विकराल विनाश छाएगा लेकिन तुम्हारी जीत होगी 1111urgent archangel message 💌 भूलकर भी इग्नोर ना करे

मेरे प्रिय बच्चे तुम्हारे जीवन में जो

चीजें अभी असंभव लग रही हैं उन चीजों को

ही संभव बनाने के लिए एक बहुत बड़ी योजना

रचाई जा रही है यह योजना विभिन्न विचार

मंथन के

बाद प्रकाश में आई है और अब तक तुम जिस

तरह के जीवन का अनुभव कर रहे थे यह एक

प्रक्रिया का हिस्सा थी अब तुम इस

प्रक्रिया से बाहर निकालने का

प्रयत्न प्रारंभ हो गया है अब तुम उन

दुविधा उन समस्याओं से बाहर आने वाले हो

जिसने अब तक तुम्हारे जीवन को घेर रखा था

एक वजह थी जिसके कारण तुम फंसे हुए थे

लेकिन अब उस वजह को मिटाने का ही प्रयत्न

किया जा रहा है मेरे प्रिय

बच्चे मैं जानता हूं कि तुम्हारे मन में

कैसे-कैसे विचार उत्पन्न हो रहे हैं और

किस तरह के लोगों से तुम्हारे संपर्क में

आने पर तुम्हारे मन को

नकारात्मकता से भर दिया जा रहा है लेकिन

मैं तुम्हें अस्वस्थ करना चाहता हूं कि अब

तुम्हारे जीवन से उन सभी लोगों को दूर

किया जा रहा है जो तुम्हारे जीवन में कोई

मूल्य नहीं रखते जो तुम्हारे जीवन को पीछ

ढ केलने के प्रयास में लगे हुए हैं और इस

वजह से तुम पर दिव्य आशीर्वाद की वर्षा की

जा रही है वह घड़ी दूर नहीं जब तुम दिव्य

आशीर्वाद से भर चुके होगे और उस घड़ी को

अपने जीवन में आकर्षित करने के लिए ही तुम

तक यह संदेश पहुंचाया जा रहा है मेरे

प्रिय आज का यह संदेश तुम्हारे लिए अत्यंत

आवश्यक है इसे हर हाल में पूरा सुनो किसी

भी हाल में इसे बीच में छोड़कर जाने की

भूल ना

करो वो सभी लोग जो तुम्हें नीचे गिरे आने

के प्रयास में लगे हुए हैं वह अपने

लिए बुरे कर्मों का निर्माण कर रहे

हैं

लेकिन तुम्हारे साथ कुछ ऐसा होने वाला है

जिससे हर कोई स्तब्ध रह जाएगा तुम्हारा मन

भी विभिन्न प्रकार के आश्चर्य से

भरकर पूरी तरह से स्तब्ध रह जाएगा हैरानी

तुम्हें चारों ओर

से घेर लेगी मेरे प्रिय मैं जानता हूं कि

तुम अपने जीवन में किस तरह के विचार रखते

हो और किस तरह के लोगों से दूर हटना चाहते

हो

वह जिनसे तुम कहना तो बहुत कुछ चाहते

हो लेकिन तुम उनके मुंह पर कुछ कह नहीं

पाते क्योंकि कहीं ना कहीं तुम्हारे मन

को बहुत तरह का भय खाए जा रहा

है

अब मैं तुम्हें उस भय से दूर हटाने आया

हूं उन लोगों को तुम्हारे जीवन से दूर

हटाने आया हूं जो तुम्हारे भय का कारण बने

बैठे हैं मैं उन सभी को तुम्हारे जीवन से

अलग कर

दूंगा और शायद तुम्हें

अभी इसका ज्ञान नहीं लेकिन उनका

तुम्हारे जीवन से अलग होना अत्यंत आवश्यक

है नियति

के फैसलों पर कभी संदेह नहीं किया करते और

जो

मनुष्य ब्रह्मांड के फैसले पर संदेह करता

है वह वास्तव में अपने लिए ही गड्ढे खोद

रहा होता है वह स्वयं से स्वयं के पांव पर

ही कुल्हाड़ी दे मारता

है इसलिए

मैं चाहता हूं कि तुम बेवजह के झंझा बातों

में ना

फसो किसी के द्वारा कही गई बातों को अपने

दिल पर ना लगाओ लोग जलन के कारण अहंकार और

ईर्ष्या से भरे हुए होते हैं और

वह तुम्हें नीचे गिराने के लिए बहुत सी

साजिश रस्ते

हैं लेकिन

तुम्हें उन साजिशों का शिकार नहीं नहीं

होना है तुम्हें उनके द्वारा चढ़ाए जाने

पर चढ़ना नहीं है

लोग बहुत सारी चीजें कर रहे हैं जिससे

तुम्हारा पतन हो

सके जिसे तुम हार मान जाओ लेकिन वह इसमें

सफल नहीं हो पा रहे

हैं किंतु अब यह भी समय आ गया है कि तुम

उनके असली रूप को देखो तुम यह पहचान सको

कि वह तुम्हारे खिलाफ षड्यंत्र रच रहे हैं

मेरे प्रिय बच्चे जो लोग तुम्हारे खिलाफ

षड्यंत्र रच रहे

हैं उन्हें उनके कर्मों का फल अवश्य

मिलेगा

लेकिन

तुम्हें होशियारी दिखानी होगी तुम्हें

स्वयं से ही सचेत रहना होगा कुछ बातों को

नजरअंदाज करना होगा कुछ लोगों को अनदेखा

करना होगा और पूरी तरह से अपना पूरा ध्यान

उन व्यक्तियों पर लगाना होगा जो वास्तव

में तुमसे प्रेम करते हैं जो यह चाहते हैं

कि तुम जीवन में प्रगति करो तुम जीवन में

आगे

बढ़ो जो तुमसे जुड़े हुए हैं जो तुम्हें

जीतते हुए देखना चाहते हैं तुम अपना जीवन

उनके लिए लगाओ ना कि उनके लिए जो तुम्हारे

जीवन में कोई मूल्य नहीं रखते मेरे प्रिय

जब तुम उन लोगों के लिए अपना जीवन बर्बाद

करते हो जो तुम्हारे लिए मूल्य नहीं रखते

और उनकी चाटुकारिता करते हो केवल इस कारण

कि वह तुमसे रुष्ट ना हो जाए तो तुम स्वयं

से ही अपने जीवन का गला घोट रहे होते

हो और जब मैं तुम्हें कभी भी ऐसी किसी भी

क्रिया में लिप्त देखता हूं तो मैं स्वयं

ही उदास हो जाता हूं मैं हैरान रह जाता

हूं कि तुम

जैसा प्रिय मनुष्य ऐसा कैसे कर सकता

है तुम वास्तव में बहुत समझदार हो बहुत

होशियार हो तुम यदि अपनी चालाकी का प्रयोग

स्वयं को आगे ले जाने में

करो स्वयं को आगे बढ़ाने में करो तो तुम

इतनी तरक्की पा सकते

हो जिसकी तुम कल्पना भी नहीं कर

सकते मैं जानता हूं कि तुम दूसरों को

हराने के लिए कभी भी चतुराई का प्रयोग

नहीं करते हो लेकिन कई बार तुम्हें अपनी

चतुराई का प्रयोग दूसरों को हराने के लिए

करना ही पड़ता है और उन छड़ों में तुम हार

मत मानो यदि ऐसा कभी करना पड़े तो नि

संदेह नहीं संकोच ऐसा कर

डालो कई बार नियति स्वयं यह मांग करती है

कि मनुष्य अपनी जिम्मेदारी उठाए अपने

पैरों पर स्वयं को खड़ा

करें मेरे प्रिय

बच्चे वो जो नहीं चाहते कि तुम आगे बढ़ो

वह तुम्हारी प्रगति से जलेंगे निश्चित तौर

पर वह जलते रहेंगे

लेकिन तुम्हें उनका विचार ही नहीं करना है

जो जल रहा है उसे ऐसे ही जलने दो ना केवल

ऐसे बल्कि मैं तो तुम्हें अब इतनी प्रगति

दिलाऊंगा कि जो जल रहे हैं वो और भी

ज्यादा मात्रा में जले

वास्तव में वो स्वयं पर पछताएंगे कि

आखिर वह तुमसे इतनी नफरत क्यों करते हैं

वह चाहकर भी अपने आप को रोक नहीं पाएंगे

जिन्होंने अपने सूर्य को कमजोर कर लिया है

जिनका शुक्र कमजोर है जिनके ग्रह नक्षत्र

उनका साथ नहीं दे रहे हैं उनके साथ ऐसी

घटनाएं घटती हैं लेकिन तुम्हें उन

अनावश्यक लोगों का विचार करना ही नहीं है

उन अनावश्यक लोगों के लिए कोई भी कार्य

करना ही नहीं है तुम्हारा तो पूरा ध्यान

अपने जीवन अपने जीवन साथी और अपने जीवन को

चलाने वाले तुमसे प्रेम करने वाले लोगों

पर ही होना

चाहिए हर कोई जो तुमसे जुड़ा है जो तुमसे

वास्तविक प्रेम करता है तुम्हारा जीवन

उनको समर्पित होना चाहिए और तुम्हारा

समर्पण मेरे प्रति होना चाहिए जो

अपनों के लिए समर्पित होकर मेरे प्रति

अपना समर्पण दर्शाता है मैं उसकी प्रगति

हर हाल में सुनिश्चित कर देता हूं

तुम्हारी भी प्रगति को मैंने सुनिश्चित कर

ही दिया है कोई तुमसे तुम्हारी तरक्की को

छीन नहीं सकता है इसे तुमसे दूर किया ही

नहीं जा सकता है तो फिर तुम भला यह क्यों

सोचते हो कि कोई तुमसे तुम्हारी जीत छीन

लेगा इस संसार में कोई भी ऐ उत्पन्न नहीं

हुआ है जो तुमसे तुम्हारी जीत को छीन सके

जब तक तुम पर मेरा हाथ है तुम श्रेष्ठता

को प्राप्त होते रहोगे तुम जीत को प्राप्त

होते रहोगे मेरे प्रिय बच्चे अनावश्यक

लोगों के द्वारा कही गई बातों को अपने दिल

पर लेकर अपने हानि करने का जरा भी लाभ

नहीं है तुम किसी की भी बात को अपने दिल

पर ना लगाया

करो बल्कि अपना पूरा ध्यान अपनी पूरी

जागृति इस बात पर लगाओ कि तुम कितनी

तरक्की पा सकते हो यह तुम्हारे लिए आवश्यक

है मेरे प्रिय एक बात सदा याद रखना तुम इस

संसार में जो बाटो बदले में वही पाओगे

चाहे धन हो प्रेम हो त्याग हो समर्पण हो

ईर्ष्या हो या द्वेष हो या फिर नफरत हो

इसलिए क्या बांटना है इसका चुनाव बहुत सोच

समझकर करना तुम मेरे प्रति भी जो बांटते

हो बदले में वही प्राप्त करते हो इस बात

को कभी भूलना

मत और इसके साथ ही य हमेशा याद रखना कि

भले ही संसार में हर कोई तुम्हारे खिलाफ

हो जाए मैं सदैव तुम्हारा साथ देता रहूंगा

तुम्हारे साथ खड़ा रहूंगा विभिन्न रूपों

में तुम्हारे आसपास ही रहूंगा

मैं ब्रह्मांड की सर्वोच्च शक्ति

को तुम्हारी सहायता में लगा

दूंगा क्योंकि यह तुम्हारी नियती है और

तुम्हारी नियती को बदलने का कार्य कोई भी

नहीं कर

सकता मेरे आने वाले संदेशों की अवश्य

प्रतीक्षा

करना ऐसा करना तुम्हारे लिए आवश्यक है

क्योंकि मैं फिर आऊंगा तुम्हारा मार्ग

दर्शन करने तुम्हें जीत के राह पर ले जाने

के लिए मेरे प्रिय

बच्चे तुम्हारा इस जगत में कल्याण होगा

सदा सुखी रहो तुम्हारा उद्धार हो

तुम्हारा कल्याण

हो

वास्तविक प्रगति

हो

मेरे प्रिय

बच्चे स्वर्ग से एक विशेष संदेश तुम्हारे

लिए आया है आज तुम्हें बहुत बड़ा वरदान

प्राप्त होने वाला है यह वरदान तुम्हारी

जीत सुनिश्चित करने आया है तुम अब तक

निराशा के जिन बादलों से घिरे हुए थे उसे

समाप्त कर बुलंदियों की नई सीढ़ियों पर

पहुंचाने आज तुम्हें यह दिव्य संदेश मिल

रहा है यह सिद्ध करता है कि यह संदेश केवल

तुम्हारे लिए ही बना हुआ था ब्रह्मांड में

रचित यह संदेश केवल पुण्य आत्मा को

प्राप्त होगा ऐसी इसकी नियति थी और आज जब

यह तुम्हें मिल रहा है तो यह सुनिश्चित हो

गया है कि तुम निश्चित तौर पर एक दिव्य

पुण्य आत्मा हो और यही कारण है कि तुम्हें

हर हाल में संदेश को पूरा अंत तक सुनना है

चाहे परिस्थिति कैसी भी हो तुम्हें इसे

बीच में छोड़कर जाने की भूल नहीं करनी है

अन्यथा यह वरदान तुम्हें प्राप्त ना हो

सकेगा और तुम जीवन के बहुत बड़े चीज से

वंचित रह जाओगे मेरे प्रिय तुम्हें अपने

लक्ष्य को एक बार फिर से देखना होगा अपना

ध्यान केंद्रित करना होगा क्या तुम्हारे

लिए आवश्यक है उन शर्तों को समझना

होगा अब तुम्हारे लिए विशाल द्वार खुल रहा

है उस द्वार के दूसरी तरफ इतनी बड़ी सफलता

तुम्हारी प्रतीक्षा में है कि तुम सोच भी

नहीं

सकते तुम्हारा हृदय अत्यंत मुलायम है तुम

सदा बेहतर जीवन की कामना करते आए हो करुणा

से भरा हुआ तुम्हारा हृदय इस संसार में

रहने के लिए तर्क संगत तुम्हें प्रतीत

नहीं हो रहा जिसके चलते तुम अपने आप को

कमजोर मान बैठे हो तुम अपनी तुलना एं

दूसरों से करने लगे हो और ऐसे हाल में

तुम्हें लगता है कि कोई भी यहां तुम्हारा

साथ नहीं दे रहा है तुम अपने आप को बहुत

अकेला महसूस कर रहे हो और इसी वजह से

निरंतर तुम्हारे मन में विचलन उत्पन्न हो

रही है मेरे प्रिय बच्चे

ऐसी परिस्थिति किसी भी मनुष्य के लिए

बेहतर नहीं होती है ऐसी परिस्थिति में आने

के बाद मनुष्य सदैव चिंतित रहता है उसे

लगता है कि उसका जीवन अब किसी काम का नहीं

रहा मेरे प्रिय इसी वजह से उसके जीवन में

निराशा छा जाती है लेकिन तुम्हें ऐसा

विचार नहीं करना है तुम तो वास्तव में एक

पुण्य आत्मा हो और पुण्य आत्मा के जीवन

में यदि चुनौती आ भी जाए तब भी उसे विचलित

नहीं होना चाहिए उसे बेचैन नहीं होना

चाहिए क्योंकि ऐसा उसकी नियत होती है यह

चुनौतियां उसे मजबूत बनाने के लिए आती हैं

जब मनुष्य को बहुत बड़ी जिम्मेदारी और

बहुत बड़े आशीर्वाद मिलने वाले होते हैं

तब उसके जीवन में बड़ी चुनौतियां भी आती

हैं यह चुनौतियां यह परीक्षण करने के लिए

होती हैं कि क्या वह मनुष्य इस बड़ी जीत

को इस बड़ी जिम्मेदारी को अपने कंधे पर

उठाकर इसका बोझ उठाने को तैयार है और साथ

ही इसके हर्ष उल्लास में लोगों को शामिल

करने को तैयार है या नहीं वास्तव में यह

चरित्र की पहचान होती है इसका इस बात से

कोई संबंध नहीं है कि मनुष्य कितना

शक्तिशाली है अथवा नहीं है मेरे प्रिय

वास्तविकता में तुम शक्ति से भरपूर हो

तुम्हारी शक्ति असीमित है अनंत है लेकिन

तुम उसकी गहराई तक अभी स्वयं को देख नहीं

पा रहे हो उसके पीछे का कारण तुम्हारा

अपना बचपन रहा है जिस तरह का बचपन तुमने

गुजारा है ऐसे परिस्थिति में ऐसे बचपन में

मनुष्य कई बार बहुत बड़ी-बड़ी भूल कर

बैठता है बहुत बड़ी-बड़ी गलतियां कर बैठता

है लेकिन तुमने ऐसा नहीं किया तुमने सदैव

अप अपने आप को बचा कर रखना चाहा हर बुरी

परिस्थिति से स्वयं को बचाने का भरपूर

प्रयास किया है और सदा ही धार्मिकता को

साथ में लेकर चलने की तुम्हारी योजना रही

है लेकिन कई बार तुम्हारा मन इतना कमजोर

हो जाता है कि तुम अपने ही खिलाफ विभिन्न

प्रकार की कल्पनाएं बुनने लगते हो और ऐसा

करते वक्त तुम यह भूल जाते हो कि तुम्हारी

यही कल्पनाएं यदि मूर्त रूप ले ले तो

तुम्हा रा अपना जीवन तबाह हो जाएगा मेरे

प्रिय बच्चे अपने जीवन को तबाह मत होने दो

अपने जीवन को सही दिशा की ओर बढ़ने दो

तुम्हारा मार्ग दर्शन करने के लिए ना जाने

कितने ही दिव्य देव दूत परेशान है क्योंकि

तुम एक पुण्य आत्मा हो और पुण्य आत्मा का

मार्गदर्शन प्रत्येक दिव्य दूत करना चाहता

है जिस वजह से वह तुम्हारे जीवन में आने

को व्याकुल हो रहे हैं लेकिन यहां तुम्हें

कुछ बातों का विशेष ध्यान भी रखना होता है

सर्वप्रथम अपने चरित्र को कमजोर ना होने

दो और जो तुम्हारे हिस्से में जीत आ रही

है उसे खुले दिल से स्वीकार करो संख्या

लिखकर इस बात की पुष्टि करो कि तुम इस

चीज को खुले दिल से स्वीकार करने के लिए

पूरी तरह से तैयार हो कि तुम इस जीत को

पूरे सच्चे हृदय से अपनाने को तैयार हो

साथ ही मैं सौभाग्यशाली हूं यह लिखना

बिल्कुल

मत भूलना

Leave a Comment