स्वर्ग से कोई तुम्हें आवाज़ लगा रहा हैं💖नाम हैं.

जी मैं आज तुमसे बहुत प्रश्न हूं और मैं
तुम्हें कुछ खास बात बताना चाहती हूं जिन
बटन को आज तक मैं तुमसे चपाती रही तुम्हें
कभी बताया नहीं क्योंकि उन बटन को जन का
समय अब ए चुका है और उसका करण केवल यह है
की तुमने वह एक ऐसा कार्य किया है

जिसको करके तुमने मेरे दिल को बहुत प्रश्न
किया है इसी करण मैं तुम्हें उसे बात को
बताना चाहती हूं जिसे जन के बाद तुम्हें
आश्चर्य होगा लेकिन तुम्हारी आंखें खली र
जाएगी

किस चिंता में पड़े हुए हो सब चिटा को
छोड़ दो इस बात का ध्यान रखो मेरे बच्चे
जी प्रकार तुम्हारी जन्म देने वाली मां
तुमसे कुछ नहीं चपाती चपाती इस प्रकार मैं
भी तुम्हारी मां होते हुए तुमसे कुछ नहीं
छुपाना चाहती और आज तो मैं वैसे ही बहुत
ज्यादा प्रश्न हूं तो मैं कुछ तुमसे

छुपाना नहीं बल्कि तुम्हें ऐसा कुछ बताना
चाहती हूं जो आज तक कभी बता नहीं साकी
मेरा बच्चा इतना नादान और भोला है की मेरे
बिना कहे कुछ बटन को समझ नहीं पाएगा इसलिए
आज मुझे कुछ बातें

से नहीं सनोज तो तुम्हें बातें समझ में
नहीं आएंगे और तुम्हें लगेगा की पता नहीं
मैंने तुम्हें क्या बताया है उसमें जो
बताया है वह कुछ खास नहीं है ऐसा आभास
होगा इसलिए मैं तुम्हें स्पष्ट रूप से इस
बात को बता देना चाहती हूं की हर इंसान के
अंदर एक अच्छाई होती है और किसी इंसान के

अंदर एक ऐसा गन होता है इंसान तो क्या
ईश्वर को भी प्रश्न कर देता है और वही गुड
तुम्हारे पास है और वह तुम्हारा सच बोलना
तुम सदैव तो सच बोलते हो उसे बात से मैं
बहुत ज्यादा प्रश्न हूं और अब समय
ए गया है यह जन का की तुमको बहुत जल्दी ही
तुम्हारी एक ऐसे व्यक्ति से मुलाकात होने
वाली है जो तुम्हें तुम्हारी आर्थिक मदद

करने वाला है तुम्हारे इस स्थिति से उभरते
के लिए वह तुम्हें सहायता करेगा वह इंसान
तुम्हारे परिवार का सदस्य भी हो सकता है
वह तुम्हारे खानदान का सदस्य हो सकता है
वह तुम्हारा मित्र भी हो सकता है वह

तुम्हें तुम्हारी सहायता करने से पीछे
नहीं हटेगा
और तुम्हारी सहायता करके तुम्हें मदद
करेगा क्योंकि मेरे बच्चे तुम भी तो अपने
माता-पिता के बहुत आजा मानते हो अपने माता
पिता को बहुत खुश रखते हो तो दुनिया में
जो इंसान दूसरों के साथ खुशियां बताते हैं
उन्हें हर चीज जल्दी ही प्राप्त होती है

जो दूसरों के दुख में दुखी होना जानता है
उसकी परेशानी ज्यादा पास नहीं आई एक ऐसा
बुद्धिमान व्यक्ति जो यह समझ लेट है की
दुख और सुख का हिसाब क्या

मिलती हैं और ना ही किया गए किसी भी कम को
करने के पश्चात भी प्रश्न राहत है केवल
दुखी रहना उसका कम होता है और ऐसे कुछ
व्यक्ति हैं जो अपने सुख से खुश नहीं होते
और दूसरों की खुशियों से दुखी होते हैं
इंसान को हर फल अपने कर्मों के हिसाब से
मिलता है क्योंकि कर्म ठीक इस पेड़ की तरह

है जी पेड़ पर फल इस प्रकार लगता हैं जी
तरह का पेड़ होता है यदि किसी फल का पेड़
होता है तो उसमें मीठे फल लगता
प्रतीक्षा करना
मेरे बच्चे अपने मस्तिष्क पर विजय तिलक

लगाने के लिए तैयार हो जो तुम्हारे लिए सब
सही हो रहा है मेरे बच्चे जब तुम अपनी
इच्छा मुझे मांगते हो जब तुम ध्यान करते
हो प्रार्थना करते हो तब तुम्हारे जीवन
में कई साड़ी चीज होने ग जाति हैं कई सारे
बदलाव भी तुम्हारे जीवन में आते हैं कुछ

बदलाव तुम्हारे भीतर भी आते हैं जिन्हें
तुम समझ नहीं पाते और तुम्हें लगता है की
कुछ ना कुछ तुम्हारे लिए गड़बड़ चल रही है
और तुम अपने कार्य को सही तरीके से नहीं
कर पाते हो मेरे बच्चे आज इसलिए मैं
तुम्हें कुछ ऐसी बातें बताने जा रही हूं

जिससे तुम्हें जान पाओगे की यह चीज
तुम्हारे साथ क्यों घटित हो रही है मेरे
बच्चे जब तुम मुझे प्रार्थना करते हो
ध्यान करते हो अपनी चीजों को मांगते हो और
जब तुम्हारी प्रार्थना शक्ति रूप से
तुम्हारे लिए कम करने ग जाति है तब
बीच-बीच में तुम्हें यह भावना आएगी ऐसा
महसूस होगा की तुम्हारे लिए शायद कुछ भी
चीज कम नहीं कर रही हैं मेरे बच्चे ऐसा
समय तुम्हारे जीवन में जरूर आता है जब

तुम्हारी चीज तुम्हारे जीवन में आने वाली
होती हैं जहां पर तुम यह महसूस करने ग
जाते हो की तुम्हारे लिए कुछ भी सही नहीं
हो रहा है मानो सब कुछ थम सा गया है कोई
भी उम्मीद तुम्हें नजर नहीं ए रही है
परंतु मेरे बच्चे तुम्हें एक बात समझनी
पड़ेगी यह तो एक पाठ है तुम्हारी सच्ची

भक्ति का तुम्हारे लिए सब कुछ सही होगा
मेरे बच्चे वह जो बदलाव तुम्हारे जीवन में
आया है उसे तुम स्वीकार नहीं कर का रहे हो
परंतु जैसे-जैसे तुम प्रार्थना में ली

होते जाओगे अलग-अलग चीजों को करते जाओगे
तब वह धीरे-धीरे एक अलग बदलाव को तुम्हारे
मस्तिष्क भी स्वीकार करने लगेगा मेरे
बच्चे तुम्हारे लिए मैं सब सही कर रही हूं
मेरे बच्चे तुम महसूस करोगे तुम्हारे जीवन
में कुछ अलग सा हो रहा है कुछ ऐसी भावना
है जिसे तुम महसूस कर रहे हो की तुम्हारा
जीवन रुक्स गया है तुम्हारी वास्तविकता

जीवन में कोई भी बदलाव तुम्हें नजर नहीं ए
रहा है मेरे बच्चे यह चीज जब तुम्हारे साथ
होने ग जाति है जब तुम्हारे पीछे बहुत
साड़ी योजनाएं मैं स्वयं बनाने ग जाति हूं

तो मैं ऐसा महसूस कर रहे हो की तुम्हारे
लिए कोई भी चीज है जो कम नहीं कर रही है
तब तुम यह समझ जो की तुम सही र पर हो मेरे
बच्चे कई बार जब तुम सही रास्ते पे चलते

हो तब तुम्हें या सारे संदेह अवश्य आएंगे
परंतु तुम्हें इन सारे संदेह को पर करते
हुए अपने सफर में आगे बढ़ाना है यह संदेह
यह रुकावटें और यह विचार इन्हीं साड़ी
चीजों से जब तुम एक के बाद एक आगे बढ़ोगे
तब तुम्हारे जीवन में वह जो बदलाव है जो
तुम्हारी इच्छा है वह तुम्हारे जीवन में

बड़ी आसानी से ए जाति है मेरे बच्चे
तुम्हारे र पर मैं तुम्हें अलग-अलग तरीके
का संकेत दिखाई हूं तुम जैसे जैसे अपने
सफर में आगे बढ़ते जाओगे तब तुम्हें
समय-समय पर अलग-अलग तरह के संकेत मिलते
जाएंगे अभी इस समय कौन सा संकेत तुम्हारे
लिए आवश्यक है वह तुम्हें अपने आप ही
मिलते जाएंगे और जैसे-जैसे तुम अपने सफर

में आगे बढ़ते जाओगे
और जब तुम पीछे मुड़कर देखोगे जब तुम पलट
कर देखोगे तब तुम समझोगे की मैंने तुम्हें
कैसे मार्ग दिखाए है और कैसे हर कम पर
मैंने तुम्हें संयुक्त किया है हो सकता है
की अभी तुम अपने सफर में आगे बाढ़ रहे हो
और तुम्हें अभी कुछ भी स्पष्ट ना दिखे

चाहे कुछ भी तुम्हें समझना ए रहा हो परंतु
मेरे बच्चे तुम्हें विश्वास रखते हुए उन
साड़ी चीजों पर अपने सफर में आगे बढ़ते
रहना है और सभी संकेत को एक दूसरों के साथ
जोड़ना है यदि तुम्हें अभी यह समय यह सबके
दिखाए जा रहा है की तुम्हारे लिए चीज कम

कर रही है तो इन संकेत पर विश्वास करते
हुए जो भी चीज तुम कर रहे हो इस को करते
जाना है रुकना नहीं है मेरे बच्चे आज इसके
बाद तुम्हें जो भी संकेत मिलेगा उसे चीज
को वैसे ही पालनपुर करना जब तुम इसे सही
तरह से पालनपुर करना सिख जाते हो उसके बाद

तुम्हारे वस्वतकता में तुम्हें परिणाम
मिलन शुरू हो जाता है तो मैं बदलाव नजर
आने ग जाता है तुम्हारे जीवन में कोई भी
बड़ी छोटी चीज अपने आप ही पुरी होती नजर
आई है और यह कुछ और नहीं बल्कि मेरा सबसे
बड़ा संकेत है तुम्हारे लिए वह सच्ची
भक्ति जो तुमने मुझे दी है वह अब कम कर
रही है जो चीज तुम मुझे मांग रहे हो वह
तुम्हारे जीवन में आने के लिए तैयार हैं
मेरे बच्चे यदि यह सारे बदलाव तुम्हारे
साथ भी हो रहे हैं तो तुम्हें यहां घबराना
नहीं है अपने ऊपर विश्वास रखो और अपने सफर
में आगे बढ़ो क्योंकि तुम्हारी की गई
सच्ची भक्ति तुम्हारे लिए कम कर रही है
मेरे बच्चे
तुमने कभी चमत्कार देखा है क्या तुमने कभी
जादू देखा है यदि तुम चाहते हो की अपने
जीवन में कुछ चमत्कार कर बैठो अपनी आंखों
से स्वयं जादू होते देखो तो तुम्हें एक
कार्य को करना प्रारंभ करना है मेरे बच्चे
जैसे ही तुम सो कर उठाते हो जागते हो तब
तुम्हें अपनी दोनों हथेलियां को आपस में
रगड़ के उसके घर आहट को अपनी आंखों में
महसूस करना है और अपने ईश्वर को धन्यवाद
कहना है और कहो की मैं भाग्यशाली हूं जो
आपने मुझे इतना कुछ दिया है चारों दिशाओं
से मैं इतना धन को आकर्षित कर रहा हूं की
संभल ही नहीं का रहा हूं इतना खूबसूरत हो
की जो लोग मुझे मिलते हैं मुझे लंबे समय
तक याद करते हैं मेरी वाणी में बहुत
मधुरता है जो भी मुझे बात करता है उसके
दुख और कष्ट कम हो चाहते हैं और इसके लिए
मैं अपने ईश्वर को धन्यवाद करता हूं यदि
सुबह जैन के बाद इस तरह के सकारात्मक पाते
कहना प्रारंभ कर देते हो तब ईश्वर
तुम्हारे जीवन को बदलना प्रारंभ कर देते
हैं मेरे बच्चे केवल 3 दिन के अंदर तुम
अपने भाग्य को बदलते हुए अपनी आंखों से
देख पाओगे चमत्कारी और अद्भुत होगा
तुम्हारा जीवन का हर बार स्वत सत्य हो
जाएगा बिगड़ चुका कार्य बने लगेगा
तुम्हारी हर बात बन जाएगी तुम्हारा हर एक
शत्रु मित्र बन जाएगा सभी लोग तुमसे
मित्रता करना चाहेंगे तुमसे मिलकर तुमसे
बातें करना चाहेंगे तुम्हें ऐसा देखकर
बहुत हैरान हो जाओगे मेरे बच्चे तुम्हारे
जीवन का हर सपना पूरा हो जाएगा है मेरा
आशीर्वाद है जय मां पार्वती ओम नमः शिवाय
मेरे बच्चे मेरा संदेश पढ़ने के तुरंत बाद
ही तुम्हारे जीवन में चमत्कार प्रारंभ हो
जाएगा यह मैं तुम्हें वादा करता हूं मेरे
बच्चे कभी-कभी चमत्कार अपने आप ही होते
हैं और कभी कभी चमत्कार किया भी जाते
लेकिन दोनों के पीछे तुम्हारी कर्म छुपी
होते हैं क्योंकि कर्म ही प्रधान है और
कर्म ही सबसे बड़ा है कर्म के पीछे ही
पुरी कायनात छुपी है और
उन्नति भी कर्म से ही उत्पन्न होती है इस
संसार में कभी भी चीज या मंजिल बिना कर्म
के प्राप्त नहीं होती उसके पीछे कोई ना
कोई कर्म छुपा होता तुमने कई बार बहुत
बड़े लोगों को देखा उनके इस बड़े मुकाम के
पीछे
चुप रहो होते हैं कुछ ना कुछ छुपा होता है
ऐसे ही तुम्हें कुछ कार्यों पर ध्यान देना
है यदि उन कार्यों पर ध्यान दिया तो
निश्चित ही तुम्हारे जीवन में चमत्कार
प्रारंभ होगा सबसे पहले तुम भले ही किसी
भी स्थिति में हो लेकिन तुम अपनी स्थिति
में भी हो बड़े लोगों में रहना प्रारंभ कर
दो क्योंकि यदि तुम गियर हुए लोगों में या
घटिया लोगों में या ऐसे लोगों में रहोगे
जो की गांधी आदतों में पड़े हुए हैं तो
तुम कभी भी एक अच्छी और उसे मुकाम तक नहीं
पहुंच पाओगे जब आपके जीवन में चमत्कार
प्रारंभ होता है याद रखना होगा इसके साथ
ही आपको जीवन में कभी भी स्थिर मत बैठो
कुछ ना कुछ सीखने का संपूर्ण प्रयास करते
रहो क्योंकि जीवन में तुम्हें जीना है कुछ
ना कुछ सीखने से तुम सफलता की और बढ़ते
रहते और तुम्हारे जीवन में कुछ ना कुछ
चमत्कार होते ही रहते हैं चमत्कार का अर्थ
मेरे बच्चे कुछ कुछ नया तो मैं प्राप्त
होता ही राहत तुम्हारे जीवन में हर दिन एक
नया तुम्हें देखने को मिलता है हमेशा
ध्यान रखो की पैसे के पीछे दौड़ नहीं
लगाना अगर तुम्हें दौड़ लगानी है तो तो
केवल ऐसे कम के पीछे दौड़ लगाओ जो तुम्हें
पसंद भी हो और बहुत बड़ी मंजिल के लिए
बंता हुआ रास्ता भी है तुमको क्योंकि
पैसों का लालच काफी पीछे धकेल देता है यदि
तुम पैसों से स्वतंत्र होकर किसी कार्य को
सीखने ए करने का प्रयास करते हो तो
निश्चित ही सफल होते हो लेकिन मेरे बच्चे
इस बात का विशेष ध्यान रखना की उसे कार्य
पर तुम्हारा ध्यान लगा चाहिए ओम नमः शिवाय
मेरे बच्चे तुम्हारी पीड़ा का निश्चित है
जो

Leave a Comment