Bade Miyan Kidhar Chale: 2024 के चुनाव पर ईस्ट दिल्ली के मुसलमान क्यों बोले- ‘हमें डर नहीं!

पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के
त्रिलोकपुरी इलाके में इस समय में मौजूद
हूं त्रिलोकपुरी का यह इलाका मिलीजुली

आबादी का इलाका है हिंदू और मुसलमान दोनों
वोटर यहां पर मौजूद हैं त्रिलोकपुरी ने 84
के दंगों की भवता भी देखी है और हिंदू
मुस्लिम दंगों का दंश भी सहा है अब क्या

हालात हैं चुनाव आने वाले हैं मुस्लिम
समाज का क्या रुख है जानने की कोशिश
करेंगे क्या नाम है आपका मेरा नाम रियासत
अली है बड़े मिया किधर जा रहे हैं इस
चुनाव में इस चुनाव में मोदी के

साथ मोदी जी के क्यों क्या वजह है मतलब
सारी सुविधा जो ना सारी सुविधा सब कुछ जो
ना सब कुछ सही जो ना सही दिया है जिस चीज
की जरूरत है चाहे कोई से भी समाज का हो यह
नहीं है कि यह मुस्लिम समाज है तो मुस्लिम
समाज हमें वोट नहीं देते हालाकि ऐसा नहीं

है वोट जो ना वोट मुस्लिम समाज भी बराबर
देता है तो इस लिहाज से जो ना सारे समाजों
का जो ना ध्यान रखते हुए जो मोदी जी की
योजना है वह हमें जोना माननी है और सराना

करते हैं क्या यह सोच अब बदली है क्योंकि
सीए एनआरसी को लेकर भी विरोध में आंदोलन
हुआ था तमाम तरह का विरोध हुआ मोदी को
लेकर तमाम तरह की बातें हुई क्या अब सोच
बदली है जो कार्यकाल जोना सोच नहीं बदली
इसके अंदर जो ना यह मैं कह सकता हूं कि
अल्पसंख्यक जो थे वो ज्यादा थे उनका नाम

ज्यादा था लेकिन जो उसका विरोध जो कर रहे
थे वह सभी समाज कर रहे थे लेकिन मुस्लिम
समाज भी जो ना सारा नहीं कर रहा था उसमें
कुछ मुस्लिम समाज ही उसका जो ना विरोध कर
रहे थे लेकिन सारे जो ना सारे मुस्लिम जो

ना विरोध नहीं कर रहे थे दूसरी बात जो ना
यह थी कि उसके अंदर जो ना मुस्लिम समाज
नहीं दूसरे समाज भी जो है ना वोह विरोध कर
रहे थे तीसरी बात यह है कि ज्यादातर जो
उसका जो चला था विरोध चला था वो राजनीतिक

था जैसे कि जो जो है ना विपक्षी पार्टी थी
जैसे कि कांग्रेस है अन्य पार्टी है जो
संगठन है वो उसका विरोध कर रही थी वो अपना
जो है जो मुस्लिम समाज का वोट है उनकी
हमदर्दी दिखा के जो ना अपनी तरफ खींचना
चाहती थी हम तो सर विकास के ऊपर हैं हमारी
जो जनता विकास ही चाहती है और उसी के
हिसाब से हम मोदी जी को पसंद करते हैं

क्या करते हैं आप हम अभी तो फिलहाल तो हम
मजदूरी कर रहे हैं हमारे पास रोजगार नहीं
जो हमें रोजगार देगा तो हम उसी के साथ तन
मन तन योजना है क्या राशन मिलता है अच्छी
बात है मिल रहा है और मिलेगा भी मोदी जी

ने अ जो पा साल के लिए क्या है मिल रहा है
राशन हम उससे बहुत खुश है कितना राशन
मिलता है आपको परिवार में कितने लोग हैं
हमें पांच बंदे हैं पा से 25 किलो मिलता
है तो क्या राशन जो योजना है केंद्र सरकार

की बढिया तो है लेकिन क्या जब आप लेने
जाते हो कुछ परेशानी होती है परेशानी कुछ
नहीं है फिलहाल अभी कुछ भी नहीं है क्या
प्रोसेस है आपको राशन मिलने का प्रोसेस तो
यही है जो भी गरीब जनता है उसके लिए वो कर
आप जाते हो और सीधे राशन मिल जाता

नहीं लाइन में भी लगते हैं ऐसी कोई बात
नहीं है सब की तरह जो भी है लेकिन कोई
परेशानी नहीं है परेशानी नहीं है तो मतलब
ये राशन योजना का जो लाभ है वो सबको मिल
रहा है हिंदू मुसलमान उसमें कोई ब नहीं
सबको बराबर है यह तो सब सिर्फ आपस में

राजनीति चल रही है उसके हट करने और कोई
नहीं है सर हम तो सिर्फ यही चाहेंगे जो
हमारा विकास करेगा हम उसी के साथ मतलब आप
मजदूरी करते हैं किसी राजनीति में नहीं है

तो एक आम मुसलमान की मोदी के बारे में जो
राय थी क्या वो बदली है बदली है सर यह तो
अब आप हर किसी का अलग-अलग विचार है आपका

बहुत अच्छा कर रहे हैं ये कोई नहीं कि हम
वैसे गमन गत कहानी लेकिन मोदी जी के हम
साथ और वोट भी हम उन्हें ही देंगे साहब
त्रिलोकपुरी का यह इलाका है दंगों का भी
दंश झला है इसने अब हिंदू मुस्लिम आबादी

मिक्स होकर रहती है क्या हालात है अब और
किधर की तरफ मुसलमान समाज जाता हुआ दिख
रहा है वोट देने के देखो जी इस वक्त तो
ऐसा है कि कुछ लोग मुसलमान को समझ आ गई है
अब यह ऐसा ऐसा मतलब जो है धीरे-धीरे लोग
उनको सझ में आ र कि हमारे मोदी जी अच्छा
काम कर रहे हैं योजनाएं ला रहे हैं और
राशन मासन भी उनको सबको फ्री मिल रहा है

और काफी मतलब जो है उनको उनको पता लग रहा
आगे आवास योजना या या गरीबों के लिए मकान
के लिए उन्होंने कना घोषणाएं कर रखी है तो
इसलिए आज समझ में र कि अबकी बार जो है

मोदी जी के लिए यानी कि मतदान करना है
पहले क्या था ये था कि हमारे लिए लोग उनको
उनको बहते थे कि ऐसा होगा जी हिंदू
राष्ट्र बना देंगे ऐसा कर देंगे वैसा कर
देंगे अब उनसे उनके दिमाग से बात निकल के
बाहर आ रही है कि व वो सोचते हैं अब ऐसा

नहीं होगा अब उनका यही यही सोच बन रही है
कि हम आगे के लिए अगर मोदी जी वोट देंगे
तो हमारा आगे के लिए काम चलेगा मुसलमानों
का अच्छा काम चलेगा पढ़ाई लिखाई में
बच्चों के लिए यानी सबके लिए अच्छी यानी
सुविधाएं मिलेंगी हमें आपने कहा कि अब समझ
आ गई है तो क्या पहले समझ नहीं थी क्या

क्या दिक्कत थी पहले पहले कम दिक्कत थी
लोगों मतलब भड़का थे कि ऐसा है जी मोदी जी
ऐसा बना देंगे हिंदू राष्ट्र बना देंगे ये
हिंदू को दुश्मन मुसलमानों को दुश्मन है
जी ऐसा उनके दिमाग में डालते थे लेकिन अब
उनको धीरे धीरे सझ मही है कि लोग बह काते
हैं अब वो वो कहना बहका में आने को तैयार

अब नहीं है अब कुछ लोग तो ये कहने लगे
नहीं जी अब तो मोदी जी को वोट देंगे अच्छा
तो अब क्या आपको लगता है इस बार जो चुनाव
है किधर जा रहा है मुस्लिम मुस्लिम इधर जा
रहा बीच की तरफ जा रहा है जनता पार्टी की
तरफ मोदी सही काम कर रहे हैं समझे और मत

लब
राशन वगैरह ये वो सही काम म राशन टाइम से
मिल रहा है कभी

राशन नहीं मिला हमें आज फ्री राशन मिल रहा
है और अब मोदी जी आगे 24 आगे को भी एक साल
को और बढ़ाने को कह रहे हैं वो अच्छा यह
बताइए कि आपको क्या फायदा हुआ मोदी के आने
से राशन मिला है राशन फ्री मिल रहा है
हमें बहुत सुविधा मिली है मोदी जी से

कितने लोग हैं आपके परिवार में हमारे
परिवार में 10 12 आदमी है सबका राशन आता
है आराम से आराम से आता है टाइम से मिलता
है मतलब जो केंद्र सरकार की योजनाएं हैं
उसका फायदा मुस्लिम समाज आसानी से उठा रहा
है बिल्कुल सब पूरी पूरी योजना मिल रही है
मुसलमान के लिए और मुसलमान जा भी रहा है
बीजी की तरफ समझे लोग बाग बह काते थे पहले

अब वो वो बात नहीं है समझे मोदी की तरफ
मोदी हमारे मोदी जी बहुत अच्छे काम कर रहे
हैं यहां पर कब से हैं आप जब से
त्रिलोकपुरी बसी है तब से यहां पर है तब
से त्रिलोकपुरी
लगातार पहले में और अब में क्या मुसलमानों

की सोच में आपको लगता है कि कोई फर्क आया
है चुनाव में किधर जा रहे हैं मुसलमान
मुसलमानों का तो कोई आदमी पार्टी बजाते

हैं अब जो है गठबंधन है तो गठबंधन बजाएंगे
यही
है उसके पीछे क्या वजह है वजह वही
केजरीवाल को वोट मिलता और तो कोई है नहीं
वजह केजरीवाल की वजह है बिजली पानी छोटी
कॉलोनी है इसमें तो बिजली पानी की मेन
समस्या यही होती है तो उसी परही वोट करती
है पब्लिक वो दिल्ली सरकार का हो गया
विधानसभा का अब लोकसभा चुनाव है केंद्र की
सरकार में केंद्र सरकार में तो सांसद को
पा साल जीत के चले जाते हैं सांसद देखने
को भी नहीं मिलते किधर है सांसद क्या वह
आम आदमी पार्टी का हो या इसका कांग्रेस का
हो कोई देखने को नहीं
आता बस वोट मांगने के टाइम पर तो सब दिखाई
देते हैं उसके बाद कोई दिखाई नहीं देता
पीएम मोदी के बारे में क्या रय आपकी पीएम
मोदी जो है पीएम मोदी है जी सही है काम कर
रहे हैं देखो इस बार जो चुनाव आने हैं
लोकसभा चुनाव है उसमें किधर जा रहा है
मुसलमान मुसलमान भारतीय जनता पार्टी की
तरफ जाएगा
ज्यादातर मोदी जी के कारवाल इतने अच्छे
हुए हैं कि सबको हर चीज की सुविधा दी है
उन्होंने लेटरिंग बाथरूम है तुम्हारे
सिलेंडर है राशन है हर चीज की सुविधा दी
है और जो सुविधा सबको दी है वह मुसलमानों
को भी द है मुसलमान क्यों खिलाफ जाएगा
मोदी जी के मोदी जी से सब राजी है आपको
क्या सुविधा मिली मतलब पर्सनली अगर आपसे
जानना चाहू हमें राशन मिलर है सारी सुविधा
मिल रही है जो का में सरकार जो सुविधा दे
रही है वो सारी सुविधा हमें मिल रही है
ऐसी बात नहीं है जो जो सरकार सुविधा सबको
दे रही है व हमको भी दे रही है अले से कोई
यह नहीं है कि मुसलमान हैय हिंदू है किसी
को कोई भेदभाव नहीं है सबके लिए अच्छा कर
रही है सरकार और मैं तो चाहता हूं कि अबकी
बार भी मोदी जी आए क्या नाम है आपका
मोहम्मद जावेद जावेद साहब मुस्लिम समाज
लोकसभा चुनाव में कहां जाता दिख रहा है
किधर वोट देगा भाई यह तो पब्लिक के ऊपर है
आप अपना
बताइए भाई जिधर सब उधर हम किधर आपकी क्या
सोच है हमारी सोच तो यही है कि सरकार में
अगर सरकार जो सही चलेगी उसे देने वोट देने
में ही फायदा है अभी जो सरकार है केंद्र
में उसको लेकर क्या विचार है आपके कोई
विचार नहीं सब सही है सब कुछ सही
है कोई परेशानी नहीं किसी को अपने रोजी
रोटी से सब हिले से अपने सब लग गए कोई
दिक्कत नहीं क्या लग रहा है आपको अब जो
2024 में लोकसभा चुनाव है किधर जा रहा है
मुसलमान मुसलमान का तो जोना कोई वो नहीं
है पता नहीं कहां जा रहा है
आप किधर वोट देंगे आपका क्या सोच है कौन
नेता कौन
पार्टी पार्टी जो ना बस ये है कि जो है
कांग्रेस की तरफ ज्यादा जादा र कांग्रेस
या आम आदमी पार्टी यहां पर दो आप अपना
बताइए आम आदमी पार्टी की तरफ ज्यादातर
उसके पीछे क्या वजह है उसके पीछे जो ना
काम है आम आदमी पार्टी के के नाम बिजली का
बिल है पानी का है और जो बहुत सारी चीजें
इसम पकोड़े बना रहे हैं क्या नाम है आपका
अब्बास खान क्या नाम है अब्बास खान अब
अब्बास साहब मुसलमान किधर जा रहे हैं वोट
देते हुए बड़े मिया किधर जा रहे हैं बड़े
मिया उसका वो तो उनके अपने अपने मन की बात
है आप मन की बात सुनते हैं आप हां हां मन
की बात तो सुनते हैं कब सुनी थी लास्ट
पीएम मोदी जी वैसे तो मोदी की तरफ जा रहे
हैं सारे वैसे उन्होंने रेडी पटली पर लोन
भी दिया है लोन मुझे भी दिया 00 रेड पटली
का अच्छा जो हां हां रेड पटली का था पहले
आपकी दुकान कहां थी सामने थी नाले पे उधर
वो सड़क के किनारे ठेली पर थी हां ठेली पर
थी लोन दिया मुझे भी अभी आपकी दुकान ये बन
गई है हा ये पीएम की जो योजना है पीएम
क्या योजना थी वो रेडी पटरी वालों को मिला
था 00 वो हमें मिला था अब और भी स्की उनकी
लिए कोई गारंटी देने की जरूरत नहीं थी कोई
गारंटी नहीं वैसे हमने आधा कर दिया उनका
सारा पैसा अा उससे पहले कभी लोन लेने की
कोशिश की थी आपने मिला ही नहीं लोन कहां
से दिया ही नहीं किसी ने कागज चाहिए तमाम
हा हां वैसे इसमें खाली वो एक एलर बनता था
वो एमसी ड के बनाया उसके बाद में फिर लोन
मिल गया 00 तो मतलब केंद्र सरकार की जो
मोदी की गारंटी है तो गारंटी पूरी होती
हां पूरी होती दिख रही है चाहे वो हिंदू
हो या मुसलमान हो वो भेदभाव नहीं है मतलब
ये मुस हिंदू को मिलेगा मुसलमान को नहीं
ऐसा कुछ नहीं जो इसकी आद सबके लिए आती है
जो स्कीम आती है सभी के लिए आती है ये
नहीं कि खाली हिंदुओं को मिलेगा ऐसा कुछ
नहीं है रेडी पट में तो सभी हैं हिंदू भी
है मुसलमान भी सभी हैं तो आप रेडी पटरी से
सरकार के लोन की वजह से आपने अपनी दुकान
खोल ली हां दुकान खोल ली अपनी कमाई भी बढ़
गई होगी हां कमाई तो बढ़े गई तकरीबन क्या
नाम है आपका मेरा नाम अब्दुल सत्तार है जी
सत्तार साहब क्या करते हैं आप मजदूरी करता
हूं मजदूरी करते हैं तो अब वोट का क्या है
इस बार चुनाव में किसको दे रहे हैं क्या
सोच भारतीय जनता पार्टी से जुड़े हुए हैं
भारतीय जनता पार्टी को देंगे वोट वजह
जुड़े हुए हैं काफी दिनों से पार्टी से
अच्छा लगता है इनका हिसाब हमेशा से जुड़े
हैं या अभी हाल फिलहाल में 2006 से अच्छ
दूसरी बात य जानना चाहूंगा कि आप मजदूरी
करते हैं आप बता रहे हैं तो जो राशन की
योजना है कि आपके परिवार में कितने लोग
हैं मेरे परिवार में आठ लोग हैं आठ लोग
हैं कितना राशन महीने का मिल जाता है 40
किलो मिलता है महीने में कोई परेशानी होती
आसानी से नहीं नहीं राशन में कोई परेशानी
नहीं होती दुकान वाला भी अच्छा है मना के
देता केंद्र सरकार की जो राशन योजना है
उसका लाभ सब उठा रहे हैं इस बार किधर वोट
जा रहा है मुस्लिम समाज का बड़ी में किधर
जा रहे हैं अभी तो को नहीं जब टाइम आएगा
बता देंगे तो अभी क्या सोच है अभी अभी कोई
सोच नहीं आपका क्या नाम है मेरा जाहिद अली
जाहि साहब किधर जा रहा है मुस्लिम समाज
क्या क्या नज है मुस्लिम समाज की जितने
हमारे लोग साथ है सारे भारतीय जनता पार्टी
को देंगे वजह वजह कि कोई जितने हमारे
माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी ने जितनी
योजना दी है जिनको जानकारी है हम लाभ उठा
रहे हैं क्या लाभ उठाया आपने किस योजना का
लाभ
उठाया कितनी ऐसी जितनी चीजें हैं सर राशन
की है राशन की व्यवस्था जसे फरी है लोगों
को जाकर के मैंने खुद ने साथ में जाकर
दिलवाया कि जिनके पास आधार कार्ड तक है
राशन कार्ड नहीं उनको भी मैंने राशन
दिलवाया क्या सोच है सियासत को लेकर
राजनीति को लेकर आने वाले चुनाव में
मुसलमान
होग क्या आपकी क्या सोच है सोच क्या जो भी
आ अच्छा
है जो हो रहा है वो तो ठीक नहीं हो
रहा तो हमें तो सुविधा चाहिए सुविधा जो है
व मिल नहीं रही किसी किस्म
की किधर वोट आप सोच रहे हैं देने वोट तो
जहां भी जाएगा ऐसे तो क्लियर नहीं कर सकते
ना बाकी जो जहां है दिल में वो तो जाएगा
ही
जाएगा क्या सियासी सोच है मुस्लिम समाज की
आपको क्या लगता है हम सही लगता मुस्लिम
साथ भैया बीजेपी को देंगे वोट ऐसी कोई बात
ना है बीजेपी को देते हु आए हैं आ गई समझ
में और परेशानी भी उन्होंने दूर करी जो भी
है क्या परेशानी दूर परेशानी रोड पोट जो
बनाए हैं जो भी कुछ करा उन्होंने ही करा
है इने कांग्रेस आई थी बीच में उन्होंने
कुछ नहीं करा इस टाइम में बीजेपी का जोर
है तो बीजेपी का ही मामला है
भैया हमारे साथ तो बीजेपी है हम बीजेपी के
साथ हैं आपको पर्सनली क्या फायदा आपको
क्या फायदा हुआ फायदा गैस सिलेंडर मिला
राशन मिलया और क्या फायदा होगा इससे
ज्यादा क्या फायदा है यही फायदे हैं क्या
नाम है आपका मोहम्मद यामीन ये किसकी दरगाह
है ये हजरत भूरे शह कब से है किसने बनवाई
1965 यह मालूम नहीं किसने बनवाया मैं तो
1995 से हूं
य कितनी मान्यता है कौन लोग आते हैं य पर
काफी पब्लिक आती है सुबह शाम तक जमीन
किसकी है पंडित जी की खिचड़ीपुर वालों की
पंडित जी की जमीन है उन्होंने अपनी इधर का
अच्छा आपका क्या रुख है वोट को लेकर किधर
वोट द केजरीवाल
को
वजह बस वजह कुछ नहीं है इच्छा है
अपनी मन की मर्जी और कुछ मन की मर्जी है
जी देखो इस टाइम जो इलेक्शन का माहौल है
वह जात पात के ऊपर बहुत ज्यादा हो चुका है
उससे ज्यादा और किसी चीज में है ही नहीं
ना किसी पढ़ाई के ऊपर है ना किसी चीज के
ऊपर है बिल्कुल भी आपकी क्या राय है आप
किधर जा रहे हैं किधर आपको लगता है कि
आपका वोट जाएगा या मुस्लिम समाज उधर जा
रहा है वोट तो जो अच्छा कैंडिडेट हो उसी
के ऊपर जाएगा पढ़ा लिखा कैंडिडेट है तो
उसी के लिए अच्छा माहौल है केंद्र सरकार
की जो योजनाएं सरकार की तो योजनाएं कोई है
नहीं बिल्कुल भी सब टोटल वही है उल्टा
माहौल है सब टोटल पढ़ाई लिखाई से कोई मतलब
नहीं किसी चीज से भी और भी बहुत सारी
चीजें हैं जो जात पात के ऊपर ही चल रहा है
और कोई पढ़ाई लिखाई से या कोई तरक्की से
कोई माहौल है ही नहीं बिल्कुल जहां भी देख
लो हर जगह यही हालात है पूर्वी दिल्ली
लोकसभा क्षेत्र में खजूरी यह इलाका है
जहां पर इस समय बड़े मिया किधर चले की टीम
मौजूद है खजूरी एक मुस्लिम बहुल इलाका है
जहां पर बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के
लोग रहते हैं क्या नाम है
आपका हमारा नाम बादशा खान है खान साहब
लोकसभा चुनाव आने वाले हैं क्या रुख है
मुसलमानों का य रुख का कोई पता नहीं चलता
का आप क्या सोच
के क्या सोच के वोट देंगे कि मुद्दे पर
वोट द आम आदमी को वोट
देंगे आम आदमी पीछे क्या वजह है क्याय आम
आदमी को वोट जाता है मुसलमानों की क्या न
है किधर वोट जा रहा है लोकसभा
चुनाव लोकसभा में अभी तो कुछ कह नहीं सकते
अभी तो कोई ऐसा है नहीं सिस्टम कि मतलब हम
बता द कि इधर है चना वोट दे रहे हैं मोदी
को लेकर क्या
सोच मोदी को लेकर तो ऐसे हमने कुछ सोचा
नहीं है बस यह है कि हमारे जो पार्षद वो
राजू साई है वह बीजेपी से ही है वह बंदा
बहुत बढ़िया है तो हम तो उसके चेहरे पर
वोट देते हैं अच्छा तो यहां पर बीजेपी
जीती है हमारे मुस्लिम हैरि
सेही बस यही बात है और कुछ नहीं क्या नाम
है आपका मुस्तकीम अहमद नाम है जी साहब
मुसलमान किधर जा रहे हैं इस बार लोकसभा
चुनाव मुसलमान तो बीजेपी को छोड़ के सभी
के साथ जाएंगे थोड़ा थोड़ा सभी में बैठते
हैं को एक तरफ थोड़ी जाते हैं एक तरफ जाए
तो फिर बात ही अलग हो जाए तता ही पलट दे
आपकी क्या सोच है आप किस मुद्दे पर वोट दे
रहे हैं किसको द भाई मुद्दे क्या है आजकल
तो रोजगार नहीं है कारोबार नहीं है इस
टाइम आपका क्या नाम है मोहम्मद कासिम
कासिम साहब क्या आपको लगता है कि इस बार
लोकसभा चुनाव में जो पूर्वी दिल्ली लोकसभा
क्षेत्र है यहां से मुसलमानों की क्या सोच
बन रही है
कांग्रेस कांग्रेस आ इससे बीजेपी में य
कारोबार नहीं है आम पार्टी भी कोई वो नहीं
कर रही कोई ऐसा
वो तो इसलिए कांग्रेस को वज क्या है मतलब
एक जो आपने सोच बनाई है उसके पीछे कोई वजह
होगी कोई आपको फायदा वजह यही है किसी चीज
की सहूलियत ही नहीं है कारोबार में कुछ
सहूलियत हो हर चीज से परेशान है क्या
रुख इस चुनाव को लेकर क्या बस य तो झाड़ू
वालों की लहर है झाड़ू जीतेगी
बस हां वजह क्या है
फायदा यही है कि मतलब य एक अच्छी पार्टी
है सबको फायदा पहुंचाती है हिंदू मुसलमान
सब मिलकर चल रहे हैं समझे बस हमारा यह है
क्या नाम है आपका अजीजुल रहमान अ साहब
मुसलमानों के क्या मुद्दे हैं इस इलाके
में तो मुद्दे ही मुद्दे हैं किसी स को
आगे दोराया जाए सार मुद्दे ही मुद्दे हैं
मुद्दे ही मुद्दे हैं मुद्दों की कोई कमी
नहीं है यहां पे और जितने भी मुद्दे हैं
वो मुश्किल दिखाई दे रहे हैं पूरे होने
फिलहाल तो क्या मुद्दे हैं अब मुद्दे क्या
है महंगाई है बेरोजगारी है खाली बैठे हुए
हैं घर में तीन लड़के हैं तो एक के पास
काम है दो के पास काम नहीं है ये ये सरकार
की जो राशन योजना है दूस योजना कु फायदा
मिलता राशन योजना से कोई फायदा नहीं मिलता
राशन योजना क्या है के जी दो-तीन किलो
चीनी दे दी चीनी नहीं लो तो कुछ और ले लो
कुछ और लेलो ये जो कहा जा रहा है कि पा पा
किलो 10 10 किलो 5 साल के लिए फ्री है कुछ
भी नहीं है फ्री तो मिल रहा है अभी हां
मिल लिया है जो मुख्तसर हालत में है कितना
मिलता है आपको 3 किलो चीनी मिलती है एक
परिवार की बस और कुछ नहीं बड़े मिया किधर
चले का यह सफर लगातार जारी रहेगा अभी के
लिए फिलहाल इतना ही आप लगातार देखते रहिए
न्यूज़ नेशन और न्यूज नेशन का डिजिटल
प्लेटफार्म आपको यह वीडियो कैसा लगा अपनी
राय कमेंट करके जरूर बताएं वीडियो को लाइक
करें और चैनल को सब्सक्राइब
करें

Leave a Comment