BJP List : Loksabha Elections चुनाव को लेकर BJP की चुनाव समिति की मीटिंग, जानिए क्या हुआ फाइनल

बीजेपी केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक
गुरुवार देर रात शुरू हुई और शुक्रवार

सुबह तक चली यह मीटिंग आगामी लोकसभा चुनाव
में कैंडिडेट्स के नाम तय करने के लिए थी

इसमें किस-किस के नाम तय हुए और किसकिस के
नाम कटे यह तो पता नहीं चल पाया है लेकिन
मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है

कि कई बड़े-बड़े नाम इस बार बाहर हो सकते
हैं दावा तो यहां तक किया जा रहा है कि
यूपी और बिहार से कुछ केंद्रीय मंत्रियों

का भी टिकट कट सकता है
बताया जाता है कि 3 मार्च को मोदी कैबिनेट
की भी मीटिंग होनी है इसे लोकसभा चुनाव से
पहले मोदी सरकार 2.0 की अंतिम कैबिनेट

मीटिंग भी माना जा रहा है कयास यहां तक है
कि बीजेपी इस बार दो या दो से अधिक बार
चुनाव जीत चुके नेताओं पर भी दाव लगाने के
मूड में नहीं है जिन सांसदों की उम्र अधिक

हो गई है उनकी जगह नए चेहरों को मौका दिया
जा सकता है वहीं मीटिंग की बात करें तो
बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा गृहमंत्री अमित
शाह संगठन महासचिव बीएल संतोष ने पहले
राज्यों की कोर कमेटी के साथ बैठक की
इसमें कई उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा हुई

इसके बाद प्रधानमंत्री आवास पर भी इसे
लेकर बैठक हुई यहां पर पीएम मोदी भी मौजूद
थे इसके बाद बीजेपी की सीईसी मतलब सेंट्रल
इलेक्शन कमेटी की बैठक हुई सीईसी की बैठक

में सभी सीटों पर एक-एक करके चर्चा की गई
यह भी बात कही जा रही है कि मीटिंग में तय
हुआ है कि अगर जीतने की स्थिति में दूसरे
दल का नेता है तो उसे बीजेपी में लाने की
कोशिश की जाएगी

इसके लिए राज्य और शीष स्तर पर कमेटी
बनाने का भी दावा किया जा रहा है जिन
सांसदों का प्रदर्शन संतोषजनक नहीं रहा है
उन पर दोबारा दांव लगाने की संभावना कम है
अनुमान लगाया जा रहा है कि कुल 60 से 70

सांसदों के टिकट कट सकते हैं प्रधानमंत्री
नरेंद्र मोदी कह भी चुके हैं कि हर सीट पर
कमल चुनाव लड़ रहा है ऐसे में माना जा रहा

है कि बीजेपी उम्मीदवारों की पहली सूची
काफी चौकाने वाली हो सकती है लोकसभा
चुनावों की बात करें तो चुनावों के ऐलान
कभी भी हो सकते हैं पिछले लोकसभा चुनाव की
बात करें तो साल 2019 में 11 अप्रैल से
लेकर 19 मई के बीच सात चरणों में लोकसभा

चुनाव हुए थे इन चुनावों में बीजेपी को 37
प्र से अधिक वोट मिले थे और उसके पूरे
एनडीए गठबंधन को 45 प्र से ज्यादा वोट
मिले थे बीजेपी को अकेले 303 सीटें मिली

थी पूरे एनडीए गठबंधन की बात करें तो 353
सीटों पर जीत हासिल हुई थी इस बार बीजेपी
ने 400 पार का नारा दिया है केंद्र में
बीजेपी की प्रमुख प्रतिद्वंदी पार्टी
कांग्रेस को 4 सीटें मिली थी इस बार

कांग्रेस ने भी अपने गठबंधन का दायरा
बढ़ाया है और इंडिया गठबंधन बनाया है
राहुल गांधी कई राज्यों में न्याय यात्रा
भी निकाल रहे हैं ऐसे में इस बार चुनावों

में क्या परिणाम आते हैं इसे लेकर सोशल
मीडिया पर कयास बाजी भी तेज होती जा रही
है इस कयास बाजी के बीच बीजेपी की पहली
लिस्ट का इंतजार किया जा रहा
है

Leave a Comment