🔱माता रानी का सन्देश मेरे आँसू बहुत क़ीमती है

मेरे बच्चे तुम्हें मेरा यह संदेश प्राप्त

होना कोई इत्तेफाक नहीं है बल्कि मैं

तुम्हें एक बात से अवगत करना चाहती हूं जी

बात को तुम्हें जानना बहुत जरूरी है मेरे

बच्चे एक बात को तुम समझ लो मेरे बच्चे

तुम अपने जीवन में कई बार समस्या से

गिरकर भी बैक जाते हो कई बार मुसीबतें

आते-आते भी ताल जाति हैं परंतु तुम्हें

ज्ञात नहीं होता कई बार तुमने महसूस किया

भी होगा की तुम किसी दुर्घटना से होते बैक

गए हो कई बार ऐसा भी होता है की तुम किसी

बहन से गिर पढ़ते हो या तुम्हारा कहानी से

पर फिसल जाता है या बहुत साड़ी बातें ऐसी

होती हैं जो अचानक से तुम्हारे ऊपर आई हुई

मुसीबत ताल जाति है और तुम्हें यह ज्ञात

भी होता है की हमारी व्यक्ति ने तुम्हें

बचाया है तुम्हें ज्ञात नहीं

शक्ति तुम्हें क्यों बच्चा रही है जो आज

मैं तुम्हें बताऊंगी तुम्हारे साथ ऐसा

क्यों होता है इसलिए मेरे बच्चे तुमको ही

है जाना अत्यंत आवश्यकता की आगे तुम कोई

गलती ना करो जिससे तुम्हारे जीवन में कोई

दुर्घटना ना हो मेरी बटन को पूर्ण रूप से

सुना और ध्यान देना मेरे बच्चे कई बार तुम

कुछ गलतियां कर देते हो उसकी सजा के लिए

तुम्हें दुर्घटना का सामना करना पड़ता है

पांटू वही तुम बहुत सारे नियम निभाते हो

पूजा आराधना करते हो मेरे बच्चे तुम अपने

अंदर यह विश्वास जगह कर रखना की मैं

तुम्हारे साथ हूं और उसे जगह पर जाना जहां

पर तुम्हें विश्वास होता है मेरे बच्चे

दुर्घटना प्राप्त थोड़े से पहले तुम्हें

एक संकेत प्राप्त होता है जो अनजाने में

या जानबूझकर जो गलतियां कर रहे हो उन

गलतियां को सुधार लो अभी भी तुम्हारा समय

शेष है मेरे बच्चे इन दुर्घटनाओं से

तुम्हें सीखना चाहिए की तुम्हारे कर्मों

में तुम्हें बदलाव लाने की आवश्यकता है

क्योंकि प्राकृतिक में विद्यमान होकर ही

मैं तुम्हें संकेत देता हूं इसलिए मेरे

बच्चे गलतियां को रोकने के साथ-साथ

नियमों को

सदा निभाते जाना क्योंकि नियमों को निभाना

से ही तुम्हारी और मेरी शक्ति आकर्षित

होती है क्योंकि किसी भी मुसीबत से बचाने

के लिए

बचाव से ज्यादा खुद को ताकतवर बना मेरे

बच्चे मैं चाहती हूं की तुम एक शक्ति

प्राप्त करो जो तुम्हारी सुरक्षा कवच की

खुदा तुम्हारी रक्षा करें और वह शक्ति

तुम्हें भोलेनाथ प्रधान करें जो एक अमृत

शरीर में भी जान दाल देते हैं मेरे बच्चे

उनकी शरण में जान से तुम्हारे सभी

मुसीबतें ताल जाएंगे इसके साथ साथ उन्हें

प्रश्न रखना के लिए हर सोमवार को उन्हें

दूध अर्पित करने के साथ-साथ बेलपत्र

अर्पित करो क्योंकि भोलेनाथ बहुत ही भोले

हैं थोड़ा सा दूध चढ़ाने से वैसे ही

प्रश्न हो जाते हैं और अपने भक्तों पर

प्रश्न होकर उनकी सभी समस्याओं को समाप्त

कर देते हैं और आने वाली मुसीबत को भी हर

लेते हैं और उनके साथ रहते कमजोर से कमजोर

व्यक्ति भी शक्तिशाली हो जाता है क्योंकि

उनकी शक्तियां तुम्हारी सुरक्षा कवच बनकर

तुम्हारा साथ देती है प्रेम से बोलो ओम

Leave a Comment