वह दिव्य समय आ गया है जिसकी प्रतिक्षा तुम बेसब्री से कर रहे थे

मेरे प्रिय बच्चे तुम्हारे हृदय की सतह को स्पर्श कर रही आनंद की तरंगे प्रमाण है कि तुम ब्रह्मांड की ऊर्जा से वास्तव में वही तो

ब्रह्मांड में घटित हो रहा है और जो ब्रह्मांड घटित हो रहा है वही दिव्य आत्माओं के हृदय में तरंग बानो भाव होता है वह दिव्या समय

आ रहा है जिसकी प्रतिक्षा तुम बेसब्री से कर रहे थे ओल्स मेरी खबर तुम्हारे जीवन में प्रवेश कर रही है संभव है तुमसे मिलेगी जिसकी आगमन से तुम्हारे जीवन में आनंद सुख और समृद्धि बढ़ जाए कि मेरे प्रिय सरस्वती में महसूस कर रहे हो जागते हुए

आध्यात्मिक अनुभव कर रहे हो जिस प्रकार बहुमूल्य रत्न के प्रकाश को जा सकता चाहे कितना ही अंधकार हो या प्रकाश रत्न अपना प्रकाश फिर भी उसे छुपाया नहीं जा सकता उसे प्रकार आध्यात्मिक व्यक्ति के जीवन में जो भी अनुभव होते हैं वह जागते हुए हो या

सोते हुए समान होते हैं बल्कि नींद में प्राप्त हुए अनुभव बहुमूल्य है क्योंकि उसे अवस्था में व्यक्ति डे के बंधनों से मुक्त स्वरूप में आने का ग्रहण करो एक अस्तर को पार कर चुके हो ऊंचाई को चढ़ चुके हो अब कुछ प्राप्त करने का समय आ गया है

Leave a Comment