🕉️मां दुर्गा🕉️एक महिला तुम्हारा बहुत ही बुरा कर रही है क्यों कर रही है जल्दी से जान लो

मेरे बच्चे जो चीज तुम्हारी अपनी है वह
खुद ही आ जाएगी जिन चीजों से तुम बहुत
ज्यादा प्यार करते हो जो चीजें तुम शिद्दत
से मांग रहे हो जिन चीजों के लिए तुम तड़प

रहे हो वह एक ना एक दिन एक समय पर जरूर
मिलेंगी क्योंकि वह चीजें तुम्हारी अपनी
है परंतु यहां पर एक सवाल आता है आखिर

तुम्हारी कौन सी चीज अपनी है यह तुम कैसे
जान सकते हो इन चीजों के बारे में तुम
कैसे पता लगा सकते हो आज मैं तुम्हें
बताऊंगी मेरे बच्चे जिन चीजों से तुम्हें
बहुत ही ज्यादा लगाव होता है जिन चीजों से
तुम्हें बहुत ही ज्यादा प्यार होता है जिन
चीजों के लिए तुम हर रोज अपनी कृतज्ञता

देते हो जिन चीजों के लिए तुम हर रोज
शुक्रिया अदा करते
हो तो वह चीजें तुम्हारे जीवन में एक ना
एक दिन जरूर आ ही जाती हैं जैसे ही तुम इन
सभी प्रक्रिया करना शुरू कर देते हो तब
तुम्हारे अपने मस्तिष्क में एक बात हमेशा

याद रखनी है जिन भी चीजों के लिए तुम
शुकराना अदा करोगे अपनी कृतज्ञता
दोगे और आभारी रहोगे तो वह चीजें तुम्हारे
जीवन में अवश्य आएंगी परंतु होता क्या है
तुम सभी नए-नए तरीकों का प्रक्रिया करने
में लगे रहते हो और इन्हीं सब में इतना
उलझ जाते हो कि वह एक सुनहरे से नियम को
भूल जाते

हो और जैसे ही यह सुनहरा नियम तुम्हारे
मस्तिष्क से ऊपर जाता है तब होता क्या है
तब तुम परेशान होने लग जाते हो हो जब
तुम्हारे अंदर से कृतज्ञता वाली भावना चली
जाती है तब तुम समझ जाना कि तुम भटक गए हो
और यह एक बहुत बड़ा संकेत

है और एक भटके हुए इंसान के पास एक अद्भुत
विचार आ ही नहीं सकता है हो सकता है कि
तुम सब कुछ सही कर रहे हो परंतु फिर भी
यदि तुम्हारा मन बहुत ज्यादा बेचैन है यदि
तुम रे मन में बेचैनी बहुत ही ज्यादा बढ़

गई
है यदि तुम्हें संदेह हो रहा है तुम रो
रहे हो परेशान हो रहे हो कहीं तुम्हारा मन
यदि नहीं लग रहा है तो अब तुम्हें समझ
जाना है कि अब समय आ गया है तुम्हें उन
चीजों के लिए शुक्रिया अदा करना

पड़ेगा क्योंकि कोई भी चीज तभी अपनी हो
सकती है जब तुम उन चीजों को दिल से अपना
मानने लगोगे और दिल से अपना मानने के लिए
तुम्हें उन चीजों के लिए कृतज्ञता

अभिव्यक्त करनी ही पड़ेगी तुम ईश्वर को
प्राकृतिक
को किसी से भी अपनी कृतज्ञ व्यक्त कर सकते
हो कि तुम्हें तुम्हारे जीवन में यह सारी
खुशियां मिली हैं यह सारी अद्भुत चीजें
तुम्हारे पास है क्योंकि जब तुम अपने अंदर

यह कृतज्ञता वाली ऊर्जा को महसूस
करोगे तब तुम्हारे अंदर बहुत ज्यादा प्यार
और सुकून वाली भावना भरी होगी जब यह प्यार
और गहरा संतुष्ट भर भर के तुम्हारे भीतर
से बाहर जाता है तब इससे एक बहुत बड़ी

खुशियां तुम्हारे पास आने का रास्ता बना
लेती हैं और यही एक ऊर्जा काम करती
है तुम्हारे जीवन में कई सारे चमत्कार को
तुम्हारी तरफ आकर्षित करवाने में यह पूरी
चीजें तुम्हारे भीतर ही होती हैं जब तुम
किसी चीज को शिद्दत से पाना चाहते हो तब

तुम्हारे जीवन में उन चीजों के लिए जगह
बनना शुरू
करो और यह जगह बनाने वाली चीजें कृतज्ञता

की चाबी हैं जब तुम यह कृतज्ञता वाली चावी
हर रोज अपने पसंदीदा चीज में अपनी इच्छा
में मतलब तुम्हारे जीवन में जो भी चीजें
हैं यदि तुम उन सारी चीजों पर करते
रहोगे तब तुम समझ भी नहीं सकते कि तुम्हें

क्या-क्या मिल सकता है वह कहावत तो तुमने
सुनी ही होगी जिन लोगों के पास होता है
उन्हें और दिया जाता है जैसे तुम्हारा
मस्तिष्क चलता है वैसे ही तुम्हारा
कृतज्ञता भी चलता

और कृतज्ञता की ऊर्जा ही तुम्हारी प्यार
की ऊर्जा है हमेशा यह चीज याद रखना जब यह
चीजें तुम्हारे साथ में मिल जाती हैं तब
समझ जाना तुम्हारे जीवन में सब कुछ बहुत
जल्दी आने वाला है और इन सबका रास्ता तुम
स्वयं से बना रहे
हो अपनी उन चीजों के लिए कृतज्ञ व्यक्त

करके
तुम्हारे स्वयं के हाथों में ही तुम्हारा
भविष्य है इस बात को तुम्हें कभी भी नहीं
भूलना है मेरे बच्चे जब परिस्थितियां

बदलना तुम्हारे बस में ना हो तब उनकी
स्थिति बदल कर
देखो सब कुछ तो नहीं पर बहुत कुछ तुम्हारे
अनुरूप हो जाएगा अपने जीवन की तुलना किसी
के साथ नहीं करनी चाहिए सूर्य और चंद्रमा
के बीच कोई तुलना नहीं हो सकती जब जिसका

वक्त आता है तब वह चमकता
है मेरे बच्चे जब भी तुम्हें खुद में कोई
कमी नजर आए तो एक बार आंखें बंद करके उस

दिन को याद करना जब तुम्हें जीवन की पहली
सफलता मिली थी तुम चाहे जीवन में किसी पर

भी भरोसा करके देख लो वह एक ना एक दिन
तुम्हें धोखा देता ही
है इसलिए तुम केवल मुझ पर भरोसा करना है
तुम किसी भी बात पर खुद को कमजोर समझना

छोड़ दो क्योंकि जब भी तुम ऐसा करते हो तो
नकारात्मक ऊर्जा तुम्हें घेर लेती है
इसलिए तुम हमेशा अपने मन को शांत
रखना मेरे बच्चे अपने ईश्वर पर भरोसा रखो
जहां फैसला सबके हित में होता है इस संसार
में असंभव कुछ भी नहीं है केवल तुम्हा सोच

का फर्क है यदि मान लो तो हर जगह जीत
तुम्हारी ही है और यदि हार मान लिया तो हर
जगह हार तुम्हारी ही
है इसलिए अपने धैर्य को किसी भी कीमत पर

मत खोना क्योंकि तुम्हारा धैर्य ही
तुम्हें ताकतवर बनाता है और निरंतर आगे
बढ़ने की शक्ति देता है जो जैसा सोचता है
उसे वैसा ही मिल जाता
है

मेरे बच्चे वास्तव में तुम्हारी इच्छा
शक्ति ही तुम्हें आगे बढ़ने में मदद करती
है इसलिए तुम्हें अब मुस्कुराना है
क्योंकि तुम्हारा अच्छा समय तुम स्वयं

अपने हाथों से प्रारंभ कर सकते हो
तुम्हारे जीवन में अचानक से इतना बड़ा
बदलाव
होगा कि तुम स्वयं हैरान हो जाओगे बात-बात
पर अब दुखी होना छोड़ दो अनंत खुशियों का
द्वार खुल रहा है और अपने ऊपर कोई भी
इल्जाम ना लगाओ क्योंकि तुम कभी भी गलत

राह का चुनाव नहीं कर
सकते क्योंकि मेरी शक्तियां तुम्हें गलती
करने से रोक देती हैं अच्छी सोच के साथ
अपने जीवन में आगे बढ़ो मेरे बच्चे मेरी

शक्तियां तुम्हें और समय संभालने के लिए
खड़ी हैं मेरा आशीर्वाद सदा तुम्हारे साथ
है सदा खुश रहो मेरे
बच्चे i

 

Leave a Comment