वह मूर्ख तुमसे जलता है

मेरे बच्चे तुम्हें मेरा संदेश प्राप्त होना कोई आम बात नहीं बल्कि मैं तुम्हारी मां तुम्हें एक ऐसी बात से अवगत कराना मेरे बच्चे जब हम

किसी को अपना मानते हैं और वह हमारे साथ चल करें हमें नीचा दिखाने की कोशिश करें तू मन को किंतु सत्य को झूठ लाया भी तो

नहीं जा सकता सत्य स्वीकार करके सावधानी नहीं बढ़ती गई तो भविष्य में तुम किसी बड़े संकट में पढ़ सकते हो इसलिए आज मेरी

बात को ध्यान से सुना मेरे बच्चे अभी तक तुमने कोई बड़ी सफलता प्राप्त नहीं किया है अपने कार्यों में रुचि दिखा रहे हो अपना हर कार्य निश्चित समय पर पूर्ण करने का प्रयास कर रहे हो से ग्राही तुम मेरे बच्चे तुम्हारा अपने कार्य के प्रति लगा और दिनचर्या देखकर

लोग तुमसे भयभीत हो रहे हैं उन्हें इस बात की चिंता सता रही है की एक दिन तुम आगे जाने वाले हम अपनी ईर्ष्या अपने मूर्खता का प्रमाण देते हुए षड्यंत्र में लग गए हैं

Leave a Comment