🕉 दुर्गा मां🕉 ग्रहों की चाल बदलने वाली है🕉

मेरे प्यारे बच्चों तुमने मुझे पुकारा और

मैं चली आई हूं मैं सब जानती हूं तुम्हारे

मन में क्या है क्या चल रहा है तुम यही

सोच रहे हो ना कि जो तुमने बर मांगा है वह

तुम्हें अभी तक क्यों नहीं

[संगीत]

मिला मेरे बच्चे मैं बताना चाहती हूं कि

तुम जो मुझसे वर मांग रहे हो उसमें थोड़ा

समय लगता है

जिस कारण तुम सब्र नहीं कर पाते और कई

गलतियां कर जाते हो तुम जो मांगते हो

तुम्हें तुरंत ही चाहिए होता है परंतु ऐसा

नहीं होता है मेरे

बच्चे हर चीज वस्तु का एक समय होता है

परंतु तुम सब्र ना करने के कारण कई

गलतियां कर जाते हो जिसके कारण तुम्हें

भुगतना पड़ता है भविष्य में में और कई

अपराध भी कर जाते हो

तुम मेरे भक्तों तुम कई बार ऐसी गलतियां

कर जाते हो जिसके कारण मुझे कष्ट होता है

और मैं तुम्हें कई बार संकेत भी देती हूं

तुम उन संकेतों को तुम नजर अंदाज करते हो

और कई परेशानियों में पड़ जाते हो मैं

बताना चाहती हूं मैं अपने भक्तों को अपने

बच्चों को कभी भी परेशानी में नहीं देख

सकती इस कारण मैं तुम्हें सपने में आकर कई

बार चेतावनी दे जाती हूं परंतु तुम मेरी

इन चेतावनी को नजरअंदाज कर देते

हो इस कारण तुमने कई गलतियां पाप पुण्य

कमा लिया है तुमने मेरा कहना ना मानकर

गलती कर दी

है जब तुमको मेरे अलग-अलग लग रूपों में

मार्ग दिखाया करती हूं तो तुमको उस मार्ग

पर चलने में कठिनाई मालूम होती

[संगीत]

है तो अब तुम इतना दुखी क्यों हो रहे हो

यह दुख का मार्ग तुमने खुद चुना

है मैं तो तुमको बस इस मार्ग से निकालना

चाहती थी आज मैं तुम्हें रोज रूप में फिर

से एक बार मौका दे रही

हूं अब से तुमने अगर बात ना मानने की गलती

की तो उसके जिम्मेदार तुम खुद

होगे और तुम्हें कोई भी सहारा नहीं मिलेगा

चाहे तुम्हारे साथ कोई भी परिस्थिति घटे

तुम्हारा अपना कोई तुम्हारा साथ नहीं

देगा तुमको बस अपना भला नहीं सोचना है

बल्कि तुमको अपने साथ-साथ सभी का भला

सोचना होगा चाहे वह तुम रे अपने हो या फिर

पराए तुमको इंसान के रूप में भले कार्य

करने के लिए धरती पर भेजा गया है लेकिन

तुम अभी खुद में व्यस्त बैठे

[संगीत]

हो तुम्हें खुद का बस विचार करना है अपने

लिए तुम एक शांत जगह पर बैठ जाओ और सोचो

खुद से पूछो कि तुमको किस कार्य को करने

में तुम्हारा दिल खुश हो जाता

है तुम्हें तुम्हारे अंदर से एक आवाज आएगी

तुम वही करना और मन लगन से उस कार्य को

पूरा करने में लग

जाना समय रहते तुमको तुम्हारे कार्य पर

नजर रखनी होगी हो सकता है कि तुम गलतियां

बहुत ही ज्यादा कर

जाओ परंतु जब तुम खुद के ऊपर नजर रखोगे तो

तुमसे गलतियां कम

होंगी तुम जब गलतियां करोगे तो तुम्हारे

कर्म बुरे होंगे और बुरे कर्म से तुम्हारा

भविष्य बुरा होगा तुम इन सब बातों से भली

भाति परिचित हो फिर भी तुम यह गलती कर

जाते

हो मेरे बच्चों तुम्हारे अच्छे कर्म ही

तुम्हें पुण्य प्रदान करते हैं और इससे

तुम्हारा कर्म अच्छा होता चला जा

[संगीत]

है इन सब बातों को समझने पर तुम्हारा

भविष्य अच्छा होता चला

जाएगा अब तुमको जिस मार्ग पर चलना है वह

तुम खुद चुनो ग तुम्हें अपना जीवन दुख से

भरा चाहिए या फिर खुशियों से यह तुम अपने

कर्मों से चुन सकते

हो मेरे अगले संदेश का इंतजार करना मैं

आऊंगी तुमको मार्ग दिखा

खाने और तुम्हारे कर्म निर्धारित करेंगे

कि तुम्हें तुम्हारा मन चाहा व प्राप्त

होगा या नहीं सदा खुश रहो मेरे बच्चे

तुम्हारा कल्याण

हो मेरे बच्चे मैं आज तुमसे बहुत प्रसन्न

हूं और मैं तुम्हें कुछ खास बात बताना

चाहती हूं जिन बातों को आज तक मैं तुमसे

छुपाती रही तुम्हें कभी बताया नहीं

क्योंकि उन बातों को जानने का समय अब आ

चुका है और उसका कारण केवल यह है कि तुमने

वह एक ऐसा कार्य किया है जिसको करके तुमने

मेरे दिल को बहुत प्रसन्न किया है इसी

कारण मैं तुम्हें उस बात को बताना चाहती

हूं जिसे जानने के बाद तुम्हें आश्चर्य

होगा लेकिन तुम्हारी आंखें भी खुली की

खुली रह जाएंगी किस चिंता में पड़े हुए हो

सब चिंताओं को छोड़ दो इस बात का ध्यान

रखो मेरे बच्चे जिस प्रकार तुम्हारी जन्म

देने वाली मां तुमसे कुछ नहीं छुपाती उसी

प्रकार मैं भी तुम्हारी मां होते हुए

तुमसे कुछ नहीं छुपाना चाहती और आज तो मैं

वैसे ही बहुत ज्यादा प्रसन्न हूं तो मैं

कुछ तुम से छुपाना नहीं बल्कि तुम्हें ऐसा

कुछ बताना चाहती हूं जो आज तक कभी बता

नहीं सकी मेरा बच्चा इतना नादान और भोला

है कि मेरे बिना कहे कुछ बातों को समझ

नहीं पाएगा इसलिए आज मुझे कुछ बातें

स्पष्ट रूप से बता देनी जरूरी होंगी जिनको

ध्यानपूर्वक सुनना और समझना मेरे बच्चे

क्योंकि यदि तुम ध्यान से नहीं सुनोगे तो

तुम्हें बातें समझ में नहीं आएंगी और

तुम्हें लगेगा कि पता नहीं मैंने तुम्हें

क्या बताया है उसमें जो बताया है वह कुछ

खास नहीं है ऐसा आभास होगा इसलिए मैं

तुम्हें स्पष्ट रूप से इस बात को बता देना

चाहती हूं कि हर इंसान के अंदर एक अच्छाई

होती है और किसी इंसान के अंदर एक ऐसा गुण

होता है इंसान तो क्या ईश्वर को भी

प्रसन्न कर देता है और वही गुण तुम्हारे

पास है और वह गुण है तुम्हारा सच बोलना

तुम सदैव तो सच बोलते हो उस बात से मैं

बहुत ज्यादा प्रसन्न हूं और अब समय आ गया

है यह जानने का कि तुमको बहुत जल्दी ही

तुम्हारी एक ऐसे व्यक्ति से मुलाकात होने

वाली है जो तुम्हें तुम्हारी आर्थिक मदद

करने वाला है तुम्हारी इस स्थिति से उभरने

के लिए वह तुम्हें सहायता करेगा वह इंसान

तुम्हारे परिवार का सदस्य भी हो सकता है

वह तुम्हारे खानदान का सदस्य हो सकता है

वह तुम्हारा मित्र भी हो सकता है वह तुम

रा कोई भी अपना ही निजी व्यक्ति तुम्हें

तुम्हारी सहायता करने से पीछे नहीं

हटेगा और तुम्हारी सहायता करके तुम्हें

मदद करेगा क्योंकि मेरे बच्चे तुम भी तो

अपने माता-पिता के बहुत आज्ञा मानते हो

अपने माता-पिता को बहुत खुश रखते हो तो

दुनिया में जो इंसान दूसरों के साथ

खुशियां बांटते हैं उन्हें हर चीज जल्द ही

प्राप्त होती है जो दूसरों के दुख में

दुखी होना जानता है उसकी परेशानी ज्यादा

पास नहीं आती एक ऐसा बुद्धिमान व्यक्ति जो

यह समझ लेता है कि दुख और सुख का हिसाब

क्या है कोसो दूर रहता है परेशानी से उसके

जीवन में आती नहीं है और जो कि अंधेरों

में घूमता रहता है जिसके अंदर सुख दुख

ज्ञान नहीं होता वह भटकने में ही रह जाता

है ना तो उसके जीवन में समस्या खत्म होती

हैं और ना ही किए गए किसी भी काम को करने

के पश्चात भी प्रसन्न रहता है केवल दुखी

रहना उसका काम होता है और ऐसे कुछ व्यक्ति

हैं जो अपने सुख से खुश नहीं होते और

दूसरों की खुशियों से दुखी होते हैं इंसान

को हर फल अपने कर्मों के

हिसाब से मिलता है क्योंकि कर्म ठीक उसी

पेड़ की तरह है जिस पेड़ पर फल उसी प्रकार

लगते हैं जिस तरह का पेड़ होता है यदि

किसी फल का पेड़ होता है तो उसमें मीठे फल

लगते हैं और किसी कड़वी फल के पेड़ में

केवल कड़वे ही लगते हैं जो तुम्हारे लिए

अहित कारी है तुम्हारे जीवन को ऊंचाइयों

के शिखर पर ले जाऊंगी मैं फिर आऊंगी तुमसे

मिलने सदा खुश रहो मेरे बच्चे मेरे अगले

संदेश की प्रतीक्षा करना मेरे बच्चे आज का

दिन बहुत ही शुभ है आज से अन्याय की डोर

मैं अपने हाथों में लेने वाली हूं जो

हमेशा सत्य के मार्ग पर चलते हैं वह एक

सकारात्मक ऊर्जा को अनुभव कर रहे

होंगे मेरे बच्चे क्या तुम इस प्राकृतिक

में एक शुद्ध हवा एक शुद्ध अनुभव को महसूस

कर पा रहे हो आज यह हवा ईश्वर का गुणगान

कर रही है आज से सब कुछ बदलने वाला है हर

एक चीज में बदलाव आएगा क्योंकि आज का दिन

और आने वाला दिन अत्यंत शुभ है मेरे बच्चे

कुछ नया और अद्भुत प्रारंभ हो रहा है तुम

यह सोच लो कि तुम्हारी विजय निश्चित है

जिस क्षण की

प्रतीक्षा तुम कई महीनों से कर रहे हो अब

वह समय आरंभ होने वाला है मेरे बच्चे आपके

लिए शुभ योग शुरू होने जा रहा है क्योंकि

यह महीना और आने वाले महीने तुम्हारे लिए

अत्यंत शुभ रहने वाले हैं मेरे बच्चे अब

तुम सभी चिंताओं से बाहर निकल जाओ अब

तुम्हें अपने विचारों पर ध्यान रखना है

मैं जानती हूं कि तुम बहुत दुखी हो इसलिए

तुम अपने विचारों पर काबू नहीं पा रहे हो

किंतु मेरे बच्चे तुम्हें अब करना ही होगा

तुम्हारे विचार तुम्हारे भविष्य निर्धारित

करने वाले हैं इसलिए तुम जो सच में पाना

चाहते हो केवल तुम्हें सिर्फ वही विचार

करना है तुम्हें अपने विचारों की शक्ति को

पहचानना है क्योंकि तुम अपने जीवन को जैसा

भी बनाना चाहते हो वह सिर्फ तुम्हारे अपने

विचार से ही कर सकते हो मेरे बच्चे मेरी

शक्तियों को जानो और पहचानो और सकारात्मक

ऊर्जा की शक्ति को पहचानो इन शक्तियों से

तुम अपने जीवन में कुछ भी हासिल कर सकते

हो जो तुम पाना चाहते हो वह तुम पा सकते

हो तुम कुछ भी कर सकते केवल अपने आप को

नकारात्मक ऊर्जा से से दूर रखो मेरे बच्चे

तुम बहुत ही भाग्यशाली हो और मैं तुम्हारे

साथ हूं अब जो मैं तुम्हें बताने जा रही

हूं उसे ध्यानपूर्वक समझो कभी भी किसी भी

अभिमानी व्यक्ति को समझाने का प्रयास भूल

से भी मत करना क्योंकि ज्ञानी व्यक्ति को

समझाना आसान होता है और यदि कोई अज्ञानी

है तो उसे भी समझाया जा सकता है किंतु यदि

कोई व्यक्ति अभिमान से भरा हुआ है तो उसे

समझाना बहुत मुश्किल होता है मेरे बच्चे

ऐसे व्यक्तियों का इलाज केवल वक्त कर सकता

है इसलिए मेरे बच्चे ना तो कभी भी अभिमानी

बनो और ना ही कभी किसी अभिमानी व्यक्तियों

का साथ दो जो इंसान सरल होता है संस्कारी

होता है केवल वही व्यक्ति अपने जीवन में

आगे बढ़ता है और तरक्की भी करता है और

सफलता को भी प्राप्त करता है तुम्हारा

जीवन तुम्हारी ही सोच और व्यवहार का

परिणाम है इसलिए अभिमान से दूर रहो और

स्वाभिमानी व्यक्ति हमेशा सहज होते हैं

क्योंकि उनका दृष्टिकोण हमेशा सरल एवं

आशावादी होता है उन्हें अपनी कमियां एवं

खूबियां मालूम रहती हैं जबकि अभिमानी

हमेशा अपनी कमियों को ने की कोशिश करता है

और अपनी गलतियां कभी स्वीकार नहीं करते

हैं अभिमानी लोगों के रिश्ते दर्द भरे

होते हैं उनके रिश्ते उनकी महत्वता एवं

घमंड पर टिके होते हैं अभिमानी सफलता

प्राप्त करने के लिए रिश्ते तोड़ सकते हैं

जबकि स्वाभिमानी व्यक्ति हमेशा दूसरों की

भावनाओं का ख्याल रखते हैं इनके रिश्ते

मजबूत एवं सुखमय होते हैं इसलिए मेरे

बच्चे कभी भी अभिमानी व्यक्ति मत बनना

मेरे बच्चे अभिमानी व्यक्ति चाहता है कि

सिर्फ उसकी सुनी और मानी जाए यह दूसरों की

बातों या विचारों को महत्व नहीं देते जबकि

स्वाभिमानी अपने विचारों को दूसरों पर

नहीं थोपते हैं वह अपनी गलती अपने पर लेते

हैं अभिमानी व्यक्ति हमेशा आंखें बचाकर

बात करते हैं एवं उनकी आंखों में दूसरों

को हमेशा नीचे दिख खाने का भाव होता है

जबकि स्वाभिमानी व्यक्ति की आंखें सरल

होती हैं एवं उन आंखों में दूसरों के लिए

सम्मान का भाव होता है मेरे बच्चे अभिमानी

के रास्ते में बड़े सूक्ष्म होते हैं कभी

यह त्याग के रास्ते आता है कभी विनम्रता

के कभी भक्ति के तो कभी स्वाभिमान के इसकी

पहचान करने का एक ही तरीका है जहां भी मैं

का भाव उठे तो समझ जाना कि अभिमान उत्पन्न

हो रहा है मेरे बच्चे स्वाभिमान तुम्हारे

लड़खड़ाते कदमों को ऊर्जावान कर उनमें

दृढ़ता प्रदान करता है कठिन परिस्थितियों

और विपन्न वस्था में भी स्वाभिमान तुम्हें

डूबने नहीं देता अभिमान अज्ञान के अंधेरे

में ढकेल है अभिमान ज्ञान घमंड और अपनों

को बड़ा ताकतवर समझकर झूठा बनाता है

व्यक्ति को अपने ज्ञान का अभिमान तो होता

है लेकिन अपने अभिमान का ज्ञान नहीं होता

है मेरे बच्चे अपने स्वाभिमान को जांच रहो

कहीं यह अभिमान में तो नहीं बदल रहा है

Leave a Comment