AAP-कांग्रेस गठबंधन के बाद अब गांधी परिवार नहीं देगा कांग्रेस को वोट? जानिए अहम वजह | राहुल

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने जहां
उत्तर प्रदेश में सपा के साथ गट जोड़ किया
तो वहीं दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ
मिलकर कांग्रेस चुनाव लड़ेगी लेकिन इस बीच
दिलचस्प खबर सामने आई यह खबर है कांग्रेस

को लेकर दरअसल तमाम झटकों के बीच अब गांधी
परिवार को दिल्ली में बड़ा झटका लगा है
गांधी परिवार इस बार कांग्रेस को वोट नहीं
देगा तो क्या सोनिया गा

प्रियंका गांधी और राहुल गांधी कांग्रेस
छोड़ने वाले हैं जी नहीं ऐसा बिल्कुल नहीं
है हां लेकिन यह बिल्कुल सच है कि गांधी
परिवार इस बार कांग्रेस को वोट नहीं देगा
लेकिन ऐसा क्यों तो चलिए इस वीडियो में

आपको बताते हैं दरअसल कांग्रेस का आपके
साथ दिल्ली में गठबंधन हो गया है और दोनों
पार्टियों के बीच चार और तीन का फार्मूला
तय हुआ है यानी कि दिल्ली की सात लोकसभा
सीटों में से चार सीटें जहां आम आदमी

पार्टी के पास है तो वहीं कांग्रेस के पास
दिल्ली की तीन सीटें हैं आम आदमी पार्टी
के पास नई दिल्ली साउथ दिल्ली नॉर्थ वेस्ट
और वेस्ट दिल्ली की सीटें हैं तो वहीं

कांग्रेस के पास ईस्ट नॉर्थ ईस्ट और
चांदनी चौक की सीट है अब गांधी परिवार
जहां के वोटर हैं यानी कि नई दिल्ली के
वोटर हैं वहां से आम आदमी पार्टी चुनाव

लड़ रही है अब ऐसे में गांधी फैमिली
सोनिया गांधी राहुल गांधी और प्रियंका
गांधी इस बार कांग्रेस को छोड़ आम आदमी
पार्टी को वोट देंगे जो कि हैरान कर देने
वाली खबर जरूर है और कांग्रेस के लिए भी
बड़ा झटका है दरअसल नई दिल्ली सीट गांधी

परिवार के लिए महत्त्वपूर्ण इसलिए भी है
क्योंकि गांधी परिवार इस सीट से कांग्रेस
को वोट देते आया है अब ऐसे में गांधी
परिवार का वोट भी कांग्रेस को नहीं जाएगा
इतने ही नहीं साल 2019 के लोकसभा चुनाव की

बात करें तो इस साल कांग्रेस के अजय माकन
को 27.1 प्र वोट मिले थे और आम आदमी
पार्टी के बृजेश गोयल को

16.45 फस वोट मिले थे जिससे साफ होता है
कि नई दिल्ली की इस सीट पर कांग्रेस का
दबदबा आम आदमी पार्टी से ज्यादा है यह तो
राजधानी दिल्ली की बात है वही अब बात करें
यूपी की तो कांग्रेस ने आगामी लोकसभा

चुनाव के लिए यूपी में समाजवादी पार्टी के
साथ गठबंधन किया है वई पार्टी ने दिल्ली
गुजरात हरियाणा चंडीगढ़ और गोवा में आम
आदमी पार्टी के साथ हाथ मिलाया गठबंधन के
कारण यूपी में कई ऐसी सीटें समाजवादी

पार्टी के खाते में चली गई है जहां से
कांग्रेस पूर्व में चुनाव लड़ती रही है
गुजरात में भरूच सीट भी आपके खाते में चली
गई है इसे लेकर कांग्रेस नेताओं की
नाराजगी सामने आई है नेता विकल्प भी

तलाशने में जुट गए हैं अब ऐसे में देखने
वाली बात यह होगी कि जिस मकसद के साथ
कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सपा के साथ और
दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ गड़

जोड़ करने में जुटी है क्या यह मकसद
कांग्रेस का कामयाब हो पाएगा या फिर नहीं
र इस पर आपकी क्या राय है कमेंट से में
जरूर बताइएगा साथ ही चलते चलते एक जरूरी
जानकारी आपको न्यूज नेशन के

youtube2 मेंबरशिप ले सकते हैं बटन पर
क्लिक करके आपको इसके बारे में ज्यादा
जानकारी मिल जाएगी तो देश दुनिया के तमाम
बड़ी खबरों के लिए आप बने रहे हमारे साथ
देखते रहे न्यूज
नेशन

Leave a Comment