शंभू बॉर्डर पर किसान की जान जाने से तनावपूर्ण माहौल, दो दिन सीज फायर का बड़ा ऐलान

मोदी जी यह मत सोचे प आने वाले चवी के विच
मैं कहीं गद्दी में बैठ जाऊंगा यह लोग ही
उठाएंगे य तख्त को पलट देते हैं जब इनका
दिल चाहे देखो काम का छाड़ के मोदी जी ने
हमारे को परेशान किया हुआ है गवर्नमेंट
घुसने देंगे सरकार से पूरी खुली नाराजगी

है मोदी को बीजेपी को तो बिल्कुल नहीं
घुसने देंगे ना खुली नाराजगी दिल से पूरे
पूरे दिल से नाराजगी नहीं घुसने
देंगे 4 पीएम न्यूज नेटवर्क में आप सभी का
स्वागत है मैं हूं सतेज कांत बता दें

लगातार 4 पीएम न्यूज़ नेटवर्क की टीम शंभू
बॉर्डर पर कवरेज दे रही है किसान आंदोलन
का बीते दिन की बात करें तो 21 फरवरी

2024 दिन में दिल्ली कूछ करने की बात की
गई किसान शांतिपूर्ण ढंग से बॉर्डर के पास
खड़े थे और अचानक दूसरी तरफ से जिधर
मिलिट्री फोर्सेस थी आसू गैस के गोले

बरसते हैं साथ में रबर की गोलियां आप
तस्वीरें देख रहे थे और वह जो तस्वीरें जो
वायरल हुई पूरे देश भर ने देखा हमारे साथ

में यहां पर तमाम किसान हैं जो कि यहां
पंजाब से हैं और अलग-अलग क्षेत्रों से भी
यहां पर आ रहे हैं हम बात करेंगे और
समझेंगे कि यहां पर जो अभी की जो स्थिति
है दसवें दिन पर वह क्या है लगभग 10 दिन

बीत चुके हैं स्थिति आगे की क्या है
क्योंकि अभी तक के दिल्ली कूछ करने की जो
बात की गई थी उस पर अमल आप लोग नहीं कर

पाए हैं मैं रेशम सिंह को कंड जिला मत
प्रधान किसान म दू संघर्ष कमेटी जिला
तरणता देखो शांतम हमारे को आज 11 दिन हो
गए बावा दिन चल रहा मोदी जी बार-बार
मीटिंग करते रहे हमारे आगु को बोलते रहे
आज आपकी मांगे जो मैं मान लेता हूं पूरी

कर देते हैं व अपने मंत्री को भेजते रहे
लेकिन हमारे को टाल मटोला करते रहे
क्योंकि हमारा मसला य अपना कोई नया नहीं

है मोदी जी ने मानी हुई मांगे उसकी जो
हमने दिल्ली में आंदोलन किया था पिछले बार

भाई को वो उस टाइम की लस मांगे थे जो मोदी
जी माना था कालेन रद्द कर दिए थे और जो
हमारी एमएसपी गारंटी कानून 202 बिजली एक्ट
पराली वाला एक्ट लखीमपुर खीरी में जो हुआ

था पत्रकार को और किसानों को गाड़ी चढ़ाकर
ड़ दिया गया था ये पूरी जो मांगे हमारी ये
मानने दो साल तक नहीं मानी ढाई साल हो गए
हम फिर अभी दिल्ली को जा रहे थे जो रतारा
हमारे साथ किया आप मीडिया सब जानते हैं

हमारा कल खनौरी बॉर्डर में एक 21 साल का
नौजवान जो प्रशासन द गोली नाल शहीद होया
वा बहुत लोगों की आंखें गई टांगे गई बाजू

कि ऐसा दत जो दूसरी कंट्री वाले मुल्क है
जैसे पाकिस्तान है वो भी हमारे साथ ऐसा
नहीं करते जो हमारे अपने ने किया है
जिन्होने वोट पाके खुर्सी के ऊपर बैठाया
है ये लोगों की देखभाल करेंगे लोगों की
मांगों को देखेंगे ऐसा हमारे साथ बर्ताव
किया हुआ पूरा विश्व पूरा भारत देख रहा हु

जो मोदी जी ने किसाना के साथ किया है ये
कभी नहीं भूलेंगे मोदी जी ये मत सोचे प
आने वाले चवी विच मैं कहीं गद्दी में बैठ

दूंगा ये लोग ही बिठाए ये तखत को पलट देते
हैं जब इनका दिल चाहे इसलिए आपके जरिए में
बोलना चाहता हूं अभी भी हमारा दिल्ली जाने
का कोई ईगो नहीं है ना हमारे कोई मुझ का

सवाल है कि हम दिल्ली में जाएं तभी मांगे
पूरी होगी देखो मांगे पूरी हमारी इधरे हो
जाए मोदी जी लान कर सकते हैं नोटिफिकेशन

लागू कर सकते हैं तो हम खुशी-खुशी अपने
घरों को जाएं ये जो देख रहे हो बूढ़े
बेचारे किसान कितनी कितनी जज के हमारे साथ
बैठे हुए हैं ये सब परिवार वाले हैं
खेतीबाड़ी वाले हैं अपने घर के काम करते

हैं भैंस रखी हुई है चारा डालते सारा कुछ
काम करते हैं देखो काम का छाड़ के मोदी जी
ने हमारे को परेशान किया हुआ है और लोगों
को भी परेशान किया आम लोगों को सड़क जो चल

रही है आम लोगों को परेशानी हो रही है
जिन्ने दिल्ली जाना है वो कितना परेशान हो
र कारण है मोदी जी का सारा इन लोगों को
कोई मनुष नहीं है हम रोड डके ज कुछ ऐ कोई
ना हम आवादी है ना वकवादी हम तो देश के

नागरिक है अच्छा एक बात और करें घर पर आप
लोग जाते हैं या घर से आप लोगों से क्या
बातें होती है घर वाले बोलते हैं तगड़े हो

जाओ हमारा जो किसान इधर नहीं आया है वो
अकेला है वो क्या कहता है जो दूसरा किसान
आया हुआ उसका जो काम है वो खुद साथ में
कराते हैं भी हम करेंगे तुम तगड़े हो जाओ
वापस लाबा आना है मांगे पूरी करा के आना
है हम आपका काम सब देखेंगे सभी मिलकर गांव
वाले जो पीछे हैं वो हमारे को कोई

प्रॉब्लम नहीं आने दे रहे हैं मतलब आपका
काम आपके गांव में हो रहा है पूरा गांव
में हो रहा है हमारे जितने भी पीछे रह गए
साड़ी लेडीज भी बो रही है वो भी साथ में

आई हुई है तुने देखा होगा ट्रलियो में वो
भी बोल रही है अग जरूरत पड़ेगी तो हमारी
लेडीज भी साथ में औरत भी आएगी और पूरा
बड़ा जंग लड़ेंगे और तब तक लड़ेंगे जब तक
हमारी मांगे पूरी नहीं हो जाती आप दादा
क्या कहोगे अभी तक तो लगभग 10 दिन से

ज्यादा हो चुके हैं बॉर्डर पर ही बैठे हो
अभी तक दिल्ली नहीं गए आप लोग कल जब आगे
जरा सा ही बढ़े थे तो गोलियां बरसी बम

बरसे आगे की तैयारी क्या है आगे की बता
देता जी हम मैं कभी बो
नहीं देखो हमारे जो कल इन्होने साथ इतना
दहशत किया है उसमें हमारे एक नौजवान की
मृत्यु हो गई 21 साल का नौजवान तीन उसकी

बहने थी केला केला माई बाप का बेटा सी
उसका मां भी है नहीं है पयो भी है नहीं
देखो वो एक घर को चलाने वाला था नौजवान वो

अपने मांगों को लेकर आया था उसको
गवर्नमेंट की गोली से उसकी डेथ हुई है और
भी सा बहुत किसान इसलिए हमने दो दिन के
लिए संघर्ष जड़ सीस फर किया हुआ दो दिन के
लिए हम कोई कारवाई नहीं करेंगे आज उसका
अभी मला आजा पोस्टमार्टम कराएंगे और
डॉक्टरों की टीम बनाई हुई है मेडिकल टीम

वो देखेगी भी गोली कैसे लगी कौन सी गोली
है एक किसने किया तो इसलिए वो आज उसका
मलाज होके उसका संस्कार करना है बाकी जो

साडे फ्टर वगैरह है वो साडे आगू साब उधर
गए हैं जहां जहां पड़े हॉस्पिटलों में कोई
राजपुर है कोई लुधियाना में है कहीं भी है
आज पूरा हम कुछ हमारे नौजवान है ज मिल
नहीं रहे पांच छह बंदे आ जो कल पुलिस उनको
ठाके ले गई हमारे को पता चल रहा उसकी

टांगे टंगे तोड़ दिया उन्होंने ये सारा आज
पुन कर रहे इसलिए हमने दो दिन होल्ड किया
हुआ दो दिन हम कुछ नहीं करेंगे म 2 तारीख

के बाद तस्वीरें कुछ और होंगी कल शामन ज
सा आगू वो मीडिया अपने रू केंस प्रेस
कान्फ्रेंस करके फिर अगला लान करेंगे वो
हमने आगे जाना है या जहां कुछ करना है या
आगे की राजनीति सारी वो तय करने दो दिन के

लिए भी होल्ड किया हुआ दो दिन के लिए
बिल्कुल शांतिपूर्वक इसीलिए आज हमने जो
लोग लोग आते थे रोजाना उसको बंद किया हुआ

है जो इधर है वही रखे हैं बाकी जो रोजाना
आते उनको बोला अभी दो दिन के लिए शांतम
रहना है क्योंकि हमारा पूरे भारत में पूरे

विश्व में लोग शोक मना रहे हैं जो जुन
होती है उ उसने भी अपने सुप्रीम कोर्ट को
क्या है ये इंडिया क्या कर रहा है अपने
नागरिकों को इतनी गोलीबारी करके इतना
जख्मी कर रहा है उनको मार रहा है ये कौन

सा संविधान के की तरीका
केरा देश चलाना चाहता है मोदी कैसा करना

चाहता है जंगल राज बना के रखा हुआ है सब
लोग जो सड़कों में आ गए हैं यूपी में एमपी
में महाराष्ट्र में आज पूरे हिंदुस्तान
में मोदी के पुतले फूके गए हैं इसके विरोध
किया जा रहा कि किसान सभी एक है चाहे वो
पंजाब का है हरियाने का है यूपी का एमपी

का है क्योंकि लड़ाई हमारी किसानों की
मजदूरों की है सभी के लिए है हम अपना
पंजाब के लिए नहीं कुछ मांग रहे ज हरियाणा

का हम पूरे भारत के लिए मांग रहे हैं एपीक

इसलिए पूरा भारत हमारे साथ है मोदी जी का
गवांड जो तोड़ देंगे और आने वाले समय उसको
लोग जो है फटकार देंगे उसको बिल्कुल गांव
में नहीं कुछ नहीं देंगे गली गली में नहीं
कुछ नहीं देंगे य किसान बापू सा ज बैठे है
ना य भगाए उसको जब मतदान मांगने आएगा ना

फिर व ऐसे भागेंगे व आगे होंगे ये पीछे
होंगे क्योंकि हमारे को जाने नहीं दिया
दिल्ली हमारा है दिल्ली इन लोगों का है
दिल्ली उसका थोड़ी है मोदी का इन लोगों का

दिल्ली है राजस्थानी हमारी इसलिए उसने
देखो क्या किया है देखिए एक बड़ी बात कही
है कि अगर हम जैसे हमें आगे नहीं जाने दे
रहे हैं वैसे ही अगर कोई भी भारतीय जनता
पार्टी का अगर प्रचार करने अगर आता है
इनके गांव में तो इनको जाने नहीं दिया
जाएगा गांव में ऐसा आप लोग मना करोगे वहर
जी का खालसा वहर जी की फतेह आप जी बनती

करना थ
नवाद गाव में नहीं बे जो भी सा बीजेपी आग
उस े और भी जो साी सहूल सान मिलया सान
नागरिक पछ बहुत सूत मिलया सान करर भी क

कोई का नहीं जिना च मोर्चा लगता है रहो
नाराजगी है आप लोग को हां आपको उ को
नाराजगी है नहीं हमारे को मोदी से नाराजगी
मोदी से नाराजगी है मोदी से मोदी से
नाराजगी है तो क्या करने वाले हो आगे आप
लोग अगर अभी तो चुनाव भी नजदीक है और उससे
पहले यहां पर बॉर्डर पर लगातार बैठे हो

तस्वीरें पूरा देश पूरा विश्व देख रहा है
गोले बरस रहे हैं आप लोग के ऊपर और 13

तारीख की बात हुई थी दिल्ली कछ करने को 21
तारीख को जो कुछ भी हुआ पूरे देश ने देखा
और एक किसान के बेटे की मृत्यु भी हो गई
आगे क्या करोगे अभी जो हमारे जो लीडर हैं
ना जो बताएंगे वही करेंगे हम तो कुछ नहीं

ऐसे बैठे हैं इधर बस कोई नहीं करेंगे हम
अच्छा दूसरी बात भी कर ले जैसे अभी बाप के
भाई ने ही बोला कि विरोध करोगे गांव में

अगर प्रचार करने आते तो क्या वो विरोध
होगा वो पूरा आएगा व तो गवर्नमेंट घुसने
देंगे मतलब आप सरकार से पूरी खुली नाराजगी
है मोदी को बीजेपी को तो बिल्कुल नहीं
घुसने देंगे ना पूरी खुली नाराजगी दिल से

पूरे पूरे दिल से नाराजगी नहीं कुछ देंगे
अच्छा कल के दिन जो मृत्यु हुई है आपके

बेटे उस पर क्या गुस्सा है आपको गुस्सा तो
है आपको पता ही है गुस्सा तो होता ही है
जिसका भाई बेटा एक ही बेटा था उसका मां
उसकी नहीं है उसका जो बाप है ना वो स्कूल
की बस चलाता है इतना गरीब आदमी है तीन बहन
है उसकी चले गई चले गया क्या करेंगे वो तो
मोदी को पता है कैसे कभी तो आपको पता है

कैसे कल खाना नहीं पकाया डर पर किसी ने

खाना नहीं बनाया उधर ऐसे सोए सभी तो गांव
में हमारे पज में पूरे में पूरा ऐसा माहौल
पूरा बिगड़ा हुआ है क्या आक्रोश भी है दुख
भी है बहुत ज्यादा दुख है दुख तो होएगा तो
आपको पता ही है किसी का बेटा चले गया दुख
तो होएगा ही दुखी काफी है दो दिन का अभी

होल्ड है उसके बाद क्या बातें अभी आ रही
हैं आगे बढ़ने की बात आ रही है अभी रुकने
की बात आ रही है मन में क्या है वो तो जो
साडे लीडर साहब दसन वो तो बादा ही होगा जो
मतलब आगे जाना जा साया मांग इथे पूरी हो

आगे जाके कुछ करना सा जो साडे पंजाब दा जो
हक है जा हिंदुस्तान दे किसान द जो हक है
सान इथे ही मिल जाए अही गा जाके की करना
सान य नहीं जरूरी दिल्ली जाके बना सान सा
जो साकी मंगा सान वो मिल चाहि जो भी साडा

हैगा जो किसाना सरकार अत्याचार कर है व ब
बेहद निंदन जोग देखिए सरकार को साफ बोल
रहे अत्याचार कर रही है और साफ कह दिया है

कि दिल्ली जाना है लेकिन बीते दिन जो
तस्वीरें थी सभी ने देखी एक किसान के बेटे
की मृत्यु हो जाती है उसको लेकर के
किसानों में काफी आक्रोश है काफी दुख है
साफ कह दिया आपने देखा मैं लगातार खबरें

दिखा रहा हूं 23 फसलों पर एमएसपी को लेकर
के बातें लगातार हो रही है किसानों के लिए
चौथी जो बैठक होती है मंत्रियों के साथ
पियूष गोयल खुद आकर के कहते हैं चार से
पांच फैसलों पर सहमति हो गई है लेकिन यहां
पर जो किसानों के जो सीनियर जो लीडर्स हैं

जो किसानों के जो नेता हैं वो कहते हैं कि
किसानों को बरगलाने की कोशिश की गई है
उसके बाद 21 तारीख को दिल्ली कूछ करने की
बात होती है आंसू गैस के गोले गिराए जाते

हैं किसानों के ऊपर रबर की गोलियां बरसाई
जाती हैं आरोप यहां तक के हैं कि पक्की
गोलियां तक चली हैं जिसके बाद एक किसान के
बेटे की मृत्यु हो गई दो दिन का अभी

इंतजार और है उसके बाद तस्वीरें देखने
वाली होंगी क्या कुछ होगी मैं लगातार
अपडेट दे रहा हूं 4 पीएम न्यूज़ नेटवर्क
से आप सभी को जुड़े रहिएगा वीडियो जितना

ज्यादा से ज्यादा हो सकेगा शेयर जरूर
करिएगा और अपनी राय कमेंट बॉक्स में लिखते
रहे मैं सारी अपडेट आप तक पहुंचाता रहूंगा
मैं हूं सतेज कांत कैमरा पर्सन शुभम के
साथ 4 पीएम न्यूज़ नेटवर्क के लिए न
धन्यवाद

Leave a Comment