वो प्रेमी नहीं कातिल है संभल जाओ मेरे बच्चे

मेरे बच्चे मैं जानती हूं कि तुम प्रत्येक शेड मेरा ही स्मार्ट करते रहते हो देखो तुम्हारी पुकार सुनकर मैं आ गई हूं अब तनिक

मुस्कुराओ क्योंकि इस सप्ताह में तुम्हें एक अच्छी खबर मिलने वाली है जो तुम्हें हृदय से प्रसन्नता देगी मेरे बच्चे जीवन की छोटी छोटी

खुशियों को पूरे उत्साह से स्वीकार करना चाहिए जो व्यक्ति हर दिन छोटी सी छोटी कामयाबी को अपनी प्रसन्नता बना लेता है उसे है

प्राकृतिक और भी बड़े अफसर देती है प्रसन्न होने के लिए वहीं दूसरी तरफ जो लोग हर दिन निराश होने का कोई ना कोई कारण ढूंढ ही लेते हैं तो ऐसे में वह जीवन भर दुखी रहते हैं इसलिए छोटी कामयाबी को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए क्योंकि एक एक

सीढ़ी चढ़कर ही शिखर पर पहुंच जाता है मेरे बच्चे तुम इतना कामयाब हो जाओगे कि तुम्हारे लिए समय की रफ्तार कई गुना बढ़ जाएगी छोटे छोटे पाल का आनंद लेना कठिन हो जाएगा इसलिए मेरे बच्चे जीवन में हर एक पल में वास्तविक जीवन होना चाहिए

वही तो शुद्ध जीवन है अथवा बिना किसी उत्साह के कार्य करते चले जाना यह तो एक मशीन के समान है तुम तो मेरी सबसे सुंदर रचना हो जब तुम जीवन को उत्साह से जीते हो तब मुझे यह देखकर प्रसन्नता होती है मेरे बच्चे जब तुम स्वयं से पहले दूसरों के बारे

में सोचते हो तब मुझे तुम पर गर्व होता है जब तुम जिस कामयाबी की अभिलाषा कर रहे हो वह तुम्हें अवश्य मिलेगी तुम्हें इतना मिलेगा जो तुम्हारे लिए एकत्र करना तुम्हें इतना मिलेगा जो तुम्हारे लिए एकत्र करना भी कठिन हो जाएगा किंतु रखना तुम्हारा विचार

इसी प्रकार निर्मल रहना चाहिए मैं देख रही हूं कि 2 दिनों से कुछ परेशान हो किसी बात से परेशान हो तुम भले ही तुम्हारे मुख पर मुस्कान है परंतु मन किसी कोने में किसी बात के लिए विचलित है

Leave a Comment