स्वामी प्रसाद मौर्य ने बनाई अपनी पार्टी सीधी बात OBC लोगों के साथ

राम नाम जपना पराया माल
अपना यह भारतीय जनता पार्टी के
लोग राम राम जप करके पूरे देश का माल फने
की कोशिश कर रहे हैं सावधान हो जाना हम
हिंदू में तो जरूर आते हिंदू तो कहलाते
हैं पर जो हमें वो मान सम्मान नहीं मिलता

जो उन 15 लोगों को मिलता
है साथियों नमस्कार मैं हूं मनोज जनतानी
और आप देख रहे हैं समता आवाज टीवी पीछे आप
एक बोर्ड देख रहे हैं राष्ट्रीय शोषित
समाज पार्टी

का बहुजन समाज पार्टी के बड़ कदा नेताओं
में माने जाने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य
बीजेपी में पहुंचे उसके बाद समाजवादी
पार्टी में पहुंचे अब उन्होंने समाजवादी

पार्टी से भी इस्तीफा दे दिया है और अपनी
स्वयं की खुद की पार्टी बना दी है आज वो
दिल्ली के ताल कटरा स्टेडियम से अपनी
पार्टी का आगाज दिल्ली से शुरू करने वाले
हैं उसी का य बोल लगा है राष्ट्रीय शोषित
समाज पार्टी का प्रतिनिधि समेलन आज पहला
सम्मेलन है और आइए देखते हैं क्या चर्चाएं
हैं किस तरह का शोर क्योंकि 2024 का चुनाव

नजदीक है इसस तरह का शोर मचेगा राजनीतिक
हडकंप में क्योंकि ओबीसी समाज का एक बहुत

बड़ा धड़ा उनके साथ है जिस तरह से मुखर
होकर पाखंड अंधविश्वास के ऊपर पिछले दिनों
अपने वक्तव्य को लेकर व चर्चा में रहे

चाहे 50 लाख रुप का इनाम रखा गया उनके सिर
को काट के लाने वाले के लिए 2 लाख र का
रखा गया तमाम हिंदू संतों ने उनके सर के
ऊपर इनाम रखा है आइए देखते हैं आज व किस
तरह का वक्तव्य अपने मंच से दिल्ली के

स्ताल स्टेडियम से देंगे बरेश कुमार कहां
से आए हैं जिला कासगंज कासगंज से आज ओबीसी
समाज का एक बड़ा धड़ा हा जी समाजवादी
पार्टी से टूटा है और हालांकि समाजवादी
पार्टी खुद ओबीसी समाज की एक ओबीसी समाज

को प्रतिनिधित्व करती है तो क्या वोट बैंक
पढ़ पाएंगे क्या रूपरेखा है क्या आगे की
कारवाई है मेरा नाम वीरेश कुमार बघेल है
जी पार्टी से जड़ रहा है हमारी से वोट
मिलेगा इनके लिए बढ़िया काम करते हैं वैसे
ठीक है तो क्या जरूरत पड़ती नई पार्टी
बनने की यह तो चलता ही रहता है पार्टिया

और भी बनाती रहती है इसलिए अधिकार है अपना
अपना उन पार्टी में थे लेकिन वो लोग
सम्मान देने के लायक नहीं है दूसरे को
सम्मान देना नहीं चाहता है वह अपने अपने

को खाली सम्मान देता है हमारे नेता जी
राष्ट्रीय शो सिद्ध समाज पार्टी के नेताजी
इसीलिए उग्र हुए कि हमारा अपना पार्टी हो
और हमारा अपना कार्य करता हू अच्छा पार्टी
की विचारधारा भी तो कुछ होगी विचारधारा

विचारधारा हम लोगों का है जनजन तक जाना
गरीबों का उन्मूलन करना और जितने अति
पिछड़ शोषित समाज को जगाना और यही हमारा
लक्ष्य है ऐसे आदमी के साथ आप जा रहे हैं

जिसके सिर की 50 लाख हिंदू संतों ने कीमत
लगा दी उनका अपना दायित्व है हिंदू संतों
का इन्होंने कोई गलत नहीं कहा है रामायण
को गलत नहीं कहा लेकिन उसमें जो लिखा हुआ
है उस चीज को गलत कहा है लेकिन सोच अप

नी
है वह 50 लाख क्या 50 करोड़ भी दे दे तब
तक कुछ नहीं होगा आपको नहीं लगता इस देश
को हिंदुस्तान कहा जाता है बारबार शब्दों
में कहते हैं हिंदुओं का देश है और
हिंदुओं से दुश्मनी मोल लेकर आप पार्टी
बना रहे हैं कैसे जीत पाएंगे देखिए
हिंदुओं का देश है और हिंदुओं के साथ हम

भी है 85 पर हमारा आदमी है और 85 पर में
हम हम लोग अपना पार्टी बना कर के अपना
अग्र % बारबार कहते तो हो लेकिन वोट में

कन्वर्ट नहीं होता है कन्वर्ट हो जाएगा हम
लोग कोशिश कर रहे हैं कि 85 पर हम लोग सभी
एक हो और फि 15 को साइड करें आज आज की जी
पाखड़ नद स्वास की बात कर रहे हैं भगाने
की आपके ओबीसी समाज के 80 से ज्यादा बच्चे

काम हो रहे हैं स्कूल छोड़ के नहीं छोड़
के जा रहे हैं लेकिन उनको अभी अपना समझ
नहीं है अगर समझ आ जाएगा तो व सारे छोड़

के आ जाएंगे हमारे साथ कैसे समझ में आएगा
क्या समझाओ कैसे समझाओ यही समझाएंगे कि
पाखंडवाद में म
अंधविश्वास में मत जाओ यह सब सारे
अंधविश्वास के काम है हमारे बुद्ध जी ने
कहा कि भाई अंधविश्वास को त्यागो अपने आप
को पहचानो यही उनका कहना था और नारा था 50
साल से धूपबत्ती कर रहे हैं अगरबत्ती जला
रहे हैं मंदिर बन गया है जी ओबीसी समाज का
एक भी आदमी नहीं है मंदिर में जी और आप कह
रहे हैं कि हम समाज को जगाए थोड़ा जी सबसे

पहले भाई साहब ये बहुत खुशी की बात है कि
हमारे जो 85 पर हमारा समाज है ओबीसी समाज
है इसके जिम्मेदार लोग पहली बार इतना
खुलकर आगे आए हैं इसके पहले हम किसी

ना
किसी पार्टियों की गुलामी किया करते थे जी
और छोटे से ले समाजवादी पार्टी भी तो
ओबीसी समाज की पार्टी है भाई पिछड़ा वर्ग
की पार्टी है यादवों की पार्टी है वो तो
सबसे समाजवादी समाजवादी पार्टी धर्म की

राजनीति करती है वो कहां धर्म की राजनीति
करती है वो तो किसी धर्म में जाती नहीं वो
तो नहीं ये हम ऐसे मीडिया में नहीं कह
सकते हैं लेकिन ऐसा होता है और रही भारतीय
जनता पार्टी की बात जिसमें मैं कुछ दिन
पहले तक हमारी अच्छा हमारी धर्मपत्नी

उसमें महिला मोर्चा की मंडल अध्यक्ष रही
हैं हम उनका अनुभव है कि भारतीय जनता
पार्टी में हम लोगों का कोई स्थान नहीं है
समान आंखें खुल गई है बिल्कुल भाई साहब
हिंदू राष्ट्र नहीं बनने देंगे हम नहीं
हिंदू राष्ट्र नहीं ब कोई ऐसा टाइम था कि
हम उनकी विचारधारा से प्रभावित थे लेकिन

वहां प अंदर जाने प पता चला कि इनके यहां
तो आरएसएस वाले कहते कि हमारे पार्टी अगर
किसी गधे को भी दे देगी टिकट तो उसे जिता
देंगे मतलब ओबीसी से ओबीसी की तुलना

गधे
से भी कम हो गई बिल्कुल सही बात है भाई
साहब अच्छा ये कैसा मानते हैं आप ओबीसी की
तुलना गधे से कम है बकुल हम गधे नहीं हम
नहीं बस जरूरत यही थी कि हमारे समाज के

जिम्मेदार लोग आगे नहीं आ रहे थे और हमारे
समाज में चेतना की जरूरत है और स्वामी
प्रसाद मौर्या जी ने यह बीड़ा उठाया है हम
उनके साथ हैं अच्छा पार्टी बन गई है ओबीसी

समाज की आपकी पार्टी बन गई है अब कैसे
समाज को जागृत करेंगे हम अपने समाज के
प्रत्येक घर जाएंगे और उनको अपने इतिहास
के बारे में बताएंगे और अपने समाज के
संविधान के बारे में सबसे ज्यादा जरूरत
हमारे युवाओं को संविधान जानने के कि
हमारा अधिकार क्या है वो जय श्री राम जय

श्री राम के नारे लगाते फिर सड़कों प आप
संविधान पढ़ने की बात किसी टाइम पे मैं भी
लगाया करता था भाई साहब लेकिन अब जिस

रह
से मैं मेरे अंदर जागरूकता आई है यही
जागरूकता यही विचार मैं अपने युवाओं में
भी फैलाना चाहता हूं और मैं पार्टी के लिए
पूर्ण रूप से काम करूंगा क्या काम करेंगे
पार्टी के लिए आज स्वामी प्रसाद जी यहां
से मन से घोषणा करने वाले हैं क्या 2024

का आपका वो रहेगा रणनीति अभी 2024 वगैरह
को लेकर हम कुछ नहीं कह सकते हम सिर्फ
इतना कह सकते हैं कि पार्टी की विचारधारा
को अपने समाज में लेकर जाएंगे एक एक घर

तक
लेके जाएंगे और एकएक युवा तक लेके जाएंगे
तो पुरानी पार्टी में जा सकते थे मोर्य
साहब नई पार्टी बनाने की जरूरत क्या थी
मौर्या साहब तो बहुत पुराने हैं हम तो 4

साल में ही जान गए कि अन्य पार्टियां कैसी
है जी जी मैं सुषमा मौर्या सुषमा मौर्या
कहां से हैं अखिल
भारतीय चौहान पट्टी कौशलपुरी से हैं पीछ
पीछे बताइए पीछे कहां यी वाला यूपी आजमग

ढ़
से हैं हम आजमगढ़ से हैं क्या सोच कर आए
हैं नई पार्टी में जमने में लग जाएंगे 203
साल जी जमने में तो जरूर देरी लगेगा पर
हमारे आने वाली पीढ़ियों को इससे हमें
बहुत फायदा मिलेगा किस तरह का फायदा मतलब

हमारे जो है कि अपनी सरकार होगी
हम महिलाओं का आने वाले समय में बहुत सार
समान अरे मोदी जी महिलाओं को मंत्री बना

रहे हैं आप पता नहीं क्या बात कर रही है
मोदी जी तो खर वो अपने तरीके से कर रहे
हैं पर हमें अपने तरीके से इनका क्या
तरीका
होगा
जो क्या तरीका हो समाज को कैसे जागृत
करेंगे भाई हम लोग महिलाओं को हर जगह अपने

पार्टी में शामिल करके महिलाओं को ऊंचा
उठाने की कोशिश करेंगे अप मला मंद जा रही
पाखंड फैला रही है अपने बच्चों को भी घंटा

बजवा रही है मंदिर का घंटा बजाइए स्कूल
भेज नहीं रही है बच्चों को वो उनकी आस्था
धीरे धीरे वो जागरूक होंगी जागरूकता धीरे
धीरे आएगी अचानक से बदलाव नहीं साल हो गए
देश को और कितना बदलाव लाने की कोशिश कर
रहे हैं इसमें हम कामयाब धीरे रे होंगे

आपको पता है कार सेवकों में 90 फीसद ओबीसी
समाज के लोग थे जी और मंदिर बना एक भी
नहीं है जी थे तो जो है
कि हम चाहते जिस दिन भगवान राम की प्र थी

आयोध्या में में खुद मौजूद था तो वहां पर
जो एक कार सेवक बुजुर्ग उनको वहां पर
एंट्री नहीं थी उनको भगा दिया गया वहां से
जी हां यही सब तो हमें बदलना है हम हिंदू
में तो जरूर आते हिंदू तो कहलाते हैं पर
जो हमें वो मान सम्मान नहीं मिलता जो उन
15 प्र लोगों को मिलता है ठीक है ना
हा

Leave a Comment