अचंभित है इसलिए तुम्हारे सभी

शत्रु एकजुट हो गए हैं वह बहुत गहरी नीति

बना रहे हैं तुम्हें बर्बाद करने की किंतु

यह चिंता का विषय नहीं है है क्योंकि अब

तुम इतने सक्षम और समझदार हो कि तुम्हें

रोकना या किसी नीति में फंसाना असंभव है

परंतु तुम्हें बहुत सावधान रहना है

क्योंकि इस बार प्रेम या मित्र के रूप में

कोई तुम्हें नीचा दिखाना चाहेगा और वह

तुम्हारे जीवन में प्रवेश करने ही वाला है

या कर चुका है वह व्यक्ति तुम्हें इतना

प्रिय हो कि तुम उसकी बातों में उलट जाओगे

वह जानता है कि तुम बहुत भावुक हो

तुम हारी इसी कमजोरी का वह फायदा उठाएगा

तुम्हें आगे बढ़ने से रोकेगा किंतु मेरे

बच्चे मेरी बात ध्यान से सुनो तुमने अपना

बहुत समय बर्बाद कर दिया अब तुम्हें अपना

एक-एक कदम बहुत सोच समझकर आगे बढ़ कोई

तुम्हारे लिए कितना भी महत्त्वपूर्ण हो

किसी के लिए भी अपनी खुशियों का त्याग मत

करना किसी की प्रसन्नता के लिए अपना समय

व्यर्थ मत करना किसी को समय देने के लिए

अपने करियर के साथ खिलवाड़ म मत करना हो

सकता है तुम्हारे कुछ संबंध बिगड़ जाए कोई

बहुत करीबी तुमसे रूठ जाए परंतु तुम अपनी

भावनाएं अपने जज्बातों को

काबू में खना अपने प्रेम को अपने दर्द को

अनदेखा करके अपने करियर पर अपना ध्यान

केंद्रित करना भरोसा रखो जिस दिन तुम्हें

सफलता मिलेगी सभी टूटे रिश्ते जुड़ने

लगेंगे और तुम्हें वह खुशी वह इज्जत वह

प्रेम मिलेगा जिसके तुम हकदार हो खुश रहो

सतर्क रहो मेरा आशीर्वाद तुम्हारे साथ है

तुम्हारा कल्याण हो सच्चे मन से कहो जय

महाकाली

Leave a Comment